• लॉगिन / रजिस्टर

ऑडी ई-ट्रॉन को टक्कर देने जगुआर उतारेगी आई-पेस इलेक्ट्रिक एसयूवी, जानिए कब होगी लॉन्च

प्रकाशित पर Apr 03, 2019 03:58 PM द्वारा Bhanu for जगुआर आई-पेस

  • 428 व्यूज़
  • Write a कमेंट

जगुआर ने घोषणा की है कि वह अपनी पहली ऑल-इलेक्ट्रिक एसयूवी आई-पेस को भारत में भी लॉन्च करेगी। भारत में इसे 2020 की दूसरी छमाही में पेश किया जाएगा। अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में यह कार मार्च 2018 से बिक्री के लिए उपलब्ध है। इस कार के कॉन्सेप्ट मॉडल को 2016 में प्रदर्शित किया गया था।

आई-पेस में दो इलेक्ट्रिक मोटर दी गई है, इन्हें 90 केडब्ल्यूएच बैट्री से पावर मिलती है। इनकी संयुक्त पावर 400 पीएस है। 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार पाने में इसे महज 4.8 सेकंड लगते हैं। सिंगल चार्ज में यह कार करीब 470 किलोमीटर का सफर तय कर सकती है। जगुआर के अनुसार अगर कार की बैट्री को 50 किलोवाट के डीसी (डायरेक्ट करंट) चार्जर से एक घंटा चार्ज करते हैं, तो उतने चार्ज में यह कार 270 किलोमीटर का सफर तय कर सकती है। अगर 7 किलोवाट के रेगुलर एसी (अल्टरनेटिंग करंट) सॉकेट से चार्ज करेंगे तो कार की बैट्री को 80 फीसदी चार्ज होने में करीब 10 घंटे लगेंगे।

आई-पेस की पीछे वाली विंडस्क्रीन ज्यादा झुकी हुई है, जो इस में क्रॉसओवर कार वाला अहसास लाती है। इस में पीछे की तरफ लिप स्पॉइलर, ड्यूल टोन बंपर (डिफ्यूज़र के साथ) और चमकदार टेललैंप दिए गए हैं। कार का आगे वाला हिस्सा ज्यादा पसंद आएगा। यहां साइड तक फैले एलईडी हैडलैंप और जगुआर की पारंपरिक ग्रिल दी गई है। साइड वाले हिस्से में शोल्डर लाइनें और 18 इंच के अलॉय व्हील, बड़े व्हील आर्क के साथ दिए गए हैं।

आई-पेस का केबिन काफी मॉर्डन और प्रीमियम अहसास कराता है। इसमें टच-प्रो ड्यूओ इंफोटेनेमेंट सिस्टम दिया गया है। सिस्टम की दोनों स्क्रीन जगुआर लैंडरोवर की दूसरी कारों की तरह सेंटर कॉलम पर पोजिशन की गई है। आई-पेस में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) बेस्ड इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है। यह सिस्टम मौसम, टोपोग्राफी, ड्राइविंग स्टाइल और ट्रैफिक के हाल का मूल्यांकन करता है। यह सिस्टम कार में मौजूद लोगों की संख्या को आंकने के बाद सुविधानुसार क्लाइमेट कंट्रोल को एडजस्ट कर लेता है।

भारत में इलेक्ट्रिक कारें लॉन्च करने की दौड़ में केवल जगुआर ही शामिल नहीं है। ऑडी और टेस्ला मोटर्स भी भारत के इलेक्ट्रिक कार बाज़ार में अपना भविष्य ढूंढ रही हैं। ऑडी अपनी ई-ट्रॉन एसयूवी को भारत में उतारने की पुष्टि कर चुकी है। टेस्ला मोटर्स साल 2020 तक भारतीय बाज़ार में कदम रखने की तैयारी कर रही है।

यदि 2019 के आखिर या 2020 की शुरूआत में टेस्ला ने मॉडल3 को भारत में उतार दिया तो आई-पेस को इससे कड़ी चुनौती मिल सकती है। ब्रिटेन में आई-पेस की शुरूआती कीमत भारतीय करेंसी के मुताबिक करीब 57.9 लाख रुपए है। अमेरिका में यह कार 47.87 लाख रुपए की कीमत में उपलब्ध है। भारत में इसकी कीमत एक करोड़ रूपए के आसपास हो सकती है।

यह भी पढें : भारत में लैंड रोवर लाएगी हाइब्रिड एसयूवी, जानिए कब होगी लॉन्च

द्वारा प्रकाशित

जगुआर आई-पेस पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?