• लॉगिन / रजिस्टर

पुरानी कारों पर अब सरकार लगाएगी नया ग्रीन टैक्स, जानिए क्या है ये और क्या है इसके प्रति लोगों की प्रतिक्रिया

प्रकाशित: जनवरी 27, 2021 11:51 am । भानु

  • 2964 व्यूज़
  • Write a कमेंट

दुनिया के कुछ विकसित देशों में प्रदूषण पर नियंत्रण को लेकर सख्त से सख्त कदम उठाए जाने की कोशिशें लगातार की जा रही हैं। इस दिशा में भारत में भी काम किए जा रहे हैं। 25 जनवरी को केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने पुराने वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाए जाने वाले प्रस्ताव को मंजूरी दी है। 

ग्रीन टैक्स व्हीकल्स की यूटिलिटी के अनुसार अलग अलग तरह से वसूला जाएगा। ऐसे में चलिए नजर डालते हैं इसकी प्रमुख बातों परः

  • फिटनैस सर्टिफिकेट रिन्यू कराने के समय 15 साल से ज्यादा पुराने व्हीकल्स पर ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा। 
  • इस टैक्स की रेट रोड टैक्स के बेस पर कैल्कुलेट की जाएगी और ये व्हीकल के टाइप और फ्यूल टाइप के अनुसार भिन्न होगा। 
  • देश के सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों में पुराने वाहनों पर सबसे ज्यादा ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा जो कि रोड टैक्स का 50 प्रतिशत होगा। 

दूसरी तरफ पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्हीकल जैसे कि बस, ऑटो आदि पर कम ग्रीन टैक्स लगेगा, वहीं ट्रांसपोर्ट व्हीकल्स पर 8 साल के बाद फिटनैस रिन्यूअल के समय ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा। 

कुछ वाहनों को ग्रीन टैक्स में छूट दी गई है जो इस प्रकार से हैः

  • सरकार ने कुछ वाहनों को ग्रीन टैक्स से दूर रखा है जिनमें स्ट्राॅन्ग हाइब्रिड, इलेक्ट्रिक व्हीकल्स और सीएनजी, एलपीजी एवं एथेनाॅल जैसे वैकल्पिक फ्यूल पर चलने वाले व्हीकल्स शामिल है। 
  • इसके अलावा खेती के काम में आने वाले ट्रैक्टर्स, हार्वेस्टर्स और टिलर्स को भी ग्रीन टैक्स से दूर रखा गया है। 

ग्रीन टैक्स के रूप में अर्जित होने जाने वाले रेवेन्यू को एक अलग अकाउंट में रखा जाएगा जिसे बाद में ‘प्रदूषण नियंत्रण’ के काम में ही लिया जाएगा। इस घोषणा के साथ ही सरकार ने व्हीकल स्क्रैपेज पाॅलिसी को भी मंजूरी दे दी है जिसमें 15 साल पुराने सरकारी वाहनों को कबाड़ में तब्दील कर दिया जाएगा। ये पाॅलिसी 1 अप्रैल 2022 तक लागू की जाएगी। 

हालांकि ये बड़ी घोषणा गणतंत्र दिवस जैसे बड़े कार्यक्रमों के कारण कहीं ना कहीं दब गई, मगर कुछ लोगों ने सोशल मीडिया के जरिए इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी। कुछ लोगों ने कहा कि वैसे ही हमारी अर्थव्यवस्था इस वक्त बुरी तरह से चरमराई हुई है और पेट्रोल डीजल के दाम अपने सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच चुके हैं, ऐसे में एक और टैक्स लाए जाने से लोगों पर ज्यादा बोझ पड़ेगा। नए ग्रीन टैक्स को लेकर लोगों ने क्या कुछ कहा इन तस्वीरों में देखिएः

सोशल मीडिया पर बहुत कम ही लोग ऐसे थे जिन्होंने सरकार द्वारा ग्रीन टैक्स वसूलने के फैसले का स्वागत किया। इन लोगों का कहना था कि देश में प्रदूषण पर नियंत्रण की दिशा में ये सराहनीय कदम होगा। 

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
आपका शहर कौन सा है?