• लॉगिन / रजिस्टर

मारुति अर्टिगा Vs रेनो ट्राइबर : कौनसी 7-सीटर एमपीवी में मिलता है ज्यादा केबिन स्पेस ?

Modified On dec 24, 2019 01:36 pm By stuti for रेनो ट्राइबर

  • 572 Views
  • Write a comment

रेनो इंडिया (Renault India) ने अपनी 'ट्राइबर' एमपीवी को इस साल ही लॉन्च किया है। लॉन्च के साथ ही यह कंपनी की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार बन गई है। एमपीवी सेगमेंट (MPV Segment) में रेनो ट्राइबर का मुकाबला मारुति अर्टिगा से है। मगर क्या ये 7 सीटर कार अर्टिगा का एक बेहतरीन और किफायती विकल्प है। ये जानने के लिए हमनें केबिन स्पेस के मोर्चे पर इन दोनों एमपीवी का कंपेरिज़न किया है। लेकिन इससे पहले आइये नज़र डालते है दोनों के एक्सटीरियर साइज़ पर  -

 एक्सटीरियर साइज़ : 

 

रेनो ट्राइबर (Renault Triber)

मारुति अर्टिगा (Maruti Ertiga)

लंबाई

3990 मिलीमीटर

4395mm (+405 मिलीमीटर)

चौड़ाई

1739 मिलीमीटर

1735mm (-4 मिलीमीटर)

ऊंचाई

1643 मिलीमीटर

1690mm (+47 मिलीमीटर)

व्हीलबेस 

2636 मिलीमीटर

2740mm (+104 मिलीमीटर)

बूट स्पेस

84 लीटर, 625 लीटर तक विस्तार करने योग्य 

209 लीटर,  803 लीटर तक विस्तार करने योग्य 

 -  ट्राइबर एक सब-4 मीटर एमपीवी है, वहीं अर्टिगा एक कॉम्पैक्ट एमपीवी (Compact MPV) है जिसका साइज़ 4-मीटर से ज्यादा है। 

 -  टेबल पर गौर करें तो ट्राइबर के मुकाबले अर्टिगा ज्यादा ऊंची व लंबी कार है। इसका व्हीलबेस व बूट स्पेस भी ट्राइबर से ज्यादा है।  

 -  चौड़ाई के मामले में दोनों कारों के बीच मामूली अंतर है। जहां ट्राइबर की चौड़ाई 1739 मिलीमीटर है, वहीं अर्टिगा की चौड़ाई 1735 मिलीमीटर (-4 मिलीमीटर) है। 

फ्रंट रो स्पेस : 

 

रेनो ट्राइबर

मारुति अर्टिगा

लेगरूम (न्यूनतम-अधिकतम)

930 मिलीमीटर -1080 मिलीमीटर

860 मिलीमीटर -1000 मिलीमीटर

नी-रूम  (न्यूनतम-अधिकतम)

635 मिलीमीटर -830 मिलीमीटर

550 मिलीमीटर -770 मिलीमीटर

हैडरूम (न्यूनतम-अधिकतम)

945मिलीमीटर--975 मिलीमीटर

975 मिलीमीटर-1040 मिलीमीटर

सीट बेस लंबाई

485 मिलीमीटर

485 मिलीमीटर

सीट बेस चौड़ाई

480 मिलीमीटर

495 मिलीमीटर

सीट बेस ऊंचाई

640 मिलीमीटर

600 मिलीमीटर

केबिन चौड़ाई 

1315 मिलीमीटर

1360 मिलीमीटर

शोल्डर रूम 

1240 मिलीमीटर

1320 मिलीमीटर

आइडियल फ्रंट नी-रूम* 

785 मिलीमीटर

620 मिलीमीटर

Renault Triber

 - छोटी एमपीवी होने के बावजूद रेनो ट्राइबर में अर्टिगा के मुकाबले ज्यादा लेगरूम और नी-रूम स्पेस मिलता है। साथ ही इसमें बेहतर फ्रंट नी-रूम स्पेस भी मिलता है। कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है कि लंबे कद के पैसेंजर्स के लिए ट्राइबर एक बेहतर एमपीवी साबित ​होती है। 

 -  हालांकि, हेडरूम और शोल्डर रूम स्पेस के मामले में अर्टिगा कहीं ज्यादा बेहतर एमपीवी है। 

 -  दोनों ही कारों में फ्रंट सीट बेस की लंबाई बराबर है। ट्राइबर की तुलना में अर्टिगा की सीट बेस की चौड़ाई 15 मिलीमीटर ज्यादा है।  वहीं, इसकी ऊंचाई ट्राइबर से थोड़ी कम है। कुल मिलाकर, अर्टिगा की चौड़ी-चौड़ी सीटें बैठने के लिहाज से बेहद कम्फर्टेबल है। 

 -  ट्राइब्र की तुलना में अर्टिगा का केबिन ज्यादा स्पेशियस है।

सेकंड रो : 

 

रेनो ट्राइबर

मारुति अर्टिगा

नी-रूम  (न्यूनतम-अधिकतम)

650 मिलीमीटर-850 मिलीमीटर

520 मिलीमीटर -850 मिलीमीटर

हेडरूम 

980 मिलीमीटर

990 मिलीमीटर

सीट बेस लंबाई

445 मिलीमीटर

500 मिलीमीटर

सीट बेस चौड़ाई

1195 मिलीमीटर

1280 मिलीमीटर

सीट बेस ऊंचाई

610 मिलीमीटर

570 मिलीमीटर

शोल्डर रूम

1300 मिलीमीटर

1375 मिलीमीटर

आइडियल नी-रूम*

450 मिलीमीटर -710 मिलीमीटर

580 मिलीमीटर -710 मिलीमीटर

फ्लोर हंप ऊंचाई

30 मिलीमीटर

0

फ्लोर हंप चौड़ाई 

250 मिलीमीटर

0

 - दोनों ही कारों में 850 मिलीमीटर अधिकतम नी-रूम मिलता है। हालांकि, ट्राइबर एमपीवी में बेहतर न्यूनतम नी-रूम मिलता है। यानि दोनों कारों की फ्रंट रो सीटों को पीछे की ओर अगर पूरा स्लाइड किया जाए, तो ऐसी स्थिति में ट्राइबर में ज्यादा नी-रूम स्पेस मिलेगा।  

- सेकंड रो की सीटों पर ट्राइबर के मुकाबले अर्टिगा में बेहतर हैडरूम, शोल्डर रूम स्पेस मिलता है।ट्राइबर की तुलना में इसमें सीटबेस की चौड़ाई व लंबाई भी ज्यादा है। साथ ही अर्टिगा में फ्लैट फ्लोर का लाभ भी मिलता है, जिससे दूसरी रो पर तीसरा पैसेंजर  कंफर्टेबल होकर बैठ सकता है।

थर्ड रो : 

 

रेनो ट्राइबर 

मारुति अर्टिगा 

नी-रूम (न्यूनतम-अधिकतम )

580 मिलीमीटर -730 मिलीमीटर

580 मिलीमीटर  -700 मिलीमीटर

हेडरूम

885 मिलीमीटर

890 मिलीमीटर

सीट बेस लंबाई

440 मिलीमीटर

445 मिलीमीटर

सीट बेस चौड़ाई 

1080 मिलीमीटर

1000 मिलीमीटर

सीट बेस ऊंचाई

555 मिलीमीटर

540 मिलीमीटर

शोल्डर रूम

1050 मिलीमीटर

1325 मिलीमीटर

फ्लोर से सीट बेस की ऊंचाई  

320 मिलीमीटर

320 मिलीमीटर

Renault Triber

 - अर्टिगा के मुकाबले ट्राइबर में तीसरी रो की सीटों पर ज्यादा नी-रूम स्पेस मिलता है। इसकी सीटबेस की चौड़ाई और ऊंचाई भी मारुति की एमपीवी से ज्यादा है। 

- ट्राइबर की थर्ड-रो पर हटाई जा सकने वाली रिमूवेबल सीटें दी गई हैं। ऐसे में इसे 7-सीटर से 5-सीटर में बदला जा सकता है।ऐसा होने पर इसमें अर्टिगा से ज्यादा बूट स्पेस तैयार किया जा सकता है।   

- ट्राइबर की तुलना में तीसरी रो की सीटों पर अर्टिगा में थोड़ा ज्यादा हैडरूम स्पेस मिलता है।इस एमपीवी का शोल्डर रूम भी ज्यादा है। इस लिहाज से तीसरी रो के पैसेंजर्स के बैठने के लिए यह अच्छी साबित होती है।   दोनों ही गाड़ियों के बाकी सभी पहलू काफी हद तक एक दूसरे से मिलते-जुलते हैं।   

यह भी पढ़ें: क्रैश टेस्ट में पास हुई हुंडई वेन्यू, मिली 4-स्टार रेटिंग

Published by

रेनो ट्राइबर पर अपना कमेंट लिखें

3 कमेंट्स
1
B
bikshapathi satla
Feb 5, 2020 3:04:57 PM

Triber is best n seating and other arrangements.. only engine capacity and price is less

    जवाब
    Write a Reply
    1
    A
    ashish shandilya
    Jan 20, 2020 6:23:26 PM

    hyundai new car

      जवाब
      Write a Reply
      1
      S
      surendra mohan vashishtha
      Jan 6, 2020 5:29:59 PM

      Triber is the best. I want in AMT variount soon.

        जवाब
        Write a Reply
        Read Full News
        • रेनो ट्राइबर
        • मारूति अर्टिगा

        Similar cars to compare & consider

        Ex-showroom Price New Delhi
        • Trending
        • Recent
        ×
        आपका शहर कौन सा है?