• लॉगिन / रजिस्टर

डेवलपर प्रोग्राम के तहत एमजी मोटर्स से जुड़े छह और स्टार्टअप्स, इनोवेशन को मिलेगा बढ़ावा

प्रकाशित पर jun 29, 2020 08:24 pm द्वारा bhanu

  • 3550 व्यूज़
  • Write a कमेंट

  • एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट के तहत 6 और स्टार्टअप्स के साथ कंपनी ने किया करार
  • इन स्टार्टअप्स में डिलाइट, सोशलकोर, इनकैबएक्स, कैमकोम, क्लीयरकोट और एलेक्सा बेस्ड प्रोजेक्ट मीसीक्स हैं शामिल
  • इससे पहले वोक्समॉक्स, ड्रिफ्टली और इनोवेशन जैसी कंपनियों के साथ करार कर चुकी है ये कंपनी
  • एमजी के साथ काम करने पर इन कंपनियों को मिलेगी ग्रांट, एक्सपर्ट्स की मेंटरिंग और कंपनी के साथ कुछ प्रोजेक्ट्स पर काम करने का मौका
  • 2017 में एमजी मोटर्स ने ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री में इनोवेशन को बढ़ावा देने के मकसद से लॉन्च किया था ये प्रोग्राम, अब तक 60 स्टार्टअप्स के साथ करार कर चुकी है कंपनी
  • अडोबे, कॉग्निजेंट, एसएपी, एयरटेल, टॉम टॉम और अनलिमिट जैसी कंपनियों के साथ लॉन्च किया गया था ये प्रोग्राम 
  • एमजी को 750 एप्लिकेशन हो चुकी है अब तक प्राप्त

एमजी मोटर्स (MG Motors) ने अपने डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट के तहत 6 और स्टार्टअप्स को अपने साथ जोड़ा है। इन स्टार्टअप्स में हाईवे डिलाइट, सोशलकोर, इनकैबएक्स, कैमकॉम, क्लीयरकोट और एलेक्सा बेस्ड प्रोजेक्ट मीसीक्स शामिल है। एमजी की ओर से इन स्टार्टअप्स को ग्रांट और टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट्स की मेंटरिंग जैसे फायदे प्राप्त होंगे। इसके अलावा इन्हें एमजी की विशेष टीमों के साथ कुछ चुनिंदा प्रोजेक्ट्स पर काम करने का मौका भी मिल सकता है। 

स्टार्टअप कम्यूनिटी के बीच इनोवेशन को बढ़ावा देने और  ऑटोमोबाइल सेक्टर में एक नई क्रांति लाने के मकसद से एमजी मोटर्स इंडिया 2017 से ही करीब 60 स्टार्टअप को बढ़ावा देती आ रही है। यह स्टार्टअप्स इंजन और एमिशन, टेक्नोलॉजी, चाइल्ड इन कार सेफ्टी, नेविगेशन, कनेक्टिविटी और इलेक्ट्रिक व्हीकल ईकोसिस्टम के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। प्रोग्राम का मुख्य उद्देश्य एक स्पेशल ग्रांट देकर लोकल स्टार्टअप कम्यूनिटी का समर्थन करना है। एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट कंपनी के मुख्य स्तंभों में से एक है जहां कंपनी द्वारा इनोवेशन पर ध्यान देने के हिस्से के रूप में सामने आया है। इस प्रोग्राम को अडोबे, कॉग्निजेंट, एसएपी, एयरटेल, टॉम टॉम और अनलिमिट जैसी टेक जायंट कंपनियों के साथ पार्टनरशिप में लॉन्च किया गया था। इस प्रोग्राम का मकसद इंडियन अर्बन मोबिलिटी स्पेस में ग्राउंड ब्रेकिंग सॉल्यूशंस को विकसित करने से है। 

यह भी पढ़ें: फिर टेस्टिंग के दौरान दिखी एमजी ग्लॉस्टर, दिवाली पर होगी लॉन्च

इस पर बात करते हुए एमजी मोटर इंडिया के प्रेसिडेंट और एमडी, राजीव चाबा, ने कहा कि “एमजी मोटर्स की बुनियाद इनोवेशन पर ही है और हमने इंडियन स्टार्टअप ईकोसिस्टम के साथ एक अनूठा संबंध विकसित किया है। हमारा लक्ष्य स्वदेशी रूप से हमारे देश में अर्बन मोबिलिटी के लिए एक व्यापक, टिकाऊ और स्मार्ट बुनियादी ढांचा विकसित करना है। एमजी डेवलपर प्रोग्राम को काफी शानदार रिस्पॉन्स मिला है और हम हमारे साथ जुड़ने वाली सभी टीमों का स्वागत करते हैं। हम उनके साथ मिलकर काम करने के लिए तत्पर हैं। एमजी इन स्टार्टअप्स के साथ तालमेल बनाते हुए अपने अपकमिंग व्हीकल्स में अपने कुछ अच्छी चीजों को शामिल करेगी।”

यह भी पढ़ें: एमजी हेक्टर प्लस के वेरिएंट से जुड़ी जानकारी आई सामने, जल्द होगी लॉन्च

कंपनी के इस प्रोग्राम का हिस्सा बनने के लिए 300 से अधिक आवेदन आए थे, जिनमें से 60 टीमों को पहले दौर में चुना गया था। इन टीमों को एमजी इंडिया के नेतृत्व के साथ-साथ इसके टेक्नोलॉजी ईकोसिस्टम पार्टनर्स सहित 25 इंडस्ट्रीयल एक्सपर्ट्स द्वारा मेंटरशिप प्रदान की गई, जिससे यह  ऑटोमोटिव सेक्टर में सबसे बड़े मेंटरशिप प्रोग्राम में से एक बन गया है। 

चयनित उम्मीदवारों में से हाईवे डिलाइट नाम का स्टार्टअप भारत की पहली फ्री ट्रेवल एप है, जो हाईवे यात्रा और सड़क यात्रा दोनों को सुरक्षित और मजेदार बनाने काम करता है। इसके मीसीक्स नामक स्टार्टअप कस्टमर सर्विस एक्सपीरियंस को डिटिजल माध्यम से मैनेज और इंप्रूव करने का काम करता है। 

यह भी पढ़ें: ऐसा होगा एमजी हेक्टर प्लस का प्रोडक्शन मॉडल, जल्द होगी लॉन्च

सोशलकोर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग बिक्री में सुधार और लागत में कमी लाने के साथ ग्राहकों से संपर्क को बढ़ाने के लिए काम करता है, जबकि इनकैबएक्स यूजर्स की प्रिफ्रेंस के अनुसार कार प्रोफाइल को पर्सनलाइज्ड करके एक बेहतर इन-केबिन अनुभव बनाता है। वहीं कैमकॉम एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर बेस्ड स्टार्टअप है जो डिफेक्ट एंड डैमेज का मूल्यांकन करता है जबकि क्लीयरकोट क्षतिग्रस्त कार की इमेज/वीडियो के माध्यम से डैमेज कार रिपेयर कॉस्ट का मूल्यांकन करता है। 

एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट के तहत यह 6 स्टार्टअप्स पहले से ही काम कर रही वॉक्समॉस, ड्रिफ्टली और इनवॉल्यूशन जैसी कंपनियों के साथ जुड़ेंगे। 

स्टार्टअप्स के साथ एमजी की यात्रा 2017 में अपने पहले एमजी इनोवेशन हंट के साथ शुरू हुई जो टीआईई दिल्ली के साथ साझेदारी में लॉन्च की गई थी। तब से, एमजी इंडिया ने भारत के स्टार्टअप कम्यूनिटी और अग्रणी शैक्षणिक संस्थानों के साथ साझेदारी में कुल 6 स्टार्टअप कार्यक्रम किए हैं और ये सभी एमजी डेवलपर प्रोग्राम और ग्रांट के तहत आते हैं। विभिन्न एमजी स्टार्टअप प्रोग्राम्स में हिस्सा लेने के लिए पूरे भारत से 750 से अधिक स्टार्टअप्स और इनोवेटर्स अप्लाय कर चुके हैं।

  • New Car Insurance - Save Upto 75%* - Simple. Instant. Hassle Free - (InsuranceDekho.com)
  • Sell Car - Free Home Inspection @ CarDekho Gaadi Store
द्वारा प्रकाशित

Write your कमेंट

Read Full News
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का
×
आपका शहर कौन सा है?