महिंद्रा स्कॉर्पियो एन Vs टोयोटा इनोवा क्रिस्टा : स्पेस और प्रेक्टिकेलिटी कंपेरिजन

प्रकाशित: अगस्त 17, 2022 10:55 am । स्तुतिमहिंद्रा स्कॉर्पियो n

  • 1183 व्यूज़
  • Write a कमेंट

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

महिंद्रा स्कॉर्पियो एन भारत की सबसे पॉपुलर कार में से एक है और इसका अंदाजा हम इसके शानदार बुकिंग के आंकड़ों को देखकर भी लगा सकते हैं। नई स्कॉर्पियो एन रेगुलर स्कॉर्पियो के मुकाबले ज्यादा बड़ी, पावरफुल और प्रीमियम कार है। कीमत के मोर्चे पर इसका मुकाबला टोयोटा इनोवा क्रिस्टा से है।

इनोवा को अपने कम्फर्ट और विश्वसनीयता के लिए जाना जाता है। इस गाड़ी में 6 और 7-सीटों की चॉइस मिलती है जिसके चलते यह एक पॉपुलर फैमिली कार साबित होती है। स्कॉर्पियो एन एक एसयूवी कार है, वहीं इनोवा क्रिस्टा एक एमपीवी कार है। यह दोनों ही रियर-व्हील-ड्राइव कारें हैं, जबकि स्कॉर्पियो एन में फोर-व्हील-ड्राइव का ऑप्शन भी मिलता है जिसके चलते यह एक अच्छी ऑफ-रोडर कार भी साबित होती है।

चूंकि इन दोनों ही कारों में पैसेंजर को बैठने के लिए अच्छा स्पेस मिलता है, ऐसे में अब देखना यह होगा कि इनमें से कौनसी कार स्पेस, प्रेक्टिकेलिटी, फीचर्स और राइड क्वालिटी के मामले में ज्यादा बेहतर साबित होती है। तो चलिए इस पर नज़र डालते हैं यहां:-

लुक्स

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

स्कॉर्पियो एन अपने बोल्ड स्टांस के चलते ज्यादा आकर्षित करने वाली कार लगती है, इस गाड़ी की रोड प्रजेंस भी काफी अच्छी है। इसके एक्सटीरियर हाइलाइट में स्कॉर्पियन-टेल इंस्पायर्ड एलईडी डीआरएल्स, ड्यूल-बैरल एलईडी हेडलाइट्स और एलईडी फॉग लैंप्स, बड़े 18-इंच अलॉय व्हील्स, रियर क्वॉर्टर ग्लास पर स्कॉर्पियन टेल डिज़ाइन ट्रीटमेंट और दमदार शोल्डर लाइन शामिल हैं। रियर साइड पर इसमें बड़ी वर्टिकल पोज़िशन की गई लाइट स्ट्रिप लगी हुई है जिसे सबसे पहले ओजी स्कॉर्पियो में देखा गया था।

वहीं, इनोवा क्रिस्टा एक ट्रेडिशनल और सिंपल दिखने वाली कार है। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि जिस मॉडल को हमने ड्राइव किया वो इसका प्री-फेसलिफ्ट मॉडल था, जबकि फेसलिफ्ट वर्जन में नए डिज़ाइन की ग्रिल और नए ड्यूल-टोन अलॉय व्हील्स दिए गए हैं। स्कॉर्पियो एन के मुकाबले इसमें बहुत कम विज़ुअल हाइलाइट्स देखने को मिलते हैं। इस एमपीवी कार में भी एलईडी प्रोजेक्टर हेडलाइट्स दी गई है, लेकिन इसमें पतले और छोटे साइज़ के 17-इंच व्हील्स लगे हुए हैं। कुल मिलाकर, स्कॉर्पियो-एन एसयूवी लुक देती है, जबकि इनोवा एक अच्छी बॉक्सी थ्री-रो एमपीवी कार है।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

डाइमेंशन 

महिंद्रा स्कॉर्पियो एन 

टोयोटा इनोवा क्रिस्टा 

लंबाई 

4662 मिलीमीटर 

4735 मिलीमीटर 

चौड़ाई 

1917 मिलीमीटर 

1830 मिलीमीटर 

ऊंचाई 

1857 मिलीमीटर 

1795 मिलीमीटर 

व्हीलबेस 

2750 मिलीमीटर 

2750 मिलीमीटर 

ग्राउंड क्लियरेंस 

187 मिलीमीटर 

176 मिलीमीटर 

इनोवा क्रिस्टा स्कॉर्पियो एन से ज्यादा लंबी कार है, जबकि स्कॉर्पियो एन की चौड़ाई और ऊंचाई इससे ज्यादा है।

बूट स्पेस

हमारे बूट स्पेस टेस्ट में टोयोटा इनोवा क्रिस्टा तीन अलग-अलग साइज़ के सूटकेस और दो रफल बैग्स के साथ ज्यादा बेहतर साबित हुई। यदि इसकी तीनों रो की सीटें अपनी पोजिशन में है तो आप इस कार के बैक में बड़े और मीडियम साइज़ के बैग को आसानी से फिट कर सकेंगे, वहीं स्कॉर्पियो एन में तीनों रो की सीटें उठी होने पर केवल एक स्मॉल सूटकेस को रखने की ही जगह मिलती है।

इनोवा कार की रियर सीटों को साइड फोल्ड भी किया जा सकता है जिसके चलते इसमें लगेज को रखने के लिए ज्यादा स्पेस मिलती है। हम इस गाड़ी के बूट में चार अलग-अलग साइज़ के सूटकेस और डफल बैग को फिट करने में कामयाब रहे, मगर फिर भी इसमें एक दूसरे बैग को रखने की स्पेस बची।  वहीं, स्कॉर्पियो में थर्ड रो की सीटों को फोल्ड किया जा सकता है जिसके चलते हमें इसके बूट में तीन सूटकेस और एक सॉफ्ट बैग रखने की जगह मिल सकी। थर्ड रो की सीटों को फोल्ड करने के बावजूद भी स्कॉर्पियो में आधे से ज्यादा बूट स्पेस की जगह सीटें ही घेरती नज़र आईं। कुल मिलाकर, सीटें उठी होने पर भी स्कॉर्पियो एन में इनोवा के मुकाबले कम बूट स्पेस मिलती है।

इंटीरियर

थर्ड रो एक्सपीरिएंस

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

स्कॉर्पियो एन की तीसरी रो की सीटें इतनी ज्यादा आरामदायक नहीं है क्योंकि इसमें केवल दो एवरेज साइज़ के एडल्ट पैसेंजर ही कम दूरी के सफर में कम्फर्टेबल होकर बैठ पाते हैं। इसकी तीसरी रो की सीटें लंबी दूरी के सफर के हिसाब से इतनी अच्छी नहीं हैं। हालांकि, इसमें अच्छा ख़ासा बैकरेस्ट सपोर्ट और पर्याप्त हेडरूम स्पेस जरूर मिलता है। चूंकि इसमें सेकंड रो की सीटों के लिए स्लाइड फंक्शन नहीं दिया गया है, ऐसे में इसमें नीरूम स्पेस लिमिटेड ही मिलता है। इसमें सीटों को नीचे पोज़िशन किया गया है, ऐसे में इसमें अंडरथाई सपोर्ट भी इतना ख़ास नहीं मिलता है। तीसरी रो पर इस गाड़ी में एसी वेंट्स का भी अभाव है जिसके चलते सीट पर बैठने वाले पैसेंजर्स को इसमें थोड़ी घुटन महसूस हो सकती है। कम्फर्ट के लिहाज से इसमें फोन होल्डर और रीडिंग लैंप दिए गए हैं।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

इनोवा क्रिस्टा में आखिरी रो पर अच्छा स्पेस मिलता है। इस गाड़ी के केबिन में नीरूम स्पेस भी इतना कम नहीं है, क्योंकि इसमें सेकंड रो सीटों पर स्लाइड फ़ंक्शनैलिटी दी गई है। सेकंड और थर्ड दोनों ही रो में बैठे पैसेंजर्स को इसमें पर्याप्त स्पेस मिलता है। हालांकि, इस कार के केबिन में बैठे पैसेंजर को हेडरूम स्पेस स्कॉर्पियो एन के जितनी नहीं मिलता है, लेकिन इसमें नीरूम, बैकरेस्ट और अंडर थाई सपोर्ट इससे कहीं ज्यादा बेहतर मिलता है। ज्यादा कम्फर्ट के लिए इसमें रेक्लाइन सीटें भी दी गई हैं। थर्ड रो पर इसमें एसी वेंट्स दिए गए हैं और यहां बॉटल होल्डर और फोन रखने के लिए स्टोरेज स्पेस भी मिलता है।

सेंकड रो एक्सपीरियंस

स्कॉर्पियो एन और इनोवा क्रिस्टा दोनों कारों के 6-सीटर वर्जन (कैप्टेन सीटों के साथ) मार्केट में उपलब्ध है। इन दोनों ही कारों के 6-सीटर वर्जन में अच्छा कम्फर्ट, बैकरेस्ट और नीरूम सपोर्ट और सीट रेक्लाइन फंक्शन मिलता है। सेकंड रो पर बैठे पैसेंजर को इनोवा में थोडा बेहतर अंडर-थाई स्पोर्ट मिलता है, जबकि स्कॉर्पियो एन में सेकंड रो पर पैसेंजर को अच्छा हेडस्पेस मिलता है। महिंद्रा की एसयूवी कार में ऊंची सीटिंग पोज़िशन मिलती है।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

इनोवा ज्यादा प्रेक्टिकल कार है, इस एमपीवी कार में कई सारे स्टोरेज स्पेस मिलते हैं। इसमें यूएसबी सॉकेट, 12 वोल्ट सॉकेट और फ्रंट आर्मरेस्ट के बैक पर फोन स्टोरेज स्पेस, कपहोल्डर और फोन होल्डर के साथ दो फोल्ड-आउट ट्रे, बाएं सीट के नीचे ट्विन माउंटेड कपहोल्डर, हर दरवाज़े पर बॉटल होल्डर और रूफ-माउंटेड एसी वेंट्स दिए गए हैं।

स्कॉर्पियो एन के डोर पॉकेट काफी छोटे हैं और उन तक पहुंचना भी काफी मुश्किल लगता है। इस एसयूवी कार में फ्लोर-माउंटेड एसी वेंट्स दिए गए हैं, लेकिन इसके रूफ-माउंटेड वेंट्स ज्यादा अच्छा वेंटिलेशन देते हैं। इसकी सीट बैक पॉकेट में फोन होल्डर के साथ सी-टाइप चार्जिंग पोर्ट दिया गया है।

इन दोनों ही कारों में सेकंड रो में ऊंची सीटिंग पोज़िशन मिलती है जिसके चलते केबिन के अंदर जाना व बाहर निकलना बुजुर्गों के लिए थोड़ा मुश्किल रहता है। इस मामले में स्कॉर्पियो एन ज्यादा बेहतर साबित होती है क्योंकि इसमें केबिन के अंदर जाने के लिए साइड स्टेप दिया गया है।

फिट व फिनिश क्वालिटी

महिंद्रा स्कॉर्पियो एन का इंटीरियर पहली ही झलक में बेहद मॉडर्न लगता है। इसमें डैशबोर्ड पर सॉफ्ट टच लैदर इंसर्ट के साथ ड्यूल टोन ब्लैक और ब्राउन कलर थीम मिलती है जो इसे प्रीमियम लुक देती है। मगर, इसकी प्लास्टिक और फिट व फिनिश क्वालिटी इतनी ख़ास नहीं है। स्कॉर्पियो एन और इनोवा दोनों ही कारों में लगी लैदर सीटें बैठने के लिहाज से काफी अच्छी हैं।

इनोवा के केबिन में ड्यूल-टोन ब्लैक और बेज कलर थीम दी गई है जिसके चलते इसका इंटीरियर थोड़ा पुराना लगता है। इस कार में डोर पैड पर वेलवेट इंसर्ट मिलते हैं जो प्रीमियम केबिन एक्सपीरिएंस देते हैं। इस गाड़ी का केबिन बेहद सिंपल और साफ़ सुथरा लगता है, लेकिन यह स्कॉर्पियो एन की तरह मॉडर्न अहसास नहीं दिलाता है। इनोवा क्रिस्टा के केबिन में लगे प्लास्टिक की क्वालिटी महिंद्रा एसयूवी से ज्यादा बेहतर लगती है।

फर्स्ट रो प्रेक्टिकेलिटी

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

फर्स्ट रो प्रेक्टिकेलिटी  के मामले में भी इनोवा ज्यादा अच्छी कार साबित होती है। इस गाड़ी में डोर पॉकेट में तीन 1-लीटर की बॉटल रखने की सुविधा दी गई है, साथ ही इसमें एसी वेंट्स के फ्रंट पर फ्लिप-आउट कपहोल्डर्स, सेंटर कंसोल पर बॉटल होल्डर और तीन छोटी स्टोरेज स्पेस, आर्मरेस्ट के नीचे स्टोरेज स्पेस और ड्यूल ग्लवबॉक्स कम्पार्टमेंट भी मिलता है जिसके चलते यह ज्यादा प्रेक्टिकल कार साबित होती है।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

वहीं, स्कॉर्पियो एन में हर दरवाज़े पर 1-लीटर का बॉटल होल्डर, सेंटर आर्मरेस्ट के नीचे स्टोरेज स्पेस, स्मॉल ग्लवबॉक्स, गियर लीवर के आगे दो कप होल्डर और लीवर के पीछे फोन डॉकिंग स्पेस दी गई है। इसके अलावा महिंद्रा स्कॉर्पियो एन में दो यूएसबी चार्जर और वायरलैस चार्जर (केवल टॉप फोर-व्हील-ड्राइव एटी वेरिएंट में) को रखने की सुविधा भी मिलती है, जबकि इनोवा क्रिस्टा में 12 वोल्ट सॉकेट और एक यूएसबी चार्जर की जगह ही दी गई है।

फीचर्स

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

फीचर्स के मामले में महिंद्रा स्कॉर्पियो एन इनोवा क्रिस्टा से ज्यादा अच्छी साबित होती है।

कॉमन फीचर्स 

स्कॉर्पियो एन हाइलाइट 

इनोवा क्रिस्टा हाइलाइट

  • पावर्ड ड्राइवर सीट
  • 8 इंच का टचस्क्रीन सिस्टम
  • एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले
  • ऑटो हेडलैम्प्स
  • पुश-बटन स्टार्ट/स्टॉप
  • क्रूज कंट्रोल
  • स्टीयरिंग व्हील के लिए टिल्ट एडजस्टमेंट
  • सेकेंड रो एसी वेंट्स
  • सिक्वेन्शियल टर्न इंडिकेटर के साथ फुल एलईडी लाइटिंग
  • इलेक्ट्रिक सनरूफ
  • ड्यूल ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल
  • वायरलेस एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले
  • वायरलैस चार्जर
  • इंटीग्रेटेड एलेक्सा कनेक्शन
  • सोनी 12-स्पीकर साउंड सिस्टम
  • रेन-सेंसिंग वाइपर
  • टीपीएमएस (टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम)
  • एलईडी प्रोजेक्टर हेडलैम्प्स
  • टेलीस्कोपिक स्टीयरिंग एडजस्टमेंट
  • सभी विंडो के लिए वन-टच पावर विंडो फंक्शन
  • 6-स्पीकर साउंड सिस्टम
  • फ्रंट और रियर एसी के लिए मैनुअल एडजस्टमेंट
  • सेकंड व थर्ड रो पर एसी वेंट्स
  • एम्बिएंट लाइटिंग 

 फीचर्स के मामले यह दोनों ही कारें एकदम प्रीमियम एक्सपीरिएंस देती हैं। इनमें रोज़मर्रा के हिसाब से कई सारे दमदार फीचर्स दिए गए हैं। स्कॉर्पियो एन में फुल एलडी लाइटिंग, इलेक्ट्रिक सनरूफ, ड्यूल-ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल, वायरलेस चार्जिंग और एंड्रॉइड ऑटो/एप्पल कारप्ले जैसे प्रीमियम फीचर्स मिलते हैं, जबकि इनोवा के हाइलाइट फीचर्स में सभी विंडो के लिए वन-टच पावर एडजस्टमेंट, टेलिस्कोपिक स्टीयरिंग एडजस्टमेंट, थर्ड-रो एसी वेंट शामिल हैं। इसके अलावा इस गाड़ी में एक यूनीक फीचर भी मिलता है वो यह है कि आप अपनी फ्रंट रो से रियर सीटों की एसी सेटिंग को एडजस्ट कर सकते हैं।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

इनोवा की तुलना में स्कॉर्पियो एन में लगी टचस्क्रीन इस्तेमाल करने में काफी स्मूद लगती है। हालांकि, क्लेरिटी और इस्तेमाल करने के मामले में दोनों ही कारों की टचस्क्रीन सेगमेंट की बेस्ट नहीं है।

सेफ्टी

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

सेफ्टी के लिहाज से स्कॉर्पियो एन के मुकाबले इनोवा में कई ज्यादा स्टैंडर्ड फीचर्स मिलते हैं। इसमें बेस वेरिएंट से ही तीन एयरबैग्स, हिल स्टार्ट असिस्ट और ईएससी फीचर मिलते हैं, जबकि स्कॉर्पियो में ऑल-व्हील डिस्क ब्रेक, रियर पार्किंग सेंसर और ड्यूल एयरबैग्स दिए गए हैं। ईएससी और हिल स्टार्ट असिस्ट जैसे फीचर स्कॉर्पियो एन में बेस से ऊपर वाले ज़ेड4 एटी वेरिएंट से मिलना शुरू होते हैं।

इनोवा के टॉप वेरिएंट की बात करें तो इसमें सात एयरबैग्स, फ्रंट पार्किंग सेसर और रियर पार्किंग कैमरा दिए गए हैं। जबकि, स्कॉर्पियो में छह एयरबैग्स मिलते हैं, हालांकि इसमें फ्रंट पार्किंग कैमरा और हिल डिसेंट कंट्रोल जैसे फीचर भी दिए गए हैं।

राइड क्वालिटी व कम्फर्ट

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

महिंद्रा स्कॉर्पियो एन और टोयोटा इनोवा क्रिस्टा दोनों ही गाड़ियों की राइड क्वालिटी काफी अच्छी है। यह दोनों ही कारें सिटी और हाइवे राइड के दौरान स्पीक ब्रेकर और गड्ढों को आसानी से पार कर लेती है। सिटी ड्राइविंग के दौरान आपको इन दोनों ही कारों के केबिन में बैठे पैसेंजर्स को साइड-टू-साइड मूवमेंट जरूर महसूस होता है। यदि आप गाड़ी को स्लो किए बिना गड्ढों से गुज़रते हैं तो थोड़ी बहुत तकलीफ महसूस हो सकती है। इनोवा की हाइवे राइड अच्छी है, जबकि स्कॉर्पियो एन से भी अच्छी राइड मिलने की कोशिश रहती है।

ड्राइव एक्सपीरियंस

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

यह दोनों ही रियर-व्हील-ड्राइव कारें हैं। हमनें इन दोनों कारों के ऑटोमेटिक वर्जन को चलाकर देखा। सिटी और हाइवे दोनों जगह पर यह गाड़ियां अच्छी राइड देती हैं। जहां स्कॉर्पियो स्पोर्टी राइड देती है, वहीं इनोवा पैसेंजर को एकदम रिलैक्स एक्सपीरिएंस देती है।

हमनें स्कॉर्पियो एन के टर्बो  पेट्रोल और डीजल दोनों वर्जन को चलाकर देखा। इस गाड़ी में लगा इंजन काफी पावरफुल और फास्ट है। इसका पेट्रोल इंजन अच्छी परफॉर्मेंस देता है और ड्राइव करने में काफी रोमांचक लगता है, लेकिन इसका यह मतलब भी नहीं कि इसका डीजल इंजन ड्राइव करने में रोमांचक नहीं है। अच्छी राइड देने के मामले में इसका पेट्रोल इंजन डीजल इंजन से कहीं ज्यादा बेहतर साबित होता है। इसका ऑटोमेटिक वर्जन राइड के दौरान काफी स्मूद लगता है। इसके पेट्रोल इंजन का रिफाइनमेंट लेवल काफी अच्छा है।

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

टोयोटा इनोवा क्रिस्टा क्रूज़ करने के हिसाब से काफी अच्छी है। इस गाड़ी में लगा 2.4-लीटर डीजल इंजन ओवरटेकिंग के दौरान सबसे काम का साबित होता है। हालांकि, हार्ड एसेलेरेशन की स्थिति में इसके गियर शिफ्ट थोड़ा किकबैक इफेक्ट देते हैं। रिफाइनमेंट लेवल की बात करें तो इनोवा में लगा डीजल इंजन आइडल मोड पर भी काफी आवाज़ करता है।

स्कॉर्पियो एन कार बेहतरीन परफॉर्मेंस देती है, जबकि इनोवा का एक्सपीरिएंस धीरे धीरे सुधरता है। आप इनोवा को जितना ज्यादा ड्राइव करेंगे, आपको इसका स्लो इंजन उतना ही ज्यादा पसंद आने लगेगा। महिंद्रा की एसयूवी में इंजन के साथ फोर-व्हील-ड्राइव का ऑप्शन भी मिलता है जिसके चलते यह अच्छी ऑफ-रोडर कार भी साबित होती है।

निष्कर्ष

mahindra scorpio n vs toyota innova crysta

वेरिएंट 

स्कॉर्पियो एन 

इनोवा क्रिस्टा 

 

पेट्रोल 

डीजल 

पेट्रोल 

डीजल 

बेस वेरिएंट 

12 लाख रुपए से 15.45 लाख रुपए

12.50 लाख रुपए से 16.44 लाख रुपए

17.45 लाख रुपए से 19.07 लाख रुपए

18.90 लाख रुपए से 21.69 लाख रुपए

मिड वेरिएंट 

-

15 लाख रुपए से 16.95 लाख रुपए

20.95 लाख रुपए

23.11 लाख रुपए

टॉप वेरिएंट

17 लाख रुपए से 21.15 लाख रुपए

17.50  लाख रुपए से 23.90 लाख रुपए

23.83 लाख रुपए

24.75 लाख रुपए से 26.54 लाख रुपए

इनोवा क्रिस्टा स्कॉर्पियो एन से ज्यादा महंगी कार है। इसके कई वेरिएंट की प्राइस स्कॉर्पियो एन से 6 लाख रुपए ज्यादा है। ज्यादा प्राइसिंग के बावजूद भी यह भारत की बेस्ट सेलिंग एमपीवी कार है। इसकी वजह इसकी स्ट्रेस-फ्री ओनरशिप, रिलाएबिलिटी और सर्विस/रिपेयर कॉस्ट है। इसका केबिन काफी स्पेशियस, प्रेक्टिकल और कम्फर्टेबल है जिसके चलते यह मार्केट की बेस्ट फैमिली कार साबित होती है।

स्कॉर्पियो एन एक स्पेशियस थ्री-रो एसयूवी कार है, लेकिन यह इनोवा क्रिस्टा के साथ मैच अप नहीं करती है। ड्राइविंग एक्सपीरिएंस, राइड व हैंडलिंग और फीचर्स के मामले में यह एसयूवी एमपीवी से कहीं ज्यादा बेहतर है। यदि आपको एमपीवी कार चाहिए तो इनोवा क्रिस्टा आपके लिए अच्छी रहेगी, वहीं अगर आप फन-टून-ड्राइव वाली कार की तलाश में हैं तो ऐसे में स्कॉर्पियो एन को चुनना आपके लिए बेहतर ऑप्शन रहेगा।

यह भी देखें: महिंद्रा स्कॉर्पियो एन ऑन रोड प्राइस

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

महिंद्रा स्कॉर्पियो n पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • महिंद्रा स्कॉर्पियो एन
  • टोयोटा इनोवा क्रिस्टा

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

नई दिल्ली में *एक्स-शोरूम कीमत
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का

ट्रेंडिंगएसयूवी

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience