• लॉगिन / रजिस्टर

ये रही जीप की कंपास, अगस्त में हो सकती है लॉन्च

प्रकाशित पर Apr 12, 2017 03:07 PM द्वारा CarDekho for जीप कंपास

  • 6 व्यूज़
  • Write a कमेंट

अमेरिकन एसयूवी मेकर जीप ने अपनी पहली मेड-इन-इंडिया एसयूवी कंपास से पर्दा उठा दिया है। इसका प्रोडक्शन जून 2017 से फिएट क्राइसलर ऑटोमोबाइल्स (एफसीए) के रंजनगांव स्थित प्लांट में शुरू होगा, भारत में इसे अगस्त महीने में लॉन्च किया जा सकता है। इसकी संभावित कीमत 20 लाख रूपए के आसपास होगी। इसका प्रमुख मुकाबला हुंडई ट्यसॉन और होंडा सीआर-वी से होगा।

जीप कंपास में पेट्रोल और डीज़ल दोनों इंजन में मिलेंगे। पेट्रोल वर्जन में 1.4 लीटर का मल्टीएयर टर्बोचार्ज्ड इंजन आएगा, जो 162 पीएस की पावर और 250 एनएम का टॉर्क देगा। डीज़ल वर्जन में 2.0 लीटर का इंजन मिलेगा, जो 170 पीएस की पावर और 350 एनएम का टॉर्क देगा। दोनों इंजन के साथ 6-स्पीड मैनुअल और 7-स्पीड ड्यूल-क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प मिलेगा।

जीप कंपास में फ्रंट-व्हील-ड्राइव और ऑल-व्हील-ड्राइव का विकल्प भी मिलेगा। ऑल-व्हील-ड्राइव वर्जन में जीप का सेलेक-टेरेन फीचर मिलेगा, जो ऑटो, स्नो, सेंड और मड मोड के जरिये हर रास्ते के मुताबिक एसयूवी के इंजन, पावर और दूसरी सेटिंग को बदलेगा। ऑल-व्हील-ड्राइव वर्जन में केवल मैनुअल गियरबॉक्स मिलेगा। ऑटो मोड में रियर व्हील पर पावर सप्लाई नहीं होगी।

इसका ग्राउंड क्लीयरेंस 178 एमएम का है, इसे जीप की दूसरी एसयूवी जितना प्रभावशाली तो नहीं कह सकते लेकिन आम सड़कों पर चलाने के लिहाज से यह काफी बेहतर है। इस में इंडिपेंडेंट सस्पेंशन के साथ एडजस्टेबल डम्पिंग दी गई हैं जो इसकी राइड को और भी आरामदायक बनाएंगे। यह 5-सीटर कॉम्पैक्ट एसयूवी है।

इसका केबिन ग्रैंड चेराकी जैसा ही प्रीमियम होगा। सेंट्रल कंसोल पर हैक्सागोनल डिजायन और सीटों पर हवादार लैदर अपहोल्स्ट्री दी गई है। सुरक्षा के लिए इस में 6 एयरबैग, एबीएस, ईबीडी और हिल स्टार्ट असिस्ट समेत कई सेफ्टी फीचर स्टैंडर्ड मिलेंगे। वजन कम रखने के लिए इस में मजबूत स्टील बॉडी पैनल का इस्तेमाल किया गया है।

डिजायन की बात करें तो इस में ग्रैंड चेरोकी और रैंग्लर दोनों की ही झलक मिलती है। साइड में दिए चौड़े व्हील आर्च पारंपरिक जीप वाली पहचान देते हैं।

भारत में इसे एफसीए के रंजनगांव स्थित प्लांट में तैयार किया जाएगा, यहां राइट-हैंड-ड्राइव कंपास तैयार होगी, यहां से इसे आस्ट्रेलिया, जापान और ब्रिटेन में भी एक्सपोर्ट किया जाएगा।

द्वारा प्रकाशित

जीप कंपास पर अपना कमेंट लिखें

8 कमेंट्स
1
S
sudeep sonawane
Apr 13, 2017 12:56:03 PM

Agree with Arul Anand. Compass, American model, not the one they launched in India, did not do well in the Middle East too. Jeep Cherokee, Wrangler, and Grand are the top-selling and performing 4X4s of carmaker Fiat Chrysler Automobiles. Jeep re-enters India at least 17 years too late. One cannot blame the London-headquartered FCA because it did not exist then. Chrysler management missed the bus when India's automobile sector opened up to foreign brands in the 1990s, after the success of Maruti-Suzuki in 1984. The ubiquitous grey colour door less, canvas-top Jeep, propelled to cult status by Bollywood films police in the 1960s and 70s, was and continues to be a free marketing medium for the American auto brand. Jeep continues its presence in the living rooms of millions of Indians through old Bollywood films broadcast by cable television channels and cinema theatres throughout the day. Chrysler Corp bosses failed to take advantage of this free marketing tool after they acquired American Motors Corp in 1987 and its famous product the Willys CJ established by John Willys in 1908 when he bought Overland Automotive and renamed it Willys-Overland Motor Company in 1912. In 1953, Kaiser Motors purchased Willys-Overland and changed the company's name to Willys Motor Company. The name Willys was consigned to history when the company was renamed Kaiser-Jeep in 1963. Chrysler could have looked for an Indian partner in the early 1990s when PM Narasimha Rao’s government liberalised the automobiles sector. They could have used the Willys Jeep brand name and launched a reconfigured Jeep Cherokee to suit Indian terrain, budget and govt specs. FCA can still do it. Jeep Cherokee is the most famous and successful all terrain 4x4 vehicle. They could target police departments of various Indian states or security agencies with a higher bhp spec model and a lower spec fuel-efficient for civilians. Cherokee rocks! I know it well. I used it for 11 years in Qatar!

    जवाब
    Write a Reply
    1
    L
    lally bains
    Apr 13, 2017 7:54:07 AM

    it looks great,

      जवाब
      Write a Reply
      1
      S
      shaik faiyad
      Apr 12, 2017 5:21:48 PM

      wait n watch till it performs on indian terrain.hope its rugged.

        जवाब
        Write a Reply
        Read Full News

        कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

        एक्स-शोरूम कीमत न्यू दिल्ली
        ×
        आपका शहर कौन सा है?