टॉप 5 इलेक्ट्रिक कारें जो भारत में होनी चाहिए लॉन्च

प्रकाशित: मार्च 08, 2021 06:59 pm । स्तुतिनिसान लीफ

  • 1348 व्यूज़
  • Write a कमेंट

इलेक्ट्रिक कारों की डिमांड दिनों दिन बढ़ती जा रही है। भारत की बात करें तो यहां ईवी के ऑप्शंस काफी कम ही हैं। लेकिन, इसके बावजूद भी यहां इन कारों की मांग पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ गई है। भारतीय बाज़ार में ईवी की लिस्ट में सबसे पॉपुलर ऑप्शंस एमजी ज़ेडएस ईवी और टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक है। अब टेस्ला भी अपनी मॉडल 3 इलेक्ट्रिक कार भारत में जल्द लेकर आने वाली है। वहीं, अंतरराष्ट्रीय बाजार में ग्राहकों के पास इलेक्ट्रिक व्हीकल चुनने के कई सारे ऑप्शंस पहले से ही उपलब्ध हैं जिनमें से पांच पॉपुलर इलेक्ट्रिक कारें यहां भी पेश की जानी चाहिए। यह सभी कारें अच्छी रेंज देती हैं। हालांकि, इनकी कीमत काफी ज्यादा है, लेकिन फिर भी ये काफी लोगों की प्राइस रेंज में होंगी।

सिट्रोएन ई-सी4

रेंज : 350 किलोमीटर 

प्राइस : जीबीपी 23,000 से जीबी 26,600 (30 लाख रुपये)

सिट्रोएन का भारत में दस्तक देना इस बात को दर्शाता है कि कंपनी यहां हर साल एक नई कार लॉन्च कर सकती है।  अफोर्डेबल पेट्रोल और डीजल कारों के अलावा कंपनी भारत में अपनी ई-सी4 इलेक्ट्रिक क्रॉसओवर कार को भी पेश कर सकती है। बता दें कि यह कार यूरोप में पहले से ही उपलब्ध है।  इसमें इलेक्ट्रिक मोटर लगी है जो 136 पीएस की पावर और 260 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस गाड़ी में 50 किलोवाट आवर का बैटरी पैक लगा है। यह 30 मिनट में 80 परसेंट तक चार्ज होती है। ई-सी4 कार के व्हीलबेस की लंबाई हुंडई क्रेटा से ज्यादा है। ऐसे में अनुमान है कि इसमें अच्छा लेगरूम स्पेस मिलेगा। इसका बूट स्पेस 380 लीटर हो सकता है। इसमें सीटों पर मेमोरी फोम और प्रोग्रेसिव हाइड्रॉलिक कुशन सस्पेंशन दिए गए हैं जो सी5 एयरक्रॉस एसयूवी में भी मिलेंगे। ऐसे में यह गाड़ी लॉन्ग ड्राइव पर चलाने के हिसाब से अच्छी साबित होगी। इसकी फीचर लिस्ट में हेडअप डिस्प्ले, स्लाइडिंग ग्लास रूफ, कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी और ड्राइवर असिस्टेंस सिस्टम शामिल है। 

फॉक्सवैगन आईडी.3

रेंज : 424-540 किलोमीटर 

प्राइस : जीबीपी 31,670 से जीबीपी 37,180 (30 लाख रुपये से 40 लाख रुपये)

फोक्सवैगन ने अपना पहला ईवी प्लेटफार्म एमईबी तैयार किया है जिस पर आईडी.3 कार बेस्ड है। इसमें 77 किलोवाट आवर का बैटरी पैक दिया गया है। कंपनी का दावा है कि यह कार 540 किलोमीटर तक की रेंज तय करने में सक्षम है। 100 किलोवाट डीसी फास्ट चार्जर के जरिये यह 38 मिनट में 80 परसेंट तक चार्ज हो जाती है। वहीं, छोटे 58 किलोवाट आवर बैटरी पैक के जरिए यह गाड़ी 424 किलोमीटर तक की रेंज तय कर पाती है। इसके कम क्षमता वाले बैटरी पैक को फुल चार्ज होने में फ़ास्ट चार्जर जितना ही समय लगता है। यूरोप में फोक्सवैगन आईडी.3 कार में इलेक्ट्रिक मोटर दी गई है जो 145 पीएस और 204 पीएस की पावर जनरेट करती है। वहीं, कंपनी ज्यादा पावरफुल आईडी.3 वेरिएंट पर भी काम कर रही है। भारत में कंपनी आईडी.3 कार में छोटा बैटरी पैक भी शामिल कर सकती है। इसकी डिज़ाइन काफी अच्छी है और इसका इंटीरियर बेहद स्पेशियस है। यह गाड़ी अच्छी-खासी ड्राइविंग रेंज भी देती है। 

हुंडई आयोनिक 5 

रेंज : 500 किलोमीटर 

कीमत : जल्द होगी घोषणा

जाने-माने कार मैन्युफैक्चरर की नई इलेक्ट्रिक कारें हमेशा हमें पसंद आती है, लेकिन हुंडई आयोनिक 5 की बात करें तो यह गाड़ी एकदम अलग है। यह पहली इलेक्ट्रिक कार है जो हुंडई के ईवी प्लेटफार्म पर बेस्ड है। अनुमान है कि यह गाड़ी अच्छी खासी रेंज देने में सक्षम हो सकती है। इसके इंटीरियर अच्छा खासा स्पेस मिल सकता है, साथ ही इसमें दमदार फीचर्स भी दिए जा सकते हैं। लेकिन, हमें नहीं लगता है कि इस इलेक्ट्रिक हैचबैक में पोर्श टेकेन कार से मिलते-जुलते फीचर्स दिए जाएंगे। इसमें 800 वोल्ट का बैटरी पैक दिया जाएगा जिसके चलते आयोनिक 5 कार 18 मिनट में 80 परसेंट तक चार्ज हो सकेगी। इसके केबिन में इंस्ट्रूमेंटेशन और इंफोटेनमेंट के लिए दो 12.3- इंच के डिस्प्ले दिए जाएंगे। इसमें लगे बटन को टच करने पर इसकी फ्रंट सीटों को रिक्लाइन किया जा सकेगा। यह फीचर सीट के निचले हिस्से को ऊपर उठाता है और इलेक्ट्रिक रिक्लाइनर सोफे की तरह ही एक छोटे फुटरेस्ट को बाहर की तरफ निकालता है। यह गाड़ी 0 से 100 किलोमीटर/घंटे की रफ्तार को पकड़ने में 5.2 सेकंड का समय ले सकती है।

होंडा ई 

रेंज : 220 किलोमीटर  

अनुमानित प्राइस : 25 लाख रुपये से 35 लाख रुपये

होंडा ई कार के अर्बन ईवी कॉन्सेप्ट वर्जन को 2018 ऑटो एक्सपो के दौरान देखा गया था। इसका प्रोडक्शन मॉडल इलेक्ट्रिक हैचबैक कार का है जो यूरोप में करीब एक साल से बिक्री के लिए उपलब्ध है। कंपनी ने फिलहाल इसकी भारत में लॉन्चिंग को लेकर कोई खुलासा नहीं किया है। यह कार बाहर से दिखने में काफी छोटी लगती है, लेकिन काफी मॉडर्न है।  इस गाड़ी के आउट साइड रियर वू मिरर से लैस वेरिएंट में डैशबोर्ड पर छह स्क्रीन दी गई है। होंडा ई में 35.5 किलोवाट आवर का बैटरी पैक लगा है, वहीं इसमें लगी इलेक्ट्रिक मोटर 135 पीएस की पावर और 315 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। यह कार 220 किलोमीटर तक की रेंज करने में सक्षम है। इसकी लोडिंग केपेसिटी 171 लीटर हो सकती है। लेकिन, इसके बावजूद भी होंडा ई कार दूसरी गाड़ियों के मुकाबले ग्राहकों को लुभाने में कोई मौका नहीं छोड़ती है। 

निसान लीफ 

रेंज : 270 किलोमीटर से 384 किलोमीटर

प्राइस :  जीबी 27,000 से 32,695 (30 लाख रुपये)

निसान अपनी इलेक्ट्रिक कार लीफ को भारत में जल्द लॉन्च कर सकती है। यह गाड़ी नॉर्थ अमेरिका और यूरोप में कई दशकों से उपलब्ध है। सेकंड जनरेशन की लीफ का साइज़ पहले से बड़ा है, ऐसे में यह एक अच्छी फैमिली कार साबित होती है। इसमें 435 लीटर का बूट स्पेस मिलता है। इसके व्हीलबेस का साइज़ टाटा हैरियर के मुकाबले थोड़ा छोटा है।

निसान लीफ में इलेक्ट्रिक मोटर लगी है जो 150 पीएस की पावर और 320 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। इस गाड़ी में 40 किलोवाट आवर का बैटरी पैक भी लगा है। यह गाड़ी फुल चार्ज होने पर 270 किलोमीटर तक का सफर तय करने में सक्षम है। वहीं, निसान लीफ ई+ में 62 किलोवाट आवर (214 पीएस) की बैटरी दी गई है। यह गाड़ी 0-100 किलोमीटर/घंटे की स्पीड को 6.9 सेकंड में तय कर लेती है।  निसान का प्रो पायलट असिस्ट सिस्टम निसान लीफ कार को अपने आप पार्क करने और ट्रैफिक जाम के दौरान कार को ड्राइव करने में भी मदद करता है।

ओरा आर1

रेंज : 300 किलोमीटर

प्राइस : सीएनवाय 59,000 से सीएनवाय 77,800 (7 लाख रुपये से 9 लाख रुपये)

ओरा आर1 में चार पैसेंजर्स के बैठने जितना स्पस मिलता है। इसमें टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है, साथ ही इसमें बैटरी और मोटर भी लगी है। इसकी मोटर 48 पीएस की पावर और 125 एनएम का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। यह छोटी फैमिली कार ऑटो एक्सपो 2020 के बाद भारत आने वाली थी, लेकिन भारत-चीन के बीच सैन्य गतिरोध के चलते इसकी लॉन्चिंग टल गई। ग्रेट वॉल मोटर्स की इस गाड़ी का भारत आना फिलहाल तय नहीं है। 

यदि आपको यहां दी गई सभी कारें काफी महंगी लग रही है तो इसकी वजह इसमें दिया गया ड्राइवर असिस्टेंस सिस्टम, कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी समेत अन्य फीचर्स हैं जो इनमें बेस वेरिएंट से मिलना शुरू हो जाते हैं। ओरा आर1 इस बात का एक अच्छा उदाहरण है कि कार को प्रैक्टिकल बनाए रखते हुए उसकी फीचर लिस्ट को कैसे कम किया जा सकता है।

    द्वारा प्रकाशित
    was this article helpful ?

    0 out ऑफ 0 found this helpful

    निसान लीफ पर अपना कमेंट लिखें

    Read Full News
    • निसान लीफ
    • ओरा आर1
    ×
    We need your सिटी to customize your experience