फोर्ड एंडेवर की बिक्री जारी रखना चाहती थी कंपनी मगर दूसरी कंपनियों से डील हुई फेल

प्रकाशित: सितंबर 20, 2021 11:48 am । भानुफोर्ड एंडेवर

  • 220 व्यूज़
  • Write a कमेंट

फोर्ड ने भारत में कारों का प्रोडक्शन बंद कर दिया है जिसमें उसकी सबसे पॉपुलर कार एंडेवर भी शामिल है। कंपनी का कहना है कि वो इस कार के प्रोडक्शन को बंद नहीं करना चाह रही थी, मगर उसे किसी दूसरी कंपनी के साथ कॉन्ट्रेक्ट मैन्युफैक्चरिंग के लिए सही डील नहीं मिल पाई। 

First-gen Ford Endeavour

फोर्ड एंडेवर को 2003 में भारत में लॉन्च किया गया था जिसके बाद 2016 में इसका सेकंड जनरेशन मॉडल भारत में उतारा गया। एंडेवर के सेकंड जनरेशन मॉडल को भारत में जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला और कंपनी की ग्लोबल सेल्स में भारतीय कस्टमर्स का 20 प्रतिशत योगदान मिला। ये कार दूसरे मार्केट्स में फोर्ड एवरेस्ट के नाम से बेची जाती है। फोर्ड के भारत में प्रोडक्शन संबंधी कामकाज बंद करने के ऐलान करने से पहले तक एंडेवर की ग्लोबल सेल्स में भारतीय बाजार का योगदान 37 प्रतिशत तक था। 

सितंबर 2021 में इस कार की सेल्स 44 प्रतिशत तक रही और ​फुल साइज प्रीमियम एसयूवी सेगमेंट में ये कार फॉर्च्यूनर के बाद दूसरे नंबर पर रही है। फोर्ड का कहना है कि हर साल एंडेवर की 10 से 12 हजार यूनिट्स बिक जाती है जो काफी अच्छे आंकड़े हैं, मगर ये आंकड़े कंपनी को यहां फैक्ट्री चलाने लायक जितने अच्छे नहीं है। ऐसे में कंपनी ने कॉन्ट्रेक्ट मैन्युफैक्चरिंग के जरिए एंडेवर का प्रोडक्शन जारी रखने का फैसला भी लिया था। 

यह भी पढ़ें:एमजी ग्लोस्टर को खरीदने का बना रहे हैं प्लान तो जान लें सेगमेंट की दूसरी गाड़ियों से कितनी बेहतर है ये कार

फोर्ड एंडेवर भारत में सबसे लंबे समय तक बिकने वाली कार भी रही है जिसे मार्केट में 18 साल पूरे हो चुके हैं। ये अपने मुकाबले में मौजूद कुछ नई कारों के आने के बावजूद भी कस्टमर्स द्वारा काफी पंसद की जाती रही है।

जानकारी के लिए बता दें कि फोर्ड ने 2 मिलियन यूएस डॉलर का नुकसान होने के बाद भारत में अपनी कारों की बिक्री पर रोक लगाने का फैसला लिया है। भारत में 25 साल से मौजूद फोर्ड के मॉडल्स की पैसेंजर कार मार्केट में 2 प्रतिशत से कम बिक्री रही है। अपनी सॉलिड बिल्ड क्वालिटी की वजह से कंपनी की कारें ग्राहकों को काफी पसंद आती है। 

इस 7-सीटर कार में नया 2.0 लीटर बीएस6 ईकोब्लू डीजल इंजन दिया गया है। यह इंजन 170 पीएस की पावर और 420 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस इंजन के साथ इसमें 10-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन दिया गया है। इस गियरबॉक्स के साथ इसमें रियर व्हील ड्राइव और ऑल व्हील ड्राइव सिस्टम का ऑप्शन भी दिया गया है। इससे पहले ये कार 3.2 लीटर 5 सिलेंडर डीजल इंजन में उपलब्ध थी जो 200 पीएस की पावर और 470 एनएम का टॉर्क जनरेट करता था।बीएस6 नॉर्म्स आने के बाद इस इंजन को बंद कर दिया गया था। 

सितंबर 2021 तक इस कार की प्राइस 33.81 लाख रुपये से लेकर 36.26 लाख रुपये के बीच थी। इसका मुकाबला एमजी ग्लोस्टर, इसुजु एमयूएक्स और महिंद्रा अल्टुरस जी4 से था। भारत में एंडेवर को काफी मिस किया जाएगा और अब फॉर्च्युनर इस सेगमेंट में दूसरी कारों को कड़ी टक्कर देगी। यदि आपको अब भी फोर्ड एंडेवर लेने की तमन्ना है तो अपने नजदीकी फोर्ड डीलर से संपर्क कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें:एमजी ग्लोस्टर Vs फोर्ड एंडेवर Vs टोयोटा फॉर्च्यूनर: जानिए असल में किस एसयूवी का परफॉर्मेंस है सबसे बेहतर

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

फोर्ड एंडेवर पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience