स्कोडा ऑक्टाविया की भारत में अब तक 1 लाख से ज्यादा यूनिट बिकी, 21 साल से अपने सेगमेंट में कर रही है राज

प्रकाशित: जून 23, 2022 02:14 pm । भानुस्कोडा ऑक्टाविया

  • 1845 व्यूज़
  • Write a कमेंट

स्कोडा ऑक्टाविया ने एक इंडियन ऑटोमोटिव रिकॉर्ड ब्रेक किया है। 1,01,111 यूनिट्स की बिक्री के साथ, यह अब देश का सबसे ज्यादा बिकने वाला सीकेडी मॉडल बन गया है। बता दें कि सीकेडी मॉडल वो होता है जिसके पार्ट्स को बाहर से लाकर संबंधित देश में जहां उसे बेचा जाना है वहां उसकी असेंबलिंग की जाती है। 

भारत की सबसे पुरानी कारों में से एक है ऑक्टाविया

इस प्रीमियम स्कोडा सेडान का फर्स्ट जनरेशन मॉडल भारत में 2001 में लॉन्च किया गया था। इसके बाद 2021 के मध्य तक इसका लेटेस्ट जनरेशन 4 मॉडल यहां उतारा गया और आज तक इस कार की पॉपुलैरिटी में कोई कमी नहीं आई है। स्पोर्टी ड्राइविंग के शौकीनों और एग्जिक्यूटिव क्लास के बीच स्कोडा सेडान एक जाना पहचाना नाम है। इसमें प्रीमियम कंफर्ट और यूरोपियन ड्राइविंग डायनैमिक्स के कॉम्बिनेशन के साथ एक अफोर्डेबल लग्जरी कार का सबसे बड़ा एडवांटेज भी मिलता है। 

मुकाबले में मौजूद दूसरी कारों को दी कड़ी चुनौती

स्कोडा ऑक्टाविया सेडान एक ऐसे प्राइस पॉइन्ट वाले सेगमेंट की कार है जिनकी ज्यादा यूनिट्स बिकती नहीं है। कंफर्ट और​ डिजाइन के मोर्चे पर ये सेगमेंट काफी वैल्यू फॉर मनी फैक्टर्स रखता है। हाल ही के कुछ सालों में कुछ एसयूवी कारों के आगे प्रीमियम सेडान कारों की चमक फीकी पड़ती देखी गई है। दूसरी तरफ ऑक्टाविया का मुकाबला हुंडई एलांट्रा, होंडा सिविक और टोयोटा अल्टिस जैसी कारों से रहा है। अब इस सेगमेंट में हाल ही में एलांट्रा सेडान के बंद होने के बाद केवल ऑक्टाविया ही रह गई है। 

दो दशक से मौजूद है ये कार

ऑक्टाविया का फर्स्ट जनरेशन पहला ऐसा स्कोडा मॉडल था जिसका परफॉर्मेंस ओरिएंटेड वीआरएस वर्जन भी उतारा गया। भारत में इसे 2004 में लॉन्च किया गया था और ये देश की पहली ऐसी पैसेंजर कार थी जिसमें टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया। स्कोडा ने इसके बाद लॉरा नाम से ऑक्टाविया का सेकंड जनरेशन मॉडल यहां लॉन्च किया और साथ ही फर्स्ट जनरेशन मॉडल भी बिक्री के लिए उपलब्ध रहा, जो उस समय भी काफी पॉपुलर रहा। इसके बाद 2013 में इस सेडान का थर्ड जनरेशन मॉडल लॉन्च किया गया और 2020 में इसका काफी पावरफुल वर्जन वीआरएस 245 भी पेश किया गया। इंटरनेशनल मार्केट में ऑक्टाविया सेडान कार को कॉम्बी के नाम से जाना जाता है जो वहां उतनी पॉपुलर नहीं है जितनी भारत में हुई। 

आज क्या है स्थिति

भारत में स्कोडा ऑक्टाविया का जनरेशन 4 मॉडल बिक्री के लिए उपलब्ध है जो 21 साल पहले वाले मॉडल से ज्यादा बड़ा और ज्यादा प्रीमियम है। अब ये लंबी सेडान केवल पेट्रोल इंजन में ही उपलब्ध है जिसकी कीमत 26.85 लाख रुपये से शुरू होती है। पिछले 6 महीनों के रिकॉर्ड्स को देखें तो ऑक्टाविया की हर महीने 150 यूनिट्स तक तो आराम से बिक रही है। इस बीच ही अब स्कोडा स्लाविया जैसी कॉम्पैक्ट सेडान कारों के भी अच्छे दिन आ गए हैं। साइज और प्रीमियनैस के लिहाज से स्लाविया को स्कोडा ऑक्टाविया का छोटा वर्जन कहा जा सकता है जिनमें काफी चीजें कॉमन भी है। हालांकि स्कोडा ऑक्टाविया का ओरिजनल मॉडल अपनी दमदार रोड प्रजेंस, कंफर्ट और परफॉर्मेंस के कारण ना सिर्फ भारत में बल्कि ग्लोबल प्रीमियम सेडान सेगमेंट में भी कमाल का प्रदर्शन कर रही है।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

स्कोडा ऑक्टाविया पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

नई दिल्ली में *एक्स-शोरूम कीमत

ट्रेंडिंगसेडान

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience