फोर्ड ने खराबी के चलते 16,444 ईकोस्पोर्ट्स को वापस मंगवाया

प्रकाशित: नवंबर 16, 2015 06:02 pm । nabeelइकोस्पोर्ट 2015-2021

  • 10 व्यूज़
  • Write a कमेंट

कारों में खराबी के चलते उन्हें वापिस (रिकाॅल) का सिलसिला अभी तक थमा नहीं है। रिकाॅल रिकाॅर्ड पर एक नज़र डाले तो इसी साल सितम्बर में होण्डा व अक्टूबर में टोयोटा ने खराबी के चलते अपने कई माॅडल ब्रांड को वापस बुलाया था और अब अमेरिकन आॅटोमेकर कंपनी फोर्ड ने खराबी के चलते ईकोस्पोर्ट की 16,444 कारों को रिकाॅल किया है। ईकोस्पोर्ट कार में रियर टिवस्ट बीम बोल्ट की खराबी के चलते इन्हें वापिस मंगवाया जा रहा है। आॅटोमेकर कंपनी की ओर से कहा गया है कि इस खराबी की वजह से अभी तक कोई दुर्घटना सामने नहीं आयी है लेकिन समस्या यह है कि एएसएपी फिक्स हो गया है।

कंपनी के अनुसार, रिकाॅड में नवम्बर 2013 से अप्रैल 2014 के बीच चेन्नई के प्लांट में निर्मित ईकोस्पोर्ट माॅडल हैं जिन्हें रियर टिवस्ट बीम से सम्बंधित समस्या के लिए रिकाॅल किया गया है। ईकोस्पोर्ट के रियर टिवस्ट बीम में आई खराबी के चलते यह पाइवोट बोल्ट तोड़ने, व्हीकल की डाईविलटी में बाधा पैदा करने के साथ ही ड$ाईवर कंट्रोल को कम कर सकता है। यह दूसरी बार है जब फोर्ड की ईकोस्पोर्ट कार को रिकाॅल किया गया है, इससे पहले दिसम्बर, 2014 में ईकोस्पोर्ट की 20,750 कार माॅडल को फ्यूल व वेपोर लाइन की समस्या के चलते रिकाॅल किया गया था।

दूसरी ओर, कंपनी की ओर से कहा गया है कि फोर्ड इंडिया ने अपने ईकोस्पोर्ट व्हीकलों का निरीक्षण करने के लिए चुनिंदा ग्राहकों से सम्पर्क किया है। प्रभावित वाहनों में कुछ में ऐसी संभावना है कि आरटीबी बोल्ट स्पेसिफिकेशन नहीं किया जा सकता है, जिसके कारण पावट बोल्ट ब्रेक हो सकता है। इस समस्या के चलते दुर्घटना का खतरा भी हो सकता है।

आपको बता दें कि हालही में अग्रणी आॅटो कंपनी फोक्सवैगन भी डीजलगेट मसले से जूझ रही है जिसके कारण पूरे आॅटोवल्र्ड की गुणवत्ता नियंत्रण पर ही सवालिया निशान लग चुका है।

यह भी पढ़ें :

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

इकोस्पोर्ट 2015-2021 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
×
We need your सिटी to customize your experience