स्कोडा कामिक Vs फॉक्सवैगन टी-क्रॉस, जानिए कौन है बेहतर

प्रकाशित: मार्च 01, 2019 06:25 pm । raunakस्कोडा कामिक

  • 667 व्यूज़
  • Write a कमेंट

Skoda Kamiq vs Volkswagen T-Cross

स्कोडा जल्द ही कामिक एसयूवी को दुनिया के सामने पेश करेगी। इसे मार्च में होने वाले 2019-जिनेवा मोटर शो में प्रदर्शित किया जाएगा। स्कोडा कामिक को फॉक्सवेगन ग्रुप के एमक्यबी-ए0 प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। इसी प्लेटफार्म पर फॉक्सवेगन टी-क्रॉस भी बनी है, जिससे कंपनी ने 2018 में पेश किया था। इन दोनों कॉम्पैक्ट एसयूवी को फॉक्सवेगन-ग्रुप के "इंडिया 2.0" प्लान के तहत 2020 में भारत में लॉन्च किया जाएगा। यहीं नहीं, इन कारों का निर्माण भारत में ही किया जाएगा। हमने यहां कई मोर्चो पर दोनों कारों की तुलना की है। तो क्या रहें नतीजे, जानेंगे यहां: -

Volkswagen MQB A0

कद-काठी

Volkswagen T-Cross (Brazil-spec) Volkswagen T-Cross (Euro-spec)
फॉक्सवेगन टी क्रॉस (ब्राजील वेरिएंट) फॉक्सवेगन टी क्रॉस (यूरोपियन वेरिएंट)

अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में टी-क्रॉस को आकर के आधार पर दो वर्ज़न में पेश किया गया है। इसका यूरोपियन मॉडल 2,563 मिलीमीटर व्हीलबेस के साथ आता है। वहीं ब्राजील और चीन के लिए इसे 2,651 मिलीमीटर व्हीलबेस के साथ पेश किया गया है। वहीं, स्कोडा कामिक का व्हीलबेस भी 2651 मिलीमीटर है। चीन और ब्राज़ील की तरह भारत में भी टी-क्रॉस के बड़े व्हीलबेस वाले वर्ज़न को लॉन्च किया जाएगा, इसलिए हमने यहां कामिक की तुलना टी-क्रॉस के ब्राज़ील मॉडल से की है। 

 

स्कॉडा कामिक

फॉक्सवेगन टी क्रॉस (ब्राजील वेरिएंट)

लंबाई

4,241 मिलीमीटर

4,199 मिलीमीटर

चौड़ाई

1,793 मिलीमीटर

-

ऊंचाई

1,531 मिलीमीटर

1,568 मिलीमीटर

व्हीलबेस

2,651मिलीमीटर

2,651मिलीमीटर 

Volkswagen T-Cross

दोनों कारों का व्हीलबेस समान है। इन्हें एमक्यबी-ए0 प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। हालांकि कामिक की लम्बाई टी-क्रॉस से ज्यादा है। वहीं, ऊंचाई के मामले में टी-क्रॉस आगे है।

Skoda Kamiq

फीचर

  • लाइट: दोनों एसयूवी में एलईडी हैडलैंप और एलीईडी टेललैंप दिए जाएंगे। हालांकि स्कोडा कामिक में ड्यूल फंक्शन वाली एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइट दी गई है। ये टर्न इंडिकेटर का भी काम करती है। 

Skoda Kamiq

  • व्हील: दोनों एसयूवी के ग्लोबल वर्ज़न में 18-इंच के अलॉय व्हील मिलते हैं। माना जा रहा है कि सेगमेंट की अन्य कारों की तरह दोनों कारों के भारतीय वर्ज़न में 17-इंच के अलॉय व्हील दिए जा सकते हैं। 

VW T-Cross

  • इंफोटेनमेंट सिस्टम और इंस्टरूमेंट क्लसटर: कामिक में 9.2-इंच और टी-क्रॉस में 8-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है। भारत में लॉन्च होने वाली दोनों एसयूवी के टॉप वेरिएंट में 8-इंच का इंफोटेनमेंट सिस्टम दिए जाने की उम्मीद है। दोनों एसयूवी में 10.25-इंच का फुल डिजिटल इंस्टरूमेंट क्लस्टर दिया गया है। दोनों कारों के इस इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में नेविगेशन की सुविधा भी मिलती है। दोनों एसयूवी के भारतीय वर्ज़न में भी यही इंस्टरूमेंट क्लसटर दिया जा सकता है।

​​​​​​​​​​​​​​VW T-Cross

  • कंफर्ट फीचर: दोनों एसयूवी में लगभग एक जैसे कम्फर्ट फीचर मिलते हैं। उम्मीद की जा रही है कि भारत में लॉन्च होने वाले मॉडल में सनरूफ, ड्यूल ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल और वायरलैस क्यूआई चार्जिंग जैसे फीचर दिए जा सकते हैं।

​​​​​​​VW T-Cross

  • बूट स्पेस: कामिक में 400 लीटर का बूट स्पेस मिलता है। इसे पिछली सीटों को फोल्ड कर 1395 लीटर तक बढ़ाया जा सकता है। दूसरी तरफ फॉक्सवैगन टी-क्रॉस में रियर सीटों को भी आगे-पीछे स्लाइड करने की सुविधा मिलती है। जिससे अपनी जरूरत के हिसाब से बूट स्पेस को 373 लीटर से 420 लीटर तक बढ़ाया या घटाया जा सकता है। इसके अलावा टी-क्रॉस की पिछली सीटों को भी फोल्ड किया जा सकता है।  ​​​​​​​
VW T-Cross Skoda Kamiq
फॉक्सवेगन टी-क्रॉस स्कोडा कामिक
  • सेफ्टी फीचर: भारत में लॉन्च होने वाली दोनों एसयूवी में मल्टीपल एयरबैग, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल (ईएससी),हिल होल्ड कंट्रोल, टायर प्रैशर मॉनिटरिंग सिस्टम और फटीग डिटेक्टर जैसे फीचर दिए जा सकते हैं। ड्यूल फ्रंट एयरबैग, एंटीलॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) और रियर पार्किंग सेंसर स्टैंडर्ड दिए जाएंगे।

इंजन:

फॉक्सवेगन ग्रूप ने एमक्यूबी ए0 प्लेटफार्म पर बनने वाली कारों में नए इंजन देने की पुष्टि की थी। दोनों कारों के भारतीय वर्ज़न में 1.0-लीटर टीएसआई टर्बोचार्ज्ड इंजन दिया जाएगा।इस इंजन का उत्पादन भारत में ही किया जाएगा। ग्लोबल मार्केट में यह इंजन दो पावर ट्यूनिंग के साथ आता है, इनमें 95 पीएस और 115 पीएस वर्ज़न शामिल हैं। भारत में 115 पीएस पावर वाले इंजन को उतारे जाने की उम्मीद है। फॉक्सवेगन का यह 1.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड इंजन ग्लोबल मार्केट में सीएनजी विकल्प में भी उपलब्ध है। भारत में भी इस इंजन के साथ सीएनजी विकल्प दिया जा सकता है। 

Volkswagen 1.0-litre TSI

हालांकि इसे डीज़ल इंजन के साथ भी उतारा जाएगा या नहीं, अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। कहा जा रहा है कि अप्रैल 2020 से लागू होने वाले भारत स्टेज-6 उत्सर्जन मानदंडों के बाद कंपनी अपने 1.5-लीटर टीडीआई इंजन को बंद कर सकती है। हालांकि, फॉक्सवेगन ग्रुप ने हाल ही में घोषणा की है। बहरहाल, दोनों कारों के यूरोपियन वर्ज़न में 1.6-लीटर डीज़ल इंजन का विकल्प मिलता है।

 

115 टीएसआई

1.0-लीटर टीजीआई

फ्यूल टाइप

पेट्रोल

सीएनजी/पेट्रोल

इंजन

999 सीसी

999 सीसी

पावर

115 पीएस @ 5,000-5,500 आरपीएम

90 पीएस @ 4,500-5,800 आरपीएम

टॉर्क

200 एनएम @ 2,000-3,500 आरपीएम

160 एनएम @ 1900-3,500 आरपीएम

ट्रांसमिशन

6-स्पीड एमटी/ 7-स्पीड डीएसजी

6-स्पीड एमटी

कब होंगी लॉन्च और किनसे होगा मुकाबला?

कामिक और टी-क्रॉस दोनों ही कारों को भारत में 2020-21 में लॉन्च किया जा सकता है। दोनों कारों के भारतीय वर्ज़न में थोड़े कॉस्मैटिक बदलाव किए जाने की उम्मीद हैं। टी-क्रॉस से पहले स्कोडा कामिक को लॉन्च किया जाएगा। इसे 2020 में दीपावली के समीप लॉन्च किया जा सकता है। लॉन्च के बाद दोनों कारों का मुकाबला हुंडई क्रेटानिसान किक्स, रेनो डस्टर, रेनो कैप्चर और किया की अपकमिंग एसपी2आई एसयूवी से होगा। 

यह भी पढ़ें:  2020 से स्कोडा और फॉक्सवेगन की कारों में मिल सकता है सीएनजी इंजन 

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

स्कोडा कामिक पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
space Image
×
We need your सिटी to customize your experience