• लॉगिन / रजिस्टर

अक्टूबर 2018 सेल्स रिपोर्ट : मारुति ऑल्टो और रेनो क्विड ने मारी बाज़ी, जानें कैसा रहा सेगमेंट की बाकी कारों का हाल

संशोधित: नवंबर 14, 2018 06:12 pm | cardekho | मारुति ऑल्टो 800 2016-2019

  • 23 व्यूज़
  • Write a कमेंट

Cars In Demand: Maruti Alto, Renault Kwid Top Segment Sales In October 2018

अक्टूबर 2018 की सेल्स रिपोर्ट आ चुकी है। हमेशा की तरह इस बार भी एंट्री-लेवल हैचबैक सेगमेंट के नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे हैं। मारुती ऑल्टो 75% मार्केट शेयर के साथ इस बार भी बिक्री के मामले में टॉप पर है। वहीं रेनो क्विड 20.54% मार्केट शेयर के साथ सेगमेंट में दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली कार बनी हुई है।

अक्टूबर 2018 में सेगमेंट की बाकी कारों का कैसा रहा हाल, इसके बारे में जानेंगे यहां...

  अक्टूबर 2018 सितंबर  2018 मासिक वृद्धि वर्तमान मार्केट शेयर (%) पिछले साल का मार्केट शेयर (%) सालाना मार्केट शेयर (%) औसत बिक्री (6 महीने)
मारुती ऑल्टो 22,180 21,719 2.12 75.51 53.31 22.2 21,578
हुंडई इयॉन 5 5,309 -99.9 0.01 17.4 -17.39 3643
रेनो क्विड 6,035 5,529 9.15 20.54 22.3 -1.76 5,376
डैटसन रेडी-गो  1,151 1,658 -30.57 3.91 6.97 -3.06 1,722
कुल  29,371 34,215 -14.15 --- --- --- ---

Maruti Alto 800

ऑल्टो का दबदबा बरक़रार: मारुती ऑल्टो एंट्री-लेवल हैचबैक सेगमेंट में अब भी बेस्ट-सेलर कार के रूप में शुमार है। ऑल्टो ने अक्टूबर 2018 में सितम्बर 2018 की तुलना में 2.12% ज्यादा बिक्री हासिल की। वहीं साल-दर-साल बिक्री में भी 14% की वृद्धि हासिल की है। अक्टूबर 2018 में ऑल्टो की मांग सेगमेंट में दूसरी सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली रेनो क्विड से लगभग चार गुना अधिक रही। ऑल्टो का मार्केट शेयर 12.02 % मासिक और 22.2% सालाना दर से बढ़ा है।

Renault Kwid

क्विड की भी बढ़ी मांग: रेनो क्विड सेगमेंट में दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है। क्विड की अक्टूबर 2018 में कुल 6,035 यूनिट बिकीं। हालाकि पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार क्विड की बिक्री में 1.76% कमी आई है। 4.39% की मासिक वृद्धि दर के साथ रेनो क्विड एंट्री-लेवल हैचबैक सेगमेंट में 20.54% की हिस्सेदारी रखती है।  

Hyundai Eon

हुंडई इयॉन का रहा खराब प्रदर्शन: सेगमेंट में हुंडई इयॉन का सबसे खराब प्रदर्शन रहा। अक्टूबर 2018 में हुंडई इयॉन की महज 5 यूनिट बिकीं। सितम्बर 2018 की तुलना में यह आंकड़ा 99.9% कम है। इसकी वजह हाल ही में लॉन्च हुई हुंडई सैंट्रो को बताया जा रहा है। कंपनी ने 23 अक्टूबर को नई सैंट्रो लॉन्च की थी, इसने महज आठ दिनों में 8500 यूनिट बिक्री के आंकड़े हासिल कर लिए।

Datsun redi-GO

डैटसन रेडी-गो की सेल्स में भी आई कमी: अक्टूबर 2018 में डैटसन रेडी-गो की 1,151 यूनिट बिकीं। सितम्बर 2018 की तुलना में यह आंकड़ा 30.57% कम है। हाल ही में पेश की गई डैटसन गो फेसलिफ्ट को बिक्री में गिरावट की अहम वजह माना जा रहा है। डैटसन गो फेसलिफ्ट न केवल अधिक किफायती हो गई है बल्कि पहले से अधिक आकर्षक भी नज़र आती है। डैटसन गो फेसलिफ्ट में ड्यूल फ्रंट एयर बैग, एबीएस व ईबीड़ी जैसे सेफ्टी फीचर भी स्टैंडर्ड मिलते हैं।

क्विड व ऑल्टो की बिक्री भले ही पिछले माह के मुकाबले बढ़ी हों, लेकिन बाकी कारों की घटती मांग के चलते सेगमेंट की कुल बिक्री सितम्बर 2018 के मुकाबले 14.15% कम रही। सितम्बर 2018 में चारों कारों की कुल बिक्री 34,215 यूनिट थी, जो अक्टूबर 2018 में घटकर 29,371 यूनिट तक आ गई।

यह भी पढें :

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

मारुति ऑल्टो 800 2016-2019 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • रेनॉल्ट क्विड
  • डैटसन रेडी-गो
×
आपका शहर कौन सा है?