रेनो ट्राइबर लॉन्ग टर्म रिव्यू रिपोर्ट : क्या है ये एक प्रैक्टिकल सब-4 मीटर वैगन कार?

Published On अप्रैल 28, 2021 By cardekho for रेनॉल्ट ट्राइबर

एक प्रोड्यूसर के तौर पर मुझे वैगन कार की तीन प्रमुख जरूरतें पता हैं जिनमें स्पेस, कम्फर्ट और केबिन प्रेक्टिकेलिटी शामिल है। यह ध्यान में रखते हुए कि मेरे शूट के दौरान सभी चीज़ें व्यवस्थित हों फिर चाहे बात कैमरों से लेकर कार में रखे हुए स्नैक्स की क्यों ना हो, कार की कम्फर्ट और केबिन प्रेक्टिकेलिटी सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। मुझे लगता है कि ऐसा ही ट्राइबर के सभी ग्राहक भी सोचते हैं जो इस कार को लगेज रखने के हिसाब से चुनते हैं या फिर बिज़नेस या फैमिली ट्रिप्स के दौरान इसमें लोगों को बिठाना चाहते हैं। यह आर्टिकल ट्राइबर की केबिन प्रेक्टिकेलिटी को लेकर समर्पित है। यह कार फैमिली के हिसाब से कैसी है, जानते हैं हमारे फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के जरिए:-

ट्राइबर के केबिन के अंदर बैठने के बाद सबसे पहली चीज़ जिस पर आप ध्यान देंगे वो है इसकी केबिन क्वॉलिटी। इसके केबिन में हार्ड प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है। इसके इंटीरियर की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसे ड्यूल-टोन कलर में पेश किया गया है। इस एमपीवी कार के इंटीरियर पर बेज और ब्लैक कलर थीम मिलती है। इसमें बड़ी विंडो दी गईं हैं जिसके चलते इसका केबिन काफी स्पेशियस लगता है। हालांकि, हमारे अनुसार कंपनी इस प्राइस पर सॉफ्ट टच प्लास्टिक दे सकती थी। इसके अलावा इसमें डोर पैड पर फैब्रिक इंसर्ट भी दिए जा सकते थे।

इसी प्राइस में आने वाली पैसेंजर कारों के मुकाबले ट्राइबर के केबिन को काफी सोच समझ कर तैयार किया गया है। इसमें स्टोरेज स्पेस की बिलकुल भी कमी नहीं खलती है। इसमें दो ग्लवबॉक्स दिए गए हैं। ऊपर की तरफ इसमें कूल्ड ग्लवबॉक्स दिया गया है जो ड्रिंक्स को ठंडा रखने के काम आता है। हालांकि, ऐसी उम्मीद ना करें कि यह रूम टेम्प्रेचर से ठंडा होता है। इसमें फ्रंट सीट्स के बीच में भी कूल्ड स्टोरेज मिलती है। इस जगह मैं अकसर अपने वेट वाइप्स स्टोर करता हूं क्योंकि कूल टेम्प्रेचर में वह क्रू व एंकर्स के लिए काफी हैंडी रहते हैं। इस कार के बड़े ग्लवबॉक्स का साइज़ भी काफी अच्छा है, ऐसे में इसमें कई सारे डॉक्युमेंट्स को आसानी से स्टोर किया जा सकता है। इस गाड़ी में इंफोटेनमेंट सिस्टम के नीचे की तरफ ट्रे भी दी गई है जिसमें फोन को रखा जा सकता है। फोन ट्रे के नीचे की तरफ भी इसमें स्पेस मिलता है जिसमें बिल रखे जा सकते हैं। इसके अलावा इसमें कप होल्डर्स भी दिए गए हैं जिसमें कॉफ़ी के कप्स को आसानी से रखा जा सकता है। अच्छे-खासे स्पेस के चलते ट्राइबर पैसेंजर्स के लिए एक अच्छी वैगन कार साबित होती है।

ट्राइबर एमपीवी में सेकंड रो पर बेंच सीटिंग लेआउट मिलता है। लगेज रखने के लिए इसमें सीटों को 60:40 रेश्यो में फोल्ड किया जा सकता है। जरूरत के हिसाब से इसकी सीटें स्लाइड और रेक्लाइन भी होती हैं। रेनॉल्ट ने एसी वेंट्स को बी-पिलर पर स्मार्ट तरीके से पोज़िशन किया है, ऐसे में इसमें अच्छा-खासा स्पेस मिलता है।

इसमें तीसरी रो की सीटों को नीचे की तरफ फोल्ड या फिर हटाया भी जा सकता है। मैंने मेरी जरूरत के हिसाब से इसे हटा दिया था ताकि कैमरा उपकरणों और शूट प्रॉप्स को आसानी से इसमें रख सकूं। इस कार में अलग से 12 वोल्ट का सॉकेट भी दिया गया है जिसके जरिये कैमरा या फिर लैपटॉप को चार्ज किया जा सकता है।

ट्राइबर कार की केबिन स्टोरेज ने मुझे काफी प्रभावित किया है। इसमें हर आइटम को रखने के लिए निर्धारित स्टोरेज स्पेस दी गई है। क्या ट्राइबर केबिन स्पेस और कम्फर्ट के मामले में अच्छी साबित होती है? इसके बारे में अगली रिपोर्ट में जानेंगे।  

  • हमने कार ली : 14 अगस्त 2020 
  • उस दौरान ये चली हुई थी : 600 किलोमीटर 
  • अभी तक चली : 9413 किलोमीटर  
  • माइलेज : 13.8 किलोमीटर प्रति लीटर 
  • खूबियां: कई स्टोरेज स्पेस, रिमूवेबल थर्ड रो सीटें 
  • खामियां : इंटीरियर में हार्ड प्लास्टिक का इस्तेमाल, कूल्ड ग्लवबॉक्स इतने दमदार नहीं

नई एमयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एमयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
We need your सिटी to customize your experience