• लॉगिन / रजिस्टर

किया सोनेट : ये है नई जनरेशन की कॉम्पैक्ट एसयूवी कार

संशोधित: दिसंबर 31, 2020 06:33 pm | sponsored | किया सोनेट‎‌

  • 1288 व्यूज़
  • Write a कमेंट

आठ महीने के लंबे गैप के बाद मैं पहली बार अपने इंटर सिटी बिजनेस ट्रिप के लिए चंडीगढ़ से दिल्ली जा रहा था। तो ऐसे में मुझे अपनी नई किया सोनेट कार का टेस्ट करने का मौक़ा मिला। अब तक मैंने किया सोनेट को शहर में ही ड्राइव करके देखा था और मैं इसकी परफॉर्मेंस से काफी प्रभावित हुआ था। मझे पता था कि हाइवे पर तेज़ स्पीड पर ड्राइव करना एक कॉम्पैक्ट एसयूवी के लिए सही टेस्ट हो सकता है। इसलिए, मैं जब दिल्ली अपनी डील फाइनल करने के लिए निकला तो मैंने सोनेट कार को ही ले जाने का विचार किया जिससे मैं इस बात का पता लगा सकूं कि यह हाइवे पर कैसी रहती है। इस टेस्ट ड्राइव के दौरान कैसा रहा मेरा एक्सपीरिएंस, जानेंगे यहां:-

रियर सीट एक्सपीरिएंस

मझे अपने बिज़नेस प्रोपोज़ल के लिए कुछ अहम पॉइंट्स ड्राफ्ट करने थे इसलिए मैंने कार में पीछे की तरफ बैठने का निर्णय लिया और मेरे ड्राइवर को कार ड्राइव करने का चार्ज दिया। इतना ही नहीं मैं सोशल डिस्टेंसिंग नॉर्म्स का पालन करते हुए ड्राइवर के विपरीत बैठा।

कार में पीछे की तरफ कम्फर्टेबल होकर बैठने के बाद मैंने महसूस किया कि इसकी रियर सीटें काफी चौड़ी हैं। सब-4 मीटर एसयूवी कार होने के बावजूद भी इसमें रियर साइड पर अच्छा-खासा स्पेस मिलता है। रियर पैसेंजर को इसमें लेगरूम और नीरूम स्पेस भी अच्छी मिलता है और इसका रिक्लाइनिंग एंगल भी एकदम सही है। मेरी हाइट 5.9 इंच है, लेकिन फिर भी मझे इस कार के हेडरूम के साथ कोई समस्या नहीं आई।  

रिफाइंड इंजन व स्मूद ट्रांसमिशन

कम्फर्टेबल महसूस करने के बाद मैंने इस कार की विंडो को कुछ देर के लिए नीचे करने का फैसला लिया। मेरी सोनेट कार में 1.5-लीटर डीजल इंजन लगा हुआ था लेकिन इसके बावजूद भी मझे मोटर की कोई आवाज़ सुनने को नहीं मिली। वहीं, केबिन के अंदर थोड़ी बहुत आवाज़ केवल हवा और रोड की महसूस हुई। मैं इस कार में लगे रिफाइंड इंजन की स्मूदनैस से काफी प्रभावित हुआ। इसका श्रेय इसके 6-स्पीड टॉर्क कन्वर्टर गियरबॉक्स को दिया जाता है। सुनील (ड्राइवर) इस कार में दिए गए ऑटोमेटिक गियरबॉक्स की सुविधा का पूरा आनंद ले रहा था और उसके चेहरे पर इस चीज़ की मुस्कराहट भी साफ देखने को मिल रही थी।  

आकर्षक इंटीरियर

सोनेट कार को जिस दिन मैं अपने घर लाया ठीक उसी दिन से मैं इसके केबिन का बड़ा फैन हो गया था। इसमें इस्तेमाल हुए मैटेरियल की क्वालिटी काफी अच्छी है, ऐसे में यह एक वैल्यू फॉर मनी कार साबित होती है।  जब मैंने दिल्ली से वापस आते समय कार को ड्राइव करने के लिए इसके स्टीयरिंग व्हील को अपने हाथ में लिया तो मैं इससे काफी प्रभावित हुआ।  मैं इसके टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम को इस्तेमाल करने से भी खुद को नहीं रोक पाया और जब मैंने इसे ऑपरेट किया तो महसूस किया कि यह बेहद फंक्शनल है और काफी अच्छा रिस्पांस भी देता है। इसमें लगे कंट्रोल बटन और एसी वेंट्स की क्वालिटी भी बेहद अच्छी है। इसके बेहतरीन केबिन का श्रेय किया कंपनी को दिया जाता है। इस कार का केबिन फंक्शनल होने के साथ-साथ फंकी भी है।

सेफ्टी फीचर्स

मैं सोनेट की डिज़ाइन का काफी बड़ा फैन हूं। इसकी फ्रंट और रियर प्रोफाइल की स्टाइलिंग बेहद अच्छी है। इसमें लगे अलॉय व्हील्स, रूफ रेल्स और सी-पिलर कार को और ज्यादा ख़ास बनाते हैं। मैं खासकर इसके हैलोजन हेडलैंप्स की फंक्शनिंग से बेहद प्रभावित हुआ। इसमें लगी लाइटें हाइवे पर काफी अच्छे से चमकती है। यह ना सिर्फ अच्छी साबित होती हैं, बल्कि पैसेंजर व ड्राइवर की सेफ्टी भी सुनिश्चित करती हैं। मेरे जीटीएक्स+ वेरिएंट में छह एयरबैग्स, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, व्हीकल स्टेबिलिटी मैनेजमेंट और हिल असिस्ट कंट्रोल जैसे सेफ्टी फीचर्स दिए हैं। इसमें कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी भी दी गई है जिसने मुझे हाइवे ड्राइविंग के दौरान बेहद कॉन्फिडेंट महसूस करवाया। मुझे इसका क्रूज़ कंट्रोल फीचर भी काफी पसंद आया। पहले मुझे इसके क्रूज़ कंट्रोल फीचर की यूटिलिटी के बारे में इतना मालूम नहीं था लेकिन लंबी हाइवे ड्राइव लेने के बाद मैंने महसूस किया कि यह हाइवे के लिए बेहद कम्फर्टेबल फीचर है। 

ड्राइविंग डायनामिक्स

इस कार की दूसरी सबसे बड़ी खासियत इसकी राइड व हैंडलिंग क्वालिटी है। मैं सिटी में सोनेट कार की ड्राइविंग डायनामिक्स से तो परिचित था ही लेकिन हाइवे पर ड्राइव करने के बाद मैं इसकी तारीफ करने से अपने आप को बिलकुल भी रोक नहीं पाया। ड्राइविंग के दौरान यह कार बेहद स्टेबल रहती है। कम स्पीड पर भी इसकी राइड क्वालिटी अच्छी है। यह बड़े गड्ढों के झटकों को आसानी से एब्जॉर्ब कर लेती है। तेज़ स्पीड पर भी इस कार के साथ काफी अच्छी राइड मिलती है। हमारे सफर के दौरान भी इस कार ने खराब सड़कों को आसानी से पार कर लिया। रियर साइड पर बैठने और ड्राइव करने के दौरान भी मझे काफी कम्फर्टेबल महसूस हुआ। इसका श्रेय किया के इंजीनियर को दिया जाता है जिन्होंने इसकी राइड और हैंडलिंग के बीच एक परफेक्ट बैलेंस बनाया है।  

निष्कर्ष

कुल मिलाकर, मेरे फर्स्ट हाइवे ट्रिप पर किया सोनेट कार काफी अच्छी साबित हुई। यह लग्ज़री, स्टाइल और कम्फर्ट के मामले में बेहद अच्छी है। मझे हमेशा से लगता था कि यह एक अच्छी सिटी एसयूवी कार होगी, लेकिन हाइवे पर ड्राइव के बाद मैं निश्चित रूप से एक अच्छी हाइवे क्रूजर के रूप में किया सोनट की सिफारिश करूंगा।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

किया सोनेट‎‌ पर अपना कमेंट लिखें

2 कमेंट्स
1
r
rutyrtuy
Jan 8, 2021 3:13:48 PM

nljgchgkjhljgkhjgchvjkk

और देखें...
जवाब
Write a Reply
2
r
rutyrtuy
Jan 8, 2021 3:14:00 PM

hguiyfuyguihiougiyfugu

और देखें...
    जवाब
    Write a Reply
    1
    r
    rutyrtuy
    Jan 8, 2021 3:13:39 PM

    bkjhgghjgkjhljkghjgchj

    और देखें...
      जवाब
      Write a Reply
      Read Full News
      बड़ी बचत !!
      53% की बचत करें! पुरानी किया कारें पर सरवोततम सौदो का पता लगाए
      नई दिल्ली में उपलब्ध किया सोनेट‎‌ के यूज़्ड मॉडल्स देखे

      कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

      एक्स-शोरूम कीमत न्यू दिल्ली
      ×
      आपका शहर कौन सा है?