• लॉगिन / रजिस्टर

60 प्रतिशत भारतीयों ने कहा अपनी टेक्नोलॉजी में सुधार करें ऑनलाइन कार पोर्टल: सर्वे

प्रकाशित: मई 09, 2020 06:36 pm । भानु

  • 1436 व्यूज़
  • Write a कमेंट

देशव्यापी लॉकडाउन के चलते भारत में काफी सारी कार डीलरशिप पर ताले लगे हुए हैं। ऐसे में ऑनलाइन कार बुकिंग को ग्राहकों से बढ़ावा मिल सकता है। हालांकि, इससे आप समक्ष रूप से तो कार देख नहीं सकते हैं मगर, कारदेखो (Car Dekho) जैसे पोर्टल यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि आप घर बैठे ही अपने लिए कार से संबंधित एक सही और सहज जानकारी प्राप्त कर सकें। 

हमनें कुछ कार खरीदने में रूचि रखने वालों का इंटरव्यू लिया और ये जानने की कोशिश की वो हमारे जैसे ऑनलाइन ऑटोमोबाइल पोर्टल्स पर कैसे फीचर्स की डिमांड करते हैं। इस इंटरव्यू को हमनें तीन तरह की अलग अलग प्राइस सेगमेंट की कारों के हिसाब से बांटा जिनमें 5 से 12 लाख रुपये, 13 से 30 लाख रुपये और 30 लाख रुपये से ज्यादा की कैटेगरी वाली कार खरीदने की इच्छा रखने वाले ग्राहकों को शामिल किया। तो क्या रहे इस सर्वे के नतीजे ये जानेंगे यहां:

एंट्री लेवल कार सेगमेंट (5 लाख रुपये से लेकर 12 लाख रुपये): यहां कुल 28 प्रतिशत लोग कारदेखो पर वर्चुअल शोरूम को अपने ऑनलाइन शॉपिंग अनुभव के लिए एक उपयोगी फीचर मानते हैं। कुछ इसी तर​ह हाल ही में ऑडी ने घर बैठे अपने प्लांट की विजिट कराने के लिए ऑनलाइन टूर की शुरूआत की है। इस सेगमेंट के 9 प्रतिशत लोगों ने चैटबोट्स को उपयोगी माना है जबकि ऑनलाइन कार बुकिंग को 16 प्रतिशत का समर्थन मिला है। हालांकि,इनमें 10 प्रतिशत ने एक ऑनलाइन कार वेबसाइट में उपर बताए गए सभी फीचर्स को उपयोगी बताया है। 37 प्रतिशत ने कहा है कि उनके लिए ऑनलाइन कार पोर्टल अभी जैसे भी है एकदम सही है। 

यह ही पढ़ें: लॉकडाउन हटने के तुरंत बाद 38 प्रतिशत भारतीय खरीदेंगे कार: सर्वे

मिड सेगमेंट(13 लाख रुपये से लेकर 30 लाख रुपये): इस सेगमेंट में केवल 25 प्रतिशत लोगों ने वर्चुअल शोरूम के लिए वोटिंग की है वहीं 9 प्रतिशत ने ऑनलाइन चैट सपोर्ट को उपयोगी माना है। इस सेगमेंट में 21 प्रतिशत लोगों ने ऑनलाइन कार बुकिंग को अहमियत दी है तो दूसरी तरफ 9 प्रतिशत ने एक वेबसाइट में इस तरह के सभी बदलावो का समर्थन किया है। इस सेगमेंट के 37 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उन्हें वेबसाइट में कोई अतिरिक्त फीचर नहीं चाहिए। 

प्रीमियम सेगमेंट (35 लाख रुपये+): इस सेगमेंट से केवल 19 प्रतिशत लोगों ने वर्चुअल शोरूम को अहमियत दी है। केवल 8 प्रतिशत लोग ऑनलाइन चैट सिस्टम का फीचर चाहते हैं वहीं 18 प्रतिशत ऑनलाइन कार बुक कराना चाहते हैं। इस सेगमेंट के 41 प्रतिशत लोग वेबसाइट में कोई अतिरिक्त फीचर नहीं चाहते हैं। 

यह भी पढ़ें: कोरोना के बाद ज्यादातर भारतीय पर्सनल गाड़ी लेना पसंद करेंगे: सर्वे

कोरोना का काल खत्म होने के बाद भारत में सर्च,टेस्ट ड्राइव्स और कारों की खरीदारी का तरीका बदल सकता है। यह बदलाव काफी हद तक सोशल डिस्टेंसिंग और हाइजीन से प्रभावित होंगे। 

यह भी पढ़ें:कोरोनावायरस के बाद कार हाइजीन को सबसे ज्यादा तव्वजो देंगे भारतीय: सर्वे

द्वारा प्रकाशित

Write your कमेंट

Read Full News
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का
×
आपका शहर कौन सा है?