• लॉगिन / रजिस्टर

टोयोटा वेलफायर: फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On feb 28, 2020 By bhanu for टोयोटा वेलफायर

टोयोटा इंडिया ने लग्जरी एमपीवी वेलफायर को भारत में लॉन्च कर दिया है। कंपनी ने इसकी प्राइस 79.50 लाख रुपये रखी है। अब आप ये सोच रहे होंगे कि भारतीय बाज़ार के लिए मास मार्केट कार बनाने वाली टोयोटा ने इस एमपीवी की कीमत इतनी ज्यादा क्यों रखी? तो इसका जवाब आपको इसकी लग्जरी सीटें देखकर भी मिल सकता है जो ज्यादा स्पेशियस होने के साथ-साथ ब्रिटिश एयरवेज़ के 747 विमान की बिजनेस क्लास काउच जैसा कंफर्ट देती हैं। मगर, इस कार में और भी कई ऐसी खूबियां छुपी हुई हैं जो हम इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के ज़रिए आपको आगे बताने वाले हैं, साथ ही इसकी कीमत को देखते हुए हमारी राय भी दे रहे हैं कि आपको यह कार लेनी चाहिए कि नही:- 

जापानी कारों जैसा है इसका लुक

टोयोटा वेलफायर में स्प्लिट हेडलैंप के साथ किसी कवच जैसी दिखाई देने वाली दो भागो में बंटी बड़ी-सी क्रोम ग्रिल दी गई है जो काफी आकर्षक लगती है। वेलफायर को सामने से देखकर तो कोई भी इसकी कीमत ​का अंदाज़ा लगा सकता है, मगर इसका रोड प्रजेंस किया कार्निवल जितना खास नहीं है। 

इसका साइड प्रोफाइल वैसे तो एकदम सपाट नज़र आता है, मगर शार्क मछली के पर जैसा बी-पिलर इसे थोड़ा अलग लुक देने का काम करता है। इसका ग्लास एरिया काफी बड़ा है, वहीं इसमें रियर विंडो पर रैपअराउंड ग्लास दिए गए हैं। इसके 225/60 आर17 व्हील पर डार्क ​फिनिशिंग क्रोम का इस्तेमाल किया गया है जो इस एमपीवी के पूरे लुक को स्टाइलिश बनाता है। 

टोयोटा वेलफायर के साइज़ की बात करें तो मर्सिडीज़ बेंज वी-क्लास और किया कार्निवल इससे ज्यादा लंबी, चौड़ी और लंबे व्हीलबेस वाली कारें हैं। हालांकि, इन दोनों कारों के मुकाबले वेलफायर की ऊंचाई ज्यादा है। 

इस एमपीवी का बैक प्रोफाइल किसी रेग्यूलर एमपीवी कार जैसा ही है। हालांकि, इसके डिज़ाइनर टेललैंप काफी ज्यादा आकर्षक लगते हैं। इनमें रेक्टेंग्यूलर शेप की एलईडी लगी हैं जिनके ऊपर से एक मोटी क्रोम बार गुजर रही है जो आगे जाकर दूसरे टेललैंप से कनेक्ट होती है। इसमें नई डिज़ाइन के इंडिकेटर्स लगे हैं जो दिखने में काफी शार्प लगते हैं। कुल मिलाकर वेलफायर एमपीवी का एक्सटीरियर काफी ज्यादा रिच है। 

यदि आपके पास बजट की कोई कमी नहीं है और आप एक लग्जरी एमपीवी पर ही इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो हमारी नज़र में आपको लेक्सस एलएम 300एच की तरफ भी देखना चाहिए। बता दें कि लेक्सस एलएम 300एच भी एक एमपीवी ही है। 

क्या खास है इसके इंटीरियर में:-

वेलफायर की सेंकड रो सीट्स को देखकर ही आपको समझ आ जाएगा कि टोयोटा ने इसकी प्राइस इतनी ज्यादा क्यों रखी है। दूसरी बड़े साइज़ की एमपीवी की तरह इसमें पावर्ड और स्लाइड बैक फंक्शन वाले साइड डोर दिए गए हैं। कार के केबिन में प्रवेश करते ही आपको किसी इंटरनेशनल फ्लाइट के ​बिजनेस क्लास केबिन में होने का अहसास हो जाएगा। टोयोटा का तो यहां तक कहना है कि इस कार को इसकी सीटों के इर्द गिर्द ही डिजाइन किया गया है, यानी पहले इसकी सीटें तैयार की गई बाद में इसको डिज़ाइन किया गया है।

वेलफायर में दो अपहोल्स्ट्री ऑप्शन ब्लैक और फ्लैक्सन (बैज कलर) दिए गए हैं। इसकी सीटों का साइज़ काफी बड़ा है और इनपर बैठते ही अपने किसी आरामदायक सोफे पर बैठने जैसा अहसास हो जाता है। इसके आर्मरेस्ट काफी लंबे हैं जिनपर एक्सट्रा कंफर्ट के लिए सॉफ्ट लैदर अपहोल्स्ट्री का इस्तेमाल किया गया है। कार की सीटें पूरी तरह लैदर से कवर की गई है जो काफी ज्यादा प्रीमियम नज़र आती हैं। 

वेलफायर के आर्मरेस्ट के अंदर कंट्रोल पैनल दिया गया है। इसमें काफी सारे बटन दिए गए हैं जो अलग-अलग फंक्शंस को कंट्रोल करने के काम में आते हैं। कंट्रोल पैनल के ज़रिए आप इलेक्ट्रिकली बैकरेस्ट को ​रिक्लाइन यानी पीछे की तरफ धकेल सकते हैं और साथ ही फुटरेस्ट के एंगल को भी आगे तक ले जा सकते हैं। इसके अलावा इसमें दो मैमोरी सेटिंग्स भी दी गई हैं जिससे आपकी वेलफायर आगे से याद रखेगी कि आपको किस सीटिंग पोजिशन पर बैठने में कंफर्टेबल महसूस होता है। हालांकि इसमें सीट को वापस मैनुअली सीधा खड़ा करना पड़ता है। वहीं वेलफायर की थर्ड-रो सीटों पर सेकंड-रो की सीटों को मैनुअली आगे धकेलने के बाद ही पहुंचा जा सकता है। 

इस एमपीवी में सेकंड-रो सीटों पर भी कूल्ड और हीटेड फंक्शन दिए गए हैं। यह फीचर भारत के भीषण गर्मी वाले मौसम के हिसाब से काफी अच्छा है जो देश में उपलब्ध लिमोजीन सेडान कारों तक में नहीं दिया गया है। इसके अलावा हर पैसेंजर के लिए इसमें स्पॉटलाइट रीडिंग लैंप का फीचर भी दिया गया है जिन्हें आर्मरेस्ट के अंदर दिए गए कंट्रोल पैनल से ऑपरेट किया जा सकता है। इसके हैडरेस्ट भी काफी यूनीक और कंफर्टेबल हैं जिनके साइड में भी कुशन दिया गया है जो सोते समय बड़े काम आते हैं। रियर क्लाइमेट कंट्रोल के लिए कार की सनरूफ के आगे बटन दिए गए हैं और इन तक पहुंचने के लिए पूरी तरह से उठना नहीं पड़ता है। 

वेलफायर की बड़ी-बड़ी सीटों पर कैसी भी कद काठी के लोग आराम से बैठ सकते हैं। सेकंड-रो पर बैठने वाले दोनों पैसेंजर अपने घुटने को फ्रंट सीट से लगाते हुए अपनी-अपनी सीटों को पूरी तरह पीछे कर सकते हैं। और यदि कार की थर्ड-रो सीट्स पर भी कोई बैठा हो तो आपकी सीट उनसे नहीं टकराएगी क्योंकि यहां काफी अच्छा लेगरूम स्पेस दिया गया है। कुल मिलाकर इस कार में 6 फुट तक लंबे पैसेंजर्स एक दूसरे के आगे पीछे आराम से बैठ सकते हैं। 

इसकी रियर सीट पर एंटरटेनमेंट स्क्रीन का फीचर भी दिया गया है। एंटरटेनमेंट स्क्रीन के तौर पर इसमें 13 इंच का मॉनिटर दिया गया है जो रूफ से निकलकर बाहर आता है और यह टिल्ट एडजस्टेबल भी है। इसमें एचडीएमआई और फोन मिररिंग के ज़रिए वीडियो देखे जा सकते हैं, वहीं इसमें एफएम और कॉम्पैक्ट डिस्क (सीडी) के ज़रिए म्यूजिक प्ले करने का भी ऑप्शन दिया गया है। कार के केबिन में 17 जेबीएल स्पीकर्स के ज़रिए साउंड निकलता है। इसकी साउंड क्वालिटी इतनी अच्छी है जो शायद किसी फ्लाइट के फर्स्ट क्लास केबिन में भी नहीं सुनने को मिलता है। 

कंपनी ने ऊपर बताए गए सभी फीचर्स को कार के केबिन में काफी शानदार तरीके से फिट किया है। मिडिल-रो पैसेंजर्स के लिए इसमें आर्मरेस्ट के अंदर कपहोल्डर्स के साथ लैपटॉप या कोई दूसरा सामान रखने के लिए फोल्डेबल टेबल भी दी गई है। इसके अलावा आर्मरेस्ट में ही रियर मॉनिटर रिमोट और फोन रखने के लिए स्टोरेज स्पेस ​भी दिया गया है। कार के फ्रंट सेंटर कंसोल में बड़ा स्टोरेज स्पेस दिया गया है, वहीं कार के पीछे बड़े स्टोरेज बॉक्स के साथ एक छोटा बॉक्स भी दिया गया है। 

वेलफायर के केबिन में हमें जो चीज़ पसंद नहीं आई वो ये कि इसमें रियर सीट पर किसी भी तरह के चार्जिंग ऑपशंस नहीं दिए गए हैं। इसमें ना ही आपको 12 वोल्ट सॉकेट, यूएसबी पोर्ट और ना ही 220 वोल्ट का लैपटॉप चार्जर मिलेगा। इसमें केवल फ्रंट आर्मरेस्ट पर ही 12 वोल्ट सॉकेट और यूएसबी पोर्ट दिए गए हैं। ऐसे में ​यदि आपको पीछे बैठे-बैठे अपना फोन या लैपटॉप चार्ज करना हो तो अपने साथ हमेशा एक लंबी चार्जिंग केबल लेकर चलें। 

कैसे सेफ्टी फीचर्स से लैस है ये एमपीवी ?

इस एमपीवी में 7 एयरबैग के साथ 360 डिग्री कैमरा, फ्रंट और रियर पार्किंग सेंसर, वीएससी (व्हीकल स्टेबिलिटी कंट्रोल), वीडीआईएम (व्हीकल डायनामिक इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट), हिल स्टार्ट असिस्ट कंट्रोल, ब्रेक होल्ड, एबीएस, ईबीडी,बीए, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, ईमोबिलाइज़र और अलार्म जैसे सेफ्टी फीचर्स दिए गए हैं। 

इसमें कितना लगेज लेकर जाया जा सकता है?

यह सवाल इस बात पर निर्भर करता है कि इस 6-सीटर एमपीवी में कितने पैसेंजर्स बैठने वाले हैं। क्योंकि, कार की रियर सीट्स के चलते बूट स्पेस के लिए जगह ही नहीं बनती है। हालांकि, ज्यादा पैसेंजर्स सवार ना हो तो इन सीटों को फोल्ड करके उनके ऊपर लगेज रखा जा सकता है, मगर ये बूट स्पेस की समस्या का सही ईलाज नहीं है। इनोवा क्रिस्टा की तरह इन सीटों को उठाकर साइड में भी शिफ्ट किया जा सकता है, मगर यह फीचर केवल मिडिल-रो सीट पर ही उपलब्ध है। कार के फ्लोर के नीचे 140 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है, मगर उसमें भी स्पेयर व्हील डाल दिया गया है। यदि स्पेयर व्हील को हटा भी दिया जाए तो इस स्पेस सेक्शन की ऊंचाई इतनी कम है कि बड़े सूटकेस को नहीं रखा जा सकता है। हां, मगर लैपटॉप बैग या छोटे बैग को आप यहां आराम से रख सकते हैं। कुल मिलाकर टोयोटा वेलफायर में बूट स्पेस की समस्या बनी रहती है। 

क्या इसे पूरी तरह से इलेक्ट्रिक मोड पर चलाया जा सकता है?

टोयोटा वेलफायर को 60 प्रतिशत तक इलेक्ट्रिक मोड पर चलाया जा सकता है। इसमें सेल्फ चार्जिंग हाइब्रिड सिस्टम दिया गया है जिसमें दो इलेक्ट्रिक मोटर, एक जनरेटर और 2.5 लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है।  इसमें कंप्यूटर ब्रेन भी दिया गया है जो ड्राइविंग कंडीशन को देखते हुए यह तय करता है कि इसे पूरी तरह​ इलेक्ट्रिक मोड या आईसीई मोड या फिर दोनों मोड पर मिक्स करते हुए चलाया जा सकता है या नहीं।  

कार को ऑल-व्हील-ड्राइव पर चलाने की जरूरत पड़ने पर इसके रियर एक्सल पर दी गई इलेक्ट्रिक मोटर काम करने लगती है। इसमें एक जनरेटर भी दिया गया है जिससे कार की बैट्रियां अपने आप चार्ज हो जाती हैं। यह बैट्री पैक निकल मैटल हाइड्राइड से बना है ना कि लिथियम आयन से और यह रैपिड चार्जिंग को अच्छे से सपोर्ट भी करता है। 

जैसा की हमने पहले भी बताया इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितनी लंबी दूरी पर जाने वाले हैं आप इसे 60 प्रतिशत इलेक्ट्रिक मोड और 40 प्रतिशत आईसीई मोड पर ही चला सकते हैं। ऐसे में टोयोटा वेलफायर से आपको 16.35 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज मिल ही जाएगा। इसके इंजन और मोटर का आउटपुट कुछ इस प्रकार है:-

इंजन: पेट्रोल हाइब्रिड

सीसी: 2494

अधिकतम आउटपुट: 115पीएस@4700 आरपीएम

अधिकतम टॉर्क: 198एनएम@ 2800-4000 आरपीएम

फ्रंट मोटर आउटपुट: 140पीएस@4500 आरपीएम

रियर मोटर आउटपुट: 53पीएस@4608 आरपीएम

गियरबॉक्स: सीवीटी

हमने टोयोटा वेलफायर की टेस्ट राइड कंपनी के प्लांट में ही की, जिससे हमें इस एमपीवी के साथ ज्यादा वक्त बिताने का मौका नहीं मिला। हमें इसे केवल 60 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार पर चलाने की ही छूट दी गई थी। इस दरम्यान ज्यादातर यह कार इलेक्ट्रिक मोड पर ही रही। स्मूद ट्रैक पर चलाए जाने के बावजूद इसकी राइड क्वालिटी में थोड़ी बहुत कमी नज़र आई। साथ ही इसकी सेकंड-रो पर बैठने पर बॉडी रोल भी महसूस हुआ। हालांकि, इस बड़ी सी एमपीवी को थोड़े मुश्किलों में चलाने के बाद ही पता चलेगा कि इसकी राइड क्वालिटी कैसी है। और हम आगे जरूर इस बारे में बताएंगे। 

तो क्या आपको लेनी चाहिए टोयोटा की यह एमपीवी 

यदि आपके मन में ज़रा भी ये सवाल उठ रहा है कि क्या वेलफायर आपके लिए एक सही चॉइस साबित होगी? तो हमारी राय है नही! क्योंकि यह कार उनके लिए नहीं है जो अपनी फैमिली के लिए एक ज्यादा स्पेस वाली लग्ज़री कार की तलाश में हैं। ऐसे ग्राहकों के लिए बाज़ार में काफी सारी बजट फ्रैंडली एसयूवी और सेडान कारें मौजूद हैं जो स्पेस और लग्जरी की जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है। 

टोयोटा वेलफायर उन ग्राहकों के लिए है जो एक बड़ी सी कार में कंफर्टेबल होकर बैठकर जाने का शौक रखते हैं। यह कार ना सिर्फ ऐसे लोगों को भीड़ से अलग दिखाती है बल्कि लग्ज़री अहसास का सही मतलब भी महसूस कराती है। 

सही मायनो में टोयोटा वेलफायर को केवल इनोवा से अपग्रेड होकर ही खरीदा जा सकता है। चूंकि, इस एमपीवी को सीधा जापान से इंपोर्ट करके ही मंगाया जा सकता है, ऐसे में ये कार केवल उन लोगों के लिए ही बनी है जिनमें इसकी प्राइस को अफोर्ड करने का दम हो।

लेटेस्ट एमयूवी कारें

अपकमिंग एमयूवी कारें

पॉपुलर एमयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?