इकोस्पोर्ट की आखिरी यूनिट तैयार होने के साथ फोर्ड का भारत में सफर हुआ खत्म

प्रकाशित: जुलाई 21, 2022 07:12 pm । भानुफोर्ड इकोस्पोर्ट

  • 1295 व्यूज़
  • Write a कमेंट

अमेरिकन कंपनी फोर्ड ने अपने चेन्नई स्थित प्लांट में इकोस्पोर्ट एसयूवी की आखिरी यूनिट तैयार करने के बाद भारत से अपना कामकाज समेटने की तैयारी कर ली है। कंपनी ने लगभग एक साल पहले भारत में कार मैन्युफैक्चरिंग बंद करने का ऐलान किया था। इसके साथ ही कंपनी ने कहा ​था कि 2022 के मध्य तक वो एक्सपोर्ट करने के इरादे से इकोस्पोर्ट की मैन्युफैक्चरिंग को जारी रखेगी। 

बता दें कि फोर्ड इकोस्पोर्ट को 2014 में लॉन्च किया गया था जिसके बाद इस कार को यहां काफी पॉपुलैरिटी भी मिली थी। ईकोस्पोर्ट में पेट्रोल और डीजल दोनों तरह के इंजन ऑप्शंस दिए जा रहे थे। ये अपने सेगमेंट की उन कारों में से एक थी जिसमें प्रॉपर टॉर्क कन्वर्टर ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन दिया गया था और ये पहली टर्बो पेट्रोल इंजन वाली मास मार्केट एसयूवी भी थी। 

Ford India’s Latest Announcement Leads To The Cancellation Of The Facelifted EcoSport

​यदि फोर्ड भारत से नहीं जाती तो यहां ईकोस्पोर्ट का फेसलिफ्ट मॉडल लॉन्च करने की तैयारी भी की जा रही थी। बता दें कि इकोस्पोर्ट सब 4 मीटर एसयूवी सेगमेंट की सबसे पुरानी कारों में से एक है। 

यह भी पढ़ें: कुछ ऐसी रही फोर्ड के भारत में पतन की शुरूआत,दूसरी कंपनियों के लिए बड़ा सबक

Ford Ceases Local Production In India, To Only Import CBUs

फोर्ड ने भारत में कामकाज बंद करने के साथ ही कहा था कि उसके मस्टैंग स्पोर्ट्स कूपे और मस्टैंग मैक-ई जैसे ग्लोबल प्रोडक्ट्स को यहां उतारा जाएगा। हालांकि कंपनी ने इनकी ऑफिशियल लॉन्च टाइमलाइन नहीं बताई थी। 

फोर्ड भारत में पहले केवल इलेक्ट्रिक कारों की मैन्युफैक्चरिंग करने का मन बना रही थी मगर मई 2022 में कंपनी ने इस प्लान को कैंसिल कर दिया था। इसके बाद फोर्ड ने कहा था कि वो अपने प्लांट्स के भविष्य को लेकर कुछ दूसरे विकल्प तलाश कर रही है। अब कुछ अन्य कारमेकर्स भारत में फोर्ड के प्लांट्स का अधिग्रहण करने पर विचार कर रहे हैं। 

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

फोर्ड इकोस्पोर्ट पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

ट्रेंडिंगएसयूवी

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience