• लॉगिन / रजिस्टर

टेस्ला साइबरट्रक की वो 5 बातें जो इसे बनाती है भारत के लिए एक आइडियल कार 

प्रकाशित पर Dec 02, 2019 06:28 PM द्वारा Nikhil

  • 403 व्यूज़
  • Write a कमेंट

हाल ही में टेस्ला ने साइबरट्रक नाम से अपने पहले इलेक्ट्रिक पिक-अप ट्रक से पर्दा उठाया था। कंपनी ने $100 (लगभग 7000 रुपये) के साथ इसकी बुकिंग भी चालू कर दी है। हालांकि, कार की डिलीवरी 2021 से शुरू होगी। टेस्ला जल्द ही भारतीय बाजार में कदम रखेगी लेकिन शायद साइबरट्रक को भारत में लॉन्च न किया जाए। हम कार के स्पेसिफिकेशन और इससे जुड़ी अन्य जानकारियां आपको पहले ही बता चुके हैं। लेकिन आज हम यहां इसकी 5 ऐसी खूबियों की बात करेंगे जो इसे भारतीय बाजार के लिए एक आदर्श कार बनाते हैं:-

1) साइज

टेस्ला साइबरट्रक को अमेरिका की सार्वजनिक सड़कों पर देखा गया और यह अन्य कारों की तुलना में बहुत बड़ी थी और भारतीय कार खरीदारों को एक चीज जो बेहद पसंद आती है वो है रोड प्रजेंस, जिसका सबूत देश में एसयूवी कारों की भारी डिमांड के रूप में देखा जा सकता है। 

2) बुलेटप्रूफ 

इस पॉइंट को समझाने की शायद ही जरूरत है। यदि भारत में कोई कार निर्माता किफायती कीमत पर कोई बुलेटप्र्रोफ कार बेचने लग जाये तो इस बात में कोई संदेह नहीं है कि वो कार रातो-रात सेल्स चार्ट में टॉप पोज़िशन पर आ जाएगी। भारत में ऑडी, बीएमडब्ल्यू और मर्सिडीस-बेंज जैसी प्रीमियम कार कंपनियां अपनी महंगी सलून कारों के हाई-सिक्योरिटी वर्ज़न भारत में बेचती है मगर इनकी कीमत करोडो में है। वहीं, टेस्ला साइबरट्रक की प्राइस  $40,000 से $70,000 के बीच है। भारतीय मुद्रा के अनुसार यह राशि 28.7 लाख से 50.23 लाख रुपये है। हम जानते हैं कि ये कोई किफायती कीमत नहीं है लेकिन करोड़ों रुपये की रेट के आगे तो बेहद कम है। 

3) शानदार ड्राइव रेंज.....

टेस्ला का यह इलेक्ट्रिक यूटिलिटी ट्रक तीन पावरट्रैन ऑप्शन में आता है। इनमें सिंगल-मोटर रियर व्हील ड्राइव, ड्यूल मोटर ऑल-व्हील ड्राइव और ट्राई मोटर ऑल-व्हील ड्राइव शामिल हैं। कंपनी के अनुसार साइबरट्रक का एंट्री लेवल वैरिएंट फुल चार्ज होने पर 400 किमी तक का सफर तय कर सकेगा। यह मात्र 6.5 सेकण्ड्स में 0 से 96 किमी/घंटा की स्पीड हासिल करने में सक्षम है। वहीं, साइबरट्रक का टॉप वैरिएंट 800 किमी की ड्राइव रेंज और केवल 2.9 सेकण्ड्स में 96 किमी/घंटा की रफ़्तार पकड़ने की क्षमता रखता है। 

4) ...लास्ट माइल कनेक्टिविटी

भारत में लास्ट मील कनेक्टिविटी बेहद खराब है। आसान शब्दों में कहें तो हमे अक्सर पार्किंग की कमी के चलते अपने वाहन को अपने गंतव्य स्थान से काफी दूर पार्क करना पड़ता हैं। और अगर आपके पास कोई बड़ा व्हीकल है और रास्ता छोटा तब तो क्या कहने। ऐसे में साइबरट्रक के साथ आने वाली साइबरक्वाड एटीवी आपके लिए एक परफेक्ट साथी साबित हो सकती हैं। कंपनी इसे साइबरट्रक के साथ एक एक्सेसरी के रूप में बेचेगी। अधिकांश भारतीय शहरों में फैली छोटी-छोटी गलियों को ध्यान में रखते हुए यह आपकी लास्ट माइल कनेक्टिविटी को बहुत आसान बना देगा।

5) डेंट/स्क्रैच प्रूफ

जी हाँ, आपने सही पढ़ा। इसपर ना ही डेंट आ सकता है, ना ही स्क्रैच आने का कोई चांस हैं। इंडियन कार कस्टमर्स के लिए शायद ये किसी चमत्कार से कम नहीं होगा! 

द्वारा प्रकाशित

Write your कमेंट

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?