भारत की सबसे महंगी इलेक्ट्रिक कार मर्सिडीज ईक्यूसी हुई लॉन्च, कीमत 99.30 लाख रुपये

संशोधित: अक्टूबर 08, 2020 04:40 pm | सोनू | मर्सिडीज ईक्यूसी

  • 2838 व्यूज़
  • Write a कमेंट

ईक्यूसी, मर्सिडीज की भारत में पहली और देश की सबसे महंगी इलेक्ट्रिक कार है।

  • मर्सिडीज ईक्यूसी केवल एक वेरिएंट में उपलब्ध है।
  • इसका साइज जीएलसी के बराबर है जबकि इसकी प्राइस जीएलएस के करीब है।
  • इसमें दो इलेक्ट्रिक मोटर लगी है जिन्हें 80 किलोवॉट के बैटरी पैक से पावर सप्लाई होती है।
  • इसका संयुक्त पावर आउटपुट 408पीएस/760एनएम है।
  • एनईडीसी के अनुसार यह कार फुल चार्ज में 450 किलोमीटर का सफर तय कर सकती है।
  • वर्तमान में इसके कंपेरिजन में कोई गाड़ी मौजूद नहीं है।

मर्सिडीज ने अपनी पहली ऑल इलेक्ट्रिक लग्जरी कार ईक्यूसी को भारत में लॉन्च कर दिया है। यह अब तक की भारत की सबसे महंगी इलेक्ट्रिक कार है। इसे केवल एक वेरिएंट में पेश किया गया है और इसकी कीमत 99.30 लाख रुपये (एक्स-शोरूम इंडिया) रखी गई है। 

कंपनी का कहना है कि केवल शुरूआती 50 ग्राहकों को ही यह इलेक्ट्रिक कार इस प्राइस में दी जाएगी, यानी बाद में इसकी कीमत में इजाफा किया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में इस कार को विदेश से इंपोर्ट करके बेचा जाएगा।

मर्सिडीज ईक्यूसी (Mercedes EQC) का डिजाइन कंपनी की दूसरी कारों से अलग रखा गया है। इसकी पूरी बॉडी पर शार्प कर्व लाइनें दी गई है जो इसे स्टाइलिश और प्रीमियम फील देती है। इसमें आगे की तरफ क्रोम स्लेट वाली बड़ी ग्रिल दी गई है और इसके बीच में मर्सिडीज का बड़ा लोगो लगा हुआ है। ईक्यूसी, जीएलसी पर बेस्ड है ऐसे में इसका साइज इस कार के बराबर है। पीछे की तरफ इसमें केवल ईक्यूसी बैजिंग दी है जिसे देखकर कोई नहीं कह सकता कि यह एक इलेक्ट्रिक कार है। इसमें कनेक्टेड टेललैंप दी गई है जो इस गाड़ी को काफी क्लासी लुक देती है।

इसके इंटीरियर में कंपनी ने जीएलसी वाली थीम को फॉलो को किया है, हालांकि उससे अलग रखने के लिए कुछ बदलाव भी किए गए हैं। जीएलसी में जहां राउंड एसी वेंट दिए गए हैं, वहीं ईक्यूसी में एसी वेंट को रेक्टांगुलर शेप में रखा गया है। रेगुलर मॉडल की तरह ही इसमें भी दो होरिजोंटल स्क्रीन दी गई है जिनमें से एक इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर के लिए है जबकि दूसरी इंफोटेनमेंट सिस्टम का काम करती है।

मर्सिडीज ईक्यूसी एक इलेक्ट्रिक कार है। इसके फ्रंट और रियर दोनों एक्सल पर एक-एक इलेक्ट्रिक मोटर लगी है जिन्हें 80 किलोवॉट के बैटरी पैक से पावर सप्लाई होती है। इनका संयुक्त पावर आउटपुट 408 पीएस और 760 एनएम है। एनईडीसी (न्यू यूरोपियन ड्राइविंग साइकल) के अनुसार ईक्यूसी एक बार फुल चार्ज होने के बाद 450 किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय कर सकती है। हमने अभी तक इसकी रेंज चेक नहीं की है, लेकिन इतना कहा जा सकता है कि चाहे आप इसे कैसे भी चलाएं यह फुल चार्ज में कम से कम 250 किलोमीटर का सफर तो तय कर ही लेगी। मर्सिडीज ईक्यूसी को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार पर पहुंचने में 5.1 सेकंड का समय लगता है। 2.5 टन वजनी कार के हिसाब से यह आंकड़ा काफी अच्छा है।

कंपनी इस कार के साथ 7.4 किलोवॉट का होम चार्जर आपके घर पर इंस्टॉल करके देगी, जिससे इस इलेक्ट्रिक गाड़ी की बैटरी को दस घंटा में 10 से 100 प्रतिशत चार्ज किया जा सकेगा। इस कार में एक इमरजेंसी चार्जिंग सॉकेट भी दिया गया है जिससे इसे रेगुलर 15एएमपी सॉकेट से चार्ज किया जा सकता है। इससे इसे 10 से 100 प्रतिशत चार्ज होने में 21 घंटा लगेंगे। 50किलोवॉट के डीसी फास्ट चार्जर से इसकी बैटरी को 10 से 100 प्रतिशत चार्ज होने में महज 1.5 घंटा लगेंगे।

मर्सिडीज की इस लग्जरी इलेक्ट्रिक कार में हेड-अप डिस्प्ले, दो 12.3 इंच की स्क्रीन, लेटेस्ट एमबीयूएक्स इंफोटेनमेंट सिस्टम, स्टीयरिंग व्हील पर टचपैड, स्मार्टफोन बेस्ड कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी, 13 स्पीकर बर्मस्टर साउंड सिस्टम, थ्री-जोन क्लाइमेट कंट्रोल, 64 लेवल एम्बिएंट लाइटिंग और ड्राइविंग मोड जैसे फीचर दिए गए हैं। इसमें इलेक्ट्रिक स्पेसिफिक रिजनरेटिव ब्रेकिंग टेक्नोलॉजी का भी इस्तेमाल हुआ है जो ड्राइविंग के वक्त कार की बैटरी को चार्ज करती रहती है।

वर्तमान में मर्सिडीज बेंज ईक्यूसी के कंपेरिजन में कोई कार मौजूद नहीं है लेकिन 2021 में इसके मुकाबले में ऑडी ई-ट्रोन, जगुआर आई-पेस और टेस्ला कार की एंट्री हो सकती है। मर्सिडीज की यह इलेक्ट्रिक कार भारत के छह शहरों दिल्ली, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, बेंगलुरु और चेन्नई में बिक्री उपलब्ध है।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

मर्सिडीज ईक्यूसी पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
×
We need your सिटी to customize your experience