• लॉगिन / रजिस्टर

टेस्ला कर्नाटक में लगाएगी अपना मैन्युफैक्चरिंग प्लांट, सीएम बीएस येदियुरप्पा ने दी जानकारी

प्रकाशित: फरवरी 15, 2021 07:20 pm । स्तुति

  • 2255 व्यूज़
  • Write a कमेंट
  • टेस्ला कंपनी ने भारत में अपना रजिस्ट्रेशन जनवरी 2021 में कराया था।
  • कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा है कि टेस्ला कंपनी अपनी इलेक्ट्रिक कारों के लिए मैन्युफैक्चरिंग प्लांट उनके राज्य में स्थापित करेगी।
  • टेस्ला की भारत में पहली कार मॉडल 3 सेडान हो सकती है।
  • टेस्ला मॉडल 3 सेडान की प्राइस 60 लाख रुपये के आसपास रखी जा सकती है।  
  • भारत में तैयार होने से टेस्ला कारों की कीमत कम रखने में मदद मिलेगी और इनका वेटिंग पीरियड भी कम होगा।  

भारत में टेस्ला फैंस के लिए यह साल काफी अच्छा रहा है। जनवरी 2021 में टेस्ला मोटर्स ने बैंगलुरु में अपना रजिस्ट्रेशन कराया था। अब कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा है कि अमेरिकन इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला उनके राज्य में अपना मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाएगी। सीएम ने यूनियन बजट 2021 से दक्षिणी राज्यों को मिलने वाले लाभों का जिक्र करते हुए एक बयान में इस बात की जानकारी दी है।

टेस्ला की मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी को गिगाफ़ैक्ट्री के नाम से जाना जाता है। अब तक जो रूझान सामने आ रहे हैं उन्हें देखकर लग रहा है कि कंपनी कर्नाटक से ही अपने ऑपरेशन शुरू करेगी। टेस्ला के इलेक्ट्रिक व्हीकल्स अपनी लंबी रेंज और दमदार परफॉर्मेंस के लिए मशहूर हैं। हालांकि, यह इतने ज्यादा बजट फ्रेंडली नहीं हैं। अंतरराष्ट्रीय मार्केट में इसके एंट्री लेवल मॉडल 3 सेडान की शुरूआती प्राइस भारतीय करेंसी के मुताबिक करीब 26.5 लाख रुपये है। शुरूआत में इसे भारत में इंपोर्ट करके बेचा जाएगा, ऐसे में यहां इसकी प्राइस दोगुनी हो सकती है, क्योंकि यहां इस पर कई सारे टैक्स भी लगेंगे। वहीं, भारत में ही तैयार की जाने वाली टेस्ला की इलेक्ट्रिक कार ज्यादा किफायती ऑप्शन साबित हो सकती है।

अनुमान है कि टेस्ला सबसे पहले भारत में मॉडल 3 सेडान को लॉन्च कर सकती है। यहां पर इसका सबसे पहले लॉन्ग रेंज वेरिएंट लॉन्च किया जा सकता है। यह वेरिएंट फुल चार्ज पर  569 किलोमीटर तक की रेंज तय करने में सक्षम है। इसमें ऑल-व्हील-ड्राइव पावरट्रेन के लिए ड्यूल मोटर सेटअप दिया गया है। यह गाड़ी 0 से 96 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड को 4.2 सेकंड में पा लेती है। वहीं एंट्री लेवल स्टैंडर्ड रेंज प्लस में सिंगल रियर-व्हील-ड्राइव इलेक्ट्रिक मोटर दी गई है, जिसके जरिये यह गाड़ी 423 किलोमीटर की रेंज तय करने में सक्षम है। इसके टॉप वेरिएंट परफॉर्मेंस में लॉन्ग रेंज ड्राइवट्रेन का ट्यून्ड वर्जन दिया गया है और इसकी रेंज 507 किलोमीटर तक की है।

Tesla Model 3

भारत में टेस्ला की कारों में ऑटोपायलट ऑटोनॉमस ड्राइविंग टेक्नोलॉजी मिलने की संभावनाएं कम ही हैं। इसमें सेमी ऑटोनॉमस सेफ्टी फीचर्स जैसे ब्लाइंड स्पॉट मॉनिटरिंग और ऑटोनॉमस इमरजेंसी ब्रेकिंग दिए जा सकते हैं। इसके अलावा मॉडल 3 के केबिन में 15-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम और क्लाइमेट कंट्रोल्स, पावर एडजस्टेबल सीटें, पैनोरमिक ग्लास रूफ और 14-स्पीकर ऑडियो सिस्टम जैसे प्रीमियम फीचर्स भी दिए जाएंगे।

भारत में टेस्ला मॉडल 3 का सीधा मुकाबला किसी भी कार से नहीं है। कीमत के मोर्चे पर इसका कंपेरिजन बीएमडब्ल्यू 3 सीरीज, मर्सिडीज़ बेंज सी-क्लास, वोल्वो वी60 और ऑडी ए4 जैसी कारों से रहेगा। यहां इस कार को 2021 के अंत तक लॉन्च किया जा सकता है। भारत में इसे इंपोर्ट करके बेचा जाएगा।

यह भी पढ़ें : टेस्ला मॉडल 3 इलेक्ट्रिक कार : जानिए इससे जुड़ी हर वो बात जिसे जानना चाहेंगे आप

  • New Car Insurance - Save Upto 75%* - Simple. Instant. Hassle Free - (InsuranceDekho.com)
  • Sell Car - Free Home Inspection @ CarDekho Gaadi Store
द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?