• लॉगिन / रजिस्टर

तस्वीरों से जानिए कैसा है मारुति एस-प्रेसो का एक्सटीरियर व इंटीरियर

संशोधित पर Oct 01, 2019 05:59 PM द्वारा Stuti for मारुति एस-प्रेसो

  • 2219 व्यूज़
  • Write a कमेंट

मारुति सुजुकी ने भारत में नई माइक्रो एसयूवी एस-प्रेसो को लॉन्च कर दिया है। इसकी कीमत 3.69 लाख रुपए से 4.91 लाख रुपए (एक्स-शोरूम दिल्ली) के बीच रखी गई है। इस ​मिनी क्रॉस हैचबैक का डिज़ाइन और स्टाइलिंग एसयूवी जैसा है। हार्टेक्ट-के प्लेटफार्म पर तैयार की गई एस-प्रेसो लेटिन अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका और पूर्व-एशिया जैसे अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में भी एक्सपोर्ट की जाएगी। यह माइक्रो एसयूवी कुल 6 कलर: पर्ल स्टेरी ब्लू, सॉलिड सिज़ल ऑरेंज में उपलब्ध है।यहां हमनें तस्वीरों के माध्यम से इसके स्टाइलिंग और डिज़ाइन का बारीकी से विश्लेषण किया है। तो क्या कुछ है मारुति एस-प्रेसो में खास ये जानेंगे यहां: 

 एक्सटीरियर 

इसका वैगन-आर जैसा टॉलबॉय डिज़ाइन, बॉक्सी शेप और ड्यूल टोन फ्रंट बंपर इस क्रॉस हैचबैक को किसी दमदार एसयूवी जैसा लुक देते हैं। इसकी फ्रंट ​ग्रिल मारुति विटारा ब्रेज़ा की याद दिलाती है। मारुति एस-प्रेसो में एलईडी डे-टाइम रनिंग लैंप का फीचर ऑप्शनल एसेसरीज़ के तौर पर रखा गया है। इन्हें आप चाहें तो बंपर के उपर दिए गए इंडेट्स में लगवा सकते हैं। 

 

रेनो क्विड जैसी हैचबैक के मुकाबले एस-प्रेसो का साइज़ भले ही छोटा हो मगर, इसमें अच्छा खासा केबिन स्पेस मिलता है। 14 इंच के स्टील व्हील के साथ एस-प्रेसो की लंबाई 3565 मिमी और ऊंचाई 1564 मिमी रहती है।

 

कंपनी ने कार के रियर बंपर पर भी ब्लैक क्लैडिंग का अत्यधिक इस्तेमाल किया है जहां स्किड प्लेट डिज़ाइन भी मौजूद है।  गाड़ी में रियर डिफ्लेक्टर्स को पीछे की ओर फेंडर पर दिया गया है। एस-प्रेसो के टेललैंप का डिज़ाइन ज्यादा आकर्षक नहीं है,  फिर भी यह मारुति की दूसरी कारों में दिए गए टेललैंप से कुछ अलग हटकर नज़र आते हैं। 

इसमें विटारा ब्रेज़ा जैसी फ्रंट ग्रिल में आप अपनी पसंद के अनुसार अलग- अलग रंगो व शेप्स की एक्सेसरी को लगवा सकते हैं। 

मारुति एस-प्रेसो में किसी भी वेरिएंट में अलॉय-व्हील्स का फीचर नहीं दिया गया है। अतिरिक्त कीमत देकर आप इन्हें एसेसरीज़ के रूप में लगवा सकते हैं। कार के निचले वेरिएंट में 13-इंच स्टील व्हील्स (145/80 रबर) और टॉप वेरिएंट में 14-इंच स्टील व्हील्स ( 165/70 रबर) दिए गए हैं। इसके टॉप वेरिएंट में व्हील कवर का विकल्प भी मिलता है।

इंटीरियर 

 केबिन की बात करें तो गाड़ी में ब्राइट रंग के एक्सेंट व नया डैशबोर्ड लेआउट देकर इसे आकर्षक बनाने की कोशिश की गई है। । इसमें सेंट्रल माउंटेड डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया गया है। वहीं, कार के टॉप वेरिएंट में वैगन-आर वाला ही 7.0-इंच स्मार्टप्ले स्टूडियो टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है। फ्रंट पावर विन्डोज़ के कंट्रोल बटन को डिस्प्ले के नीचे की ओर पोजिशन किया गया है। डैशबोर्ड पर दिए गए इन तीनों ही फीचर को ऑरेंज रंग का एक्सेंट देकर राउंड शेप में हाइलाइट किया गया है। 

 

स्टीयरिंग व्हील में दिए ऑडियो कंट्रोल्स  वैगन आर और इग्निस के केबिन की याद दिलाते हैं। इसमें डैशबोर्ड पर दोनों तरफ दिए गए सर्कुलर शेप के ऐसी वेंट्स को भी ऑरेंज कलर एक्सेंट देकर हाइलाइट किया गया है। कार में मैनुअल एयरकंडीशन के लिए रोटरी कंट्रोल्स दिए गए हैं। 

इस कार में स्पेस की तो कोई कमी महसूस नहीं होती मगर,सभी सीटों पर एडजस्टेबल हैडरेस्ट की कमी खलती है। रियर सीट्स पर बैठने वाले मिडल पैसेंजर के लिए इसमें 3-पॉइंट सीटबेल्ट का विकल्प भी नहीं दिया गया है।  इसका बूट स्पेस 270 लीटर का है। 

 

इंजन 

 

इंजन स्पेसिफिकेशन्स की बात करें तो इसमें बीएस6 नॉर्म्स पर अपग्रेडेड 1.0-लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है। यह इंजन 68 पीएस की पावर और 90 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है।  

 

पावर ट्रांसमिशन के लिहाज से इसमें 5-स्पीड मैनुअल व 5-स्पीड ऑटोमैटिक मैनुअल गियरबॉक्स दोनों का विकल्प मिलता है।  कंपनी का दावा है कि कार का निचला वेरिएंट 21.4 किमी/लीटर और टॉप वेरिएंट 21.7 किमी/लीटर का माइलेज देता है। 

यह भी पढ़ें: मारुति एस-प्रेसो Vs क्विड Vs रेडी गो Vs गो Vs वैगन-आर Vs सेलेरियो: जानिए कीमत के मामले में कौनसी कार है बेहतर

द्वारा प्रकाशित

मारुति एस-प्रेसो पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत न्यू दिल्ली
×
आपका शहर कौन सा है?