स्कोडा स्लाविया Vs होंडा सिटी: स्पेस एंड प्रेक्टिकैलिटी कंपेरिजन रिव्यू

Published On मई 09, 2022 By arun for स्कोडा स्लाविया

सेडान कारों के प्रति कस्टमर्स के दिल में एक बार फिर से वही आकर्षण जगाने का श्रेय स्कोडा और होंडा को दिया जाना चाहिए। जहां स्कोडा के लाइनअप में सुपर्ब, ऑक्टाविया और रैपिड जैसी सेडान को काफी पॉपुलैरिटी मिली तो वहीं होंडा के लाइनअप में अकॉर्ड, सिविक और सिटी सेडान जैसी कारों को कस्टमर्स ने खूब पसंद किया।

अब रैपिड की जगह स्कोडा के लाइनअप में नई स्लाविया सेडान लॉन्च हो चुकी है जिसका सीधा मुकाबला होंडा सिटी सेडान से है। अब इनमें से कौनसी सेडान आपको लेनी चाहिए इसके लिए हमनें कुछ मोर्चों पर दोनों का कंपेरिजन किया है, जिसपर आप भी डालिए एक नजर:

लुक्स

साइज में एक दूसरे के लगभग बराबर दोनों सेडान को अलग अलग डिजाइन फिलोसॉफी के अनुसार तैयार किया गया है। होंडा सिटी के लो स्लंग फ्रंट प्रोफाइल के चौड़ेपन और कर्वी प्रोफाइल में जापानी कंपनियों का इन्फलुएंस नजर आता है। दूसरी तरफ स्कोडा स्लाविया के डिजाइन में फ्लैट सरफेस, बहुत सारी क्रिस्टलाइन डीटेलिंग और क्रिस्प एसेंट लाइन के कारण इसमें जर्मन/चैक कारों की झलक देखने को मिलती है। हमारे ओपिनियन में दोनों ही कारों का डिजाइन काफी आकर्षक है। चलिए दोनों के साइज पर डालिए एक नजर:

 

स्कोडा स्लाविया

होंडा सिटी

लंबाई

4541मिलीमीटर

4549मिलीमीटर

चौड़ाई

1752मिलीमीटर

1748मिलीमीटर

ऊंचाई

1507मिलीमीटर

1489मिलीमीटर

व्हीलबेस

2651मिलीमीटर

2600मिलीमीटर

दोनों सेडान अप टू डेट नजर आती है, जहां सिटी में फुल एलईडी हेडलैंप्स दिए गए हैं तो वहीं स्लाविया में शार्प डेटाइम रनिंग लैंप के साथ एलईडी प्रोजेक्टर्स दिए गए हैं। दोनों कारों में 16 इंच के ड्युअल टोन अलॉय व्हील्स दिए गए हैं जो काफी स्मार्ट नजर आते हैं, मगर दोनों में से हमें सिटी वाली यूनिट ज्यादा बेहतर लगी। टेललैंप्स में एलईडी एलिमेंट्स, शार्क फिन एंटीना और डोर हैंडल्स पर क्रोम की फिनिशिंग दोनों कारों को एक कंप्लीट पैकेज बनाती है।

बूट स्पेस

ऑन पेपर्स तो होंडा सिटी में 506 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है जबकि स्कोडा स्लाविया में 521 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है। मगर यहां स्कोडा स्लाविया के बूट का शेप थोड़ा अलग है जिससे इस मोर्चे पर इसे एडवांटेज ज्यादा मिलता है। दोनों कारों में लोडिंग लिप की हाईट की समस्या नहीं है, मगर स्लाविया की बे काफी चौड़ी है।

हमनें दोनों कारों के बूट स्पेस को टेस्ट करने के लिए फुल साइज, मीडियम और छोटे साइज के ट्रॉली बैग के साथ दो डफल बैग्स का इस्तेमाल किया। इसका मतलब ये हुआ कि आप दोनों कारों में आराम से इतना सारा लगेज रख सकते हैं।

इसके अलावा होंडा सिटी में एक एक्सट्रा ओवरनाइट सूटकेस रखने की भी जगह बनती है। दूसरी तरफ स्कोडा स्लाविया में दो ओवरनाइट सूटकेस रखे जा सकते हैं।

इसके बाद भी दोनों कारों में बड़ी वॉटर बॉटल और यहां तक कि अपने फुटवियर्स भी रख सकते हैं। मगर यहां भी स्कोडा स्लाविया में इन चीजों के लिए होंडा सिटी से ज्यादा स्पेस मिलता है।

ऑन पेपर्स होंडा सिटी के मुकाबले स्कोडा स्लाविया ​में दिया गया एडिशनल 15 लीटर का बूट स्पेस यूजेबिलिटी के हिसाब से अच्छा है। इसके अलावा 60:40 स्प्लिट फोल्डिंग रियर सीट के साथ भी ज्यादा बूट स्पेस तैयार किया जा सकता है।

केबिन एंट्री/आउट

दोनों सेडान के केबिन में एंट्री लेने के लिए आपको नीचे झुकना पड़ता है। यदि आप एसयूवी/एमपीवी कार का इस्तेमाल करते आए हैं तो सेडान कार के हिसाब से आपको खुद को ढालना पड़ेगा।

होंडा सिटी में बुजुर्ग पैसेंजर को सीट हाइट ऊंची होने के कारण एंट्री लेने में आसानी रहती है।

बैकसीट एक्सपीरियंस

होंडा सिटी

होंडा सिटी अपनी बैकसीट्स के लिए काफी पॉपुलर कार रही है और आज भी यदि किसी को सेडान कार में पीछे की सीट पर बैठना ज्यादा पसंद है तो हम उन्हें होंडा सिटी रेकमेंड करेंगे। शानदार स्पेस के कारण इस मोर्चे पर इसने नए बेंचमार्क सेट किए हैं।

नीरूम स्पेस के मामले में स्कोडा स्लाविया के मुकाबले होंडा सिटी एक बेहतर सेडान है। यहां 6.5 फुट के पैसेंजर के पीछे आराम से एक 6 फुट तक का लंबा पैसेंजर बैठ सकता है।

इसके ​अलावा केबिन की चौड़ाई अच्छी होने के कारण होंडा सिटी की रियर सीट पर तीन पैसेंजर्स भी आराम से बैठ सकते हैं।

हालांकि हेडरूम के मोर्चे पर होंडा सिटी में थोड़ा समझौता करना पड़ता है। यहां 6 फुट तक के लंबे व्यक्ति को थोड़ी परेशानी आती है। यदि ड्राइवर की सीट नीचे ना हो तो रियर पैसेंजर को बेहतर फुट रूम मिलने में भी समस्या आ सकती है।

स्कोडा स्लाविया

भले ही स्लाविया का मैच नीरूम के मोर्चे पर सिटी से ना हो तो भी इसमें ड्राइवर सीट के ठीक पीछे एक 6 फुट तक का लंबा पैसेंजर आराम से बैठ सकता है।

हालांकि इसकी सीटों की चौड़ाई ज्यादा नहीं है। मगर 4 सीटर कार के तौर पर स्लाविया एक बेहतर सेडान कही जा सकती है जिसमें बैक और साइड में अच्छा खासा सपोर्ट मिलता है।

सिटी के मुकाबले स्लाविया में लंबा और एंग्लड सीट बेस होने के चलते अच्छा अंडरथाई सपोर्ट भी मिलता है। इसमें बेहतर फुटरूम भी मिल जाता है। खास बात ये है कि स्लाविया की दोनों फ्रंट सीट हाइट एडजस्टेबल है।

स्लाविया में आपको हेडरूम स्पेस की भी कोई कमी नजर नहीं आएगी।

छोटी विंडो होने के कारण आपको केबिन में ज्यादा स्पेस नजर आएगा।

रियर सीट कंफर्ट

स्कोडा स्लाविया

होंडा सिटी

रियर एसी वेंट्स

रियर एसी वेंट्स

2 टायप सी चार्जिंग सॉकेट

2 12वॉट चार्जिंग सॉकेट

एडजस्टेबल हेडरेस्ट (3)

फिक्स्ड हेडरेस्ट (3) 

कपहोल्डर के साथ सेंट्रल आर्मरेस्ट

कपहोल्डर के साथ सेंट्रल आर्मरेस्ट

फोन होल्डर के साथ सीट-बैक पॉकेट

फोन होल्डर के साथ सीट-बैक पॉकेट

कोई सनशेड नहीं

रियर सनशेड

फ्रंट रो

होंडा सिटी

सिटी की फ्रंट सीट पर बैठने के बाद पहली चीज जो आपके दिमाग में आएगी वो है इसके ग्लास एरिया का बड़ा सा साइज। इससे केबिन में बाहर से अच्छी रोशनी आती है जो कि बैज अपहोल्स्ट्री वाली सीटों के साथ मिलकर केबिन में एक खुलेपन का अहसास कराती है।

रियर सीट्स की तरह इसकी फ्रंट सीट्स का प्रोफाइल भी काफी फ्लैट है। ये स्लाविया सेडान की तरह उतनी सपोर्टिव नहीं है, मगर भारी शरीर वालों के लिए ये बेहतर है। लंबे सफर के दौरान आपको इनपर बैठने के बाद बिल्कुल थकान नहीं होगी।

होंडा सिटी का केबिन एक्सपीरियंस स्लाविया से कुछ बेहतर लगता है। इसके डैशबोर्ड और डोर पैड्स पर अच्छी क्वालिटी के प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है। वहीं डैशबोर्ड, ग्लवबॉक्स के ऊपर वुडन ट्रिम और क्लाइमेट कंट्रोल पर प्रीमियम फीनिशिंग की गई है।

स्कोडा स्लाविया

स्लाविया की फ्रंट सीट पर बैठने के बाद आपको एक ट्रेडिशनल सेडान कार की याद आएगी।

इसकी फ्रंट सीटों पर बेहतर अंडरथाई सपोर्ट मिलता है। हालांकि कॉर्नर्स पर कार ड्राइव होते वक्त आपको यहां फिसलन महसूस हो सकती है।

इसके डैशबोर्ड का डिजाइन फाबिया से इंस्पायर्ड नजर आता है। मगर स्कोडा ने क्वालिटी के मोर्चे पर अच्छा काम किया है। इसमें हार्ड प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं किया गया है, वहीं पैनल भी जगह जगह नजर नहीं आएंगे।

फ्रंट सीट स्टोरेज ऑप्शंस

इस मोर्चे पर दोनों ही कारें एक-दूसरे को कड़ी टक्कर देती नजर आती हैं। इनमें आराम से एक लीटर तक की बॉटल रखने के लिए डोर पैड्स, सेंट्रल स्टेक पर छोटे कपहोल्डर्स, फ्रंट आर्मरेस्ट के अंदर अच्छा खासा स्टोरेज स्पेस दिया गया है। फोन जैसे आइटम रखने के लिए दोनों कारो में बड़े साइज के ग्लवबॉक्स दिए गए हैं।

स्कोडा स्लाविया में आपको टिकट क्लिप, डोर पैड्स में मैग्जीन होल्ड करने के लिए इलास्टिक स्ट्रेप्स और ग्रिपी मैट्स में कपहोल्डर्स जैसी सुविधा भी मिल जाएगी। इसके वायरलेस चार्जर का डिजाइन भी काफी अच्छा है।

दोनों सेडान कारों में कुछ कॉमन फीचर्स भी दिए गए हैं जो इस प्रकार से हैं:

की लेस एंट्री

पुश बटन स्टार्ट/स्टॉप

टिल्ट टेलीस्कोपिक एडजस्ट स्टीयरिंग 

हाइट एडजस्टेबल ड्राइवर ​सीट

ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल

इलेक्ट्रिक सनरूफ

क्रूज कंट्रोल

लेदरेट अपहोल्स्ट्री

दोनों कारों के सेफ्टी फीचर्स भी एक-दूूसरे से काफी मैच करते हैं। हालांकि यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि स्कोडा स्लाविया के लोअर वेरिएंट्स में केवल दो एयरबैग्स दिए गए हैं, वहीं होंडा सिटी में 4 एयरबैग्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं।

कॉमन सेफ्टी फीचर्स

6 एयरबैग्स

इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल

एबीएस एवं ईबीडी

टायर डिफ्लेशन वॉर्निंग

आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट माउंट्स

हिल स्टार्ट असिस्ट

एक नई कार होने के नाते इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि स्लाविया की फीचर लिस्ट लंबी है। इसमें वेंटिलेटेड फ्रंट सीट्स, वायरलेस चार्जर और फुल डिजिटल ड्राइवर डिस्प्ले जैसे नए और जरूरी फीचर्स दिए गए हैं। वहीं होंडा सिटी के एनालॉग डायल्स भी काफी क्लासी नजर आते हैं।

जहां होंडा सिटी में सभी विंडोज़ पर वन टच अप/डाउन का फीचर दिया गया है तो वहीं स्लाविया में ये फीचर केवल ड्राइवर साइड विंडो के लिए ही रखा गया है।

इंफोटेनमेंट सिस्टम की जब बात आती है तो यहां स्लाविया आपको होंडा सिटी से बेहतर नजर आएगी। स्कोडा स्लाविया में 10.1 इंच यूनिट दी गई है जबकि होंडा सिटी में 8 इंच की डिस्प्ले लगी है। वहीं होंडा सिटी के इंफोटेनमेंट सिस्टम के मुकाबले स्लाविया के इंफोटेनमेंट सिस्टम का ग्राफिक्स और यूजर इंटरफेस इस्तेमाल करने में आसान है। इसमें आपको एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले कनेक्टिविटी का फीचर भी मिल जाएगा।

ड्राइविंग और राइड क्वालिटी

जो लोग अपने आपको हैचबैक कार से अपग्रेड करते हैं उन्हें सेडान कार ड्राइव करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

इस रिव्यू में हम आपको इन दोनों कारों की ड्राइव और राइड क्वालिटी के बारे में डीटेल से जानकारी तो नहीं देंगे। बस हम आपको इतना जरूर बताएंगे कि स्लाविया के 1.0 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन के मुकाबले होंडा सिटी का 1.5 लीटर इंजन कितना रिफाइंड और ड्राइव करने में आसान है। स्कोडा के इंजन से मिलने वाली एक्सट्रा टॉर्क ड्राइविंग के शौकीनों को जरूर पसंद आएगी।

राइड क्वालिटी की जब बात आती है तो इस मोर्चे पर दोनों सेडान एक सपाट सड़क पर काफी अच्छी नजर आती है और एक कंफर्टेबल एक्सपीरियंस देती है। 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड को क्रॉस करने के बाद होंडा सिटी में रियर सीट पर बैठने वालों को काफी मजा आएगा। वहीं स्लाविया में इस दौरान पावर की थोड़ी कमी महसूस होती है। हाईवे स्पीड के दौरान उतार चढ़ाव के वक्त स्कोडा स्लाविया को ड्राइव करते वक्त कॉन्फिडेंस बना रहता है। वहीं होंडा सिटी में पैसेंजर्स को वर्टिकल मूवमेंट महसूस होता है।

खराब सड़कों पर 20 किलोमीटर प्रति घंटे से भी कम की स्पीड पर ड्राइव करते वक्त सिटी के केबिन में आपको कोई डिस्टरबेंस महसूस नहीं होगा। दूसरी तरफ स्लाविया में साइड टू साइड मूवमेंट बना रहता है। मगर इससे बचने के लिए आप कार की स्पीड को बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा स्कोडा स्लाविया में 14 मिलीमीटर का ग्राउंड क्लीयरेंस भी दिया गया है जिससे टूटी फूटी सड़कों पर आप आराम से जा सकते हैं। ध्यान में रहें दो सेडान कारों में ​पैसेंजर का फुल लोड हो तो कुछ तीखे गड्ढों पर से स्लो स्पीड पर ही इन्हें लेकर जाएं। यहां सिटी सेडान में सस्पेंशन का कंप्रेशन कम होने का एडवांटेज मिलता है।

निष्कर्ष

एक ही सेगमेंट की कारें होने के बावजूद दोनों सेडान कारों का एक्सपीरियंस काफी अलग है। मगर इन्हें चुनने में आप कुछ मोर्चो का ध्यान रख सकते हैं।

होंडा सिटी को क्यों चुने

  • यदि आप 5 सीटर सेडान चाहते हैं तो स्लाविया के कंपेरिजन में होंडा सिटी की रियर सीट पर तीन पैसेंजर्स आराम से बैठ सकते है।
  • यदि आप सेडान में पीछे बैठकर सफर करने का आनंद उठाना पसंद करते हैं तो आपको होंडा सिटी एक बड़ी कार नजर आएगी जिसके केबिन की बिल्ड क्वालिटी काफी अच्छी है और अच्छी क्वालिटी के प्लास्टिक का भी इसमें इस्तेमाल किया गया है जो टच करने पर अच्छा फील देता है। इसकी बैक सीट पर बैठकर आपको राइड क्वालिटी अच्छी महसूस होगी।
  • सिटी सेडान में यदि हाइवे ड्राइविंग अच्छी मिल जाती तो और बेहतर हो सकता था। लॉन्ग टर्म के लिए नैचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल इंजन के साथ मैनुअल/सीवीटी कॉम्निबेशन पर भरोसा किया जा सकता है। मगर मॉडर्न टर्बो पेट्रोल इंजन के मुकाबले ये इंजन ज्यादा शांत रहते हैं। 

स्कोडा स्लाविया को क्यों चुनें

  • यदि आप रोड ट्रिप्स पर जाना पसंद करते हैं तो स्कोडा स्लाविया आपको काफी पसंद आएगी। इसके अलावा इसमें बड़ा बूट स्पेस भी मिलता है और इसके हाईवे ड्राइविंग डायनेमिक्स भी काफी अच्छे है। इसके अलावा एक पावरफुल इंजन होने का भी फायदा मिलता है।
  • स्कोडा स्लाविया 4 पैसेंजर्स के बैठने के हिसाब से काफी कंफर्टेबल कार है। इसमें सीटों से भी अच्छा सपोर्ट मिलता है।
  • इसके अलावा इसमें वेंटिलेटेड फ्रंट सीट्स, वायरलेस चार्जिंग और फुल डिजिटल ड्राइवर डिस्प्ले का एक्सट्रा फीचर एडवांटेज भी ​मौजूद है।
  • एक्सट्रा व्हीलबेस साइज से स्लाविया में ज्यादा नीरूम मिलता है। सिटी के कंपेरिजन में इसके केबिन साइज की चौड़ाई कम है और आपको इसे देखकर लगेगा कि आप किसी छोटी कार में बैठे हैं। हमें इसकी इंटीरियर क्वालिटी काफी अच्छी लगी और स्कोडा का अपनी ब्रांड वैल्यु के कारण ये अपना मजबूत पक्ष रखती है।

नई सेडान कारें

अपकमिंग कारें

  • बीएमडब्ल्यू i4
    बीएमडब्ल्यू i4
    Rs.80.00 लाखसंभावित कीमत
    संभावित लॉन्च : मई,2022
    संभावित लॉन्च : मई,2022
  • फॉक्सवेगन विर्टस
    फॉक्सवेगन विर्टस
    Rs.11.50 लाखसंभावित कीमत
    संभावित लॉन्च : जून 2022
    संभावित लॉन्च : जून 2022
  • ऑडी ए8 L 2022
    ऑडी ए8 L 2022
    Rs.1.55 करोड़संभावित कीमत
    संभावित लॉन्च : जून 2022
    संभावित लॉन्च : जून 2022
  • टोयोटा बेल्टा
    टोयोटा बेल्टा
    Rs.10.00 लाखसंभावित कीमत
    संभावित लॉन्च : जुल, 2022
    संभावित लॉन्च : जुल, 2022
  • टेस्ला मॉडल 3
    टेस्ला मॉडल 3
    Rs.60.00 लाखसंभावित कीमत
    संभावित लॉन्च : सित, 2022
    संभावित लॉन्च : सित, 2022

पॉपुलर सेडान कारें

×
We need your सिटी to customize your experience