• English
  • Login / Register

हुंडई आई20 एन लाइन के बारे में 5 खास बातें जो रिव्यू के दौरान हमने की नोटिस

प्रकाशित: सितंबर 28, 2021 03:37 pm । भानुहुंडई आई20 एन लाइन

  • 2333 व्यूज़
  • Write a कमेंट

Hyundai i20 N Line

हुंडई मोटर्स ने आखिरकार अपने परफॉर्मेंस बेस्ड 'एन' मॉडल्स को भारत में पेश करने की कवायद शुरू कर दी है। सबसे पहले प्रोडक्ट के तौर पर कंपनी ने यहां आई20 एनलाइन को उतारा है। हालांकि इसमें 204 पीएस की पावर वाला इंजन नहीं दिया गया है। हमने आई20 के इस स्पोर्टी वर्जन को उदयपुर में ड्राइव करके देखा है और इससे जो भी अनुभव हमें मिला उसकी कुछ हाइलाइट्स हम यहां पेश करने जा रहे हैं तो एक एक कर डालिए इनपर नजर:

1. हुंडई के एन लाइन प्रोडक्ट्स की ये होती है खासियत

हुंडई के 'एन' प्रोडक्ट्स का सफर 2012 में शुरू हुआ था। ये एक मोटर स्पोर्ट्स डिविजन है जिसे नॉर्थ कोरिया के नामयांग में स्थापित किया गया था। उसी साल कंपनी ने जर्मनी के नर्बरग्रिंग में टेस्टिंग सेंटर की शुरूआत भी की थी। यहीं पर एन लाइन कारों को तैयार किया गया।

हुंडई आई20 एनलाइन में 17 अलग अलग जगहों पर आपको एन नाम की बैजिंग नजर आ जाएगी। मगर अब तक ये कार भारत में क्यों लॉन्च नहीं की गई तो उसका जवाब है इसकी प्राइस। ऐसे में अब काफी सोच समझकर कंपनी ने इसे भारत में उतारा है और प्राइस भी काफी कम रखी है। 

2. क्या ये रेगुलर आई20 से है स्पेशल?

आई20 एक फीचर लोडेड फैमिली कार के तौर पर जानी जाती है। चूंकि ये एक स्पेशियस कार भी है इसमें कई टेक्नोलॉजी बेस्ड फीचर्स के साथ इंजन और ट्रांसमिशन ऑप्शंस दिए गए हैं। 

आई20 एन लाइन की बात करें तो धीरे धीरे ये कार आपको स्पेशल लगने लगेगी। इसमें दिए गए रेड एसेंट्स, नई ग्रिल और स्पोर्टी लुक वाले अलॉय व्हील्स आपका ध्यान तुरंत अपनी ओर खींचने के काबिल हैं। इसका बैक साइड भी काफी ज्यादा आक​र्षक नजर आता है जहां ट्विन टिप एग्जॉस्ट और नया स्पॉयलर दिया गया है। इसके अलावा इसमें आपको एन लाइन की बैजिंग, रेड फ्रंट ब्रेक कैलिपर्स, रियर डिस्क ब्रेक्स और स्पॉयलर के पास विंग्स जैसे एलिमेंट्स भी काफी आकर्षक नजर आएंगे। 

इस कार के अंदर प्रवेश करते ही आपकी नजर सबसे पहले रेड स्टिचिंग वाले एन लाइन स्टीयरिंग पर पड़ेगी और डीसीटी वेरिएंट्स में पैडल शिफ्टर्स भी दिए गए हैं। ​इसकी फिट और फिनिशिंग, कंट्रोल्स और लैदर रैपिंग भारत में उपलब्ध कुछ दूसरी हैचबैक कारों के मुकाबले काफी ज्यादा बेहतर है। इसमें एन लाइन गियर शिफ्टर के साथ लैदर रैपिंग और रेड एसेंट्स जैसे एलिमेंट्स भी दिए गए हैं। डीसीटी और आईएमटी में से आईएमटी की फिनिशिंग ज्यादा बेहतर नजर आती है। इसमें सीटों पर 'एन' बैजिंग दी गई है, वहीं ये चीज फ्लोर मैट्स पर भी दी गई है। कुल मिलाकर कहीं ना कहीं तो हुंडई आई20 एन लाइन एक स्पेशल फील देने का दमखम तो रखती है।

इसके अलावा इंजन ऑन करते ही इसका एग्जॉस्ट नोट भी काफी अच्छा साउंड करता है। ये ज्यादा तेज आवाज करता है लेकिन ड्राइविंग सीट पर बैठने के बावजूद भी आपको इसका शोर सुनाई नहीं देगा।

Hyundai i20 N Line

4000 आरपीएम पर जो साउंड आप सुनेंगे वो आपको काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। वहीं ये राहगीरों को भी अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए काफी है। इसकी आवाज सुनने के लिए आप हमारा वीडियो रिव्यू देख सकते हैं। 

3. बैलेंस्ड राइड और हैंडलिंग

आई20 एन लाइन में वही इंजन लगा है जो इस हैचबैक के रेगुलर मॉडल में दिया गया है। हालांकि इसे कुछ अपडेट्स दिए गए हैं जो चीज आपको हैंडलिंग में नजर आएगी। स्पोर्टी ड्राइविंग के लिए इसके स्टीयरिंग व्हील का वजन बढ़ जाता है जिससे आप में एक अलग सा कॉन्फिडेंस भी आता है। हालांकि हमें इसमें शार्प रिस्पॉन्स के लिए इसके इंजन से थोड़े और फुर्तिले होने की जरूरत महसूस हुई। कुल मिलाकर आई20 एनलाइन राइड और हैंडलिंग के मोर्चे पर काफी स्पोर्टी महसूस हुई।

कई कारों में जब आप स्पोर्टी राइड पर निकलते हैं तो आपको कंफर्ट भूलना होता है। मगर आई20 एनलाइन में ये बात पूरी तरह से लागू नहीं होती है। कम स्पीड पर आपको उछाल महसूस होंगे, हालांकि फ्रंट पैसेंजर को इसमें ज्यादा परेशानी नहीं होगी।

दूसरी तरफ पीछे बैठे पैसेंजर्स को इसके सस्पेंशन से ज्यादा सपोर्ट नहीं मिलेेगा और वो अनकंफर्टेबल फील कर सकते हैं। 

हालांकि फिर 50 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड के बाद इसकी राइड क्वालिटी अचानक अच्छी होने लग जाती है। यदि आप अच्छी सड़कों वाली मेट्रो सिटीज में रहते हैं तो आई20 एन लाइन में आपको कोई परेशानी नहीं होगी। वहीं अगर आपके रास्ते में ज्यादातर खराब सड़के आती है तो फिर आपको इसमें कोई परेशानी जरूर होगी। 

4. कुछ फैक्टर्स की है कमी

आई20 एन लाइन आपको स्पेशल फीलिंग पूरी तरह से नहीं दे पाती है। उदाहरण के तौर आई20 एनलाइन में आई20 टर्बो की तरह डैशबोर्ड दिया गया है। वहीं इसमें स्टैंडर्ड आई20 की तरह ही डिजिटल ड्राइवर डिस्प्ले और टचस्क्रीन दी गई है जिसकी थीम भी रेगुलर मॉडल वाली ही रखी गई है। ऐसे में यदि कंपनी इनमें स्पेशल रेड थीम दे देती तो ज्यादा बेहतर हो सकता था। 

5. क्या परफॉर्मेंस में है दम?

आपकी नजर में परफॉर्मेंस क्या है?​ यदि किसी कार को एक फास्ट कार कहना हो तो ये पैमाना 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे के एक्सलरेशन टाइम से नापा जा सकता है। एक एएमजी कार ओनर लैंबॉर्गिनी को फास्ट कार कह सकता है, वहीं एक एस प्रेसो चलाने वाला शख्स स्विफ्ट को फास्ट कार कह सकता है। आई20 एनलाइन की परफॉर्मेस को भी इसी नजरिए से देखा जा सकता है। डीसीटी गियरबॉक्स के साथ ये कार 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार 9.9 सेकंड में पकड़ लेती है जबकि हमारे द्वारा किए गए टेस्ट में इसे 10.88 सेकंड का समय लगा और ये पोलो जीटी टीएसआई से कुछ सेकंड्स पीछे रही। मजे की बात ये भी है कि हुंडई ग्रैंड आई10 निओस टर्बो 5 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स के साथ आई 20 टर्बो के मुकाबले 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ने में 1 सेकंड आगे रहती है। 

2500 से 4000 आरपीएम के बीच इससे स्पोर्टी परफॉर्मेंस जरूर देखने को मिलती है। इसके डीसीटी ट्रांसमिशन को स्पोर्ट्स मोड पर डालिए और इसका थ्रॉटल रिस्पॉन्स काफी तेज हो जाता है। इस मोड पर ये कार सिटी और हाईवे दोनों पर ही काफी जबरदस्त तरीके से परफॉर्म करती है।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

हुंडई आई20 एन लाइन पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience