• लॉगिन / रजिस्टर

फोर्ड-महिंद्रा के बीच जॉइन्ट वेंचर हुआ खत्म, ये रहे कारण

प्रकाशित: जनवरी 04, 2021 03:56 pm । भानु

  • 309 व्यूज़
  • Write a कमेंट

Ford India And Mahindra Looking To Enter Into Joint Venture

  • रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 महामारी की वजह से वित्तीय और व्यापारिक स्थितियों में बदलाव के कारण लिया गया है ये फैसला
  • फोर्ड का भारत में कामकाज चलेगा यथावत, मगर कंपनी भारत समेत पूरी दुनिया में अपने व्यापार करने के तौर तरीकों पर फिर से करेगी अमल
  • इस फैसले से एक्सयूवी500 पर बेस्ड फोर्ड की एसयूवी समेत फोर्ड ईकोस्पोर्ट में महिंद्रा का 130 पीएस पावर वाला 1.2 लीटर टी-जीडीआई पेट्रोल इंजन जैसे प्रोजेक्टस पर नहीं पड़ेगा कोई असर 
  • महिंद्रा ने कहा कि प्रोडक्शन प्लान पर भी नहीं पड़ेगा कोई असर

अक्टूबर 2019 में फोर्ड और महिंद्रा ने भारतीय बाजार के लिए नई कारें तैयार करने और उन्हें बेचने के लिए एक दूसरे के साथ करार किया था। जहां फोर्ड ने 40 प्रतिशत की हिस्सेदारी के साथ भारत में अपना सारा कामकाज इसी साझेदारी के तहत करने का निर्णय लिया था, वहीं महिंद्रा की इसमें 51 प्रतिशत की हिस्सेदारी थी। अब दोनों कारमेकर्स ने आपसी समझौते के तहत इस जॉइन्ट वेंचर को खत्म करने का फैसला कर लिया है। 

Mahindra & Ford Sign Joint Venture To Share New Models

कहा जा रहा है कि ये फैसला कोरोना महामारी के कारण वित्तीय और व्यापारिक स्थितियों में हुए एकाएक बदलाव के कारण लिया गया है। फोर्ड का कहना है कि वायरस के फैलने से दोनों कारमेकर्स को प्राथमिकता के आधार पर पूंजी लगाने पर मजबूर होना पड़ा। कंपनी ने ये भी कहा है कि भारत में वो अपना कामकाज यथावत जारी रखेगी, मगर इसके साथ ही ​कंपनी ​भारत समेत पूरे विश्व में अपने कामकाज का फिर से आकलन करेगी। 

वर्तमान में फोर्ड के पोर्टफोलियो में फिगो, एस्पायर, फ्रीस्टाइल, ईकोस्पोर्ट, एंडेवर और मस्टैंग मौजूद है। इस बीच महिंद्रा ने ये बात भी साफ कर दी है कि फोर्ड की मिड साइज एसयूवी (डब्ल्यू605 कोडनेम) जो कि अपकमिंग सेकंड जनरेशन एक्सयूवी500 (डब्ल्यू601) पर बेस्ड होगी, उसपर इस करार के खत्म होने का असर बिल्कुल भी नहीं पड़ेगा। नई एक्सयूवी500 इस साल की पहली तिमाही तक मार्केट में आ सकती है जबकि फोर्ड की एसयूवी एक्सयूवी500 के लॉन्च होने के 9 महीने बाद पेश की जा सकती है। इसके अलावा महिंद्रा अपना ब्रांड न्यू 130पीएस पावर वाला 1.2 लीटर टी जीडीआई टर्बो पेट्रोल इंजन फोर्ड ईकोस्पोर्ट के लिए सप्लाय करेगी। ये प्रोजेक्ट अंतिम चरणों में ही है और दोनों कंपनियों के बीच करार खत्म होने के फैसले से पहले शुरू किए जा चुके थे। आने वाले कुछ महीनों में मराजो पर बेस्ड फोर्ड की एमपीवी और कुछ दूसरे प्रोजेक्ट्स को फिर से रिव्यू किया जाएगा और इसके बाद ही इनपर फैसला होगा। 

महिंद्रा का ये भी कहना है कि कंपनी के प्रोडक्शन प्लान पर इस फैसले का कोई असर नहीं पड़ेगा। ऐसे में महिंद्रा नेक्सट जनरेशन स्कॉर्पियो और नेक्सट जनरेशन एक्सयूवी500 को 2021 में लॉन्च करेगी। इसके अलावा महिंद्रा की 2021 में एक्सयूवी300 इलेक्ट्रिक समेत लॉन्ग रेंज वाली इलेक्ट्रिक कारें भी लॉन्च करने की योजना है। 

यह भी पढ़ें: महिंद्रा टीयूवी300 प्लस फेसलिफ्ट के इंटीरियर की तस्वीरें हुई लीक,2021 की शुरूआत में लॉन्च हो सकती है ये कार

  • New Car Insurance - Save Upto 75%* - Simple. Instant. Hassle Free - (InsuranceDekho.com)
  • Sell Car - Free Home Inspection @ CarDekho Gaadi Store
द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?