• लॉगिन / रजिस्टर

हुंडई ऑरा फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On Jan 31, 2020 By Bhanu for हुंडई Aura

हुंडई मोटर्स ने अपनी सब-4 मीटर सेडान ऑरा को भारत में लॉन्च कर दिया है। यह हुंडई एक्सेंट का न्यू जनरेशन मॉडल है, जो ग्रैंड आई10 निओस पर बेस्ड है। कंपनी ने इसकी कीमत के लिहाज़ से इसमें काफी अच्छे फीचर्स के साथ-साथ प्रीमियम इंटीरियर और आपकी ज़रूरत के हिसाब से कई इंजन गियरबॉक्स का कॉम्बिनेशन दिया है। कंपनी का कहना है कि हुंडई ऑरा हर तरह के ग्राहकों को पसंद आने वाली सेडान है। क्या असल में हर मोर्चे पर ये एक अच्छी कार साबित होती है? जानेंगे हमारे इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के ज़रिए:-

कैसा है इसका एक्सटीरियर

हुंडई ऑरा का पिछला हिस्सा देखने में थोड़ा अजीब लगता है। मगर इसमें टेललैंप पर शार्प एलईडी जैसे एलिमेंट्स आपको काफी पसंद आए्ंगे। इसे पीछे से देखकर हमें ऐसा महसूस हुआ कि हुंडई मोटर्स को इसमें टेललैंप के बीच में पियानो ब्लैक क्रोम स्ट्रिप का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था। 

हुंडई ऑरा का साइड प्रोफाइल 80 प्रतिशत तक ग्रैंड आई10 निओस जैसा ही है। आपकी नज़र इसकी स्लोपिंग रूफ पर जरूर पड़ेगी, मगर साथ ही इसके सी-पिलर पर ग्लॉस ब्लैक कलर का एलिमेंट आपको थोड़ा अटपटा लग सकता है। 


हुंडई ऑरा में 15 इंच के अलॉय व्हील दिए गए हैं। इसके टायरों का साइज़ निओस के बराबर (175/60 आर15) ही है जो कि एक छोटी सेडान के लिए पर्याप्त माने जा सकते हैं। क्रोम डोर हैंडल्स और शार्क फिन एंटिना इस कार की ​डीटेलिंग को थोड़ा बेहतर बनाते हैं। 

हुंडई ऑरा के स्मोक्ड आउट प्रोजेक्टर हेडलैंप, बोनट, शार्प बंपर और प्रोजेक्टर फॉगलैंप का डिज़ाइन निओस जैसा ही है। हालांकि, इसमें एक के बजाए दोनों साइड पर डे-टाइम रनिंग लैंप का फीचर दिया गया है। आप ठीक से गौर करेंगे तो पाएंगे कि ऑरा में हॉरिजॉन्टल स्लैट्स के बजाए हनीकॉम्ब पैटर्न वाली फ्रंट ग्रिल दी गई है। 

इसके टर्बो पेट्रोल इंजन वाले वेरिएंट में फ्रंट ग्रिल की डीटेलिंग थोड़ी अलग है, इसमें रिच ग्लॉस ब्लैक फिनिशिंग की गई है। यहां ग्रिल पर ही 'टर्बो' नाम की बैजिंग भी दी गई है। हुंडई ऑरा में ड्यूल टोन पेंट स्कीम, बड़े अलॉय व्हील और एग्जास्ट की कमी महसूस होती है। 

कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है कि फ्रंट और साइड से हुंडई ऑरा काफी हद त​क निओस जैसी ही है। इस पांच सीटों वाली हुंडई कार का डिज़ाइन उतना आकर्षक तो नहीं है फिर भी ये दिखने में प्रीमियम और अच्छी बिल्ट क्वालिटी वाली कार लगती है। लंबाई और व्हीलबेस के मोर्चे पर ये कार सब-4 मीटर सेगमेंट में मौजूद दूसरी कारों को जरूर टक्कर देती है, मगर ये ज्यादा चौड़ी नहीं है।   

साइज़

 

हुंडई ऑरा

मारुति सुज़ुकी डिज़ायर

होंडा अमेज़

फोर्ड एस्पायर

फोक्सवैगन एमियो

लंबाई (मिलीमीटर)

3995

3995

3995

3995

3995

चौड़ाई (मिलीमीटर)

1680

1735

1695

1704

1682

ऊंचाई  (मिलीमीटर)

1520

1515

1501

1525

1483

व्हीलबेस (मिलीमीटर)

2450

2450

2470

2490

2470

कैसा है इसका इंटीरियर

हुंडई ऑरा के केबिन में दाखिल होते ही काफी हद तक ये आपको ग्रैंड आई10 निओस की ही याद दिलाएगी। प्रीमियम लुकिंग के लिए इसके डैशबोर्ड पर कॉपर/ब्रॉन्ज़ कलर इंसर्ट दिए गए हैं, जबकि निओस में ऑफ व्हाइट कलर के इंसर्ट दिए गए हैं। केबिन का डिज़ाइन निओस जैसा ही है। इस सेडान कार के डैशबोर्ड, डोरपैड और गियर लिवर पर हनीकॉम्ब पैटर्न वाली डिज़ाइनिंग की गई है। यदि आप ऑरा का टर्बो वेरिएंट खरीदते हैं तो आपको निओस के स्पोर्ट्ज ड्यूल-टोन वेरिएंट की तरह फुल ब्लैक के साथ रेड गार्निश वाली थीम मिलेगी। 

ऑरा की सीटों पर नई तरह की अपहोल्स्ट्री दी गई है जिसके फैब्रिक की क्वालिटी शानदार है। गर्मियों के लिहाज से ये काफी अच्छी रहती हैं और हम लैदर/लैदरेट अपहोल्स्ट्री के बजाए इन्हें चुनना ज्यादा पसंद करेंगे। इस कार की आगे वाली सीटों पर एडजस्टेबल हेडरेस्ट का फीचर नहीं दिया गया है। हालांकि, इसकी सीटें अपने आप में ही काफी कंफर्टेबल और सपोर्टिव है। फिर भी मोटे शरीर वाले या चौड़े कंधे वाले पैसेंजर के लिहाज़ से ऑरा की सीटों की चौड़ाई उतनी खास नहीं है। इसके बेस वेरिएंट ‘ई’ को छोड़कर बाकि सभी वेरिएंट्स में टिल्ट एडजस्टेबल स्टीयरिंग और हाईट एडजस्टेबल ड्राइवर ​सीट का फीचर दिया गया है। हालांकि, लंबी यात्राओं के दौरान इसमें फ्रंट आर्मरेस्ट की कमी बहुत महसूस होती है। 

इसकी पिछली सीटों पर बैठने के बाद किसी हैचबैक जितना ही नी-रूम मिलता है। यदि कार की पीछे वाली सीट पर बैठे पैसेंजर की हाइट 6 फुट हो तो उसे काफी कम नी-रूम स्पेस मिलेगा। ग्रैंड आई10 निओस से अलग हुंडई ऑरा के सीट बैकरेस्ट का एंगल कुछ इस तरह से सैट किया गया है कि यहां आपकी कमर को ज़रा भी तकलीफ नहीं पहुंचती है। इसकी सीटों पर सेमी हार्ड कुशनिंग की गई है जिनपर बैठकर लंबा समय बिताया जा सकता है। 

ऑरा में अच्छे हेडरूम स्पेस का भी काफी अभाव है। इसमें आपके सिर और रूफ के बीच में काफी कम ही गैप बचता है। हालांकि, ये समस्या केवल 6 फीट से लंबे पैसेंजर्स के सामने ही आती है। ऑरा के केबिन की चौड़ाई भी काफी कम है। ऐसे में हमारा मानना है कि इसमें 4 वयस्क और एक बच्चे के आराम से बैठने जितना ही स्पेस मिलता है। 

हुंडई एक्सेंट के मुकाबले ऑरा का बूट स्पेस 5 लीटर कम है। फिर भी 402 लीटर के बूट स्पेस को इस सेगमेंट के लिहाज़ से अच्छा कहा जा सकता है।

 

हुंडई ऑरा 

मारुति सुजुकी डिज़ायर

होंडा अमेज़

फोर्ड एस्पायर

फोक्सवैगन एमियो

बूट स्पेस (लीटर)

402

378

420

359

330

टेक्नोलॉजी और फीचर्स

हुंडई ऑरा की प्राइस जानने के बाद इसमें दिए गए फीचर्स को देखकर हर कोई संतुष्ट हो सकता है। खास बता ये है कि ग्राहकों की जरूरत के हिसाब से इस गाड़ी के लगभग हर वेरिएंट में अच्छे खासे फीचर्स दिए गए हैं। यदि आपके पास ठीक-ठाक बजट है तो आप बॉटम लाइन वेरिएंट ‘एस’ से ऊपर वाला वेरिएंट लेकर पावर विंडो, 2-डिन म्यूजिक सिस्टम, रियर एसी वेंट्स उसे इलेक्ट्रिक एडजस्टेबल मिरर जैसे फीचर्स पा सकते हैं। 

इसका टॉप लाइन वेरिएंट एसएक्स (ओ) एक फीचर लोडेड वेरिएंट है। इसमें निओस की तरह 8.0 इंच की टचस्क्रीन और काफी सारे कनेक्टिविटी ऑप्शंस दिए गए हैं। आप इसके इंफोटेनमेंट सिस्टम को स्टीयरिंग व्हील पर दिए गए बटन के ज़रिए कंट्रोल कर सकते हैं और इसे हुंडई की 'आई ब्लू' एप के ज़रिए भी कंट्रोल किया जा सकता है। 

इसके अलावा इसमें वायरलैस चार्जर, ऑटो क्लाइमेट कंट्रोल, रिवर्स पार्किंग कैमरा और की-लैस एंट्री-गो जैसे फीचर्स भी दिए गए हैं। इसके इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में 5.3 इंच की मल्टी इंफॉर्मेशन डिस्प्ले भी दी गई है जिसके ज़रिए आप डोर स्टेटस, डिस्टेंस टू एंप्टी और एवरेज स्पीड जैसी जानकारियां देख सकते हैं। 

ये तमाम फीचर ग्रैंड आई10 निओस में भी दिए गए हैं। मगर ऑरा में क्रूज़ कंट्रोल का एक्स्ट्रा फीचर भी मिलता है। हालांकि यह फीचर केवल इसके टॉप लाइन पेट्रोल-मैनुअल वेरिएंट में ही दिया गया है। ऑरा के टॉप लाइन वेरिएंट एसएक्स (ओ) में एएमटी और टर्बो इंजन का ऑप्शन नहीं दिया गया है। ये कॉम्बिनेशन इसके एसएक्स+ वेरिएंट में मिलता है, मगर इस वेरिएंट में लैदर चढ़े स्टीयरिंग व्हील की कमी खलती है। 

हुंडई मोटर्स ने भले ही ऑरा में सनरूफ और वेंटिलेटेड सीट्स जैसे फीचर्स नहीं दिए हो, मगर इसमें एडजस्टेबल हेडरेस्ट, पावर विंडो के लिए बैकलाइट स्विच, फ्रंट आर्मरेस्ट और ऑटो डिमिंग रियरव्यू मिरर जैसे फीचर्स की कमी काफी खलती है। 

परफॉर्मेंस 

कॉम्पैक्ट सेडान ऑरा में तीन इंजन 1.2 लीटर पेट्रोल, 1.2 लीटर डीज़ल और 1.0 लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल का ऑप्शन दिया गया है। इसके अलावा ये पेट्रोल-सीएनजी वेरिएंट में भी उपलब्ध है। इसके 1.2 लीटर पेट्रोल और डीज़ल इंजन के साथ 5-स्पीड मैनुअल और 5-स्पीड एएमटी गियरबॉक्स का ऑप्शन दिया गया है। गौर करने वाली बात ये है कि इसमें टर्बो पेट्रोल इंजन और सीएनजी के साथ ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन नहीं मिलता है। 

1.2 लीटर पेट्रोल

हुंडई ऑरा में ग्रैंड आई10 निओस वाला ही 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है। इस इंजन की सबसे अच्छी बात इसका रिफाइनमेंट लेवल है और ये इतना शांत रहता है कि पता ही नहीं चलता गाड़ी ऑन है कि ऑफ है। पावर डिलीवरी के मामले में भी ये इंजन काफी स्मूद लगता है। यदि आप सिटी में ही ज्यादातर ड्राइव करते हैं तो आपको इस इंजन से कोई शिकायत नहीं रहेगी। इसका क्लच भी काफी हल्का है और गियर भी अच्छे से काम करते हैं, जिससे आप इसे बिना परेशानी के घंटो ड्राइव कर सकते हैं। स्पीड ब्रेकर आने पर आप ऑरा को सेकंड या थर्ड गियर पर रखें और उसे पार कर लेने के बाद आपको गियर बदलने की जरूरत नहीं पड़ती है। हालांकि, हाईवे पर इसके 1.2 लीटर इंजन से थोड़ी कम पावर मिलती है जिससे ओवरटेकिंग के लिए आपको पहले से तैयार रहना पड़ता है। 

1.2 लीटर डीज़ल

हुंडई एक्सेंट के 1.2 लीटर डीज़ल इंजन के मुकाबले हुंडई ऑरा के इस डीज़ल इंजन का रिफाइनमेंट लेवल इतना खास नहीं लगता है। हालांकि, इसे बीएस6 नॉर्म्स के अनुसार अपग्रेड किया गया है, इसलिए ये इतना अच्छे से रिफाइन नहीं हो पाया है। नतीजतन डैशबोर्ड, डोरपैड और यहां तक कि फ्लोर पर भी इंजन के वाइब्रेशन को महसूस किया जा सकता है। हालांकि, री-ट्यूनिंग के बाद इस इंजन का पिकअप पहले के मुकाबले काफी बेहतर हो गया है। 

रिफाइनमेंट में गिरावट के बावजूद ऐसा नहीं है कि यह इंजन पहले जैसा नहीं रहा है। इस इंजन के साथ सिटी में ड्राइव करते वक्त अब भी बारबार गियर बदलने का झंझट नहीं रहता है। हाईवे पर तो ये पेट्रोल इंजन के मुकाबले ज्यादा स्मूद लगता है। यदि रोजमर्रा की जिंदगी में आप अपनी कार लेकर सिटी में ज्यादा घुमते हैं तो हम आपको हुंडई ऑरा का डीज़ल वेरिएंट लेने की सलाह देंगे।   

एएमटी गियरबॉक्स कितना है खास

ऑरा के दोनों 1.2 लीटर इंजन के साथ 5-स्पीड एएमटी गियरबॉक्स दिया गया है। इस्तेमाल करने के लिहाज़ से इसे सेगमेंट में सबसे बेस्ट कहा जा सकता है। इसकी गियरशिफ्टिंग काफी स्मूद रहती है। हालांकि, स्मूद गियरशिफ्ट्स के लिए आपको थ्रॉटल काफी आराम से देना होता है।इसमें एक मैनुअल मोड भी दिया गया है जिसके गियरशिफ्ट इतने खास नहीं है, मगर ये आपके कंट्रोल में रहते हैं। 

1.0 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन

अगर आपको ऐसा इंजन चाहिए जो सिटी और हाईवे पर शानदार परफॉर्मेंस दे सके तो ऑरा का टर्बो पेट्रोल इंजन आपके लिए एक सही चॉइस साबित हो सकता है। 

इस इंजन को हुंडई वेन्यू से लिया गया है, मगर इसके साथ दिया गया 6-स्पीड गियरबॉक्स वेन्यू वाला नहीं है। ये इंजन इतना दमदार है कि थर्ड गियर में ही कार को 100 की स्पीड पर ले जाता है। हाईवे पर इसे टॉर्क भी बराबर मिलती रहती है जिससे ये कार यहां आराम से ओवरटेक कर लेती है। 

सिटी ड्राइविंग के लिहाज़ से भी इसका टर्बो पेट्रोल इंजन काफी अच्छा है और ज्यादा ट्रैफिक के दौरान यह धीमा नहीं पड़ता है। 

तो हुंडई ऑरा में दिए गए इंजन ऑप्शंस में से हमें इसका टर्बो पेट्रोल इंजन ज्यादा पसंद आया है। 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन की तरह इसका रिफाइनमेंट काफी अच्छा है और य​ह डीज़ल इंजन की तरह अच्छा खासा टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। 

राइड और हैंडलिंग 

हुंडई ऑरा को ड्राइव करना काफी आसान है। इसके पतले ‘ए’ पिलर, बड़ी विंडस्क्रीन और ऊंची सीटिंग पोजिशन के रहते आपको बाहर और साइड का व्यू अच्छे से मिलता है। 

सिटी में इसके अच्छे खासे टाइट स्टीयरिंग व्हील्स आपको कार चलाने के प्रति एक अलग सा कॉन्फिडेंस देने का काम करते हैं। हाईवे पर इसके स्टीयरिंग व्हील दूसरी नई हुंडई कारों की तरह भारी लगने लगते हैं जिन्हें अच्छा माना जाता है। कुल मिलाकर इसका स्टीयरिंग व्हील काफी अच्छा है। 

ऑरा को कंफर्टेबल राइड के लिहाज़ से तैयार तो किया गया है, मगर ये इस मोर्चे पर बाकि कारों से थोड़ी कम अच्छी लगती है। खराब सड़कों और गड्ढ़ों से आने वाले झटकों को कार के केबिन तक महसूस किया जा सकता है। यदि आप अकेले कार चला रहे हैं या आपके साथ कोई एक पैसेंजर भी बैठा है तो इस दौरान आगे बैठकर आपको काफी कंफर्टेबल महसूस होगा। हालांकि, कार की पीछे वाली सीटों पर बैठकर थोड़ा उछाल जरूर महसूस होता है। 

ऑरा के टर्बो वेरिएंट में दिए गए स्टीयरिंग व्हील और सस्पेंशन सिस्टम हमें ज्यादा अच्छे लगे। खराब रास्तों पर इस वेरिंएट का रियर पार्ट उतना उछाल नहीं लेता जितना कि हमने दूसरे वेरिएंट्स को चलाते हुए पाया। इसका स्टीयरिंग भी काफी तेज़ है और अच्छा रिस्पॉन्स देता है। 

सेफ्टी

सेफ्टी के लिहाज़ से हुंडई ऑरा में ड्यूल एयरबैग, एबीएस एवं ईबीडी और आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट माउंट्स जैसे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं। इसमें बेस वेरिएंट ‘ई’ को छोड़कर बाकि सभी वेरिएंट्स में इंपेक्ट सेसिंग डोर अनलॉक और स्पीड सेंसिंग डोर लॉक जैसे फीचर्स दिए गए हैं। बता दें कि हुंडई ऑरा का ग्लोबल एनकैप जैसी संस्थाओं द्वारा अभी क्रैश टेस्ट किया जाना बाकी है। 

वेरिएंट्स

हुंडई ऑरा की वेरिएंट लिस्ट काफी बड़ी है। यह कार पांच वेरिएंट: ई, एस, एसएक्स, एसएक्स+ और एसएक्स (ओ) में उपलब्ध है। इसमें  तीन इंजन और दो गियरबॉक्स का विकल्प भी दिया गया है। इसके सभी इंजन और गियरबॉक्स कार के हर वेरिएंट में उपलब्ध नहीं है। यदि आपको पेट्रोल-मैनुअल चाहिए तो आपको ये ऑप्शन हर वेरिएंट में मिलेगा। वहीं पेट्रोल-एएमटी का ऑप्शन केवल ‘एस’ और एसएक्स+ में ही मिलता है। इस कार में डीज़ल-मैनुअल का कॉम्बिनेशन ‘एस’ और एसएक्स(ओ) वेरिएंट में दिया गया है, वहीं एस और एसएक्स+ वेरिएंट में एएमटी गियरबॉक्स का विकल्प मिलता है। टर्बो पेट्रोल का ऑप्शन केवल इसके एसएक्स+ वेरिएंट में ही उपलब्ध है। 

यदि आपके पास ठीक-ठाक बजट है तो हम आपको इसका ‘एस’ वेरिएंट लेने की सलाह देंगे। इसमें आपकी जरूरत के हिसाब से सभी बेसिक फीचर्स दिए गए हैं। आप चाहें तो इसमें टचस्क्रीन और अलॉय व्हील भी लगवा सकते हैं। दूसरी तरफ यदि आपके पास बजट की कोई कमी नहीं है तो आप इसके टॉप लाइन वेरिएंट एसएक्स+ और एसएक्स (ओ) भी ले सकते हैं जिसमें आपको सारे कंफर्ट फीचर्स मिलते हैं। 

निष्कर्ष 

मारुति सुज़ुकी ने जिस तरह डिज़ायर की रियर सीट्स में थोड़ा सुधार किया था, ठीक उसी तरह हुंडई मोटर्स भी चाहती तो ऑरा में और ज्यादा कंफर्टेबल रियर सीट्स दे सकती थी। हालांकि, ऐसा नहीं है कि इसकी रियर सीट्स में खुलापन नहीं है। इसकी सभी सीटों पर चार पैसेंजर्स आराम से बैठ सकते हैं और इसका बूट स्पेस भी काफी अच्छा है। 

चाहे आप सिटी में कार चलाएं या फिर हाईवे पर, इसके इंजन से आपको कोई शिकायत नहीं रहेगी। इसका टर्बो-पेट्रोल वेरिएंट तो काफी शानदार लगता है। हुंडई ऑरा के रूप में आपको अच्छी फीचर लिस्ट, प्रीमियम क्वालिटी और ​अच्छी फिट और फिनिशिंग वाली कार मिलती है। 

जहां इसका मिड वेरिएंट एस अपनी प्राइस के हिसाब से पैसा वसूल लगता है, वहीं इसके टॉप लाइन वेरिएंट एसएक्स (ओ) को सेगमेंट में सबसे ज्यादा फीचर्स वाला कहा जा सकता है। कंपनी की ओर से हुंडई ऑरा के साथ 3 साल या 1,00,000 किलोमीटर, 4 साल या 50,000 किलोमीटर और 5 साल या 40,000 किलोमीटर की वारंटी दी जा रही है। 

कुल मिलाकर हुंडई ऑरा, ग्रैंड आई10 निओस से ज्यादा अलग नहीं है, फिर भी एक बार तो इस सब-4 मीटर सेडान को खरीदने का मन हर कोई बना सकता है।

हुंडई Aura

Variants*Ex-Showroom Price New Delhi
S Diesel (Diesel)Rs. 7.73 Lakh*
S AMT Diesel (Diesel)Rs. 8.23 Lakh*
SX option Diesel (Diesel)Rs. 9.03 Lakh*
SX Plus AMT Diesel (Diesel)Rs. 9.22 Lakh*
E (Petrol)Rs. 5.79 Lakh*
S (Petrol)Rs. 6.55 Lakh*
S AMT (Petrol)Rs. 7.05 Lakh*
SX (Petrol)Rs. 7.29 Lakh*
SX Option (Petrol)Rs. 7.85 Lakh*
SX Plus AMT (Petrol)Rs. 8.04 Lakh*
SX Plus Turbo (Petrol)Rs. 8.54 Lakh*
एस सीएनजी (CNG) Rs. 7.28 Lakh*

लेटेस्ट सेडान कारें

अपकमिंग सेडान कारें

पॉपुलर सेडान कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?