टाटा पंच का ये आफ्टर मार्केट मॉडिफिकेशन देख आप भी हो जाएंगे इसके फैन, देखिए कितनी बदली ये कार

प्रकाशित: नवंबर 11, 2021 07:50 pm । cardekhoटाटा पंच

  • 815 व्यूज़
  • Write a कमेंट

टाटा पंच एक फीचर लोडेड माइक्रो एसयूवी कार है। लेकिन, इस गाड़ी के टॉप वेरिएंट में बेस्ट फीचर्स को पाने के लिए आपको अपने बजट को जरूर बढाना होगा। अगर आपका बजट कम है तो ऐसे में आप कम प्राइस पर इस गाड़ी के लोअर वेरिएंट को खरीद कर इसमें दमदार सेफ्टी फीचर्स भी प्राप्त कर सकते हैं, साथ ही आफ्टरमार्केट एसेसरीज़ लगवा कर बेसिक टेक्नोलॉजी और इंफोटेनमेंट फीचर्स को अपग्रेड भी कर सकते हैं। नीचे दिए गए वीडियो में देखें कि पंच के एडवेंचर वेरिएंट को कॉस्मेटिक और फंक्शनल तौर पर अपग्रेड करने के लिए आपको कितने पैसे देने होंगे? क्रिएटिव वेरिएंट के मुकाबले इस वेरिएंट को खरीदने पर 2 लाख रुपए (एक्स-शोरूम) की बचत की जा सकती है।

तस्वीरों पर गौर करें तो इसमें दिए गए पिंक इंटीरियर ट्रिम और सीट कॉन्ट्रास्ट पंच के ब्लैक और स्लेट इंटीरियर कलर स्कीम से ज्यादा अच्छे लग रहे हैं। इसमें चारों दरवाजों पर, फ्रंट सीट के नीचे की तरफ और सेंटर एयर वेंट्स के नीचे लॉवरे पर एम्बिएंट लाइटिंग दी गई है। इसके अलावा इसमें फूटवैल एरिया पर भी लाइटिंग मिलती है। इस गाड़ी के एडवेंचर वेरिएंट में लॉवरे पर ग्रे प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है, जबकि इस मॉडिफाइड मॉडल में इस पर पिंक लैदर फिनिशिंग मिलती है। इस कार में डोर सिल्स पर नई स्कफ प्लेट इल्युमिनेटेड 'पंच' लोगो के साथ इंस्टाल की गई है।

फैक्ट्री फिटेड मॉडल की बात करें तो इसके एडवेंचर वेरिएंट में बेसिक ऑडियो सिस्टम और चार कोएग्जियल स्पीकर दिए गए हैं, लेकिन इस दिल्ली बेस्ड एसेसरीज़ शॉप ने इसकी हेड यूनिट को नए एंड्रॉइड ओएस बेस्ड टचस्क्रीन से रिप्लेस कर दिया है जो इसके टॉप क्रिएटिव वेरिएंट में दी गई 7-इंच टचस्क्रीन से बड़ी लगती है। अपने बजट में बेहतर ऑडियो पाने के लिए कार ओनर फ्रंट कोएग्जियल स्पीकर दो ट्वीटर्स के साथ भी लगवा सकते हैं जो खासकर क्रॉसओवर कारों में इंस्टॉल होते हैं।  क्रॉसओवर कारों में कोएक्सियल स्पीकर से बॉस का साउंड इतना अच्छा नहीं आता है जितना की ट्वीटर से आता है।

इस मॉडिफाइड मॉडल में एक्सटीरियर पर हर पार्किंग लैंप आईब्रो पर नई आफ्टरमार्केट एलईडी डीआरएल स्ट्रिप दी गई है। इसकी डीआरएल लाइटें काफी तेज़ी से जलती हैं जिसके चलते इसमें डायनामिक टर्न इंडिकेटर जैसा अहसास होता है। हालांकि, पंच के इस ओनर ने अपनी कार में हेडलैंप को अपग्रेड नहीं किया है। इसमें रेगुलर मॉडल वाले हैलोजन फॉग लैंप को पावरफुल एचआईडी (हाई-इंटेंसिटी डिस्चार्ज) प्रोजेक्टर फॉग लैंप से रिप्लेस कर दिया गया है। हम इस बात को लेकर कन्फर्म नहीं है कि यह कॉर्नरिंग फंक्शन के साथ आते हैं या नहीं, वहीं फ़ैक्ट्री फिटेड फॉग लैंप में यह फंक्शन जरूर दिया गया है। यह फीचर इस गाड़ी के केवल अकम्पलिश्ड और क्रिएटिव वेरिएंट के साथ ही मिलता है।

इसके एडवेंचर वेरिएंट में बेस प्योर वेरिएंट की तरह ही सरकार द्वारा अनुमोदित सेफ्टी फीचर्स ड्यूल फ्रंट एयरबैग्स, एबीएस के साथ ब्रेक स्वे कंट्रोल और आईएसोफिक्स चाइल्ड सीट एनकरेज स्टैंडर्ड दिए गए हैं। इसके अलावा इसमें इनसाइड रियरव्यू मिरर पर मैनुअल एंटी ग्लेयर भी दिया गया है। पंच के इस वेरिएंट में रियर पार्किंग कैमरा का अभाव है, ऐसे में एसेसरीज़ शॉप ने इसकी इंफोटेनमेंट स्क्रीन पर आफ्टरमार्केट कैमरा फिट किया हुआ है।

इस मॉडिफिकेशन और एसेसरीज़ को फिट करने में 55,000 रुपए का खर्चा आया है। शॉप की सलाह है कि आपको और भी ज्यादा एसेसरीज़ को लगवाने के लिए 70,000 रुपए का बजट अलग से जरूर रखना होगा। आप अपनी टाटा पंच के मिड वेरिएंट को कैसे एसेसराइज़ करवाना चाहेंगे हमें कमेंट सेक्शन में लिख कर बताएं।

क्या मैं ऐसे मॉडिफिकेशन पर अपनी वारंटी खो सकता हूं?

अगर कोई कार वारंटी के अंदर है और खराब आफ्टरमार्केट एक्सेसरीज के कारण खराब हो जाती है, तो इसे वारंटी के तहत कवर करना कार निर्माता और डीलरशिप पर निर्भर करता है। सेफ साइड पर रहने के लिए आप अपनी कार में अच्छी क्वॉलिटी वाली एसेसरीज़, वायर और कॉम्पोनेन्ट लगवा सकते हैं, लेकिन इसके खराब होने का खतरा फिर भी जारी रहता है।

यह भी पढ़ें : ये हैं भारत के टॉप 5 ड्राइव-इन मूवी थिएटर जहां खुली हवा में ले सकते हैं फिल्मों का मजा

अधिकांश डीलरशिप आपको कभी भी ऑडियो अपग्रेड करवाने, नए सीट कवर चेंज करवाने या फिर आपकी कार के इंटीरियर के कलर को बदलवाने के लिए परेशान नहीं करती है। इलेक्ट्रिक कॉम्पोनेन्ट कभी-कभी खराब हो सकते हैं, लेकिन एक एक्सपर्ट ऑटोमोटिव इलेक्ट्रीशियन ही कार के इलेक्ट्रिकल्स में छेड़खानी किए बिना उन्हें इंस्टॉल करने का सही तरीका जानता है। यदि आप अभी भी अपनी वारंटी खोने के बारे में असहज महसूस करते हैं, तो आप अपनी कार को मॉडिफाई करने और उसे एसेसराइज़ करवाने से पहले 2-5 साल के लिए रुक सकते हैं।

यह भी पढ़ें: टाटा पंच ऑन रोड प्राइस

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

टाटा पंच पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली

ट्रेंडिंगएसयूवी

* संभावित कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience