• लॉगिन / रजिस्टर

2020 हुंडई क्रेटा: फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On जून 17, 2020 By cardekho for हुंडई क्रेटा

हुंडई के लिए क्रेटा एसयूवी काफी ज्यादा महत्व रखती है। और हो भी क्यों ना, पिछले 6 सालों से 10 लाख रुपये तक की कीमत में आने वाली इस कार को हर महीने 10,000 यूनिट बिक्री के आंकड़े प्राप्त होते हैं। कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में लगातार नई कारों के आ जाने से हुंडई ने क्रेटा को जनरेशन अपडेट दिया है जिससे ये अब पहले से ज्यादा प्रीमियम और नई हो गई है। हालांकि, इसकी कीमत में भी इजाफा हुआ है, मगर साथ ही फीचर लिस्ट भी बढ़ी है। तो क्या अब नई नवेली क्रेटा इस सेगमेंट में नंबर-1 का ताज अपने सिर बांधे रख पाने में कामयाब होती है? जानते हैं इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के जरिए:-

Hyundai Creta

एक्सटीरियर

Hyundai Creta

साइज के मामले में नई क्रेटा अपने पिछले जनरेशन मॉडल से ज्यादा लंबी और चौड़ी हो गई है। मगर पहले से इसकी ऊंचाई 30 मिलीमीटर कम भी हो गई है। हुंडई ऑरा की तरह नई क्रेटा के डिजाइन को लेकर भी लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं सुनने को मिली है। क्रेटा को ज्यादा से ज्यादा आकर्षक बनाने के लिए हुंडई के डिजाइनर्स ने कुछ ज्यादा ही कर दिखाया है, विशेषतौर पर इसके फ्रंट और रियर में। फ्रंट की बात करें तो यहां बड़ी सी हैक्सागॉनल ग्रिल दी गई है जिसमें क्रोम स्ट्रिप से आउटलाइनिंग की गई है जो काफी ज्यादा चमकदार है। इसके अलावा इसमें आइसक्यूब जैसी स्टाइलिशथ्री एलिमेंट एलईडी हेडलैंप दिए गए हैं जिनके ऊपर एलईडी डेटाइम रनिंग लैंप दिए हैं। टर्न इंडिकेटर्स को फॉगलैंप केसिंग में पोजिशन किया गया है। मगर, किया सेल्टोस के विपरीत इसमें एलईडी फॉगलैंप के बजाए हेलोजन यूनिट्स का इस्तेमाल किया गया है।

साइज़

साइज

पुराना मॉडल

नया मॉडल

लंबाई

4270मिलीमीटर

4300मिलीमीटर (+30मिलीमीटर)

चौड़ाई

1780मिलीमीटर

1790मिलीमीटर (+10मिलीमीटर)

ऊंचाई

1665मिलीमीटर

1635मिलीमीटर (-30मिलीमीटर)

व्हीलबेस

2590मिलीमीटर

2610मिलीमीटर (+20मिलीमीटर)

Hyundai Creta rear

फ्रंट की तुलना में इसके रियर प्रोफाइल में कुछ एलिमेंट्स का ज्यादा ही इस्तेमाल किया गया है। इसके भारी भरकम बूट सेक्शन को देखकर इसका पिछला हिस्सा काफी दमदार नजर आता है और टेललैंप से ब्लैक स्ट्रिप की कनेक्टिविटी जैसा एलिमेंट नई क्रेटा को एक अलग सा लुक देती है। साइड प्रोफाइल की बात करें तो जहां फ्लेयर्ड व्हील आर्क से इसे दमदार लुक मिलता है तो वहीं स्लोपिंग रूफलाइन के कारण ये काफी स्टाइलिश नजर आती है। पहले की तरह इसके डीजल वेरिएंट में शार्प और स्पोर्टी डिजाइन के अलॉय व्हील मिलते हैं। मगर, टर्बो पेट्रोल वर्जन के अलॉय व्हील का डिजाइन काफी सिंपल रखा गया है। टर्बो पेट्रोल वेरिएंट में इस एसयूवी के पिछले हिस्से पर 'टर्बो' बैजिंग दी गई है और इसमें आपको ब्लैक रूफ के साथ रेड एक्सटीरियर कलर का ऑप्शन भी मिलता है। कुल मिलाकर, क्रेटा 2020 को ज्यादा मॉर्डन लुक देने की कोशिश की गई है, मगर किया सेल्टोस के आगे इसकी चमक थोड़ी फीकी पड़ती है। 

इंटीरियर 

Hyundai Creta cabin (diesel variant)

Hyundai Creta cabin (turbo-petrol variant)

एक्सटीरियर के कंपेरिजन में न्यू जनरेशन हुंडई क्रेटा के इंटीरियर में ज्यादा अच्छे बदलाव हुए हैं। इसके डैशबोर्ड का डिजाइन एकदम सिंपल रखा गया है। सेंटर कंसोल वी शेप का है जिसके सेंटर में 10.25 इंच की हाई रेज्योलूशन डिस्प्ले दी गई है। इसके अलावा इसमें बड़ी सी टीएफटी ​स्क्रीन दी गई है जिसमें स्पीड, ट्रिप और टायर प्रेशर जैसी इंफॉर्मेशन देखी जा सकती है। इस डिस्प्ले के दोनों ओर टेकोमीटर और फ्यूल गेज के लिए एनालॉग डायल्स दिए गए हैं जिनका साइज काफी छोटा है और इससे उन्हें पढ़ने में समस्या आती है। जब बात क्वालिटी की आती है तो पिछले मॉडल के मुकाबले नई क्रेटा को एक कदम आगे रखा गया है, मगर इसमें कुछ कमियां भी है। उदाहरण के तौर पर डैशबोर्ड के टॉप पर स्पीकर ग्रिल को बेहतर फिनिशिंग दी जा सकती थी और यहां तक कि क्लाइमेट कंट्रोल और गियर सिलेक्टर के चारों ओर प्लास्टिक का इस्तेमाल काफी हल्का लगता है। वहीं इसके डैशबोर्ड पर भी बेवजह की स्टिचिंग की गई है जो आप इस बजट में आने वाली किसी कार में होने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। हां, मगर ऐसा केबिन में किसी और जगह पर देखने को नहीं मिलता है। 

Hyundai Creta front seats (diesel variant)

Hyundai Creta front seats (turbo-petrol variant)

इंटीरियर कलर ऑप्शंस की बात करें तो यदि आप 1.4 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन वाले वेरिएंट्स चुनते हैं तो आपको ऑल ब्लैक थीम का ऑप्शन मिलेगा। वहीं डीजल वेरिएंट्स में टू-टोन बैज और ब्लैक थीम दी गई है। नई क्रेटा की फ्रंट सीट्स बड़ी है जिनपर शानदार कुशनिंग होने के चलते पैसेंजर्स आराम से बैठ सकते हैं। इसके अलावा इसमें 8वे पावर्ड ड्राइवर सीट दी गई है, जिससे एक अच्छी ड्राइविंग पोजिशन हासिल करना आसान हो जाता है। इसमें टेलिस्कोपिक एडजस्टेबल स्टीयरिंग व्हील नहीं दिया गया है जो लगभग 20 लाख रुपये तक कीमत में आने वाली इस कार में एक बड़ी कमी है। 

Hyundai Creta rear seats (diesel variant)

Hyundai Creta rear seats (turbo-petrol variant)

नई क्रेटा की रियर सीट्स भी काफी कंफर्टेबल है जिनमें अच्छा खासा शोल्डर रूम और नीरूम स्पेस मिलता है। हुंडई ने इसकी बैक सीट्स के बेस के पिछले पोर्शन को ज्यादा घुमावदार बना दिया है जिससे इसमें अच्छा खासा हेडरूम और अंडरथाई सपोर्ट मिलता है। रियर सीट्स पर बैठकर ट्रैवलिंग को और भी खास बनाने के लिए इसमें पैनोरमिक सनरूफ का फीचर दिया गया जिससे केबिन में एक खुलेपन का अहसास होता है। इसके अलावा इसकी पीछे की सीटों में रियर विंडो सनब्लाइंड्स और टू स्टेप बैकरेस्ट का फीचर भी दिया गया है। इसकी चौड़ी सीटों पर तीन पैसेंजर्स आराम से बैठ सकते हैं। आश्चर्य की बात ये है कि हुंडई ने बीच में बैठने वाले पैसेंजर के लिए एडजस्टेबल हेडरेस्ट का फीचर नहीं दिया है जो कि किया सेल्टोस में मिलता है। नई हुंडई क्रेटा के केबिन में काफी सारे स्टोरेज स्पेस दिए गए हैं। गियर लिवर के पीछे दो अलग-अलग साइज के कपहोल्डर्स दिए गए हैं जिनमें एक पानी की बोतल और एक कप रखे जा सकते हैं। इसमें दिए गए डोर पॉकेट भी काफी बड़े हैं और ग्लवबॉक्स की गहराई भी अच्छी खासी है। इसमें अच्छा खासा बूटस्पेस दिया गया है, मगर सेगमेंट की दूसरी कारों में इससे भी अच्छा बूटस्पेस दिया गया है। बता दें कि नई क्रेटा में 433 लीटर का बूटस्पेस दिया गया है। वहीं 60:40 में बंटने वाली इसकी रियर सीट्स को फोल्ड करके और भी स्पेस तैयार कर सकते हैं। 

Hyundai Creta cupholders

Hyundai Creta boot

यह भी पढ़ें : हुंडई क्रेटा vs किया सेल्टोस : जानिए स्पेस के मामले में कौनसी एसयूवी है बेहतर

टेक्नोलॉजी और फीचर्स

Hyundai Creta headlamps with LED DRLs

Hyundai Creta air purifier

क्रेटा के टॉप लाइन वेरिएंट्स काफी फीचर लोडेड हैं। इनमें एलईडी हेडलैंप्स और एलईडी डेटाइम रनिंग लैंप्स जैसे फीचर्स दिए गए हैं तो वहीं बॉटम लाइन वेरिएंट्स में बाय फंक्शनल हेलोजन प्रोजेक्टर हेडलैंप्स जैसे फीचर्स दिए गए हैं। इसके अलावा इसमें एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले कनेक्टिविटी, इलेक्ट्रॉनिक पार्किंग ब्रेक, कूल्ड फ्रंट सीट्स, ऑटोमैटिक वेरिएंट्स में पैडल शिफ्टर्स और एयर प्योरिफायर जैसे फीचर्स भी दिए गए हैं। इसमें ऑटोमैटिक हेडलैंप का फीचर तो दिया गया है, मगर ऑटो वायपर की कमी जरूर खलती है। 

Hyundai Creta electronic parking brake

2020 क्रेटा कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी से लैस है। इसमें दिया गया ब्लूलिंक सिस्टम कार ओनर को अपनी गाड़ी ट्रैक करने, जिओ फेसिंग सेटअप और कहीं से भी इंजन को ऑन या ऑफ करने की सुविधा देता है। ये फीचर इसके मैनुअल वेरिएंट्स तक में दिया गया है, मगर ये केवल टॉप लाइन एसएक्स ओ तक ही सीमित है। बता दें कि मैनुअल वेरिएंट के लिए क्रेटा में दिया गया इलेक्ट्रॉनिक पार्किंग ब्रेक रिमोट इंजन स्टार्ट के लिए जरूरी है। 

परफॉर्मेंस

Hyundai Creta 1.4-litre turbo-petrol engine

सेल्टोस की तरह नई हुंडई क्रेटा में दो पेट्रोल और एक डीजल इंजन का ऑप्शन दिया गया है। इस रोड टेस्ट में हमने डीजल मैनुअल और टर्बो पेट्रोल ऑटोमैटिक का इस्तेमाल किया है। टर्बो पेट्रोल इंजन के तौर पर इसमें किया सेल्टोस वाला 1353 सीसी इंजन दिया गया है जो इसी एसयूवी के बराबर 140 पीएस की पावर और 242 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस इंजन के साथ 7-स्पीड ड्यूल क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स दिया गया है। सेल्टोस से अलग क्रेटा के टर्बो पेट्रोल वेरिएंट के साथ मैनुअल गियरबॉक्स का ऑप्शन नहीं दिया गया है। 

Hyundai Creta Drive mode selector

यदि आप रफ्तार के शौकीन है तो आपको इसका टर्बो पेट्रोल वर्जन आपको काफी पसंद आएगा। जैसे ही आप एक्सलेटर पर अपना पैर रखते हैं तो इसका इंजन तुरंत ही हरकत में आ जाता है जिसके बाद ये स्मूदली गाड़ी को आगे बढ़ाने में मदद करता है। 

इसमें 1500 आरपीएम से नीचे पीक टॉर्क मिलती है और इसके बाद इंजन 6000 आरपीएम तक खिंच जाता है। नई क्रेटा में तीन ड्राइविंग मोड्स: ‘नॉर्मल’, ‘स्पोर्ट’ और ‘ईको’ दिए गए हैं। ‘नॉर्मल’ और ‘ईको’ मोड में गियरबॉक्स जल्दी से अपशिफ्ट होते हैं जिससे फ्यूल की बचत होती है, वहीं स्पोर्ट मोड में ये कार कम से कम गियर पर ही रहती है। ‘नॉर्मल’ और ‘ईको’ मोड पर क्रेटा के इंजन से अच्छी खासी पावर जनरेट होती है और इन मोड्स पर ये काफी स्मूद भी रहता है। 'स्पोर्ट' मोड पर इसका गियरबॉक्स काफी ​फुर्तिला हो जाता है और ऊपर के गियर्स काफी देर तक होल्ड करे रखता है, मगर यह थ्रॉटल रिस्पॉन्स को थोड़ा कठोर बना देता है। इससे धीमी स्पीड पर गाड़ी चलाना मुश्किल हो जाता है। हमारे द्वारा इसके परफॉर्मेंस को लेकर किए गए टेस्ट में इसने आश्चर्यजनक रूप से 'नॉर्मल' मोड में ही काफी तेज गति हासिल कर ली। ऐसा इसलिए भी हुआ क्योंकि पावर मिलने के अनुसार ही गियरबॉक्स गियर्स को शिफ्ट और होल्ड करता चला गया। हमारे द्वारा किए टेस्ट में क्रेटा को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड हासिल करने में 9.4 सेकंड का समय लगा। इसका इंजन धीमी और तेज स्पीड पर भी काफी स्मूद रहता है, मगर 4000 आरपीएम पर इसमें फोक्सवैगन और स्कोडा की कारों में दिए गए 4-सिलेंडर टीएसआई इंजन जैसी स्मूदनैस नहीं रहती है। 

Hyundai Creta 1.5-litre diesel engine

दूसरी तरफ इसके डीजल इंजन की बात करें तो यह यूनिट पुराने मॉडल वाली ही है जिसे बीएस6 नॉर्म्स के अनुसार अपग्रेड किया गया है। यह 1.5 लीटर इंजन 115 पीएस की पावर जनरेट करने में सक्षम है जो पहले 13 पीएस ज्यादा पावर देता था। रिफाइनमेंट और स्मूदनैस के मोर्चे पर ये इंजन काफी अच्छा है। इसमें हल्का सा टर्बो लैग आता है जिससे कम से कम गियर शिफ्ट होते हैं। इस तरह सिटी में ड्राइव करने के लिहाज से क्रेटा डीजल मैनुअल वेरिएंट काफी अच्छा साबित होता है। वहीं, हाईवे पर भी इस इंजन से इतनी पावर तो मिल ही जाती है कि ओवरटेक करने में कोई परेशानी नहीं होती है और ये तेज स्पीड में भी आराम से चलती रहती है। हमारे द्वारा किए परफॉर्मेंस टेस्ट में क्रेटा डीजल को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार हासिल करने में 12.24 सेकंड्स का समय लगा जो पुराने मॉडल के हिसाब से थोड़ा ज्यादा है। मगर इसकी अच्छी ड्राइवरेबिलिटी की वजह से ये तीसरे गियर में 6.85 सेंकड के अंदर 30 किमी प्रति घंटे से लेकर 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है। 

राइड और हैंडलिंग

Hyundai Creta

नई क्रेटा का सस्पेंशन सेटअप काफी अच्छा है। सिटी में इसके सस्पेंशन 17 इंच बड़े व्हील होने के बावजूद भी गड्ढों और खराब सड़कों से आने वाले झटकों को आराम से झेल लेते हैं। यहां तक की कुछ ज्यादा ही टूटी फूटी सड़कों पर इसके सस्पेंशन बिना आवाज किए झटकों को एब्सॉर्ब कर लेते हैं। तेज स्पीड में भी हुंडई की क्रेटा कार काफी बैलेंस्ड रहती है और हाईवे पर अच्छी राइड मिलती है। इसके अलावा क्रेटा के केबिन में टायरों की आवाज भी नहीं आती है। 

Hyundai Creta

इसके पुराने मॉडल में तेज स्पीड के दौरान थोड़ा सा डर लगा रहता था, जबकि नई क्रेटा में इसका अहसास बिल्कुल नहीं होता है। यहां तक कि कॉर्नर्स पर भी नई क्रेटा तुरंत से अपना डायरेक्शन बदल लेती है। इसका स्टीयरिंग भी काफी स्मूद और एक्यूरेट है, मगर फ्रंट व्हील की पोजिशनिंग पता करने में थोड़ी परेशानी आती है और बॉडी रोल की भी थोड़ी-बहुत समस्या रहती है। 

वेरिएंट

Hyundai Creta

नई क्रेटा 5 वेरिएंट में उपलब्ध है, मगर ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प केवल टॉप लाइन एसएक्स और एसएक्स (ओ) में ही दिया गया है। यदि किसी के पास बजट की कमी है तो उसके लिए इसका ईएक्स वेरिएंट वैल्यू फॉर मनी साबित होगा, क्योंकि इसमें काफी अच्छे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं। इसके अलावा हुंडई मोटर्स नई क्रेटा के साथ 3 साल/अनलिमिटेड किलोमीटर की वॉरन्टी की भी पेशकश कर रही है, जिसे 5 साल के लिए एक्सटेंड कराया जा सकता है। 

सेफ्टी

Hyundai Creta airbag

हुंडई ने क्रेटा 2020 में काफी अच्छे खासे सेफ्टी फीचर्स दिए हैं। इसका टॉप वेरिएंट 6 एयरबैग से लैस है जबकि बाकि वेरिएंट्स में केवल दो एयरबैग दिए गए हैं। 

इसके अलावा इसमें एबीएस के साथ ईबीडी और रियर पार्किंग सेंसर का फीचर सभी वेरिएंट में स्टैंडर्ड दिया गया है। इसमें दिए गए अन्य सेफ्टी फीचर्स में इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल (ईएससी), व्हीकल स्टेबिलिटी मैनेजमेंट कंट्रोल और हिल स्टार्ट असिस्ट कंट्रोल भी शामिल है जो केवल टॉप लाइन वेरिएंट एसएक्स और एसएक्स (ओ) में ही दिए गए हैं। चाइल्ड सीट के लिए एंकर पॉइन्ट और रियर व्हील पर डिस्क ब्रेक का फीचर भी केवल इन्हीं दो वेरिएंट्स में दिया गया है। वहीं, रियर पार्किंग कैमरा केवल एस, एसएक्स और एसएक्स (ओ) में ही दिया गया है।   

निष्कर्ष

Hyundai Creta

2020 हुंडई क्रेटा ने हमें काफी इंप्रेस किया। इसमें स्पेस की कोई कमी नहीं है, ये कंफर्टेबल, फीचर लोडेड और चलाने में काफी आसान है। इसका पेट्रोल और डीजल इंजन भी काफी पावरफुल है। पुराने मॉडल के कंपेरिजन में इसे काफी अच्छी तरह से अपग्रेड किया गया है। हालांकि इसमें फ्रंट पार्किंग सेंसर और टेलीस्कोपिक स्टीयरिंग एडजस्ट जैसी कुछ कमियां भी है। मगर इसके बावजूद भी हुंडई क्रेटा 2020 एक शानदार प्रोडक्ट साबित होता है।

यह भी पढ़ें : किया सेल्टोस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?