तकनीकी खराबी के चलते हुंडई ने वापस मंगवाई 4,70,000 सेडान कारें

संशोधित: अक्टूबर 12, 2015 05:52 pm | cardekho

  • 12 व्यूज़
  • Write a कमेंट

आॅटो कंपनियों का किसी न किसी खराबी की वजह से अपने ब्रांड माॅडल को ठीक करने के लिए मंगवाना (रिकाॅल) बदस्तूर जारी है। हालही में फाॅक्सवेगन ने ब्रिटेन में इमिशन स्केन्डल के तहत करीब 15 लाख कारों को वापस मंगवाया था, इस बात को अभी ज्यादा समय भी नहीं बीता था कि कोरियन कंपनी हुंडई मोटर्स ने भी यूएस में 7,70,000 अपनी मिड साइज सेडान कारों को इंजन में तकनीकी खराबी के चलते वापस बुलवाने का फैसला किया है। इस कुल संख्या में 90 प्रतिशत हिस्सा सोनाटा सेडान का बताया जा रहा है। यह खराबी 2011 और 2012 के 2-लीटर और 2.4-लीटर इंजन में पाई गई है।

इन माॅडल्स में इंजन की पूरी तरह जांच की जाएगी और जरूरत हुई तो इन्हें पूरी तरह से बदला जाएगा। इसके अलावा, कंपनी की ओर से इंजन वाॅरंटी की अवधि 10 वर्ष या 1,20,000 मील तक बढ़ाई जाएगी। देश में रिकाॅल कई हिस्सों में शुरू किए जाएंगे।

फाॅक्सवेगन की इस समस्या का सबसे अधिक सामना अमेरिका (यूएस) में करना पड़ा है और इस पर कंपनी ने दावा किया है कि जिन उपकरणों को बदलने की जरूरत है, उन्हें बदला जाएगा और जो ठीक हो सकते हैं उन्हें अच्छी तरह से ठीक रिपेयर किया जाएगा। यह समस्या काफी सारे इंजन में पाई गई है जो कभी भी दुर्घटना का कारण बन सकते हैं।

पिछले कुछ समय में फाॅक्सवेगन और होण्डा दोनों आॅटो कंपनियों में इस प्रकार की कुछ-न-कुछ समस्या बार-बार देखने को मिली है। अभी बीते दिनों ही होण्डा मोटर्स ने भी भारत में एयरबैग की समस्या के चलते 2.23 लाख कारें रिकाॅल की हैं। अग्रणी ब्रांड होने के बाद भी बार-बार इस तरह की तकनीकी समस्याओं का पैदा होना कहीं-न-कहीं इस ब्रांड पर एक सवालिया निशान खड़ा करता है।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
We need your सिटी to customize your experience