कार इंश्योरेंस लेने से पहले ध्यान में रखेंगे ये बातें, तो नहीं होगी कोई परेशानी

प्रकाशित: दिसंबर 09, 2022 06:10 pm । भानु

  • 1244 व्यूज़
  • Write a कमेंट

हर हफ्ते कई नए मॉडल लॉन्च हो रहे हैं, ऐसे में कहा जाए तो ये नई कार खरीदने का सही समय है। कोरोना महामारी के बाद कंपनियां त्यौहारी सीजन और साल के आखिरी महीने को देखते हुए अपनी कारों पर डिस्काउंट ऑफर्स की पेशकश भी कर रहे हैं। सामान्य से अधिक डिलीवरी टाइमलाइन के बावजूद, भारत में कंपनियां अपने ग्राहकों को जितनी जल्दी हो सके कार की डिलीवरी करने के लिए ग्लोबल सप्लाय चेन में सुधार का उपयोग कर रहे हैं। यदि आप जल्द ही एक कार खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो ईएमआई और रनिंग कॉस्ट को कैलकुलेट करने के अलावा उसमें इंश्योरेंस कॉस्ट को भी शामिल करने की सलाह दी जाती है। आखिरकार, इंश्योरेंस केवल पुलिस वालों को दिखाए जाने वाले डॉक्यूमेंट्स के तौर पर ही काम नहीं आता है, बल्कि ये सुरक्षा की दृष्टि से भी काफी काम की चीज है जो दुर्घटना की स्थिति में आपके जीवन को बचाने में भी मदद कर सकता है। *

हमनें आपकी ड्राइविंग के तौर तरीकों को ध्यान में रखते हुए यहां वो सभी फैक्टर्स शामिल किए हैं, ज​हां आप जानेंगे कि आखिर कवरेज के लिए एक उचित कीमत का भुगतान करते हुए आप किस तरह प्रीमियम की लागतों को कम कर सकते हैं। 

*जरूरी नियम व शर्तें लागू

क्या हो कि जब आप ज्यादा ड्राइव करते ही ना हो?

पहला केस तो ये है कि यदि कोई ज्यादा कार ड्राइव ही ना करता हो। एक खाली खड़ा व्हीकल आपकी सेविंग्स को खत्म करने वाला नहीं होना चाहिए, और महामारी युग से एक नियामक नीति यहां मदद कर सकती है। आईआरडीएआई (इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया) एक 'पे एज़ यू गो' सैंडबॉक्स पॉलिसी लेकर आया है जो आपको अपनी कार का कितना उपयोग करते हैं, इसके आधार पर आपको कवरेज के लिए भुगतान करने की अनुमति देता है। आप आईआरडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इसके बारे में अधिक पढ़ सकते हैं। बेस पॉलिसी अभी भी अनिवार्य थर्ड-पार्टी कवरेज को पूरा करती है, लेकिन आप कितनी बार कार का उपयोग करते हैं और आप कितनी दूर ड्राइव करते हैं, इसके आधार पर आप सेल्फ डैमेज के लिए कवरेज का भुगतान कर सकते हैं।

कई बीमा कंपनी ऐप आपकी ड्राइविंग किलोमीटर को ट्रैक करती हैं और यहां तक ​​कि जब आप कार का उपयोग नहीं कर रहे होते हैं तो आपको सेल्फ डैमेज के कवरेज को 'स्विच ऑफ' करने की सुविधा भी इन एप्स पर मिल जाएंगी। यदि आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का अधिक उपयोग करना पसंद करते हैं, या मुख्य रूप से घर से काम करते हैं, तो ऐसे इंश्योरेंस प्लान आपकी कार इंश्योरेंस पॉलिसी के कवरेज की कुल लागत को कम करने में मदद कर सकती है।*

अपनी डिडक्टेबल अमाउंट को मैनेज करें

डिडक्टेबल वो अमाउंट होता जो आप अपने इंश्योरेंस प्रोवाइडर के साथ कॉस्ट ऑफ डैमेज को शेयर करने के लिए तैयार होते हैं। आप ​'नो डिडक्टिबल' का ऑप्शन भी चुन सकते हैं जहां आपका इंश्योरेंस प्रोवाइडर दुर्घटना की स्थिति में डैमेज की पूरी कॉस्ट को कवर करेगा, लेकिन इसके लिए आपको ज्यादा प्रीमियम का भुगतान भी करना होगा। 

इंश्योरेंस कॉस्ट को बचाने के लिए, आप अपनी डिडक्टिबल राशि को बढ़ा सकते हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कैसे ड्राइव करते हैं (दुर्घटना होने की कितनी संभावना है) और यदि कोई दुर्घटना होती है तो आप अपनी कार की मरम्मत पर कितना खर्च कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप कम ट्रैफ़िक वाले स्थान पर रहते हैं और मासिक सैलेरी आपकी आय का प्रमुख स्रोत है, तो आपके कार इंश्योरेंस के लिए ज्यादा कटौती का विकल्प चुनना व्यावहारिक हो सकता है।

सेफ ड्राइव करने के मिलेंगे अपने फायदे 

यदि आप एक सेफ ड्राइवर हैं जो ट्रैफिक रूल्स का पालन करते हैं, तो आपका इंययोरेंस प्रोवाइडर आपको इसके लिए ईनाम दे सकता है। 'पे हाउ यू ड्राइव' मॉडल इंश्योरेंस नॉर्म्स में एक हालिया बदलावों में से है, जो आपके इंश्योरेंस प्रोवाइडर को आपकी ड्राइविंग की आदतों को ट्रैक करने की अनुमति देता है। यह बदलाव 'नो-क्लेम बोनस' पॉलिसी से भी आगे जाता है जो आपको साल के बिलिंग साइकल के आखिर में बीमा का उपयोग नहीं करने के लिए रिवॉर्ड देता है। यह सेफ ड्राइवर्स को कम प्रीमियम का भुगतान करने देता है ।*

अपने नो क्लेम बोनस को ऐसे बढ़ाएं 

नो-क्लेम बोनस आपकी इंश्योरेंस कॉस्ट को काफी कम कर सकता है, बशर्ते आप एक सेफ ड्राइवर हों। 

रेगुलेशंस के अनुसार, यदि आप पूरे सालभर दुर्घटना का शिकार नहीं होते हैं, तो आप अपने कार बीमा रिन्युअल प्रीमियम पर 20 प्रतिशत छूट पाने के पात्र हैं।*

इसके अलावा, यदि आप इंश्योरेंस का उपयोग नहीं करना जारी रखते हैं, तो आप जिस रियायत के पात्र हैं, वह दूसरे वर्ष के लिए 25 प्रतिशत, तीसरे वर्ष के लिए 35 प्रतिशत, चौथे वर्ष में 45 प्रतिशत और पांचवें वर्ष के बाद 50 प्रतिशत बढ़ती रहती है। 

याद रखें, अगर आपको इस दौरान एक बार भी बीमा का उपयोग करना पड़ता है, तो नो-क्लेम बोनस कैंसल हो जाता है। आपके बीमा प्रीमियम को बढ़ाने से रोकने के लिए नो-क्लेम बोनस कवरेज को आपकी पॉलिसी में वैकल्पिक रूप से जोड़ा जा सकता है।*

भारतीय ड्राइविंग स्थितियों में फेंडर-बेंडर्स और मामूली डिंग आम है, लेकिन डेंट सही करने और इंश्योरेंस कंपनी द्वारा उनकी मरम्मत करने के बजाय, यह सलाह दी जाती है कि अधिक सावधान रहें और इन छोटी मोटी ख​राबियों को अपनी जेब से पैसे खर्च करते हुए मरम्मत करवाएं। इसके अलावा, जब आप एक नया व्हीकल चुनते हैं, तो अपने गुड लक को बनाए रखने के लिए नो-क्लेम बोनस को नई कार में ट्रांसफर करना याद रखें।*

स्टैंडर्ड नियम व शर्तें लागू

यदि आपके पास कई कारें हो तो क्या करें?

यदि आपके पास कई कारें कार हैं, तो आपको हर कार के लिए अलग से स्टैंडर्ड प्रीमियम दरों का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। इसके बजाय, आपका इंश्योरेंस प्रोवाइडर एक मोटर फ्लोटर पॉलिसी की पेशकश कर सकता है जो आपको एक ही योजना के तहत कई कारों का बीमा करने की अनुमति देती है, जिससे आपके द्वारा बीमा पर खर्च की जाने वाली कॉस्ट कम हो जाती है।

इंश्योरेंस को समझना मुश्किल और जटिल हो सकता है, यही कारण है कि किसी प्लान पर निर्णय लेने या किसी नए प्लान पर स्विच करने से पहले फाइन प्रिंट को पढ़ना और अपने बीमा एजेंट से बात करना महत्वपूर्ण है। निष्कर्ष ये निकलता है कि कार इंश्योरेंस खराब स्थिति में आपकी मदद कर सकता है, लेकिन इससे आपकी बचत पर असर नहीं पड़ना चाहिए। थोड़ी जागरूकता और अच्छे ड्राइविंग बिहेवियर के साथ, आप कम भुगतान कर सकते हैं। *

*आईआरडीएआई अप्रुव्ड इंश्योरेंस प्लान के अनुसार सभी सेविंग्स इंश्योरेंस प्रोवाइडर द्वारा प्रदान की जाती है। स्टैंडर्ड नियम व शर्तें लागू। इंश्योरेंस के लाभ, बहिष्करण, सीमाओं, नियमों और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया खरीदने से पहले बिक्री ब्रॉशर/पॉलिसी शब्दों को ध्यान से पढ़ें।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News

ट्रेंडिंगकारें

  • लेटेस्ट
  • अपकमिंग
  • पॉपुलर
×
We need your सिटी to customize your experience