• लॉगिन / रजिस्टर

टेस्टिंग के दौरान नजर आई डीएस 7 क्रॉसबैक

संशोधित: फरवरी 26, 2019 05:25 pm | sonny

  • 12 व्यूज़
  • Write a कमेंट

भारतीय कार बाजार दुनिया का सबसे तेज़ी से उभरता कार बाजार है। देश-विदेश से ऑटो कंपनियां यहां अपने कदम जमाने की होड़ में लगी हुई है। इसी रेस में ग्रुप पीएसए भी भारत में वापसी कर सकती है। हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि अब तक नहीं हुई है। मगर हाल ही में डीएस 7 क्रॉसबैक को भारत में टेस्टिंग के दौरान देखा गया है, जिससे उम्मीद की जा रही है ग्रुप पीएसए भारत की लक्जरी कारों की सूची में शामिल हो सकती है। 

जानकारी के लिए बता दें कि ग्रुप पीएसए फ्रांसीसी मल्टी-नेशनल कंपनियों का समूह है, जिसमे प्यूज़ो, सिट्रोएन, ओपल और डीएस ऑटोमोबाइल जैसी कार कंपनियां शामिल हैं। डीएस ऑटोमोबाइल को सिट्रोएन द्वारा एक प्रीमियम सब-ब्रांड के रूप स्थापित किया गया था। लेकिन 2014 में यह ग्रुप पीएसए के तहत एक स्वतंत्र ब्रांड बन गया।

डीएस 7 क्रॉसबैक को ईएमपी2 प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। इसी प्लेटफार्म पर प्यूज़ो 5008 और सिट्रोएन सी5 एयरक्रॉस को भी बनाया गया है। कंपनी ने इन तीनों कारों को 2017 में दुनिया के सामने पेश किया था। प्यूज़ो 5008 और सिट्रोएन सी5 एयरक्रॉस को वर्तमान में चीन में चेंगडु स्थित प्लांट में बनाया जा रहा हैं। 

भारत में डीएस 7 क्रॉसबैक का मुकाबला वोल्वो एक्ससी40, मर्सिडीज बेंज़ जीएलए, बीएमडब्ल्यू एक्स1 और ऑडी क्यू3 से होगा। यहाँ हमने कद-काठी के लिहाज़ से यू.के. में बिकने वाली डीएस 7 क्रॉसबैक की तुलना इसके प्रतिद्वंद्वियों से की है, आइए एक नज़र डालें इस पर भी :  

डीएस 7 क्रॉसबैक

ऑडी क्यू3

बीएमडब्ल्यू एक्स1

मर्सिडीज बेंज़ जीएलए

वोल्वो एक्ससी40

लXचौXऊ (मिलीमीटर में) 

4573 x 1906 x 1625

4388 x 1831 x 1608

4439 x 1821 x 1612

4424 x 1804 x 1494

4425 x 1863 x 1652

व्हीलबेस (मिलीमीटर में)

2738

2603

2670

2699

2702

डीएस 7 क्रॉसबैक अपने प्रतिद्वंद्वियों से लम्बी और चौड़ी कार है। हालांकि इसकी ऊंचाई वोल्वो एक्ससी40 से थोड़ी कम है। वहीं, कार का व्हीलबेस भी सबसे ज्यादा है। 

बात की जाए डीएस 7 क्रॉसबैक की पॉवरट्रेन की तो, अंतरराष्ट्रीय बाजारों में यह कई इंजन विकल्पों में मिलती हैं। इसके पेट्रोल वेरिएंट में 1.2 लीटर और 1.6 लीटर इंजन शामिल है, जो क्रमशः 6-स्पीड मैनुअल और 8-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के साथ आते हैं। साथ ही यह 1.5 लीटर और 2.0 लीटर डीज़ल इंजन विकल्प में भी उपलब्ध है। इसका 2.0 लीटर डीज़ल इंजन 8-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के साथ आता है। वहीं, इसके 1.5 लीटर डीज़ल इंजन में 6-स्पीड मैनुअल और 8-स्पीड ऑटोमैटिक दोनों ट्रांसमिशन विकल्प मिलते हैं।   

यदि पीएसए ग्रुप डीएस 7 क्रॉसबैक को भारत में लॉन्च करता है तो, उम्मीद है कि कंपनी इसे 2.0 लीटर डीज़ल और 1.6 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन के साथ लॉन्च करेगी। इसका 2.0 लीटर डीज़ल इंजन 174 पीएस/400 एनएम और 1.6 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन 178 पीएस/ 250 एनएम की पावर और टॉर्क जनरेट करता हैं। दोनों इंजनों को 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से लैस किया जा सकता है। यही दोनों इंजन प्यूज़ो 5008 और सिट्रोएन सी5 एयरक्रॉस में भी मिलते हैं। डीएस 7 क्रॉसबैक को 2020 में लॉन्च किया जा सकता है। कार की कीमत के बारे में अभी कुछ कहना मुश्किल है। उम्मीद है कि कंपनी इसकी कीमत कार के प्रतिद्वंद्वियों को ध्यान में रख तय करेगी। वर्तमान में लक्ज़री कॉम्पैक्ट एसयूवी की इस श्रेणी में मर्सिडीज बेंज़ जीएलए सबसे सस्ती कार है। इसकी शुरुआती कीमत 32 लाख रुपए (एक्स-शोरूम दिल्ली) है।  

यह भी पढ़ें : भारत में नहीं लॉन्च होगी किया स्पोर्टेज

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?