• लॉगिन / रजिस्टर

भारत में इलेक्ट्रिक कारें उतारेगी हुंडई और किया मोटर्स

प्रकाशित पर Mar 20, 2019 04:07 PM द्वारा Bhanu

  • 656 व्यूज़
  • Write a कमेंट

Hyundai ix-Metro concept

हुंडई और किया मोटर्स ने ओला कैब्स में 2066 करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की है। कंपनी निवेश के एक हिस्से से भारतीय बाजार के लिए इलेक्ट्रिक कारें भी तैयार करेगी। इलेक्ट्रिक कारें बनाने के अलावा कंपनी फ्लीट मोबिलिटी सॉल्यूशन और इलेक्ट्रिक व्हीकल के अनुकूल इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने का भी काम करेगी। इसके अलावा निवेश के ज़रिए ओला को ज्यादा से ज्यादा ड्राइवर पार्टनर्स से जोड़ा जाएगा। इसके लिए आकर्षक अवसर और आॅफर की पेशकश की जाएगी। 

हुंडई ने ओला के लिए बनाई जाने वाली इलेक्ट्रिक कारों की लॉन्चिंग को लेकर कोई पुष्टि नहीं की है। मगर इससे पहले किया मोटर्स भारत में कोना इलेक्ट्रिक कॉम्पैक्ट एसयूवी पेश करेगी। कंपनी कोना इलेक्ट्रिक को भारत में नहीं बनाएगी, हालांकि इसकी असेंबल देश में ही की जाएगी। सिंगल चार्जिंग पर कोना 200 किलोमीटर से ज्यादा दूरी का सफर तय करने में सक्षम होगी। एक अनुमान के अनुसार इसकी शुरूआती कीमत 25 लाख रुपए के आसपास हो सकती है। लगभग इसी कीमत पर ये कार ब्रिटेन और अमेरिका में भी बेची जा रही है। 

Hyundai Kona Electric

हुंडई और किया मोटर्स ओला में सामुहिक निवेश कर रही हैं। ऐसे में इनसे अपेक्षाकृत सस्ती इलेक्ट्रिक कार बनाए जाने की उम्मीद की जा रही है। चर्चा है कि कंपनी देश में कॉम्पैक्ट हैचबैक इलेक्ट्रिक कारें उतार सकती है। इन इलेक्ट्रिक कारों का साइज़ सेंट्रो और नई जनरेशन ग्रैंड आई-10 के जितना हो सकता हैं।

Hyundai ix-Metro concept

देश में इलेक्ट्रिक कारों को लेकर सरकारी नीतियां स्पष्ट नहीं थी। ऐसे में हुंडई पहले भारत में इलेक्ट्रिक कार सेगमेंट में निवेश करने से बच रही थी। अब भी इलेक्ट्रिक कारों को लेकर सरकार की तरफ से कोई दीर्घकालिक नीति नहीं बताई गई है। लेकिन, सरकार 1 अप्रैल 2019 से फेम (फास्टर अडॉप्शन एंड मैन्यूफैक्चरिंग आॅफ हाइब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हीकल इन इंडिया) योजना का दूसरा चरण शुरू करने वाली है। फेम-2 स्कीम के तहत देश में इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड कारों की खरीद पर प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। हालांकि यह स्कीम केवल 15 लाख रुपए तक के इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड वाहनों पर ही लागू होगी, जिसमे 35,000 इलेक्ट्रिक कारों पर 1.5 लाख रुपए तक और 20,000 हाइब्रिड कारों पर 13,000 रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। ये स्कीम तीन साल तक मान्य होगी। 

Maruti's WagonR EV prototype

हुंडई और किया मोटर्स की ही तरह मारुति भी देश में इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की तैयार में है। मारुति की ये इलेक्ट्रिक कार वैगन-आर पर बेस्ड होगी। इसके अलावा टाटा भी टिगोर ईवी और टाटा अल्ट्रोज़ को लॉन्च करेगी। इन्हें 2020 तक लॉन्च किए जाने की उम्मीद है। कोना इलेक्ट्रिक के अलावा टाटा, मारुति और हुंडई-किया इलेक्ट्रिक कारों की कीमत 15 लाख रुपए की भीतर होने की उम्मीद हैं।

Tata Altroz EV

हुंडई-किया मोटर्स की तरह, टाटा भी इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने में निवेश कर रही है। वर्तमान में एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज़ लिमिटेड (ईईएसएल) के कर्मचारियों टाटा टिगोर ईवी उपयोग में ली जा रही है। हालांकि टाटा ने अभी इसे निजी खरीदारों के लिए लॉन्च नहीं किया है। वर्तमान में केवल महिंद्रा की ई2ओ प्लस और ई-वेरिटो ऑल-इलेक्ट्रिक कारें की बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें: एक अप्रैल से शुरू होगी फेम-2 योजना, इलेक्ट्रिक कारों पर मिलेगी 10% तक सब्सिडी

द्वारा प्रकाशित

Write your कमेंट

1 कमेंट
1
N
nagappa ananthaswamy
Mar 19, 2019 1:20:03 PM

All cars in India to be made electric and the battery of car to be used for domestic purpose during night and in morning times it should be charged by domestic solar as well by public charging points energised by national grid which should be fully backed by solar energy.so that night time demand on national grid automatically reduces.

जवाब
Write a Reply
2
C
cardekho
Mar 23, 2019 7:29:33 AM

(Y)

    जवाब
    Write a Reply
    Read Full News
    ×
    आपका शहर कौन सा है?