लेक्सस आरएक्स 450एच : फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On मई 05, 2020 By स्तुति for लेक्सस आरएक्स 2017-2023

लेक्सस की आरएक्स 450एच एसयूवी सबसे ज्यादा स्टाइलिश व यूनीक दिखने वाली कार है। हालांकि, ज्यादा कीमत के चलते यह हर किसी की पहुंच के बाहर है। कंपनी ने यह गाड़ी उन खरीदारों के लिए पेश की है जिनके लिए ज्यादा कीमत मायने नहीं रखती है और वह कुछ हटकर खरीदना पसंद करते हैं। अब जानना ये है कि क्या यह कार वास्तव में कुछ यूनीक ऑफर भी करती है या फिर केवल इसके लुक्स ही सबसे ज्यादा पसंद आने वाले हैं, तो चलिए जानते हैं यहां:- 

एक्सटीरियर

गाड़ी के एक्सटीरियर की डिज़ाइन ऐसी है जिसे आप कभी भी अनदेखा नहीं कर पाएंगे। इस क्रॉसओवर की स्टाइलिंग बेहद आकर्षित करने वाली है। हर एंगल से देखने पर इसका लुक एकदम इम्प्रेसिव लगता है। लेक्सस की दूसरी कारों की तरह ही इसमें भी फ्रंट पर स्पाइंडल ग्रिल पोज़िशन की गई है जो गाड़ी का आधे से ज्यादा हिस्सा घेरती नज़र आती है। आगे की तरफ बोनट के पास फुल-एलईडी हैडलाइटों को फिट किया गया है। वहीं, फॉग लैंप्स को फ्रंट स्किड प्लेट से थोड़ा ऊपर की ओर पोज़िशन किया गया है। हालांकि, इसकी एल शेप हाउसिंग स्किड प्लेट में जाकर मिलती हुई डिज़ाइन की गई है। ऐसे में आरएक्स का फ्रंट लुक एकदम यूनिक नज़र आता है।   

साइड प्रोफाइल की बात करें तो गाड़ी की व्हील डिज़ाइन एकदम सिंपल रखी गई है। हालांकि, इस में एक्सटीरियर पर करैक्टर लाइंस मिलती हैं जो कार को स्पोर्टी लुक देती नज़र आती हैं। वहीं, इसकी स्वूपिंग रूफलाइन गाड़ी को झुका हुआ लुक देती है। इसकी सबसे बड़ी खासियत चौड़ा सी-पिलर है जिसमें फ्लोटिंग रूफ इफेक्ट के लिए एक ब्लैक आउट सेक्शन दिया गया है।

आरएक्स की रियर साइड की डिज़ाइन बेहद आकर्षक है। इसकी रियर विंडशील्ड काफी शार्प और स्टाइलिश है। टेलगेट पर इसमें फ्रंट ग्रिल की झलक पड़ती है। कार की डिज़ाइन अपने आप में ही बेहद आकर्षित वाली है, ऐसे में कंपनी ने इसमें क्रोम एलिमेंट का कम से कम इस्तेमाल किया गया है।

इंटीरियर

आरएक्स 450एच के केबिन में जैसे ही आप प्रवेश करेंगे, आप पाएंगे की गाड़ी का इंटीरियर काफी पसंद आने वाला है। इसकी ऊंचाई काफी ज्यादा है, लेकिन अंदर एंटर करने के लिए पैसेंजर्स को साइड स्टेप की आवश्यकता नहीं पड़ती। गाड़ी के अंदर बैठने के बाद आप महसूस करेंगे कि यह एक ड्राइवर-सेंट्रिक कार है। इसका पूरा सेंटर कंसोल ड्राइवर की पहुंच में है। ऐसे में ड्राइविंग के वक्त आपको काफी सहूलियत मिलेगी। गाड़ी का एक्सटीरियर जहां एकदम शार्प और आकर्षक है, वहीं इंटीरियर को एकदम सिंपल रखा गया है। इसकी बिल्ड क्वालिटी एकदम प्रीमियम है। वॉल्यूम को कंट्रोल करने के लिए दिए गए मशीन कट मैटल डायल्स टच करने में काफी अच्छे हैं। केबिन के अधिकतर हिस्से पर लैदर का इस्तेमाल किया गया है। कार की अपहोल्स्ट्री और ट्रिम मटीरियल की क्वॉलिटी जगुआर की एफ-पेस की तुलना में कहीं ज्यादा बेहतर है। इसके सेंटर कंसोल का लेआउट समझने में भी काफी आसान है। लेकिन, लेक्सस ईएस की तरह ही इसमें भी कई सारे बटन दिए गए हैं।  

यदि आप अच्छी-खासी केबिन स्पेस वाली कार की प्रतिक्षा कर रहे हैं तो लेक्सस आरएक्स आपकी अपेक्षाओं पर खरी नहीं उतरेगी। इसमें ठीक-ठाक केबिन स्पेस मिल पाता है। ऐसे में दो 6 फुट के पैसेंजर्स आगे पीछे होकर थोड़ा मुश्किल से बैठ पाते हैं। इसमें फ्रंट व रियर रो पर हैडरूम स्पेस भी एवरेज ही मिलता है। अगर आपकी हाइट 6 फ़ीट या फिर उससे ज्यादा है तो आप सिर को रूफ से टकराता हुआ महसूस करेंगे। एफ-पेस और पोर्श मेकन के मुकाबले आरएक्स एक अच्छी 5-सीटर कार साबित नहीं होती। गाड़ी की रियर मिडल सीट केवल बच्चों के बैठने के लिहाज से ही उचित है।

इसमें रियर सीटों पर और बेहतर अंडर-थाई सपोर्ट दिया जा सकता था। हालांकि, गाड़ी की सीटें बेहद कम्फर्टेबल हैं, साथ ही इसमें अच्छा-ख़ासा बैक सपोर्ट भी मिलता है। बैक साइड की सीटों को आगे-पीछे करने के लिए मैनुअल एडजस्टमेंट का ऑप्शन दिया गया है। सीटों को इलेक्ट्रिक रूप से रिक्लाइन भी किया जा सकता है। 

लग्ज़री वेरिएंट में दोनों फ्रंट सीटों को अपने अनुसार एडजस्ट करने के लिए 10-वे पावर एडजस्टेबल फीचर दिया गया है। वहीं, स्पोर्टी 'एफ स्पोर्ट' वेरिएंट में सीटों को 8 तरह से एडजस्ट किया जा सकता है।  इसके अलावा लग्ज़री वेरिएंट में दोनों फ्रंट पैसेंजर्स के लिए मैमोरी फंक्शन भी दिया गया है, जबकि एफ-स्पोर्ट में यह फीचर केवल ड्राइवर के लिए रखा गया है।  

गाडी के स्टीयरिंग व्हील की ग्रिप काफी अच्छी है। स्टीयरिंग व्हील पर कई बटन को इंटीग्रेट किया गया है, जिनकी टच क्वॉलिटी एकदम प्रीमियम है। इसमें स्टीयरिंग व्हील पर भी हीटिंग फंक्शन मिलता है। यदि आप एफ-स्पोर्ट वेरिएंट को चुनते हैं तो इसमें पैडल शिफ्टर्स दिए गए हैं।  ईएस 300एच की तरह ही लग्ज़री वेरिएंट में भी ऑल-एनालॉग इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया गया है। वहीं, एफ-स्पोर्ट में जी-सेंसर के साथ स्पोर्टी इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर सेटअप मिलता है।

फीचर्स की बात करें तो आरएक्स 450एच में वेंटिलेटेड फ्रंट सीटें (हीटिंग व कूलिंग फीचर के साथ), सनरूफ (इलेक्ट्रिक रूप से ऑपरेट होने वाला सनब्लाइंड के साथ), टू-ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल दिए गए हैं। इसमें एंब्लम सेंसर के साथ पॉवर्ड टेलगेट भी दिया गया है। इस फीचर की बदौलत आप गाड़ी बंद होने के बाद भी हाथों से रियर लेक्सस लोगो के पास टच करके टेलगेट ओपन कर सकते हैं। ईएस 300 एच के मुकाबले इसमें रियर सीटों पर अलग-अलग क्लाइमेट कंट्रोल की सुविधा नहीं दी गई है। गाड़ी का रियर आर्मरेस्ट भी ज्यादा चौड़ा नहीं है। हालांकि, इसमें रियर एसी वेंट्स, हीटेड रियर सीटस और साइड पर मैनुअल सन ब्लाइंड जैसे फीचर्स जरूर दिए गए हैं।   

इसमें 453-लीटर का बूट स्पेस मिलता है, ऐसे में लंबे सफर के दौरान छोटे व बड़े साइज़ के बैग को आसानी से फिट किया जा सकता है। इसमें फुल-साइज़ का स्पेयर टायर भी दिया गया है। हालांकि, इसे बूट फ्लोर के नीचे फिट किया गया है। बूट स्पेस में साइड पर इसमें बैगेज हुक्स भी दिए गए हैं। इसमें रियर सीटों को आगे की तरफ फोल्ड भी किया जा सकता है। ऐसे में गाड़ी में अच्छा-खासा लगेज स्पेस मिलता है।

टेक्नोलॉजी 

आरएक्स 450एच में ईएस मॉडल वाला ही इंफोटेनमेंट इंटरफेस दिया गया है। मगर, इसमें बड़ी 12.3-इंच स्क्रीन मिलती है। इसका डिस्प्ले काफी बड़ा है, ऐसे में सभी पैसेंजर्स इसमें दी गई जानकारी को आसानी से पढ़ पाते हैं। यह डिस्प्ले अलग-अलग फंक्शन्स को दर्शाती है जिसके चलते पैसेंजर्स म्यूज़िक सुनने के साथ-साथ कार से जुडी अहम जानकारियां भी प्राप्त कर पाते हैं। इसे इस्तेमाल करने के लिए जॉयस्टिक डायल दी गई है। ऐसे में कई पैसेंजर्स को इसका उपयोग करने में थोड़ी परेशानी हो सकती है। लेकिन, कुछ समय बाद आप इससे परिचित जरूर हो जाएंगे। 

लेक्सस की सबसे बड़ी खासियत इसका 15-स्पीकर मार्क लेविन्सन सराउंड साउंड सिस्टम है जो एक सब वूफर सेटअप के साथ आता है। ईएस मॉडल के जैसे ही इसकी साउंड क्वॉलिटी भी बेहद दमदार है। इसके केबिन का इन्स्युलेशन लेवल भी काफी अच्छा है, ऐसे में म्यूज़िक के शौक़ीन लोगों को राइड्स के दौरान काफी अच्छा अनुभव होता है।  

परफॉर्मेंस 

लेक्सस आरएक्स 450एच में 3.5-लीटर वी6 पेट्रोल इंजन के साथ दो इलेक्ट्रिक मोटर दी गई है जो फ्रंट व रियर एक्सल पर लगी हैं। यह पॉवरट्रेन संयुक्त रूप से 313 पीएस की पावर और 335 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है।

हम इस कार का सभी पैमानों पर टेस्ट नहीं कर सके क्योंकि पीक सीजन व ज्यादा ट्रैफ़िक के चलते ऊटी की पतली सड़कों पर गाड़ी बार-बार रूकती रही, लेकिन हम ये अंदाजा जरूर लगा सके कि यह कार किस तरह ही सिटी राइड्स देने में सक्षम होगी।

यह गाड़ी स्टार्ट होने पर ईवी मोड में चलती है। स्पीड बढ़ने के साथ-साथ भी इसमें आवाज़ ना के बराबर सुनाई पड़ती है। ऐसे में यह इलेक्ट्रिक कार का अहसास दिलाती है। थोड़ा तेज़ थ्रॉटल लगाने पर गाड़ी का इंजन तुरंत स्टार्ट हो जाता है जिससे बैटरी चार्ज हो पाती है और फ्रंट व्हील्स तक भी पावर पहुंच पाती है। यह 5-सीटर एसयूवी धीरे-धीरे स्पीड पकड़ लेती है, लेकिन शुरूआत में एक्सेलरेशन इतना ज्यादा रोमांचक महसूस नहीं होता। हालांकि, गाड़ी का एक्सेलरेशन लेवल इतना भी खराब नहीं है। संकीर्ण हिल स्टेशन वाली रोड पर ओवरटेकिंग के दौरान यह अच्छी परफॉर्मेंस देने में सक्षम रही।  

गाड़ी का वजन 2100 से 2210 किलोग्राम (इंजन को मिलाकर) है। लेकिन, इसके बावजूद भी यह कार 18.8 किलोमीटर/लीटर का माइलेज देती है। कंपनी का दावा है कि यह गाड़ी 0 से 100 किमी/घंटे की रफ्तार को 7.7 सेकंड में तय कर लेती है। इसका पावर कंट्रोल यूनिट इतना अच्छा है कि ये जहां ज्यादा जरूरत ना हो वहां फ्यूल की बचत करता है।

आरएक्स 450एच का साउंड ना के बराबर सुनाई पड़ता है। लेकिन, कंपनी ने इसके एफ-स्पोर्ट वेरिएंट में साउंड जनरेटर का ऑप्शन दिया है जो इंजन की नॉइस को सुधार कर केबिन तक पहुंचाता है, जिससे पैसेंजर्स को और ज्यादा रोमांचक ड्राइविंग अनुभव मिल पाता है।

परफॉर्मेंस कम्पेरिज़न (पेट्रोल)

 

लेक्सस आरएक्स

जगुआर एफ-पेस

पावर

259 बीएचपी @6000 आरपीएम

296  बीएचपी @4000 आरपीएम

टॉर्क

335 एनएम @4600 आरपीएम

700 एनएम @2000 आरपीएम

इंजन

3456 सीसी

2993 सीसी

ट्रांसमिशन

ऑटोमैटिक  

ऑटोमैटिक   

टॉप स्पीड

-

241 किमी/घंटे

0-100  एक्सेलरेशन  

7.7 सेकंड  

6.2 सेकंड  

कर्ब वेट

2100  किलोग्राम 

1884  किलोग्राम 

माइलेज

18.8 किमी/लीटर  

16.38  किमी/लीटर

पावर वेट रेश्यो

123.3 बीएचपी/टन

157.1 बीएचपी/टन

राइड व हैंडलिंग 

आरएक्स का ड्राइवर-सेंट्रिक नेचर इसके राइड व हैंडलिंग सेटअप में भी नज़र आता है। इस क्रॉसओवर कार के सस्पेंशन थोड़े कड़े हैं, ऐसे में केबिन के अंदर स्पीड ब्रेकर और गड्ढों का झटका जरूर महसूस होता है। उबड़-खाबड़ सड़कों पर यह गाड़ी ज्यादा कम्फर्टेबल नहीं रहती। 40 से 60 किमी/घंटे की स्पीड पर  लगातार चलाने पर यह गाडी स्टेबल रहती है।  

इसका स्टीयरिंग व्हील काफी अच्छा फीडबैक देता है। कार की स्पीड के अनुसार इसका वजन भी एकदम सही रहता है। इसमें लगे ब्रेक्स भी काफी अच्छे हैं, हार्ड ब्रेकिंग की स्थिति में भी यह अच्छा रिस्पांस देते हैं।  

सेफ्टी फीचर्स

पैसेंजर सेफ्टी के लिहाज से इसमें एसआरएस एयरबैग, एलईडी कॉर्नरिंग लाइट्स, 360 डिग्री प्रोटेक्शन जैसे फीचर्स दिए गए हैं।

निष्कर्ष

कुल मिलाकर, आरएक्स 450एच एकदम आकर्षित करने वाली कार है। इसकी हाइब्रिड पॉवरट्रेन अच्छी राइड्स देने के साथ-साथ अच्छा माइलेज भी देती है। यह एक फन-टू-ड्राइव कार है जिसे चलाना हर कोई पसंद करेगा। लेक्सस की दूसरी कारों की तरह ही यह भी पैसेंजर्स को अच्छा ड्राइविंग अनुभव देती है।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

×
We need your सिटी to customize your experience