• लॉगिन / रजिस्टर

तस्वीरों से जानिए कैसा है मारुति एस-प्रेसो का इंटीरियर

प्रकाशित पर Oct 30, 2019 02:09 PM द्वारा Stuti for मारुति एस-प्रेसो

  • 446 व्यूज़
  • Write a कमेंट

मारुति सुजुकी ने हाल ही में अपनी नई माइक्रो एसयूवी एस-प्रेसो को लॉन्च किया है। इसे कंपनी ने ऑल्टो और सेलेरियो के बीच पोज़िशन किया है। इस कार का प्राइस 3.69 लाख रुपए से 4.91 लाख रुपए (एक्स-शोरूम, दिल्ली) के बीच है। इसका मुकाबला रेनो क्विड और डैटसन रेडी-गो से है। एस-प्रेसो कंपनी की सस्ती कारों में से एक है, इसका इंटीरियर दूसरी कारों से काफी हटकर नज़र आता है। यहां हम तस्वीरों के माध्यम से जानने की कोशिश करेंगे कि इसका इंटीरियर कैसा है :-

इसमें नए डिज़ाइन का डैशबोर्ड मिलता है। डैशबोर्ड के सेंटर में राउंड डिजाइन में डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया गया है। इस मामले में यह फ्यूचर एस कॉन्सेप्ट की याद दिलाती है। 

 

इस माइक्रो एसयूवी में सेंट्रल कंसोल के चारों ओर बॉडी कलर सर्कुलर इंसर्ट दिए गए हैं। यह 7-इंच के टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम के साथ आती है जो एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले सपोर्ट करता है। गाड़ी में इंफोटेनमेंट सिस्टम को इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर के नीचे की ओर पोज़िशन किया गया है। वहीं, फ्रंट पावर विंडो के कंट्रोल बटन को इंफोटेनमेंट सिस्टम के नीचे की ओर सर्कुलर इंसर्ट में दिया गया है। 

 

एस-प्रेसो का स्टीयरिंग व्हील वैगन-आर और इग्निस जैसा है। इसके टॉप वेरिएंट में स्टीयरिंग माउंटेड ऑडियो कंट्रोल और टेलीफोनी कंट्रोल बटन का विकल्प रखा गया है। 

 

सीटों पर एडजस्टेबल हेडरेस्ट की कमी खलती है। यह फैब्रिक अपहोल्स्ट्री के साथ आती है।    

 

इसकी पीछे वाली सीट को स्प्ल्टि और फोल्ड नहीं किया जा सकता। इस में सेंट्रल हेडरेस्ट की कमी भी है। बीच वाले पैसेंजर के लिए इसमें लैप सीटबेल्ट का फीचर दिया गया है। 

 

स्टीयरिंग व्हील के दाएं तरफ लाइटिंग कंट्रोल बटन के साथ छोटा स्टोरेज स्पेस दिया गया है। 

 

स्टोरेज के लिए डैशबोर्ड पर फ्रंट पैसेंजर साइड में भी छोटी शेल्फ मिलती है। वहीं सेंट्रल कंसोल के नीचे और कप होल्डर्स के पीछे की ओर भी स्टोरेज स्पेस का विकल्प रखा गया है। 

 

गाड़ी में एसी कंट्रोल बटन को राउंड सेक्शन में दिए गए कंसोल के नीचे की ओर पोज़िशन किया गया है। यह तीन डायल के साथ आते हैं। इस में 12 वॉट पावर सॉकेट, यूएसबी और ऑक्स का विकल्प भी मिलता है।

 

फ्रंट डोर पर स्पीकर और बॉटल होल्डर मिलते हैं। रियर डोर पर मैनुअल कंट्रोल्स दिए गए हैं। हालांकि, रियर पावर विंडो और रियर डोर स्टोरेज स्पेस का इसमें अभाव है।

 

मारुति की इस एसयूवी में इलेक्ट्रिक एडजस्टेबल ओआरवीएम की भी कमी खलती है। 

 

कार में रेनो क्विड की तुलना में कम बूट स्पेस मिलता है। रेनो क्विड का बूट स्पेस 279 लीटर है, वहीं एस-प्रेसो में 270 लीटर का लगेज स्पेस मिलता है।

यह भी पढें : मारुति एस-प्रेसो का कौनसा वेरिएंट आपके लिए रहेगा बेहतर, जानिए यहां

द्वारा प्रकाशित

मारुति एस-प्रेसो पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत न्यू दिल्ली
×
आपका शहर कौन सा है?