• लॉगिन / रजिस्टर

2017 मारुति स्विफ्ट डिजायर: फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On Jan 09, 2020 By CarDekho for मारुति डिजायर

मारुति सुज़ुकी ने करीब एक दशक बाद नई जनरेशन की डिजायर लॉन्च की है। यह पहले से ज्यादा बड़ी, ज्यादा जगहदार, फीचर लोडेड और ज्यादा आकर्षक है। कॉम्पैक्ट सेडान सेगमेंट में यह सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है। इसका मुकाबला टाटा टिगॉर और हुंडई एक्सेंट से है।

एक्सटीरियर

पुरानी डिजायर को अच्छी सफलता मिली थी, लेकिन डिजायन के मामले में यह ज्यादा आकर्षक नहीं थी। इसका आगे वाला हिस्सा हूबहू स्विफ्ट हैचबैक जैसा था, पीछे वाले हिस्से में बूट थोड़ा अटपटा लगता था। नई डिजायर को कंपनी ने काफी सुधार करने के बाद उतारा है। इसका डिजायन काफी आकर्षक है। इसे देखकर कहा जा सकता है कि यह वाकई एक सेडान कार है।

नई डिजायर की कद-काठी में कुछ बदलाव हुए हैं। इसकी चौड़ाई को 40 एमएम और व्हीलबेस को 20 एमएम तक बढ़ाया गया है। ऊंचाई और ग्राउंड क्लीयरेंस को क्रमशः 40 एमएम और 7 एमएम तक कम किया गया है। कद-काठी में बदलाव होने का असर इसके डिजायन पर पड़ा है। यह पहले से ज्यादा आकर्षक नज़र आती है।

कार के आगे की तरफ नई ग्रिल दी गई है, ग्रिल के चारों ओर मोटी क्रोम लाइन दी गई है। इस में आकर्षक दिखने वाले एलईडी प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, डे-टाइम रनिंग लैंप्स के साथ दिए गए हैं। यह फीचर अक्सर ऊपर वाले सेगमेंट की कारों में देखने को मिलता है। फॉग लैंप्स को एयरडैम के दोनों ओर पोजिशन किया गया है। कार को स्टाइलिश लुक देने के लिए फॉग लैंप्स के नीचे की तरफ क्रोम लाइन दी गई है। राइडिंग के लिए टॉप वेरिएंट में 15 इंच के नए अलॉय व्हील दिए गए हैं। शुरूआती वेरिएंट में 14 इंच के स्टील व्हील, कवर के साथ दिए गए हैं।

पीछे वाले हिस्से का डिजायन काफी साफ-सुथरा है। बूट लिड पर एक पतली क्रोम पट्टी दी गई है, जो दोनों ओर लगे टेललैंप्स में जाकर घुल-मिल जाती है। टेललैंप्स का डिजायन भी काफी आकर्षक है, इस में एलईडी लाइटों का इस्तेमाल हुआ है। सब 4-मीटर सेडान कारों को देखकर ऐसा लगता है कि इन में जबरदस्ती डिकी को फिट किया गया है। लेकिन नई डिजायर में ऐसा नहीं है। नई डिजायर की डिकी को काफी अच्छे से फिट किया गया है। नई डिजायर का बूट स्पेस 378 लीटर है। इस मामले में यह मुकाबले में मौजूद टाटा टिगॉर, हुंडई एक्सेंट और होंडा अमेज़ से पीछे है। इन कारों का बूट स्पेस 400 लीटर से ज्यादा बड़ा है।

इंटीरियर

अब चलते हैं कार के केबिन की तरफ... नई डिजायर का केबिन पहले से ज्यादा आकर्षक है। कार के डैशबोर्ड और स्टीयरिंग को ड्यूल-टोन कलर में रखा गया है। इन पर क्रोम और फॉक्स वुड कलर हाइलाइटर दिए गए हैं। सेगमेंट फर्स्ट फीचर के तौर पर इस में फ्लैट-बॉटम स्टीयरिंग व्हील दिया गया है। टॉप वेरिएंट में स्टीयरिंग पर फॉक्स लैदर का इस्तेमाल हुआ है। स्टीयरिंग व्हील पर सॉफ्ट टच ऑडियो और टेलिफोनी कंट्रोल स्विच दिए गए हैं, जो कार में प्रीमियम अहसास लाते हैं। गियर लेअर पर भी लैदर का इस्तेमाल हुआ है।

डैशबोर्ड पर 7.0 इंच स्मार्टप्ले इंफोटेंमेंट सिस्टम लगा है, जो एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले कनेक्टिविटी सपोर्ट करता है। साउंड क्वालिटी को बेहतर बनाने के लिए इस में 6-स्पीकर सिस्टम दिया गया है। यह सिस्टम केवल टॉप वेरिएंट में ही दिया गया है। शुरूआती वेरिएंट में यूएसबी, ऑक्स, सीडी और ब्लूटूथ कनेक्टिविटी सपोर्ट करने वाला रेग्यूलर ऑडियो सिस्टम दिया गया है। यह सिस्टम समय के हिसाब से काफी पुराना हो चुका है।

मारुति डिजायर में ड्राइवर कंफर्ट का काफी ध्यान रखा गया है। इस में हाइट एडजस्टेबल ड्राइवर सीट, स्टार्ट-स्टॉप बटन, इलेक्ट्रिक रिट्रेक्टेबल और एडजस्टेबल बाहरी शीशे और ड्राइवर साइड ऑटो अप-डाउन पावर विंडो जैसे फीचर दिए गए हैं। कार की आगे वाली सीटें बड़ी हैं जिससे बड़े व्यक्ति भी इन पर कंफर्टेबल महसूस करते हैं। एएमटी वेरिएंट में कंपनी ने ड्राइवर आर्मरेस्ट भी दिया गया है।

डिजायर के व्हीलबेस और चौड़ाई को बढ़ाया गया है, जिससे कार के केबिन में स्पेस बढ़ा है। नई डिजायर की पीछे वाली सीट पर अब पैसेंजर ज्यादा आराम से बैठ सकते हैं। कार की साइज बढ़ने के कारण नी-रूम स्पेस में भी इजाफा हुआ है। नई डिजायर की ऊंचाई कम है, इस वजह से लंबे पैसेंजर को बैठने में थोड़ी परेशानी हो सकती है। पीछे वाली सीट का शोल्डर स्पेस दो व्यक्ति के लिहाज से सही है, तीसरे व्यक्ति के बैठने पर कंफर्टेबल महसूस नहीं होगा। पैसेंजर कंफर्ट के लिए इस में पीछे की तरफ एसी वेंट दिए गए हैं।

बीच वाली सीट जब काम ना आ रही हो तो आप इसे फोल्ड कर सकते हैं। कार में पीछे की तरफ कुछ स्टोरेज स्पेस भी दिए गए हैं, इन में दरवाजों पर बोटल होल्डर, सीटबैक पॉकेट और रियर एसी वेंट के पास मोबाइल होल्डर आदि शामिल हैं। मोबाइल चार्ज करने के लिए इस में पावर सॉकेट भी दिया गया है।

परफॉर्मेंस

नई डिजायर में मारुति के जाने पहचाने 1.2 लीटर पेट्रोल और 1.3 लीटर डीज़ल इंजन दिए गए हैं। पेट्रोल इंजन की पावर 83 पीएस और टॉर्क 113 एनएम है। डीज़ल इंजन की पावर 75 पीएस और टॉर्क 190 एनएम है। दोनों इंजन के साथ 5-स्पीड मैनुअल और ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प रखा गया है।

सिटी ड्राइविंग के लिहाज से डिजायर एएमटी काफी सही है। भारी ट्रैफिक में आपको बार-बार गियर बदलने की परेशानी नहीं आएगी। अगर आपका ज्यादा समय हाईवे राइडिंग में बितता है जो डीज़ल मैनुअल के बारे में विचार कर सकते हैं। हाईवे पर राइडिंग करते वक्त आप मैनुअल गियरबॉक्स को अपने मुताबिक बदल सकते हैं।

अगर आप सिटी और हाईवे दोनों जगह पर इस्तेमाल के लिए कार चाहते हैं तो पेट्रोल एएमटी सही रहेगा। इसका गियरशिफ्ट काफी स्मूद है।

राइडिंग

नई डिजायर के सस्पेंशन पहले से ज्यादा अच्छे हैं, इस वजह से इसकी राइडिंग में भी सुधार हुआ है। हमने नई डिजायर को कई रफ और टूटी हुई सड़कों पर चलाकर देखा। डिजायर के सस्पेंशन सभी गड्ढ़ो को सोख गए जिससे केबिन में झटके महसूस नहीं हुए। सबसे ज्यादा अच्छा रिस्पॉन्स एएमटी वेरिएंट से मिला। नई डिजायर के ग्राउंड क्लीयरेंस को 7 एमएम तक बढ़ाया गया है। ड्राइविंग कंफर्ट के लिहाज से यह काफी बेहतर है।

हाईवे पर हमने इसे 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पर चलाया। इस रफ्तार पर यह कार व्यवस्थित रही। इस में 186/65 साइज के टायर दिए गए हैं जो सड़क पर अच्छी पकड़ बनाते हैं। कार के ब्रेक सिस्टम भी काफी अच्छे हैं।

माइलेज

नई डिजायर का माइलेज पहले से ज्यादा अच्छा है। डिजायर पेट्रोल के माइलेज का दावा 22 किमी प्रति लीटर है, जो पहले से करीब 1.1 किमी प्रति लीटर ज्यादा है। डिजायर डीज़ल के माइलेज का दावा 28.04 किमी प्रति लीटर है। हमारे टेस्ट में डिजायर डीज़ल मैनुअल ने सिटी में 19.05 किमी प्रति लीटर और हाइवे पर 28.09 किमी प्रति लीटर का माइलेज दिया। टेस्ट ड्राइव के दौरान पेट्रोल मैनुअल ने सिटी में 15.85 किमी प्रति लीटर और हाईवे पर 20.90 किमी प्रति लीटर का माइलेज दिया।

सेफ्टी 

नई डिजायर में पैसेंजर सुरक्षा को पहले से ज्यादा पुख्ता किया गया है। सुरक्षा के लिए इस में ड्यूल एयरबैग, एबीएस, फ्रंट सिटबेल्ट (प्रीटेंशनर और फोर्स लिमिटर के साथ) और आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट एंकर जैसे फीचर बेस वेरिएंट से स्टैंडर्ड दिए गए हैं। जेड वेरिएंट में रिवर्स पार्किंग सेंसर दिया गया है। अगर आपको रियर पार्किंग कैमरा भी चाहिए तो यह फीचर आपको जेड प्लस वेरिएंट में मिलेगा। हमारा मानना है कि कंपनी को वी वेरिएंट से पार्किंग सेंसर देना चाहिए था। पुरानी डिजायर में सेंट्रल लॉकिंग, स्पीड-सेंसिंग डोर लॉक और एंटी-थिफ्ट जैसे फीचर स्टैंडर्ड दिए गए थे, अब ये फीचर वी वेरिएंट से दिए गए हैं।

निष्कर्ष

नई डिजायर मुकाबले में मौजूद कारों से महंगी है। इसे जल्द लागू वाले उत्सर्जन और क्रैश टेस्ट नियमों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है, इस वजह से कार की कीमत बढ़ना लाजमी है। आकर्षक डिजायन और दमदार फीचर की बदौलत इसे ग्राहकों ने हाथों-हाथ लिया है। बिक्री के मामले में यह सेगमेंट में टॉप पर है। कीमत को अगर नज़र अंदाज करें तो सेगमेंट में यह सबसे अच्छा विकल्प है

लेटेस्ट सेडान कारें

अपकमिंग सेडान कारें

पॉपुलर सेडान कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?