बड़ी कामयाबी : जापान जाएगी भारत में बनी मारूति बलेनो

प्रकाशित: दिसंबर 15, 2015 12:58 pm । sumitमारुति बलेनो 2015-2022

  • 11 व्यूज़
  • Write a कमेंट

जापान की सड़कों पर जल्द ही भारत में बनी कारें दौड़ती नजर आएंगी। जो भारत और ‘मेक इन इंडिया’ की सफलता को  दुनिया के सामने रखने वाला बड़ा कदम है। जापान को निर्यात होने वाली पहली कार का खिताब मारूति सुजुकी बलेनो के नाम होगा। जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे की भारत यात्रा के दौरान बीते शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह जानकारी दी।


 
प्रधानमंत्री मोदी ने इंडिया-जापान बिजनेस लीडर्स फोरम घोषणा की थी कि ‘मारूति (सुजुकी) यहां पर कारें बनाएगी और फिर इन्हें जापान भेजा जाएगा।’ मोदी ने यह भी जोड़ा कि ‘भारत और जापान केवल हाई-स्पीड ट्रेनों के क्षेत्र में ही नहीं, बल्कि हर क्षेत्र में एक साथ तेज रफ्तार से विकास की ओर बढ़ेंगे।’ मारूति सुजुकी के चैयरमेन आरसी भार्गव ने भी इसकी पुष्टि की है। भार्गव ने कहा-‘एक्सपोर्ट होने वाली कारों में पहली कार बलेनो होगी। इसे जनवरी 2016 से निर्यात किया जाएगा। हर साल करीब 20-30 हजार कारें निर्यात की जाएगी। हालांकि इसमें काफी चुनौतियां भी हैं, जापान को वाहन निर्यात करना आसान नहीं है।’

कारों के एक्सपोर्ट का यह फैसला ऐसे वक्त में हुआ है जब कई करारों के अलावा भारत ने जापान से बुलेट ट्रेन खरीदने का फैसला किया है। जो  अहमदाबाद-मुंबई के बीच चलेगी। इस प्रोजेक्ट के लिए जापान ने भारत को 98 हजार करोड़ (12 बिलियन डॉलर) का  करीब-करीब ब्याज मुक्त (0.1 फीसदी) कर्ज दिया है। इसके अलावा दोनों देशों के बीच सामरिक तौर पर काफी महत्वपूर्ण असैन्य परमाणु करार (सिविल न्यूक्लियर डील) से जुड़े समझौते भी हुए हैं।

यह भी पढ़ें : बलेनो का कौन सा वेरिएंट रहेगा बेहतर, जानें यहां

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

मारुति बलेनो 2015-2022 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

ट्रेंडिंगहैचबैक

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience