• लॉगिन / रजिस्टर

स्कोडा रैपिड 1.0 टीएसआई: फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On jul 14, 2020 By bhanu for न्यू स्कोडा रैपिड

नवंबर 2020 में स्कोडा रैपिड को भारत में लॉन्च हुए पूरे 9 साल होने जा रहे हैं। ऐसे में स्कोडा चाहती तो इसके फ्रंट में बदलाव करते हुए ज्यादा पावरफुल 1.5 लीटर डीजल इंजन और नए फीचर्स भी जोड़ सकती थी जिससे ये कार और भी ज्यादा अच्छे पैकेज के रूप में उपलब्ध होती। हालांकि अपने ड्राइविंग डायनैमिक्स के कारण ये कार अब भी इस सेगमेंट की सबसे अच्छी कार है। बीएस6 नॉर्म्स लागू हो जाने के बाद से कंपनी ने रैपिड से 1.5 लीटर डीजल इंजन और डीएसजी गियरबॉक्स का कॉम्बिनेशन हटा दिया है। साथ ही, कंपनी ने 1.6 लीटर पेट्रोल और 6-स्पीड ऑटोमैटिक का ऑप्शन देना भी बंद कर दिया है। तो क्या नया इंजन आ जाने से ये कार अब भी उतनी ही पावरफुल है ये जानेंगे इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू में:

पावरट्रेन

स्कोडा रैपिड में अब केवल एक ही इंजन: 1.0 लीटर 3 सिलेंडर टर्बो पेट्रोल का ऑप्शन दिया गया है। यह इंजन 110 पीएस की पावर और 175 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस इंजन के साथ 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स दिया गया है और आने वाले समय में 6-स्पीड टॉर्क कन्वर्टर भी दिया जा सकता है। 

इग्निशन ऑन करते ही इसका नया इंजन एक आवाज के साथ शुरू हो जाता है। सबसे अच्छी बात ये है कि इंजन से आने वाली वाइब्रेशन को आप केवल कार खड़े रहने पर ही महसूस कर सकते हैं जिसकी इंटेसिटी यानी प्रभाव भी ज्यादा नहीं होता है। 

इस 1.0 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन के दम पर सिटी में रैपिड आराम से चलती है। हालांकि, 2000 आरपीएम से नीचे लगातार चलने पर आपको ये कार थोड़ी सुस्त नजर आ सकती है। थ्रॉटल को पुश करने के बाद थोड़ी देर तक उसे होल्ड करने पर 2200 आरपीएम के करीब टॉ​र्क जनरेट होती है। इसमें तुरंत ओवरटेकिंग के लिए एक गियर ड्रॉप करने की भी जरूरत पड़ती है। सिटी में नई स्कोडा रैपिड 1.0 टीएसआई 12.79 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देने में सक्षम है। 

सिटी के मुकाबले हाईवे पर इस कार को चलाने का अपना ही एक मजा है। यहां बिना गियर बदले आप तेजी से ट्रैफिक में से निकलते हुए आगे बढ़ सकते हैं। यहां तक कि आप महज तीसरे गियर में ही 100 से ऊपर की स्पीड का आंकड़ा भी तुरंत छू सकते हैं। आप चाहें तो छठे गियर पर भी इसे 90 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से दौड़ा सकते हैं। हाईवे पर भी इसका इंजन काफी माइलेज फ्रेंडली साबित होता है जहां ये 17.13 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज दे ही देता है। 

बात करें 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स की तो ये काफी स्मूद है और इस स्पोर्टी इंजन के साथ मिलकर अपना काम बखूबी करता है। रैपिड का क्लच काफी हल्का है और मुंबई जैसी जगह जहां ट्रैफिक के बारे में सोच कर ही डर लग जाता है, वहां इस गाड़ी में आपको क्लच दबाने के लिए अपने घुटनों पर जोर नहीं देना पड़ता है। शुरू शुरू में रैपिड में आपको एक अच्छी ड्राइविंग पोजिशन पर आने में समस्या आ सकती है, मगर बाद में आप इसके आदि हो जाएंगे। 

राइड और हैंडलिंग 

हमेशा से ही रैपिड की राइड उतनी खास नहीं रही है। इसमें सीटों पर बेहतर कुशनिंग की दरकार रही है। लेकिन अब स्कोडा ने रैपिड को अपडेट करते हुए ये समस्या कुछ हद तक दूर कर दी है। 

पहले के मुकाबले अब स्कोडा रैपिड खराब सड़कों और गड्ढों को आराम से झेल लेती है। हालांकि आपके द्वारा जरा सी भी लापरवाही दिखाने के बाद यदि इसे किसी खराब सड़क या गड्ढे पर से ले जाया जाए तो इसके सस्पेंशन से आपको जोरदार आवाज सुनने को मिलेगी। लेकिन हमें उम्मीद है कि अपनी कार से प्यार करने वाला ड्राइवर ऐसा नहीं करेंगे। 

स्कोडा रैपिड की हैंडलिंग भी अब काफी बेहतर हो गई है। पहले वाले डीजल इंजन के मुकाबले इसका 1.0 लीटर पेट्रोल इंजन काफी हल्का है जिस वजह से इसका वजन भी 100 किलोग्राम कम हो गया हैै। फ्रंट में भारी वजन का दबाव कम होने से ये कार ज्यादा पावर के साथ आगे बढ़ती है। इसी वजह से कॉर्नर्स पर भी इसे आप तेजी से दौड़ा सकते हैं। 

इसमें पहले की ही तरह बॉडी रोल की आज भी कोई समस्या नहीं होती है। हालांकि सिटी में इसके स्टीयरिंग व्हील का वजन काफी हल्का महसूस होता है, मगर कुल मिलाकर इसका वजन काफी बैलेंस्ड है। इससे यू टर्न मारने में ज्यादा सहूलियत मिलती है। ​हाईवे पर इसका स्टीयरिंग व्हील ज्यादा स्थिर रहता है। हालांकि इनसे ज्यादा अच्छा फीडबैक नहीं मिलता है। इसकी ब्रेकिंग क्वालिटी उम्मीद से ज्यादा अच्छी है, मगर पैडल से कुछ खास फीडबैक नहीं मिलता है। 

लुक्स, इंटीरियर और फीचर्स 

नई स्कोडा रैपिड के एक्सटीरियर में कोई बदलाव नहीं हुआ है जिसके बारे में यहां बात की जा सके। वहीं, इसका इंटीरियर भी लगभग पहले की ही तरह है। इसमें केवल स्टाइल और मॉन्टे कार्लो वेरिएंट में नई 8 इंच की टचस्क्रीन दी गई है। हालांकि ये यूनिट हर किसी को पसंद आए ये उन्हीं पर निर्भर करता है।

इस एंड्रॉयड टैबलेट की डिस्प्ले काफी अच्छी है और स्मूद तरीके से काम करती है। मगर इसमें एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले की कनेक्टिविटी का फीचर मौजूद नहीं है। हालांकि, आप कॉल उठाने या गाने सुनने के लिए ब्लूटूथ की मदद से अपने फोन को इससे कनेक्ट कर सकते हैं। एंड्रॉयड बेस्ड होने से इसे आप इंटरनेट हॉटस्पॉट से कनेक्ट करते हुए एंड्रॉयड स्मार्टफोन में इस्तेमाल होने वाली एप्स को डाउनलोड कर सकते हैं। सबसे अच्छी बात ये है कि सबकी सेफ्टी के लिए इसमें वीडियो कंटेट जब तक नहीं चलता है जब तक कि हैंडब्रेक ना ​लगा दिया जाए। ऐसा ड्राइवर का ध्यान भटकने से रोकने के लिए किया गया है। 

सेफ्टी

न्यू स्कोडा रैपिड में पहले की तरह ही सेफ्टी फीचर्स दिए गए हैं। इसके सभी वेरिएंट्स में एबीएस और दो एयरबैग का फीचर स्टैंडर्ड रखा गया है। आश्चर्य की बात ये है कि मॉन्टे कार्लो एडिशन से नीचे पोजिशन किए गए स्टाइल वेरिएंट में 4 एयरबैग दिए जा रहे हैं। वहीं प्रीटेंशनर और फ्रंट सीटबेल्ट के लिए लोड लिमिटर का फीचर भी केवल स्टाइल वेरिएंट में ही दिया गया है। जबकि मॉन्टे कार्लो और स्टाइल वेरिएंट में मामूली सा ही फर्क है। यदि आप सेफ्टी को प्राथमिकता देते हैं तो हम आपको इसका स्टाइल वेरिएंट खरीदने की सलाह देंगे। 

चूंकि स्कोडा रैपिड में कोई ऑटोमैटिक वेरिएंट का ऑप्शन नहीं है, ऐसे में इसमें ट्रैक्शन कंट्रोल का फीचर नहीं दिया गया है। हालांकि ऑटोमैटिक वेरिएंट आ जाने के बाद इसमें ये फीचर दे दिया जाएगा। 

निष्कर्ष

इस सेगमेंट की दूसरी कारों के कंपेरिजन में स्कोडा रैपिड में कुछ अच्छे फीचर्स की कमी जरूर महसूस होती है। हालांकि फिर प्राइस के मोर्चे पर ये उन कारों पर भारी पड़ जाती है जिनसे ये सस्ती है। यदि आपको स्कोडा की विश्वनीयता पर भरोसा कम है तो उसके लिए कंपनी आपको इस कार के साथ रोड साइड असिस्टेंस समेत 1 लाख किलोमीटर तक के वॉरन्टी पैकेज की पेशकश कर रही है। यह सर्विस कार की प्राइस में शामिल है। 

इसके अलावा राइडर वेरिएंट से ऊपर का कोई भी वेरिएंट लेने पर आपको 10,000 रुपये तक एनुअल मेंटेनेंस पैकेज भी मिलेगा। इसके तहत 60,000 किलोमीटर तक आप मेंटेनेंस से जुड़ा कोई भी काम करवा सकते हैंं। 

हमारा मानना है कि आपको एक बार स्कोडा रैपिड को चलाकर जरूर देखना चाहिए, ड्राइविंग के लिहाज से आपको रैपिड काफी पसंद आएगी। इसमें आपको एक शानदार परफॉर्मेंस और अच्छी खासी फ्यूल एफिशिएंसी मिलेगी। हालांकि इसके मुकाबले की कारों के कंपेरिजन में आपको इसमें स्पेस की थोड़ी परेशानी आ सकती है। मगर 4 लोगों की फैमिली के हिसाब से ये कार अच्छी है।

नई सेडान कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर सेडान कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?