• लॉगिन / रजिस्टर

टाटा टिगॉर Vs टाटा ज़ेस्ट

संशोधित पर apr 06, 2017 01:01 pm द्वारा rachit shad for टाटा टिगॉर 2017-2020

  • 12 व्यूज़
  • Write a कमेंट

टाटा की नई कॉम्पैक्ट सेडान टिगॉर बुधवार यानी 29 मार्च को लॉन्च होगी। सेगमेंट में यह दूसरी कंपनी की कारों के अलावा टाटा की ही ज़ेस्ट को टक्कर देगी। ज़ेस्ट, टाटा बोल्ट पर बनी है, कीमत के लिहाज़ से ज़ेस्ट को इस सेगमेंट में सबसे बेहतर पैकेज़ कहा जा सकता है। दूसरी तरफ टिगॉर, टियागो हैचबैक पर बनी है, ये दोनों ही एक सेगमेंट की कारें हैं लेकिन फिर भी दोनों एक-दूसरे से कई मामलों में जुदा हैं। तो क्या फर्क है एक ही सेगमेंट की इन दोनों कारों में जानेंगे यहां…

दोनों कारों के कॉमन फीचर

  • हारमन का कनेक्टनेक्स्ट टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, 8 स्पीकर (4 स्पीकर और 4 ट्विटर) के साथ दिया गया है, इस में एसएमएस रीड-आउट, वॉइस कमांड रिकग्निशन, वीडियो प्लेबैक और नेविगेशन की सुविधा मिलती है।
  • रिवर्स पार्किंग सेंसर.
  • ड्यूल एयरबैग, एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) के साथ इलेक्ट्रॉनिक ब्रेक डिस्ट्रीब्यूशन (ईबीडी) और कॉर्नर स्टेबिलिटी कंट्रोल (सीएससी).
  • ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल.
  • प्रोजेक्टर हैडलैंप्स.

दोनों कारों में प्रमुख अंतर

  • ज़ेस्ट में पीछे की तरफ एजस्टेबल हैडरेस्ट दिया गया है, जबकि टिगॉर में फिक्सड हैडरेस्ट वाली बैक सीट दी गई है।
  • टिगॉर में 12 वोल्ट के दो पावर सॉकेट दिए गए हैं, इन में एक आगे वाले पैसेंजर के लिए और दूसरा पीछे वाले पैसेंजर के लिए है, ज़ेस्ट में केवल आगे की तरफ ही पावर सॉकेट दिया गया है।
  • टिगॉर का इंफोटेंमेंट सिस्टम, ज्यूक कार एप सपोर्ट करता है, इससे कार में बैठे पैसेंजर के मोबइल की प्लेलिस्ट को शेयर किया जा सकता है और ब्लूटूथ आधारित रिमोट कंट्रोल से इसे कंट्रोल भी किया जा सकता है। टिगॉर में टाटा का इमरजेंसी असिस्ट एप भी दिया गया है जो दुर्घटना की स्थिति में इमरजेंसी नम्बरों पर आपकी लोकेशन भेज देता है। टाटा ज़ेस्ट में इन फीचर का अभाव है।
  • टाटा ज़ेस्ट में एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइट दी गई है, जबकि टिगॉर में इसका अभाव है।
  • टिगॉर में रिवर्स पार्किंग कैमरा दिया गया है, ज़ेस्ट में ये फीचर मौजूद नहीं है।

इंजन, ट्रांसमिशन और परफॉर्मेंस

दोनों ही कारों में एक डीज़ल और एक पेट्रोल इंजन दिया गया है, लेकिन इनकी पावर, टॉर्क और माइलेज अलग-अलग है।

पहले बात करते हैं टाटा ज़ेस्ट की, ज़ेस्ट के पेट्रोल वर्जन में 1.2 लीटर का 4-सिलेंडर रेवोट्रॉन इंजन दिया गया है, जो 90 पीएस की पावर और 140 एनएम का टॉर्क देता है। यह इंजन 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से जुड़ा है, हाइवे पर इसके माइलेज का दावा 17.57 किमी प्रति लीटर का है। ज़ेस्ट के डीज़ल वर्जन में 1.3 लीटर का इंजन लगा है, यह दो तरह की पावर ट्यूनिंग में आता है। एक्सई वेरिएंट में यह इंजन 75 पीएस की पावर और 190 एनएम का टॉर्क देता है, बाकी सभी वेरिएंट में इस इंजन की पावर 90 पीएस और टॉर्क 200 एनएम है। ज़ेस्ट डीज़ल के एक्सएम, एक्सएमएस और एक्सटी वेरिएंट में 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स दिया गया है, जबकि एक्सएमए और एक्सटीए वेरिएंट में 5-स्पीड ऑटोमैटेड मैनुअल ट्रांसमिशन (एएमटी) की सुविधा दी गई है। एक्सई वेरिएंट का हाइवे पर माइलेज का दावा 22.95 किमी प्रति लीटर का है, ऑटोमैटिक वर्जन में 21.58 किमी प्रति लीटर और बाकी वेरिएंट में 20.65 किमी प्रति लीटर का माइलेज मिलता है।

अब बारी टाटा टिगॉर की, टिगॉर में टियागो वाले इंजन आएंगे। पेट्रोल वर्जन में 1.2 लीटर का 3-सिलेंडर इंजन मिलेगा, जो 85 पीएस की पावर और 114 एनएम का टॉर्क देगा। डीज़ल वर्जन में 1.05 लीटर का 3-सिलेंडर इंजन मिलेगा, जो 70 पीएस की पावर और 140 एनएम का टॉर्क देगा। दोनों इंजन के साथ 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स मिलेगा, टिगॉर में ऑटोमैटिक की सुविधा नहीं मिलेगी, जबकि टियागो में ऑटोमैटिक का विकल्प मिलता है।

टिगॉर के माइलेज की अभी जानकारी नहीं मिली है, संभावना है कि माइलेज के मामले में यह ज़ेस्ट से आगे होगी। टियागो पर बेस और थोड़ी वज़नी होने की वजह से इसके डीज़ल वर्जन का माइलेज 25 किमी प्रति लीटर और पेट्रोल वर्जन का माइलेज 21 किमी प्रति लीटर के आसपास रह सकता है।

कद-काठी

कद-काठी टिगॉर ज़ेस्ट
लम्बाई 3992 एमएम 3995 एमएम
चौड़ाई 1677 एमएम 1706 एमएम
ऊंचाई 1537 एमएम 1570 एमएम
व्हीलबेस 2450 एमएम 2470 एमएम
ग्राउंड क्लीयरेंस 170 एमएम 175 एमएम (पेट्रोल), 165 एमएम (डीज़ल)
बूट स्पेस 419 लीटर 390 लीटर
फ्यूल टैंक क्षमता 35 लीटर 44 लीटर
टायर 175/60 आर15 (पेट्रोल), 175/65 आर14 (डीज़ल) 185/65 आर15

ज़ेस्ट, टिगॉर से ज्यादा लम्बी, ज्यादा चौड़ी और ज्यादा ऊंची है। बूट स्पेस के मामले में टिगॉर आगे है, टिगॉर का बूट स्पेस ज़ेस्ट से 29 लीटर ज्यादा बड़ा है। ज़ेस्ट की फ्यूल टैंक क्षमता ज्यादा है। हालांकि टिगॉर में इसको लेकर कोई परेशानी नहीं आएगी, क्योंकि इसका माइलेज़ ज्यादा है।

कीमत

टाटा ज़ेस्ट की कीमत 5.24 लाख रूपए से शुरू होकर 8.68 लाख रूपए (एक्स-शोरूम, दिल्ली) तक जाती है। टिगॉर की कीमतों का अभी खुलासा नहीं हुआ है, संभावना है कि टिगॉर की कीमत 4.5 लाख से शुरू होकर 6.5 लाख रूपए तक जा सकती है।

निष्कर्ष

तो ये थी दोनों कारों की तुलना, ज़ेस्ट की तुलना में टिगॉर ज्यादा पावरफुल नहीं है, इस में एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें और एडजस्टेबल रियर हैडरेस्ट का भी अभाव है। टिगॉर को चार लोगों वाली फैमिली कार की जरूरतों के हिसाब से तैयार किया गया है, इस में ज़ेस्ट की तुलना में ज्यादा माइलेज मिलेगा। इसकी कीमत भी ज़ेस्ट से कम होगी। वैसे टिगॉर के डिजायन, संभावित कीमत और इसके फीचर्स को देखते हुए इन बातों का बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ने वाला है और इन्हें नज़रअंदाज़ भी किया जा सकता है। कुल मिलाकर यह कार एक अच्छा पैकेज़ है।

यह भी पढें :

द्वारा प्रकाशित

टाटा टिगॉर 2017-2020 पर अपना कमेंट लिखें

1 कमेंट
1
A
abhijeet bobade
Dec 1, 2019 5:36:40 PM

At today's date which will be a better option tigor or the zest both in petrol manual transmission

और देखें...
    जवाब
    Write a Reply
    Read Full News
    • ट्रेंडिंग
    • हाल का
    ×
    आपका शहर कौन सा है?