• लॉगिन / रजिस्टर

होंडा बीआर-वी, क्रेटा और एस-क्रॉस को कितनी टक्कर दे पाएगी नई डस्टर

प्रकाशित: फरवरी 10, 2016 07:44 pm । sumitरेनॉल्ट डस्टर 2016-2019

  • 8 व्यूज़
  • Write a कमेंट

नई रेनो डस्टर से ऑटो एक्सपो में पर्दा हटने के बाद इंतजार हो रहा है इसके बाजार में उतरने का। भारत में रेनो की यह कार काफी पॉपुलर रही है। लेकिन बीते वक्त में इसकी चमक कुछ फीकी जरूर पड़ी है। मुकाबले में बने रहने के लिए रेनो इसका फेसलिफ्ट वर्जन लाई है। इसमें सबसे बड़ा बदलाव है ऑटामैटिक गियरबॉक्स का आना। लॉन्चिंग के बाद इसका मुकाबला होंडा बीआर-वी, हुंडई क्रेटा और मारूति एस-क्रॉस से होगा। तो आइए इस इंफोग्राफिक्स की मदद से कुछ खास पैमानों पर समझते हैं कि मुकाबले में किस कार का पलड़ा ज्यादा भारी बैठता है।

डस्टर में 109 बीएचपी पावर और 245एनएम टॉर्क देने वाला 1461सीसी का डीज़ल इंजन है। ताकत के मामले में यह होंडा की नई खिलाड़ी बीआर-वी से आगे दिखती है। बीआर-वी की ताकत 99 बीएचपी और टॉर्क 200एनएम का है। ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के मामले में भी डस्टर बढ़त लेती है। हालांकि माइलेज़ के मामले में बीआर-वी बेहतर नज़र आती है।

लेकिन जब मुकाबले में क्रेटा हो तो डस्टर पिछड़ जाती है। क्रेटा में डस्टर से ज्यादा ताकतवर इंजन लगा है। इसकी पावर और टॉर्क भी डस्टर से ज्यादा है। यह ऑटोमैटिक वेरिएंट में भी उपलब्ध है।

अब बचती है मारूति की एस-क्रॉस,एस-क्रॉस दो डीज़ल इंजन में आती है। इसके 1598सीसी के डीडीआईएस-320 इंजन की पावर 118बीएचपी और टॉर्क 320एनएम का है। वहीं 1248सीसी डीडीआईएस-200 इंजन की पावर 89 बीएचपी और टॉर्क 200एनएम है। एस-क्रॉस का पहला इंजन डस्टर पर भारी पड़ता है, लेकिन दूसरा इंजन मुकाबले में पिछड़ जाता है।        

आंकड़ों की नजर से देखें तो मुकाबला कड़ा है। लेकिन डस्टर यहां की लीडर रही है और पहले से मौजूद भी है। ऐसे में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स, सही कीमत और नया लुक कुछ ऐसी वजह हैं जो इस सेगमेंट में डस्टर की चमक को दोबारा लौटा सकती है।

यह भी पढ़ें :थाईलैंड में लॉन्च हुई होंडा बीआर-वी

द्वारा प्रकाशित

रेनॉल्ट डस्टर 2016-2019 पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का
×
आपका शहर कौन सा है?