भारत में सुजुकी स्विफ्ट स्पोर्ट हुई स्पॉट, क्या लॉन्चिंग की है तैयारी?

प्रकाशित: अप्रैल 27, 2022 10:51 am । भानुमारुति स्विफ्ट

  • 884 व्यूज़
  • Write a कमेंट

देश की सबसे बड़ी कार मैन्युफैक्चरिंग कंपनी मारुति सुजुकी अपनी मास मार्केट कारों की वजह से काफी पॉपुलर है जिसके पोर्टफोलियो में कोई ऐसी कार नहीं है जो स्पोर्टी ड्राइविंग करने वालों के मुताबिक हो। मगर कई विदेशी बाजारों में मारुति की पेरेंट कंपनी सुजुकी स्विफ्ट स्पोर्ट कार की बिक्री करती है जो भारत में आजतक लॉन्च नहीं की गई है। मगर हाल ही में सामने आए स्पाय शॉट्स में एक स्विफ्ट स्पोर्ट नजर आई है जिसे भारत में इंपोर्ट कराया गया है। माना जा रहा है कि इसे किसी कस्टमर ने अच्छे खासे पैसे खर्च कर यहां मंगवाया है। 

रेगुलर स्विफ्ट के मुकाबले इसके इस स्पोर्टी वर्जन में अलग शेप के बंपर, बॉडी किट और 16 इंच के ड्युअल टोन अलॉय व्हील्स दिए गए हैं। इसके रियर में वाइड, सर्कुलर एग्जॉस्ट टिप्स के साथ ड्युअल एग्जॉस्ट एक्सिट्स दिए गए हैं जो बंपर से बाहर निकले हुए हैं। 

सुजुकी स्विफ्ट स्पोर्ट को सबसे पहले साल 2006 में यूरोपियन मार्केट में लॉन्च किया गया था। इसके फर्स्ट जनरेशन मॉडल में 134 पीएस की पावर देने वाला 1.6 लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया था जिसे डीट्यून कर एसएक्स4 सेडान में भी पेश किया गया था। स्विफ्ट स्पोर्ट के भारत में लॉन्च होने की केवल खबरें ही आती रही बाकी इसे कभी यहां लॉन्च नहीं किया गया। 

स्विफ्ट स्पोर्ट के मौजूदा जनरेशन मॉडल में के14सी बूस्टरजेट नाम का 1.4 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया है। ये 140 पीएस की पावर और 230 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस कार को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ने में 8 सेकंड का समय लगता है। अलग-अलग मार्केट के हिसाब से इसमें 6 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स और पैडल शिफ्टर्स के साथ 6 स्पीड ऑटोमैटिक ​ट्रांसमिशन की चॉइस दी गई है। 

यूके और यूरोप में ये हैचबैक 48 वोल्ट के माइल्ड हाइब्रिड सिस्टम से लैस ज्यादा एफिशिएंट के14डी 1.4 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन में उपलब्ध है। इसे 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ने में 9.1 सेकंड का समय लगता है। मगर डब्ल्यूएलटी टेस्ट साइकिल के अनुसार इसकी फ्यूल एफिशिएंसी 17.9 किलोमीटर प्रति लीटर है। 

इनके कंपेरिजन में स्विफ्ट के इंडियन मॉडल में 1.2 लीटर ड्युअल जेट पेट्रोल इंजन दिया गया है जो 89 पीएस की पावर और 113 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस इंजन के साथ 5 स्पीड मैनुअल और एएमटी गियरबॉक्स की चॉइस दी गई है। स्पोर्टी वर्जन के मुकाबले ये उतना पावरफुल नहीं है, मगर मारुति ने इसकी फ्यूल एफिशिएंसी 23.20 किलोमीटर प्रति लीटर बताई है।

यह भी पढ़ें: फोक्सवैगन पोलो को मॉडिफाइड कर बनाया गया सुपर स्पोर्टी हैचबैक, देखिए इसके लुक्स

अब स्पॉट की गई कार की बात करें तो ये यूरोपियन मॉडल नहीं है और इसे किसी ईस्ट एशिया के किसी राइड हैंड ड्राइव कार मार्केट से मंगवाया गया है, क्योंकि इसमें 16 इंच के अलॉय व्हील्स दिए गए हैं जो यूरोप से बाहर बिकने वाले दूसरे मार्केट्स की स्विफ्ट स्पोर्ट में दिए जाते हैं।

बता दें कि भारत में विदेशी कारों को मंगवाना काफी महंगा सौदा साबित होता है। यहां कार इंपोर्ट कराने के लिए काफी कड़े नियम बनाए गए हैं और इंपोर्ट कॉस्ट ही कार की ओरिजनल प्राइस से 150 से 200 प्रतिशत ज्यादा होती है। यदि आप स्विफ्ट स्पोर्ट को ही भारत में इंपोर्ट कराएं तो ये कार आपको 30 से 40 लाख रुपये के करीब पड़ेगी। 

यह भी पढ़ें: इंडियन आर्मी के बेड़े में शामिल होंगे अब और ज्यादा इलेक्ट्रिक व्हीकल्स, सीमावर्ती इलाकों में नहीं होगा इस्तेमाल

भले ही स्विफ्ट स्पोर्ट काफी ज्यादा महंगी हो, मगर इंडियन कस्टमर्स के लिए ये कार काफी प्रेक्टिकल भी साबित हो सकती है। मारुति को इसमें स्ट्रॉन्ग हाइब्रिड सिस्टम देकर भारत में उतारे जाने के बारे में जरूर सोचना चाहिए। होंडा भी भारत में सिटी ई:एचईवी हाइब्रिड कार को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। वहीं टोयोटा-मारुति भी अपने जॉइन्ट वेंचर के तहत एक नई हाइब्रिड एसयूवी कार यहां उतारेगी। पेट्रोल/डीजल की बेतहाशा बढ़ रही प्राइस के बीच इंडियन कस्टमर्स भी अब ज्यादा माइलेज देने वाली कारें ही अपनाने की ओर रुख करेंगे। 

यह भी पढ़ें: होंडा सिटी हाइब्रिड मॉडल में दिया जाने वाला ई:एचईवी सिस्टम कैसे करेगा काम, सबकुछ जानिए यहां

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

मारुति स्विफ्ट पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

नई दिल्ली में *एक्स-शोरूम कीमत

ट्रेंडिंगहैचबैक

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience