मारुति की कारों का बढ़ सकता है वेटिंग पीरियड, दिसंबर में स्लो रहेगा प्रोडक्शन

प्रकाशित: दिसंबर 01, 2021 06:45 pm । स्तुति

  • 2462 व्यूज़
  • Write a कमेंट

  • मारुति के हरियाणा और गुजरात प्लांट में कारों की मैन्युफैक्चरिंग कम होगी।
  • लेकिन, मारुति अपने प्रोडक्शन को नहीं रोकेगी।
  • प्रोडक्शन में कमी इस साल अगस्त और सितंबर के महीनों में देखी गई थी।
  • नवंबर 2021 में कंपनी की 1,39,184 यूनिट्स बिकी थी जबकि प्रोडक्शन 1,09,726 यूनिट्स का हुआ था।

पिछले साल कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन की वजह से ऑटो सेक्टर काफी प्रभावित हुआ था। अब सेमीकंडक्टर की कमी से कंपनियों का प्रोडक्शन प्रभावित हो रहा है। मारुति ने भी घोषणा की है कि उसका दिसंबर प्रोडक्शन इससे काफी प्रभावित होगा।

कंपनी का कहना है कि सेमीकंडक्टर की कम सप्लाई की वजह से उसके हरियाणा और गुजरात प्लांट में कारों का प्रोडक्शन प्रभावित हो सकता है। हालांकि, मारुति का कहना है कि प्रोडक्शन सामान्य से 80 से 85 परसेंट रहेगा।

इससे पहले महिंद्रा ने भी सितंबर महीने में अपनी कारों के प्रोडक्शन को इसी कारण कुछ समय के लिए रोक दिया था।

ऐसा पहली बार नहीं है जब कारों का प्रोडक्शन रुका है। इससे पहले अगस्त और सितंबर महीने में भी प्रोडक्शन पर रोक लगी थी। नवंबर में मारुति ने 1,09,726 यूनिट्स का उत्पादन किया है, जबकि कुल 1,39,184 यूनिट्स को बेचा था।

मारुति की नए मॉडल्स की जहां तक बात है कंपनी ने सेकंड जनरेशन सेलेरियो को पिछले महीने लॉन्च किया था। अब कंपनी 2022 में भी कई नए मॉडल्स लेकर आने वाली है जिनमें अपडेट बलेनो, एक्सएल6, सियाज़, अर्टिगा, नई जनरेशन की ऑल्टो और ब्रेज़ा शामिल हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : मारुति के डीजल इंजन वाले मॉडल्स का मार्केट में फिर से लौटना अब नामुमकिन, कंपनी के अधिकारियों ने किया कंफर्म

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News

ट्रेंडिंगकारें

* संभावित कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience