स्कोडा कुशाक : फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On जुलाई 08, 2021 By भानु for स्कोडा कुशाक

स्कोडा की मिड-साइज एसयूवी कार कुशाक भारत में लॉन्च हो चुकी है। हम इसके प्रोटोटाइप मॉडल को लॉकडाउन के दौरान ड्राइव कर चुके थे। इस बार हमें इसके प्रोडक्शन मॉडल को चलाने का मौका मिला और इस रिव्यू में हम इस नई कार के बारे में आपको ज्यादा बारीकी से बताने वाले हैं। स्कोडा ने संस्कृत के शब्द 'कुशक' से ये नाम लिया है जिसका मतलब किंग या राजा से है। कंपनी के लिए ये कई मायनों में काफी महत्वपूर्ण कार भी है जो इसकी फर्स्ट मेड इन इंडिया, फर्स्ट इंडियन नेम और फर्स्ट मेड फॉर इंडिया प्रोडक्ट है। इस कार का मुकाबला यहां हुंडई क्रेटा और किया सेल्टोस जैसी पॉपुलर मिड साइज एसयूवी कारों से है। ऐसे में सवाल बनता है कि क्या ये कार अपने नाम के अनुरूप इस सेगमेंट में राज कर पाएगी। ऐसे तमाम सवालों के जवाब आपको मिलेंगे इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के जरिए:

लुक्स

कुशाक के लुक्स की बात करें तो इसका डिजाइन फ्लैट रखने के बजाए कंपनी ने इसके साइड्स में शार्प लाइनों का इस्तेमाल किया है जिससे ये एक अच्छे बॉक्सी शेप वाली एसयूवी कार नजर आती है। इसमें स्कोडा की सिग्नेचर ग्रिल, स्मार्ट हेडलैंप्स और स्पोर्टी लुकिंग वाले बंपर जैसे एलिमेंट्स भी दिए गए हैं जिनसे ये काफी आकर्षक नजर आती है। यहां तक कि इसमें दिए गए 17 इंच अलॉय व्हील्स और बूमरेंग शेप के टेललैंप्स से भी ये कार काफी कूल नजर आती है। हालांकि इसी बीच इसमें कुछ ​कर्व्स और उभरे हुए व्हील आर्क जैसे डिजाइनिंग एलिमेंट्स की कमी भी खलती है जिससे इस कार का रोड प्रजेंस और भी बेहतर हो सकता था। कुल मिलाकर दिखने में ये एसयूवी अच्छी है मगर इसे बहुत ज्यादा आकर्षक नहीं कहा जा सकता है। इस कार का साइज क्रेटा और सेल्टोस के मुकाबले कम है मगर इन दोनों से इसका व्हीलबेस साइज ज्यादा लंबा है। 

इंटीरियर 

एक्सटीरियर की ही तरह स्कोडा ने इसके इंटीरियर में भी काफी स्टाइलिश एलिमेंट्स दिए हैं। इस कार में कंपनी ने 2 स्पोक स्टीयरिंग व्हील, एयरकॉन वेंट्स और स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्स नॉब्स पर क्रोम एसेंट्स दिए है जो काफी आकर्षक नजर आते हैं। इसकी टचस्क्रीन और डैशबोर्ड का लेआउट भी काफी उम्दा किस्म का लगता है। सीटें काफी सपोर्टिव हैं और टॉप वेरिएंट में सीटों पर वेंटिलेशन का फीचर भी दिया गया है। 

इस कार के रियर में लेग और फुट रूम स्पेस की कोई कमी नहीं है जहां 4 पैसेंजर्स कंफर्टेबल होकर आराम से बैठ सकते हैं। इसमें हेडरूम स्पेस भी अच्छा दिया गया है मगर केबिन की चौड़ाई खास नहीं होने से रियर सीट पर तीन पैसेंजर्स ज्यादा कंफर्टेबल होकर नहीं बैठ पाते हैं। ऐसे में इस कार में ज्यादा लोग नहीं बैठ सकते हैं हालांकि 4 पैसेंजर्स बैठने लायक स्पेस जरूर मिल जाता है। 

इस कार के डोर में प्रेक्टिकल स्टोरेज स्पेस और रियर में फ्रंट सीट के पीछे फोन पॉकेट जैसे स्टोरेज स्पेस भी मौजूद हैं। इसमें दिए गए कूल्ड ग्लव बॉक्स में बड़ी बॉटल को रखने लायक स्पेस दिया गया है। फ्रंट सीट्स के बीच में कपहोल्डर्स और कबी होल जैसे प्रैक्टिकल एलिमेंट्स आपके कुछ काम आसान बना देते हैं। 

स्कोडा कुशाक में 285 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है जो आपको कम लग सकता है, मगर इसका शेप कुछ ऐसा है कि इसमें आराम से काफी सामान रखा जा सकता है। ज्यादा स्पेस के लिए आप 60:40 के अनुपात में बंटी रियर सीट को फोल्ड कर सकते हैं, मगर ये पूरी तरह फोल्ड नहीं होती है। 

इसके इंटीरियर में कुछ बातों की कमी हमें जरूर महसूस हुई जिनमें साइड एयरकॉन वेंट्स, हार्ड प्लास्टिक हैंडब्रेक लिवर, आईआरवीएम के पास रूफ पैनल और सनशेड्स की पोजिशनिंग उतनी खास नहीं लगी। ओवरऑल एक्सपीरियंस इसका अपमार्केट लगता है, मगर छोटी मोटी बातों की कमी महसूस होने लगती है। 

फीचर्स

न्यू स्कोडा कुशाक में वेंटिलेटेड सीट्स, क्लाइमेट कंट्रोल, ऑटोमैटिक हेडलैंप, क्रूज कंट्रोल, सनरूफ और वायरलेस चार्जर जैसे फीचर्स दिए गए हैं। यहां तक कि इसमें स्टीयरिंग के लिए टेलीस्कोपिक एडजस्टमेंट, रेन सेंसिंग वायपर्स, क्लाइमेट के लिए टच कंट्रोल जैसे फीचर्स दिए गए हैं। इसमें पावर्ड सीटें, डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, एयर प्यूरीफायर, ड्राइव और ट्रैक्शन मोड, और सनरूफ जैसे मॉडर्न फीचर्स भी दिए गए हैं जिससे ये कार अपने मुकाबले में मौजूद दूसरी कारों को कड़ी टक्कर देने के लायक भी है। प्रैक्टिकल फीचर्स के तौर पर इस कार में एसी वेंट्स, चार्जिंग पोर्ट्स, बड़े डोर पॉकेट्स, कपहोल्डर्स के साथ आर्मरेस्ट, मिडिल पैसेंजर्स के लिए एडजस्टेबल हेडरेस्ट दिए गए हैं। 

इस नई मिड साइज एसयूवी में दिया गया 10.25 इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम इस्तेमाल करने में काफी अच्छा है जिसका इंटरफेस काफी सिंपल है और 7 स्पीकरों वाले साउंड सिस्टम के जरिए काफी अच्छी आवाज निकलकर बाहर आती है। जब हम इसका टेस्ट कर रहे थे तो इसके वायरलेस एपल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो कनेक्टिविटी से थोड़ी बहुत दिक्कतें सामने आई, मगर एक सॉफ्टवेयर अपडेट देकर कंपनी इनमें सुधार कर सकती है। 

नई स्कोडा कुशाक में 1.0 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया है जो 115 पीएस की पावर और 6 स्पीड मैनुअल एवं ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के जरिए फ्रंट व्हील को पावर देता है। दूसरे इंजन ऑप्शन के तौर पर इस कार में 1.5 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया है जिसका आउटपुट 150 पीएस है। इस इंजन के साथ 6 स्पीड मैनुअल और 7 स्पीड डीसीटी ट्रांसमिशन की चॉइस रखी गई है। इसमें दिया गया 1.0 लीटर टर्बो इंजन स्कोडा रैपिड में भी दिया गया है, मगर हमें इसकी फर्स्ट ड्राइव का मौका नहीं मिला है। 

इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू में हमें इस कार के 1.5 लीटर इंजन वाले वेरिएंट को ड्राइव करने का मौका मिला जहां हमनें इसके मैनुअल और ऑटोमैटिक दोनों ही मॉडल्स को ड्राइव करके देखा। ये इंजन काफी स्मूद और रिफाइन महसूस हुआ और कुछ टेढ़े मेढ़े रास्तों पर भी इससे अच्छी खासी पावर हमें मिलती रही। हमनें इस इंजन के साथ बिना किसी परेशानी के 100 की स्पीड को पार कर लिया और हमें 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड हासिल करने में 8.6 सेकंड का समय लगा। 1300 आरपीएम तक इस कार से अच्छी खासी पावर मिलने लग जाती है जिससे सिटी में इसे ड्राइव करना आसान रहता है। 

इसके मैनुअल गियरबॉक्स के शिफ्ट्स काफी स्मूद हैं और क्लच भी काफी अच्छे से लगता है। सिटी में बार बार गियर बदलने की जरूरत नहीं पड़ती है, वहीं हाईवे पर गाड़ी से अच्छी फ्यूल एफिशिएंसी भी मिलती है। इसमें सिलेंडर डिएक्टिवेशन का फीचर भी दिया गया है जो जरूरत ना होने पर 4 में से दो सिलेंडर को डिएक्टिवेट कर देता है।

यदि आप अक्सर सिटी में ही अपनी गाड़ी से चलते हैं तो हमारी राय में आपको इसका ऑटोमैटिक वेरिएंट लेना चाहिए। इसके शिफ्ट्स काफी स्मूद हैं और हल्के से थ्रॉटल इनपुट के बाद या यूं कहें तो ओवरटेकिंग से पहले ये शिफ्ट हो जाते हैं। 

राइड और हैंडलिंग 

कुशाक का राइड बैलेंस काफी अच्छा है। ये कार किसी भी परिस्थिति में बड़ी आसानी से चलाई जा सकती है और सड़क पर हर ​चुनौतियों का सामना कर सकती है। पूरी तरह से टूटी हुई सड़कों पर इसके सस्पेंशन अपना काम बखूबी ढंग से कर देते हैं। हालांकि इस कार में साइड टू साइड मोशन फील होता है मगर इसमें चिंता करने जैसी कोई बात नहीं रहती है। 

ये कार कॉर्नर्स पर भी आराम से हैंडल हो जाती है। इसमें काफी कम बॉडी रोल महसूस होता है। सिटी और हाईवे पर इसके स्टीयरिंग व्हील का वजन काफी संतुलित लगता है। कुल मिलाकर ड्राइविंग करने के शौकीनों को ये कार बिल्कुल पसंद आने वाली है। 

सेफ्टी फीचर्स 

स्कोडा कुशाक में सेफ्टी फीचर्स की कोई कमी नहीं है। इसमें एबीएस और ईबीडी के साथ साथ आईएसओफिक्स माउंट्स, छह एयरबैग, हिल-होल्ड कंट्रोल, मल्टी-कॉलिजन ब्रेकिंग, रियर पार्किंग सेंसर और कैमरा जैसे फीचर्स दिए गए हैं। इस कार में इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल का फीचर स्टैंडर्ड दिया गया है। हालांकि कुशाक में रियर डिस्क ब्रेक, टायरों के लिए प्रेशर रीडआउट्स जैसे फीचर्स नहीं दिए गए हैं। वहीं ऑटोमैटिक वेरिएंट्स में केवल दो ही एयरबैग दिए गए हैं। 

निष्कर्ष

स्कोडा की ये इंडियन प्लेटफॉर्म पर बनी कार काफी अच्छी है और इसकी प्राइस भी कंपनी ने वाजिब ही रखी है। ये कार ड्राइव और हैंडल करने में भी आसान है और फीचर्स की भी इसमें कोई कमी नहीं छोड़ी गई है। लुक्स, बिल्ड क्वालिटी और डिजाइन के मोर्चे पर स्कोडा ने इसे काफी अच्छे से तैयार किया है। परफॉर्मेंस के मोर्चे पर आप कह सकते हैं कि स्कोडा को इसमें कुछ अन्य ऑप्शंस भी देने चाहिए थे। इसकी फीचर लिस्ट लंबी है जिनमें कुछ बेहद प्रीमियम फीचर्स भी शामिल हैं। 

इस कार में छोटी मोटी कमियां रह गई है जैसे कि केबिन में कुछ प्लास्टिक एलिमेंट्स का इस्तेमाल किया गया है, वहीं केबिन की चौड़ाई भी कम है और डीजल इंजन का ऑप्शन ना होने से शायद कुछ ग्राहक स्कोडा के हाथ से निकल भी सकते हैं। कुल मिलाकर कुछ बेहद शानदार फीचर्स चाहने वाले ग्राहकों को यदि इसकी प्राइसिंग वाजिब लगती है तो ये छोटी फैमिली वालों के लिए एक अच्छी चॉइस साबित हो सकती है।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
We need your सिटी to customize your experience