• लॉगिन / रजिस्टर

यहां जानिये टाटा टियागो से जुड़ी आठ अहम बातें

प्रकाशित: अप्रैल 07, 2016 12:58 pm । konarkटाटा टियागो 2016-2019

  • 10 व्यूज़
  • Write a कमेंट

टाटा ने अपनी नई हैचबैक टियागो को लॉन्च कर दिया है। टियागो इस साल की सबसे चर्चित और बहुप्रतिक्षित हैचबैक कार है। इसके पेट्रोल मॉडल की शुरुआती कीमत 3.20 लाख रूपए और डीज़ल वर्जन की शुरुआती कीमत 3.94 (एक्स-शोरूम, दिल्ली) रखी गई है। टियागो को तैयार करने में टाटा मोटर्स को तीन साल का वक्त लगा है। 

यहां जानेंगे टियागो से जुड़ी आठ खासियतों के बारे में..

1. नए इंजन

टियागो को नए पेट्रोल और डीज़ल इंजन दिए गए हैं। बात करें पेट्रोल इंजन की तो इसमें 1.2 लीटर का रेवोट्रॉन इंजन दिया गया है, जो 84 बीएचपी ताकत के साथ 115 एनएम का टॉर्क देगा। डीज़ल वर्जन में 1.05 लीटर का रेवोटॉर्क इंजन है, जो 69 बीएचपी की ताकत के साथ 140 एनएम का टॉर्क देगा। दोनों ही इंजन 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से जुड़े होंगे।

2. फीचर्स

टियागो में ऐसे काफी फीचर्स हैं जो इस सेगमेंट में पहली बार देखने को मिलेंगे। केबिन में 8 स्पीकर वाला हारमन का कनेक्ट-नेक्सट इंफोटेंमेंट सिस्टम दिया गया है। यह सिस्टम नेविगेशन और म्यूजिक शेयरिंग ज्यूक एप को सपोर्ट करता है। इस एप के जरिये 10 मोबाइल फोन को सिस्टम से जोड़ा जा सकता है और इनका म्यूजिक शेयर किया जा सकता है। कार में पार्किंग सेंसर लगे हैं, जो तंग पार्किंग स्पेस में मददगार साबित होंगे। 

3. पावर

डीज़ल वर्जन में दिया गया 1.05 लीटर का 3-सिलेंडर रेवोटॉर्क इंजन थोड़ा कम ताकतवर लगता है। इसमें टॉर्क की कमी महसूस हो सकती है। पेट्रोल इंजन सिटी ड्राइविंग के लिहाज से फुर्तीला है।  

4. डिजायन और सेफ्टी

टियागो की डिजायन को तैयार करने में टाटा ने काफी मेहनत की है। इसमें पुणे, यूके और इटली के स्टूडियो में डिजायन किया गया है। टियागो की बिल्ड और राइड क्वालिटी काफी बेहतर है। इस सेगमेंट में इससे पहले ऐसी क्वालिटी किसी भी कार में देखने को नहीं मिली है। टाटा टियागो में पैसेंजर सेफ्टी का काफी ध्यान रखा गया है। सेफ्टी के लिए कार में ड्यूल फ्रंट एयरबैग और नौवीं जनरेशन के बॉश एबीएस (एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम) के साथ ईबीडी (इलेक्ट्रिॉनिक ब्रेक-फ्रोस डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम) दिया गया है। इसके अलावा टाटा टियागो में कॉर्नरिंग स्टेबिलिटी कंट्रोल भी दिया गया है, जो मुड़ने के दौरान कार के संतुलन खो देने की आशंकाओं को कम करता है। 

5. वजन

टाटा टियागो का वजन 1050 किलोग्राम है। इसका वजन थोड़ा ज्यादा है, जो इसकी रफ्तार पर असर डाल सकता है लेकिन इसका एक फायदा यह भी है कि टियागो 100 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा की रफ्तार पर संतुलित बनी रहती है।

6. पीछे वाली सीट की चौड़ाई

टाटा टियागो में पीछे की तरफ बेंच सीट दी गई है। इसमें शोल्डर रूम और हैडरूम थोड़ा तंग है। ज्यादा लम्बी यात्रा के दौरान पीछे वाली सीट तीन व्यस्क व्यक्तियों के लिए कंफर्टेबल नहीं रहेगी। 

7. परफॉर्मेंस टेस्ट

टाटा ने हाल ही में अपनी कारों की हर क्षमताओं को परखने के लिए एक एंड्यूरेंस टेस्ट ‘मेड ऑफ ग्रेट’ आयोजित किया था। इसमें हाई-स्पीड ट्रैक पर टियागो समेत दूसरी टाटा कारों को लगातार 18 दिन तक दौड़ाया गया। इस दौरान कार के नए इंजन का बड़े पैमाने पर और बेहद बारीकी से निरीक्षण किया गया। इसमें 60 से ज्यादा प्रोफेशनल ड्राइवर्स और ऑटो एक्सपर्ट शामिल थे।   

8. मुकाबला

हैचबैक सेगमेंट में टाटा टियागो का मुकाबला मारूति सेलेरियो, हुंडई ग्रैंड आई-10 और शेवरले बीट से है। 

देखें टाटा टियागो का लॉन्च वीडियो

यह भी पढ़ेंः टाटा टियागो: क्या दिला पाएगी टाटा मोटर्स को बड़ी कामयाबी ?

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

टाटा टियागो 2016-2019 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
×
We need your सिटी to customize your experience