• लॉगिन / रजिस्टर

भारत, अफ्रीका और मिडिल ईस्ट में निसान लॉन्च करेगी हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक व्हीकल

संशोधित: जून 26, 2020 03:30 pm | भानु | निसान नोट ई पावर

  • 3824 व्यूज़
  • Write a कमेंट

निसान (Nissan) ने हाल ही में अफ्रीका, मिडिल ईस्ट और भारत के बाजारों के लिए अपने एएमआई नाम के 4 ईयर प्लान से पर्दा उठाया है। इस प्लान का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट इन प्रांतों में एडवांस्ड हाइब्रिड ई पावर, इलेक्ट्रिक व्हीकल और कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी को विस्तार देना है। जापान में हाल ही में निसान ने अपने ग्लोबल ट्रांसफोर्मेंशन प्लान की घोषणा करते हुए नए मिड टर्म प्लान के एक पार्ट के बारे में भी जानकारी दी थी। 

निसान के इलेक्ट्रिफायड प्लान की सबसे दिलचस्प बात ई-पावर टेक्नोलॉजी है जो कि एक हायब्रिड व्हीकल में होती है। आमतौर पर कई हायब्रिड व्हीकल्स में प्रोपल्शन यानी उसे पावर देने के लिए इंटरनल कंबस्शन इंजन और इलेक्ट्रिक मोटर का इस्तेमाल किया जाता है। ई-पावर भी ठीक वैसा ही काम करती है। हालांकि, इसमें आईसीसी इंजन कार को सीधे पावर नहीं देता है और गाड़ी प्योर इलेक्ट्रिक मोड पर चलती है। 

इसमें इंजन बैट्री को समय-समय पर चार्ज रखने के लिए रेंज एक्सटेंडर का काम करता है। इस दौरान एक्सटरनल चार्जिंग की भी कोई जरूरत नहीं पड़ती है। इस टेक्नोलॉजी के जरिए इंजन को जहां तक हो सके कम ही इस्तेमाल में लिया जाता है जिससे फ्यूल की बचत होती है। हाल ही में निसान किक्स (Nissan Kicks) के थाईलैंड और जापानी वर्जन में ई-पावर टेक्नोलॉजी का फीचर पेश किया गया है जो कि इसके भारतीय वर्जन में भी जल्द देखने को मिल सकता है। 

यह भी पढ़ें: क्या निसान कर रही है एक सब-4 मीटर सेडान पर काम? जानिए इसके बारे में सबकुछ

इसके अलावा निसान ने इस बात की भी पुष्टि की है कि वो भारत समेत अफ्रीका और मिडिल ईस्ट के मार्केट्स में इलेक्ट्रिक व्हीकल भी उतारेगी। हालांकि इस बात की बहुत ज्यादा संभावना है कि कंपनी यहां आरिया क्रॉसओवर एसयूवी उतार सकती है, मगर इस बात पर आधिकारिक तौर पर कोई मुहर नहीं लगाई गई है। एक नई इलेक्ट्रिक कार निसान के ग्लोबल ट्रांसफोर्मेशन प्लान का हिस्सा है जिससे उम्मीद की जा रही है कि आरिया, लीफ ईवी हैचबैक (Leaf EV) जितनी ही सफल होगी। निसान भारत में लीफ ईवी को लॉन्च करने की काफी बार योजना बना चुकी है, मगर अब तक ये संभव नहीं हो पाया है। 

निसान हमेशा ये बात बोलती आई है कि वो भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल और ई-पावर टेक्नोलॉजी को पेश करने की इच्छुक है। कंपनी कुछ साल पहले भारत में ई-पावर का मूल्यांकन कर रही थी और नोट ई-पावर के साथ इसका परीक्षण कर रही थी। बता दें कि नोट ई-पावर (Note e-Power) निसान की पहली सेल्फ चार्जिंग ईवी टेक्नोलॉजी है। कंपनी के नए बिजनेस प्लान को देखकर तो ये ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत में ई-पावर टेक्नोलॉजी मिल सकती है। जापान के बाद हाल ही में थाईलैंड ई-पावर का मैन्यूफैक्चरिंग हब बना है। सस्ते इलेक्ट्रिक व्हीकल उतारने के मकसद से निसान भी भारत में ई-पावर की मैन्यूफैक्चरिंग शुरू कर सकती है। 

निसान इन सभी चीजों को एक व्यवस्थित ढंग से पेश करेगी जिसकी शुरूआत 2023 में हो सकती है। उम्मीद है कि कंपनी सबसे पहले ई-पावर टेक्नोलॉजी से ही शुरूआत करेगी क्योंकि ये टेक्नोलॉजी का वो हिस्सा है जिसकी जरूरत भारत को सबसे ज्यादा है क्योंकि यहां इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए अच्छा इंफ्रास्ट्रक्चर मौजूद नहीं है।

यह भी पढ़ें: अफ्रीका, मिडिल ईस्ट और भारत में 2023 तक 8 नई कारें लॉन्च करेगी निसान

    द्वारा प्रकाशित

    निसान नोट ई पावर पर अपना कमेंट लिखें

    Read Full News
    • निसान किक्स
    • निसान नोट ई पावर
    • ट्रेंडिंग
    • हाल का
    ×
    आपका शहर कौन सा है?