• लॉगिन / रजिस्टर

दो अलग अलग मंदिरों के बाहर टाटा अल्ट्रोज और नेक्सन का हुआ एक्सीडेंट, देखिए दोनों कारों का फिर क्या हुआ हाल

संशोधित: मार्च 22, 2021 05:44 pm | भानु | टाटा अल्ट्रोज़

  • 1192 व्यूज़
  • Write a कमेंट

टाटा मोटर्स की नई कारों को ग्लोबल एनकैप की ओर से धांसू सेफ्टी रेटिंग दी जा चुकी है। हाल ही में कंपनी की दो नई कार अल्ट्रोज और नेक्सन का उनके ड्राइवरों की लापरवाही के कारण दो अलग अलग जगहों पर मंदिर के बाहर एक्सीडेंट हुआ, मगर इन दोनों हादसों में ना तो कार के अंदर बैठे लोग हताहत हुए और ना ही बाहर किसी को कोई नुकसान पहुंचा।

पहला हादसा केरल के अलपुजहा जिले में हुआ जहां टाटा अल्ट्रोज मंदिर प्रांगण के बार उसकी दीवार से जा टकराई। मंदिर के मुख्य भवन के बाहर ही ये कार एक दीवार से टकरा गई और उसी समय रूक गई। गनीमत ये रही कि उस समय मंदिर में कोई मौजूद नहीं था। चश्मदीदों ने बताया कि कार में तीन लोग सवार थे और दुर्घटना के बाद वो कार से बाहर आए और फिर भाग निकले और उन्हें कोई चोट नहीं पहुंची। ये लोग शिवरात्रि मनाकर लौट रहे थे जहां फिर लौटते समय ड्राइवर को झपकी आ गई। यदि मंदिर में ज्यादा लोग मौजूद होते तो ये घटना विक्राल रूप ले सकती थी।

तस्वीरों पर गौर करें तो ऐसा लग रहा है कि ड्राइवर में अनुभव की कमी थी ​और उसने टक्कर की स्थिति में गाड़ी को रोकने की बिल्कुल कोशिश नहीं की। इस कार पर टेंपररी रजिस्ट्रेशन नंबर भी देखा जा सकता है जिससे ये साबित होता है कि ये कार एकदम नई थी। वहीं इसमें फॉगलैंप भी नहीं दिए गए हैं जिससे ये अल्ट्रोज का एक्सएम और एक्सएम प्लस वेरिएंट हो सकता है। दुर्घटना के बाद गाड़ी का बोनट बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया, वहीं इसके तले को भी काफी नुकसान हुआ है जो तस्वीर में दिखाई नहीं दे रहा है। इस दौरान ही पैसेंजर कंपार्टमेंट बिल्कुल सुरक्षित पाया गया और दोनों एयरबैग भी खुले हुए थे। वहीं घटना के बाद कार के दरवाजे भी खुले हुए मिले।

इसी तरह की दुर्घटना राजस्थान में भी पेश आई जहां टाटा नेक्सन कार भी मंदिर के बाहर दुर्घटना का शिकार हो गई। इस दुर्घटना में नेक्सन मंदिर के बाहर एक मूर्ति से टकरा गई। इस घटना में नेक्सन के फ्रंट को काफी नुकसान हुआ और उसका बंपर भी उखड़ गया, वहीं ग्रिल को भी नुकसान पहुंचा। ये भी एकदम नई कार थी जिसे मंदिर में पूजा अर्चना के लिए लाया गया था।

यह भी पढ़ें:कारों में ड्यूल फ्रंट एयरबैग्स 1 अप्रैल से होंगे अनिवार्य - कौनसी कारें होंगी सबसे ज्यादा प्रभावित?

हालांकि नेक्सन कैसे दुर्घटनाग्रस्त हुई, इसकी तो जानकारी ठीक से नहीं मिल पाई है। मगर ऐसा लगता है कि शायद ड्राइवर का पांव गलती से एक्सलरेटर पर पड़ गया जिससे कार बेकाबू हो गई। ऐसे में हम ये आर्टिकल पढ़ रहे लोगों को यही राय देंगे कि आप किसी नई कार को ड्राइव करने से पहले उसके इंजन के​ रिस्पॉन्स और ड्राइविंग डायनैमिक्स को अच्छे से समझ लें।

ग्लोबल एनकैप क्रैश टेस्ट में टाटा अल्ट्रोज और टाटा नेक्सन दोनों को 5 स्टार सेफ्टी रेटिंग दी जा चुकी है। इस हैचबैक और सब 4 मीटर एसयूवी कार में ड्यूल फ्रंट एयरबैग,एबीएस और रियर पार्किंग सेंसर जैसे फीचर्स दिए गए हैं। वहीं टाटा नेक्सन में तो इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी प्रोग्राम और ट्रैक्शन कंट्रोल जैसे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं।

यदि इन दोनों दुर्घटनाओं से सबक लें तो एक बात सामने आती है वो ये कि आपकी गाड़ी में भले ही कितने अच्छे सेफ्टी फीचर्स क्यों ना हो, मगर मानवीय भूल के आगे ये फीचर्स भी फिर बाद में किसी काम के नहीं रहते हैं। अक्सर नए नवेले ड्राइवर ब्रेक की जगह एक्सलरेटर जैसी भूल कर ही बैठते हैं। ऐसे में शुरू शुरू में कार को बिना हड़बड़ी के धीरे धीरे ड्राइव करने में ही भलाई है। 

यह भी पढ़ें: हाई-स्पीड क्रैश टेस्ट में फोक्सवैगन पोलो ने ट्रैक्टर का कर डाला ऐसा हाल,देखें वीडियो

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

टाटा अल्ट्रोज़ पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • टाटा अल्ट्रोज़
  • टाटा नेक्सन

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का
×
आपका शहर कौन सा है?