• लॉगिन / रजिस्टर

अगले साल आ रही है नई पोलो, इन चार बड़े बदलावों पर रहेगी नज़र

Modified On jul 08, 2016 06:21 pm By aman for फॉक्सवेगन पोलो 2015-2019

  • 6 Views
  • Write a comment

छह साल पहले आई पोलो हैचबैक को लोगों ने हाथों-हाथ लिया और इसकी बदौलत फॉक्सवेगन को भारत में अच्छी पहचान मिली। अगले साल पोलो हैचबैक नए अवतार में आने वाली है। नई पोलो को अगले साल उतारा जाएगा। भारत में इसे साल 2018 में पेश किया जाएगा। यहां हम चर्चा करेंगे नई पोलो में होने वाले उन चार अहम बदलावों जिन पर सबसे ज्यादा फोकस रहेगा।

1. पहले से ज्यादा लंबा व्हीलबेस

संभावना है कि नई पोलो का व्हीलबेस मौजूदा वर्जन की तुलना में 90 एमएम ज्यादा होगा। इससे केबिन में थोड़ा ज्यादा स्पेस मिलेगा। इसकी काफी जरूरत भी है। नई पोलो को फॉक्सवेगन के एमक्यूबी प्लेटफार्म पर बनाया जाएगा, इसे ए0 नाम दिया गया है। इससे कार की ओवरऑल लम्बाई पर असर नहीं पड़ेगा। यह चार मीटर के दायरे में ही रहेगी।

2. नया एक्सटीरियर डिजायन

नई पोलो पहले की तुलना में ज्यादा अग्रेसिव और दमदार होगी। इसके बोनट पर कर्व लाइंस देखने को मिलेंगी। आगे की तरफ नई ग्रिल और कार को स्पोर्टी लुक देती सिंगल क्रोम लाइन दी गई है। हैडलैंप क्लस्टर के डिजायन को भी बदला गया है। फ्रंट बंपर को और आकर्षक बनाने के लिए सी आकार की क्रोम आउटलाइन दी गई है। साइड प्रोफाइल में बदलाव नहीं हुए हैं। पीछे की ओर टेललैंप्स का डिजायन बदला गया है, यह पहले से ज्यादा आकर्षक है।

3. प्रीमियम इंटीरियर

फॉक्सवेगन पोलो के मौजूदा वर्जन का केबिन ज्यादा प्रीमियम नहीं था। संभावना है कि नई पोलो का केबिन कई महत्वपूर्ण अपडेट के साथ पहले ज्यादा प्रीमियम होगा। केबिन में प्लास्टिक क्वालिटी को सुधारकर यहां सॉफ्ट टच प्लास्टिक पैनल का इस्तेमाल होगा। नई पोलो में फॉक्सवेगन का सबसे ज्यादा ध्यान केबिन कनेक्टिविटी पर रहेगा। संभावना है कि इसमें टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम दिया जाएगा, जो एपल कारप्ले और गूगल एंड्रॉयड ऑटो को सपोर्ट करेगा। पोलो के टॉप वेरिएंट में इंटरनेट कनेक्टिविटी का फीचर भी मिलेगा। हालांकि इस बारे में अभी यह नहीं कहा जा सकता कि ये सभी फीचर्स भारत आने वाले मॉडल में भी मिलेंगे या नहीं।

4. नया इंजन

संभावना है कि नई पोलो में मौजूदा पेट्रोल और डीज़ल इंजन के अलावा नया 1.0 लीटर का पेट्रोल इंजन भी मिलेगा। जो अलग-अलग पावर ट्यून देगा। कम पावरफुल इंजन की पावर 75 पीएस होगी, जबकि पावरफुल टार्बोचार्ज्ड इंजन वाला वर्जन 100 पीएस और 115 पीएस की पावर देगा। इसके अलावा 1.5 लीटर का डीज़ल इंजन भी पोलो में आएगा, हालांकि इसकी पावर के आंकड़े अलग होंगे। इसकी पावर रेंज 90 पीएस, 110 पीएस और 130 पीएस होगी। सभी इंजन 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से जुड़े रहेंगे। इसके अलावा 7-स्पीड डीएसजी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प भी मिलेगा।

कुल मिलाकर नई पोलो से जुड़ी शुरुआती जानकारियों पर गौर करें तो यह हर मामले में मौजूदा पोलो से ज्यादा आकर्षक होगी। इसमें अच्छे फीचर्स के अलावा दमदार परफॉर्मेंस भी मिलेगी।

Published by

फॉक्सवेगन पोलो 2015-2019 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • Trending
  • Recent
×
आपका शहर कौन सा है?