कारदेखो को मिली 250 मिलियन डॉलर की नई फंडिंग, 1.2 बिलियन डॉलर के वैल्यूएशन के साथ यूनीकॉर्न क्लब में हुई शामिल

प्रकाशित: अक्टूबर 13, 2021 03:33 pm । भानु

  • 1421 व्यूज़
  • Write a कमेंट

  • लीपफ्रॉग इंवेस्टमेंट के साथ साथ केन्यन पार्टनर्स, मिराई असेट, हार्बर स्प्रिंग कैपिटल और मौजूदा निवेशक सिकोईया इंडिया और सनले हाउस जैसे इंवेस्टर की मौजूदगी में हुआ ये राउंड
  • सितंबर 2021 में कारदेखो ग्रुप ने पार की 100 मिलियन डॉलर रेवेन्यु रन रेट, सभी सेगमेंट में रही अच्छी बिजनेस परफॉर्मेंस
  • कारदेखो यूज्ड कार ट्रांजेक्शन, फाइनेंशियल सर्विसेज और इंश्योरेंस बिजनेस में करेगी नई फंडिंग का इस्तेमाल

भारत के सबसे बड़ा कार सर्च प्लेटफॉर्म कारदेखो को 250 मिलियन डॉलर की नई फंडिंग मिली है। इसमें से ग्रुप को 200 मिलियन डॉलर की सीरीज ई इक्विटी और प्री आईपीओ राउंड में 50 मिलियन डॉलर डेब्ट के रूप में प्राप्त हुए हैं। इस ताजा फंडिंग के साथ कारदेखो यूनिकॉर्न क्लब में शामिल होने वाला ग्रुप भी बन गया है जिसकी वैल्यूएशन 1.2 बिलियन डॉलर हो गई है। ये कंपनी राजस्थान की राजधानी जयपुर की पहली यूनीकॉर्न कंपनी भी बन गई है।

कारदेखो को मिली ये अब तक की सबसे बड़ी फंडिंग है जिसका इस्तेमाल कंपनी यूज्ड कार ट्रांजेक्शन, फाइनेंशियल सर्विसेज और इंश्योरेंस बिजनेस के साथ साथ प्रोडक्ट और टेक्नोलॉजी फंक्शंस को विकसित करने, ब्रांड अवेयरनैस बढ़ाने और नए मार्केट्स में उतरने के काम में लेगी। 

वर्तमान में कारदेखो 100 से ज्यादा मार्केट्स में कस्टमर्स से उनकी यूज्ड कार खरीदती है और कंपनी के कैटलोग में अभी 3000 से ज्यादा पुरानी कारें मौजूद हैं जिन्हें ऑनलाइन खरीदा जा सकता है। आने वाले समय में कंपनी अपना यूज्ड कार रीटेल ट्रांजेक्शन बि​जनेस भी एक्सपेंड करेगी जहां उसके कैटेलॉग में 10,000 कारें शामिल होंगी।

कारदेखो टीम भारत के साथ साथ इंडोनेशिया और फिलिपींस में भी मौजूद है और ये इन इंटरनेशनल मार्केट में भी इस फंडिंग को काम में लेगी। कंपनी के ऑटो और नॉन ऑटो प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल इस वक्त 30 से ज्यादा देशों में किया जा रहा है। 

कंपनी को मिली नई फंडिंग को लेकर कारदेखो के सीईओ अमित जैन ने कहा कि “एक कार रिसर्च पोर्टल होने के नाते आज ये कंपनी कार खरीदने से लेकर उसे बेचने तक का पूरा जरिया बन चुकी है। यहां हम अपने कस्टमर्स को बेहतर से बेहतर एक्सपीरियंस देने के लिए रोजाना अपने आप को मजबूती से तैयार कर रहे हैं। नई फंडिंग मिलने के बाद हम इसका इस्तेमाल यूज्ड कार ट्रांजेक्शंस और फाइनेंशियल सर्विस बिजनेस में करेंगे। हमारे निवेशकों ने हमपर एक बार फिर से भरोसा जताया है और इसकी बदौलत हम अपने भविष्य की योजनाओं पर काफी तेजी से काम करेंगे और हमारे कस्टमर्स को बेस्ट कार सेलिंग और बाइंग एक्सपीरियंस देंगे।” 

जानकारी के लिए बता दें कि फंडिंंग राउंड फाइनेंशियल सर्विसेज और हेल्थकेयर के क्षेत्र में काम करने वाली लीपफ्रॉग इवेंस्टमेंट के नेतृत्व में आयोजित किया गया। लीपफ्रॉग, कारदेखो ग्रुप को बेस्ट क्वालिटी वाले अफोर्डेबल व्हीकल्स, इंश्योरेंस और लाखों कस्टमर्स को फाइनेंस सुविधा देने मेंं मदद करेगी। 

यहां यूएस बेस्ड कैन्यन पार्टनर्स, मिराई असेट और हार्बर स्प्रिंग कैपिटल जैसे नए इंवेस्टर्स ने भी हिस्सा लिया। कारदेखो के मौजूदा इंवेस्टर्स सिकोईया कैपिटल इंडिया और सनले हाउस ने एक बार फिर से कारदेखो पर विश्वास जताते हुए निवेश जारी रखने का फैसला लिया है। कारदेखो में निवेश करने वाली सिकोईया कैपिटल इंडिया शुरूआती कंपनियों में से एक है जिसने 2013 में सीरीज ए राउंड और 2018 में सी राउंड अपने नाम किया था। 

कारदेखो के डिजिटल प्लेटफॉर्म्स, न्यू ऑटो बिजनेस और फाइनेंशियल बिजनेस पहले से ही फायदे में चल रहे हैं। वहीं कंपनी का इंश्योरेंस बिजनेस इंश्योरेंसदेखो.कॉम भी काफी फायदे में चल रहा है। अब नया निवेश मिलने के बाद कारदेखो अपने कस्टमर्स को आसानी से पूरी पारदर्शिता के साथ कार खरीदने और बेचने का एक शानदार एक्सपीरियंस देने के अपने लक्ष्य की तरफ तेजी से बढ़ेगी। 

डिजिटलाइजेशन के क्षेत्र में कारदेखो भारत की सबसे पुरानी कंपनियों में से एक है जहां उसके साथ ऑटो सेक्टर से जुड़े मैन्युफैक्चरर्स, डीलर्स, कार खरीदने वाले और बेचने वाले सब जुड़े हैं। कारदेखो भारत के लगभग सभी ऑटो मैन्युफैक्चरर्स के साथ सीधे तौर पर काम कर रही है जहां वो कंपनियों के लिए स्ट्रेटिजी भी तैयार करती है जिसकी बदौलत उनकी सालाना सेल्स में कंपनी का 30 प्रतिशत योगदान रहता है। कारदेखो देश के 3500+ नए ऑटोमोबाइल डीलर्स और 4000 से ज्यादा यूज्ड कार डीलर्स के साथ भी काम कर रही है। यूज्ड कार पर अपने कस्टमर्स को फाइनेंस और इंश्योरेंस के लिए कंपनी 14 से ज्यादा फाइनेंशियल इंस्टिट्यूशन और 40 से ज्यादा इंश्योरेंस कंपनियों से हाथ मिला चुकी है।

लीपफ्रॉग इंवेस्टमेंट के साउथ एशियन इंवेस्टमेंट की हैड स्टीवर्ट लेंग्डन ने इस मौके पर कहा “भारत के ऑटो टेक मार्केट में एक लीडिंग डिजिटल प्लेटफॉर्म तैयार करने के लिए अमित और उनकी टीम ने काफी अभूतपूर्व कार्य किया है। हम बिजनेस के और भी तेजी से उभरने की उम्मीद करते हैं। कारदेखो तीन मिलियन उभरते हुए कंज्यूमर्स के लिए एक सही कार चुनने के प्रति सबसे शानदार प्लेटफॉर्म के तौर पर सामने आई है।  सबसे बड़ी बात ये है कि देश में मोबिलिटी के क्षेत्र में जितना सुधार आएगा उतना ही हेल्थकेयर और एजुकेशन के क्षेत्र में विकास का सीधा योगदान मिलेगा।”

इसके अलावा सिकोईया इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर शैलेश लखानी ने कहा “अमित, अनुराग और कारदेखो की पूरी टीम ने हमारी उम्मीद से बढ़कर बिजनेस को नई ऊंचाईयों पर पहुंचाया है। ये कंपनी यूज्ड कार और फाइनेंशियल सर्विसेज के क्षेत्र में काफी अच्छा काम कर रही है। ऐसे में सिकोईया इंडिया की पूरी टीम कारदेखो के साथ लंबी साझेदारी निभाने के प्रति आश्वस्त है।”

इसके साथ ही सनले हाउस कैपिटल के डायरेक्टर अभिनव शरमन ने कहा कि “साउथ ईस्ट एशिया की लीडिंग रीटेल ऑटो और फाइनेंशियल सर्विस प्रोवाइडर बनने की ओर अग्रसर कारदेखो को एक बार फिर से समर्थन देकर हम काफी खुश हैं। हमारे शुरूआती निवेश काल से ही ये कंपनी काफी तेजी से आगे बढ़ी है और खुद को भारत के सबसे बड़े टेक ऑटो प्लेटफॉर्म के तौर पर स्थापित किया है। हमें विश्वास है कि नई फंडिंग मिलने के बाद ये कंपनी और भी तेजी से ऑटो रीटेल मार्केट में ग्रोथ के नए आयाम छूएगी वहीं ऑटो इंश्योरेंस के क्षेत्र में भी कंपनी नया परचम लहरा सकती है।”

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
We need your सिटी to customize your experience