• लॉगिन / रजिस्टर

टोयोटा फॉर्च्यूनर Vs फोर्ड एंडेवर Vs म​हिंद्रा अल्टुरस जी4 Vs फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस: एसी परफॉर्मेंस कंपेरिजन

प्रकाशित: मई 05, 2021 01:53 pm । भानुटोयोटा फॉर्च्यूनर

  • 701 व्यूज़
  • Write a कमेंट

यदि आपको आपने तय बजट के दायरे में अपने सपनों की कार खरीदनी हो और आपको उसमें सनरूफ और बड़ा टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम जैसे फीचर्स ना भी मिले तो काम चल सकता है, मगर यदि आपकी गाड़ी में एसी जैसे बहुत ही ज्यादा जरूरी फीचर ना मिले तो क्या आप अपनी उस ड्रीम कार को खरीदना पसंद करेंगे? हमारा मानना है शायद नहीं। हमारे देश में अब कार एसी का फीचर लग्जरी आइटम से ज्यादा एक जरूरी फीचर बन गया है। इसे ही ध्यान में रखते हुए हमने मार्केट में उपलब्ध कुछ ज्यादा पावरफुल कारों में दिए गए एसी की कूलिंग क्षमताओं का टेस्ट किया है। इस टेस्ट में हमने टोयोटा फॉर्च्यूनर, फोर्ड एंडेवर,  फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस और महिंद्रा अल्टुरस जी4 जैसी फुल साइज 7 सीटर एसयूवी कारों को शामिल किया है।

कई घंटो तक कड़ी धूप में खड़ा रखने के बाद टोयोटा फॉर्च्यूनर ही वो कार रही जो अंदर से फटाफट ठंडी हो गई। अब ये सब कैसे हुआ और किन परिस्थितियों में हुआ इन सबके जवाब देने के लिए हमने इस टेस्ट को कुछ पैमानों में बांटा है जिसके तकनीकी जवाब आपको मिलेंगे आगे:-

टेस्ट 1: कौनसी एसयूवी थी सबसे ज्यादा गर्म?

सबसे गर्म: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस| औसत तापमान: 50.1°सेल्सियस

सबसे कूल: टोयोटा फॉर्च्यूनर| औसत तापमान:47.1°सेल्सियस

रोचक तथ्य:

इस टेस्ट का ये पार्ट काफी रोचक रहा क्योंकि जो कार सबसे ज्यादा और जल्दी गर्म हुई उसे ठंडा करने में उतना ही ज्यादा समय लगा।

  • दोपहर की चिलचिलाती धूप में करीब 15 मिनट तक खड़े रहने के बाद फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस का केबिन सबसे जल्दी और भयंकर गर्म हो गया। इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह सनरूफ के नीचे लगे पतते फैब्रिक सनशेड को माना जा सकता है। ये अपने आप ही काफी गर्म हो जाता है और केबिन को भी फिर गर्म कर देता है। गनीमत है कि ऑलस्पेस में ऑल ब्लैक इंटीरियर थीम नहीं दी गई है नहीं तो ये कार अंदर से और भी गर्म हो सकती थी।
  • इस दरम्यान ही टोयोटा फॉर्च्यूनर के केबिन में सबसे कम औसतन गर्म टेंपरेचर रिकॉर्ड किया गया। इसके बाद दूसरे नंबर पर फोर्ड एंडेवर रही। इस मामले में महिंद्रा अल्टुरस जी4 तीसरे नंबर पर रही, मगर सबसे ज्यादा गर्म होने वाली ये दूसरी कार रही।

नतीजे

सबसे ज्यादा तापमान

व्हीकल

फर्स्ट रो

सेकंड रो

थर्ड रो

औसत

पहले

बाद में

पहले

बाद में

पहले

बाद में

पहले

बाद में

टोयोटा फॉर्च्यूनर

39.6°

46.4°

39.5°

46.9°

40.8°

48.1°

40°

47.1°

फोर्ड एंडेवर

40.2°

47.9°

40.2°

48.4°

39.9°

47.4°

40.1°

47.9°

महिंद्रा अल्टुरस जी4

40.4

47.3°

40.1

47.8°

41.5°

50.6°

40.6°

48.5°

फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस

42.9°

49.7°

42°

49.6°

43.3°

51.1°

42.7°

50.1°

गाड़ी के जल्द गर्म होने का उसका कलर भी बनता है कारण

टोयोटा फॉर्च्यूनर लिजेंडर: पर्ल व्हाइट (मैट ब्लैक रूफ के साथ)

Ford Endeavour

फोर्ड एंडेवर: डिफ्यूज्ड सिल्वर

महिंद्रा अल्टुरस जी4: नपोली ब्लैक

फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस: पेट्रोलियम ब्लू

इस बात में कोई शक नहीं कि किसी कार का कलर जितना डार्क होगा वो उतना ही जल्द गर्म होगी। ये बात अल्टुरस जी4 और टिग्वान ऑलस्पेस में नजर भी आई। फॉर्च्यूनर के व्हाइट कलर और एंडेवर के सिल्वर कलर ने हीट को ज्यादा एब्सॉर्ब नहीं होने दिया जिससे उनके केबिन का टेंपरेचर कम रिकॉर्ड हुआ।

टेस्ट 2: दो मिनट में किस गाड़ी के एसी ने दी प्रभावी कूलिंग

सबसे ज्यादा कूलिंग: टोयोटा फॉर्च्यूनर ऑलस्पेस | औसतन तापमान: 32.3°सेल्सियस

सबसे गर्म: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस | औसतन तापमान: 39.1°सेल्सियस

रोचक तथ्य

  • चूंकि अल्टुरस का केबिन कड़ी धूप में काफी जल्दी गर्म हुआ था लेकिन इसके बावजूद पहले दो मिनट में कार को ठंडा करने के लिए इसका एसी काफी प्रभावी रहा है। इस मामले में इस कार ने फोर्ड एंडेवर को पीछे छोड़ दिया।
  • इस मोर्चे पर फोक्सवैगन टिग्वान काफी जद्दोजहद करती नजर आई। इस कार की थर्ड रो में रियर एसी वेंट्स नहीं दिए गए हैं और ना ही इस कार में बाकी की तीन कारों के मुकाबले दो कंप्रेसर का फीचर मौजूद है, इसलिए इसका केबिन जल्दी ठंडा नहीं हो पाया।

नतीजे

  • टोयोटा फॉर्च्यूनर और महिंद्रा अल्टुरस जी4 का एसी जब ऑन किया गया तो शुरू के दो मिनट में ही इन कारों के केबिन का टेंपरेचर शानदार तरीके से 11°सेल्सियस तक गिर गया।
  • इस मामले में फोर्ड एंडेवर तीसरे नंबर पर रही जिसका टेंपरेचर 10°सेल्सियस तक जा गिरा।
  • इस लिस्ट में सबसे आखिर में रही टिग्वान ऑलस्पेस जिसका पारा 7.7°सेल्सियस तक ही गिरा।

समय

टोयोटा फॉर्च्यूनर

फोर्ड एंडेवर

महिंद्रा अल्टुरस जी4

फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस

T0

43.3°सेल्सियस

44.4°सेल्सियस

44.8°सेल्सियस

46.7°सेल्सियस

T1

35.8°सेल्सियस

37.6°सेल्सियस

37°सेल्सियस

41.7°सेल्सियस

T2

32.3°सेल्सियस

34.4°सेल्सियस

33.8°सेल्सियस

39.1°सेल्सियस

टेस्ट 3: 24°सेल्सियस तक सबसे पहले कौन पहुंचा

सबसे तेज

पहली रो: टोयोटा फॉर्च्यूनर - 12 मिनट में

दूसरी रो: टोयोटा फॉर्च्यूनर - 8 मिनट में

तीसरी रो: फोर्ड एंडेवर - 15 मिनट में

रोचक तथ्य:

  • अल्टुरस और फॉर्च्यूनर दोनों गाड़ियों की थर्ड रो का तापमान 24°सेल्सियस पहुंचने में 21 मिनट का समय लगा। अल्टुरस के केस में ऐसा इसलिए भी हुआ क्योंकि इसमें एसी वेंट्स की पोजिशनिंग घुटनों के बराबर रखी गई है और ये केवल ड्राइवर साइड पर ही दिए गए हैं। फॉर्च्यूनर में रूफ माउंटेड वेंट्स दिए गए हैं ​जिसका फायदा सेकंड और थर्ड रो दोनों पर बैठने वाले पैसेंजर्स को मिलता है।
  • दूसरी तरफ फोर्ड एंडेवर में फॉर्च्यूनर की तरह फोरहेड के बराबर एसी वेंट्स को पोजिशन ना करते हुए सर के ऊपर पोजिशन किया गया है जो कूलिंग के हिसाब से काफी प्रैक्टिकल चीज है।
  • ऑलस्पेस में थर्ड रो पर एसी वेंट्स का फीचर दिया ही नहीं गया है जिससे इस कार में कूलिंग जल्दी नहीं होती है।

नतीजे

  • फॉर्च्यूनर में रूफ माउंटेड एसी वेंट्स दिए गए हैं जिससे 8 मिनट के अंदर यहां का टेंपरेचर 24°सेल्सियस हो गया। वहीं अगले चार मिनट बाद ही इसकी फर्स्ट रो का टेंपरेचर भी 24°सेल्सियस तक पहुंच गया।
  • फोर्ड एंडेवर की तीनो रो को ठंडा होने में थोड़ा ज्यादा समय लगा। 15 मिनट बाद इसकी फर्स्ट और थर्ड रो का टेंपरेचर 24°सेल्सियस तक पहुंचा। वहीं सेकंड रो पर ये टेंपरेचर मेंटेन होने में 17 मिनट का समय लगा।
  • महिंद्रा अल्टुरस की फर्स्ट रो के मुकाबले सेकंड रो थोड़ी जल्दी ठंडी हुई। इसके लिए 11 मिनट का समय लगा जबकि फर्स्ट रो 14 मिनट बाद जाकर ठंडी हुई।
  • इस टेस्ट में फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस की सभी रो का टेंपरेचर 24°सेल्सियस तक पहुंच ही नहीं पाया।

24 डिग्री की रेस

पहली रो

दूसरी रो

तीसरी रो

फॉर्च्यूनर

12 मिनट्स

8 मिनट्स

20-21मिनट्स

एंडेवर

15 मिनट्स

17 मिनट्स

15 मिनट्स

अल्टुरस

14 मिनट्स

11 मिनट्स

20-21मिनट्स

टिग्वान ऑलस्पेस

-

-

-

टेस्ट4: 30 मिनट में तापमान में सबसे कम गिरावट दर्ज

सबसे ठंडी: टोयोटा फॉर्च्यूनर | औसत तापमान: 20.3°सेल्सियस

फर्स्ट रो: टोयोटा फॉर्च्यूनर (19.9°सेल्सियस)

सेकंड रो: टोयोटा फॉर्च्यूनर (18.4°सेल्सियस)

थर्ड रो: फोर्ड एंडेवर (20.5°सेल्सियस)

सबसे गर्म: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस | औसत तापमान: 26.9°सेल्सियस

फर्स्ट रो: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस (26.9°सेल्सियस) 

सेकंड रो: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस (26.1°सेल्सियस)

थर्ड रो: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस (27.8°सेल्सियस)

रोचक तथ्य:

  • फॉर्च्यूनर का टेंपरेचर इसलिए भी जल्दी से नीचे आया क्योंकि इसका केबिन पहले से ही उतना गर्म नहीं था जितना बाकी कारों का था। इस टेस्ट में इसकी सेकंड रो का टेंपरेचर सबसे कम 18.4°सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। 
  • दूसरी तरफ अल्टुरस की एयर कंडीशनिंग भी काफी पावरफुल थी। इसका टेंपरेचर सबसे सबसे ज्यादा 24.2°सेल्सियस तक गिरा। 
  • फोर्ड एं​डेवर का केबिन 30 मिनट के बाद भी ठंडा रहा। 
  • एसी ऑन करने से पहले टिग्वान का टेंपरेचर बाकी कारों से ज्यादा था जिससे एसी पर इसे जल्दी कूल करने में काफी लोड पड़ा। ऐसे में ये इसका टेंपरेचर महज 19.3°सेल्सियस तक ही गिरा। 

नतीजे

टोयोटा फॉर्च्यूनर का औसतन सबसे कम रहा

औसतन तापमान में कमी:  23.7°सेल्सियस 

फर्स्ट रो के तापमान में गिरावट: 23.7°सेल्सियस 

सेकंड रो के तापमान में गिरावट: 24.1°सेल्सियस

थर्ड रो के तापमान में गिरावट: 21.4°सेल्सियस

  • महिंद्रा अल्टुरस दूसरी ऐसी कार रही जिसका औसत तापमान सबसे कम रहा 
  • औसतन कम तापमान: 24.2°सेल्सियस
  • फर्स्ट रो के  तापमान में गिरावट: 24.1°सेल्सियस
  • सेकंड रो के तापमान में गिरावट: 24.7°सेल्सियस
  • थर्ड रो के तापमान में गिरावट: 24°सेल्सियस

इस मामले में फोर्ड एंडेवर सबसे आखिर में रही

  • औसतन तापमान में कमी: 23.4°सेल्सियस
  • फर्स्ट रो के तापमान में गिरावट: 22.5°सेल्सियस
  • सेकंड रो के तापमान में गिरावट: 23.1°सेल्सियस
  • थर्ड रो के तापमान में गिरावट: 24.6°सेल्सियस

  • फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस सबसे आखिर में
  • औसतन तापमान में गिरावट: 19.8°सेल्सियस
  • फर्स्ट रो के तापमान में गिरावट: 19.2°सेल्सियस
  • सेकंड रो के तापमान में गिरावट: 20.2°सेल्सियस
  • थर्ड रो के तापमान में गिरावट: 19.9°सेल्सियस

निष्कर्ष

रैंकिंग

पहला स्थान: टोयोटा फॉर्च्यूनर इन परीक्षण में सबसे पहले स्थान पर रही। इस कार का केबिन ना केवल सबसे गर्मी सोखता है बल्कि इसका एयर कंडीशन काफी पावरफुल भी मालूम पड़ता है, जिससे गाड़ी काफी जल्दी ठंडी हो जाती है। टेस्ट के आखिर में इसकी फर्स्ट रो और सेकंड रो का तापमान सबसे कम रहा। 

दूसरा स्थान: ब्लैक कलर की एक्सटीरियर बॉडी होने के बावजूद महिंद्रा अल्टुरस दूसरे स्थान पर आने में सफल रही। यदि इसके एक्सटीरियर का कलर लाइट होता और थर्ड रो पर एसी वेंट्स दिए गए होते तो ये शायद पहले स्थान पर भी आ सकती थी। 

तीसरा स्थान: फोर्ड एंडेवर

चौथा स्थान: फोक्सवैगन टिग्वान ऑलस्पेस

कैसे किया हमने ये परीक्षण

  • हमने इन गाड़ियों का सही टेंपरेचर मापने के लिए सीट के हेडरेस्ट और सीट बैक पर टेंपरेचर सेंसर रखा। इसके बाद उस पर गाड़ी का तापमान डिस्प्ले होता रहा। 
  • एक सटीक रिजल्ट के लिए हमने चारों कारों के सभी दरवाजों को खोल दिया जिससे कारों का शुरूआती तापमान बराबरी पर रह सके।
  • सभी दरवाजे खुले रखने और विंडो को बंद रखने के बाद गाड़ियों को 15 मिनट कड़ी धूप में खड़ा किया गया। 
  • इसके बाद अधिकतम 30 मिनट के लिए हमने सभी कारों के एसी ऑन रखे। टेंपरेचर को लो पर सेट किया गया था और फैन की स्पीड फुल बढ़ाई गई थी। हर मिनट तापमान में गिरावट को दर्ज किया गया जिसके बाद पहले 20 मिनट, फिर 25 और फिर 30 मिनट के बाद तापमान में कुल गिरावट दर्ज की गई।
द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

टोयोटा फॉर्च्यूनर पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • महिंद्रा अल्टुरस जी4
  • फोर्ड एंडेवर
  • फॉक्सवेगन टिग्वान allspace
  • टोयोटा फॉर्च्यूनर

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience