निसान ने अपने फ्यूचर इलेक्ट्रिक व्हीकल प्लान से उठाया पर्दा, 23 नई इलेक्ट्रिक कारें करेगी लॉन्च

संशोधित: नवंबर 30, 2021 05:01 pm | भानु

  • 2968 व्यूज़
  • Write a कमेंट

निसान ने अपने ग्लोबल इलेक्ट्रिफिकेशन स्ट्रेटिजी से पर्दा उठा दिया है। इसे निसान एंबिशन 2030 नाम दिया है। इसमें निसान के इलेक्ट्रिफिकेशन को लेकर मार्च 2031 तक के प्लान के बारे में बताया गया है। चलिए इस प्लान के कुछ हाइलाइट्स पर डालते हैं एक नजर:

23 नई इलेक्ट्रिक कारें की जाएंगी लॉन्च

निसान अपने लाइनअप को करीब 50 प्रतिशत तक इलेक्ट्रिफाइड कर देना चाहती है और वो अपने इंफिनिटी ब्रांड के तहत कुछ प्रीमियम रेंज की कारें उतारेगी। कंपनी 23 नए इलेक्ट्रिफाइड मॉडल्स उतारेगी जिनमें से 15 नए इलेक्ट्रिक व्हीकल्स होंगे। इन सभी नई इलेक्ट्रिक कारों में से सबसे पहले पेश किया जाने वाला मॉडल अरिया इलेक्ट्रिक एसयूवी होगी। वहीं 8 दूसरे इलेक्ट्रिक मॉडल्स में निसान की ई-पावर हाइब्रिड टेक्नोलॉजी पेश की जाएगी। 

नए इलेक्ट्रिक कॉन्सेप्ट भी किए जाएंगे पेश

फ्यूचर मोबिलिटी कैसी होगी इसका आईना कॉन्सेप्ट मॉडल्स के बिना अधूरा है, ऐसे में निसान ने इस इवेंट में 4 नए कॉन्सेप्ट मॉडल को शोकेस किया है जिनकी जानकारी इस प्रकार से है:

चिल आउट: सीएमएफ ईवी प्लेटफॉर्म पर बेस्ड इस इलेक्ट्रिक क्रॉसओवर कॉन्सेप्ट में निसान की ई फोर्स नामक इलेक्ट्रिक ऑल व्हील ड्राइव टेक्नोलॉजी दी जाएगी। इसमें निसान लीफ ईवी को रिप्लेस करने जा रहे मॉडल की झलक दिखाने की कोशिश की गई है और इसका शेप लंबी हैचबैक कार जैसा है। 

मैक्स आउट: इस 2 सीटर कन्वर्टिबल कॉन्सेप्ट में अल्ट्रा लाइट मैटेरियल्स का इस्तेमाल किया गया है। इसमें एडवांस ऑल व्हील ड्राइव सिस्टम भी मौजूद है और इसकी सबसे बड़ी खूबी ये है कि सीटों को फ्लोर पर बिछाया जा सकता है। 

सर्फ आउट: ये एक सिंगल कैब इलेक्ट्रिक पिकअप कॉन्सेप्ट है जिसे एडवेंचरस लाइफस्टाइल के लिए इस्तेमाल में लिया जा सकता है। इसमें बड़े कार्गो स्पेस के साथ दूसरे अप्लायंसेज को चलाने के लिए कई तरह के पावर आउटलेट्स दिए गए हैं। सर्फ आउट में रग्ड ऑफ रोड कैरेक्टरस्टिक्स और ई फोर्स ऑल व्हील ड्राइव सिस्टम का एडवांस्ड वर्जन दिया गया है। 

हैंग आउट: इस हैचबैक कॉन्सेप्ट का एक्सटीरियर डिजाइन काफी हद तक प्रोडक्शन रेडी मॉडल नजर आ रहा है। इसमें फ्लैट फ्लोर के साथ थिएटर जैसा एक्सपीरियंस देने के लिए स्वावेल सीट्स दी गई हैं। र्हैंगआउट में निसान के प्रो पायलट ऑटोनॉमस ड्राइविंग टेक्नोलॉजी का बेस्ट वर्जन और इलेक्ट्रिक ऑल व्हील ड्राइव सिस्टम दिया गया है। निसान का कहना है कि इसकी सबसे बड़ी विशेषता इसका केबिन एक्सपीरियंस है जहां वाइब्रेशंस और झटके बिल्कुल महसूस नहीं होते हैं। 

अगले 5 साल में निवेश बढ़ाएगी कंपनी

नई इलेक्ट्रिक मोबिलिटी टेक्नोलॉजी तैयार करने में भारी निवेश की जरूरत पड़ती है जिसके लिए निसान  अगले 5 सालों में 1,32,258 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस निवेश से इलेक्ट्रिक लाइनअप को बढ़ाने में तेजी आएगी। साथ ही ये कंपनी 2026 तक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए  1,322 करोड़ रुपये का निवेश भी करेगी। 

कंपनी का लक्षय केवल बड़ा निवेश करने का ही नहीं है वरन उसका रिटर्न भी पाने का है। ऐसे में 2026 तक निसान को अपने 20 नए इलेक्ट्रिक मॉडल्स की मदद से दुनिया के प्रमुख मार्केट्स से अच्छा रिटर्न मिलने की भी उम्मीद है। ऐसे में कंपनी यूरोप से करीब 75 प्रतिशत,जापान से 55 प्रतिशत और चीन से 40 प्रतिशत प्रॉफिट कमाने की उम्मीद रख रही है। वहीं अकेले अमेरिका से ही कंपनी ने अपने नए इलेक्ट्रिक व्हीकल्स उतारकर 40 प्रतिशत मुनाफा अर्जित करने का लक्ष्य रखा है।

Nissan Ariya

2028 तक बैट्री पैक्स और इलेक्ट्रिक व्हीकल की कॉस्ट में कमी लाने का प्रयास करेगी निसान

निसान लिथियम आयन बैट्री पैक्स बनाना जारी रखेगी और कंपनी ने 2028 तक कोबाल्ट फ्री टेक्नोलॉजी को पेश कर 65 प्रतिशत तक कॉस्टिंग को कम करने का भी लक्षय रखा है। इसके अलावा ये ब्रांड इसी टाइम पीरियड के दौरान एक ऑल सॉलिड स्टेट बैट्री से लैस एक इलेक्ट्रिक कार भी उतारेगी। मौजूदा बैट्रियों के मुकाबले इस ऑल सॉलिड स्टेट बैट्री से बैट्री चार्ज करने में लगने वाला समय एक तिहाई तक कम हो जाता है। साथ ही बैट्री पैक की कॉस्ट प्रति केडब्ल्यूएच  5630 रुपये कम हो जाएगी। नतीजतन इससे इलेक्ट्रिक व्हीकल ना केवल ज्यादा प्रैक्टिकल साबित होगा बल्कि वो सस्ता भी हो जाएगा। 

निसान अपनी बैट्री प्रोडक्शन कैपेसिटी को 2026 तक और ग्लोबल सप्लाय सिस्टम को 52जीडब्ल्यूएच तक बढ़ाएगी, वहीं कंपनी ने 2030 तक इसे 130 जीडब्ल्यूएच करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए कंपनी अपने कुछ पार्टनर्स के साथ काम करेगी। 

यह भी पढ़ें: भारत, अफ्रीका और मिडिल ईस्ट में निसान लॉन्च करेगी हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक व्हीकल

आने वाले समय में कंपनी के ग्लोबल लाइनअप में निसान प्रो पायलट टेक्नोलॉजी सुईट के तहत दिया जाने वाला ड्राइवर असिस्ट सिस्टम लगभग हर कार में मौजूद होगा। कंपनी अपनी इलेकट्रिक प्रोडक्ट्स में ऑटोनॉमस ड्राइविंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी। 2023 तक निसान का लक्षय हर नए मॉडल में लिडार सिस्टम का न्यू जनरेशन वर्जन भी शामिल करना है। हालांकि इससे कारें पूरी तरह से ऑटोनॉमस ड्राइविंग फीचर से लैस नहीं होगी। बल्कि इनमें ऑटोमैटिक इमरजेंसी ब्रेकिंग,लेन कीप असिस्ट और अडेप्टिव क्ररुज कंट्रोल का फीचर मिलेगा। 

निसान एंबिशन 2030 के बारे में अभी नए अपडेट्स भी आएंगे जिसके लिए बने रहिए हमारे साथ। 

यह भी पढ़ें: एडीएएस क्या है? कैसे काम करता है? और भारत में इस फीचर के सामने कौनसी चुनौतियां आएंगी? जानिए ऐसे तमाम सवालों के जवाब

  • New Car Insurance - Save Upto 75%* - Simple. Instant. Hassle Free - (InsuranceDekho.com)
  • Sell Car - Free Home Inspection @ CarDekho Gaadi Store
द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News

ट्रेंडिंग इलेक्ट्रिक कारें

  • पॉपुलर
  • अपकमिंग
* संभावित कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience