• लॉगिन / रजिस्टर

टेस्ला जैसी बड़ी इलेक्ट्रिक कार कंपनी को टक्कर दे सकते हैं ये 5 स्टार्टअप

प्रकाशित: अप्रैल 13, 2021 06:53 pm । भानु

  • 2241 व्यूज़
  • Write a कमेंट

एक नई कंपनी होने के बावजूद ग्लोबल इलेक्ट्रिक कार मार्केट में टेस्ला कंपनी ने काफी नाम और शोहरत हासिल कर ली है। यहां तक कि 2020 में टेस्ला मॉडल 3 कंपनी की बेस्ट सेलिंग इलेक्ट्रिक कार रही जिसकी 3.65 लाख यूनिट बाजार में बिकी। टेस्ला मॉडल 3 को मिला बिक्री का ये आंकड़ा वुलिंग हॉन्गगुआंग मिनी ईवी से तीन गुना ज्यादा रहा और ये कार दूसरी बेस्ट सेलिंग कार रही। 

जहां अब टेस्ला सबसे ज्यादा लोकप्रिय ब्रांड बन चुका है वहीं इसे कड़ी से कड़ी चुनौती देने के लिए कुछ बेहद ही खास स्टार्टअप्स इलेक्ट्रिक कारों की पेशकश कर रहे हैं। ऐसे में हमनें यहां ऐसे ही कुछ ईवी स्टार्टअप्स की एक लिस्ट तैयार की है जो टेस्ला कंपनी को कड़ी टक्कर देने का माद्दा रखती हैं। 

रिवियान

मिशिगन बेस्ड रिवियान नाम के स्टार्टअप को 2017 में ऑल इलेक्ट्रिक ऑफ रोड पिकअप ट्रक की घोषणा करने के बाद काफी पॉपुलैरिटी मिली थी। अमेरिका में पिकअप ट्रक्स काफी पॉपुलर हैं। ऐसे में एक ऑल इलेक्ट्रिक पिकअप तैयार करने की खबर वहां जंगल की आग जैसे फैल गई। इसके बाद कंपनी ने 2018 लॉस एंजिल्स ऑटो शो में आर1टी पिकअप के कॉन्सेप्ट मॉडल को शोकेस किया। कंपनी ने दावा किया कि ये पिकअप 4,990 किलोग्राम का वजन लोड होने पर भी मात्र तीन सेकंड में 0 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ने का दम रखता है। इस पिकअप की रेंज 483 किलोमीटर बताई गई है और 2022 तक इसका 644 किलोमीटर वाला वेरिएंट भी पेश किया जाएगा। रिवियान आर1टी की प्राइस  $67,500 यानी करीब 49.09 लाख रुपये है। और जून 2021 तक ग्राहकों को इसकी डिलीवरी मिल जाएगी। 

आर1टी की पॉपुलैरिटी अब ये कंपनी एक फुल साइज इलेक्ट्रिक कार भी तैयार करेगी वहीं सबसे बड़ी बात ये है कि इस स्टार्ट अप को फोर्ड और अमेजन जैसी कंपनियों से फंड भी मिल रहा है। यहं तक कि अमेजन ने तो लॉजिस्टिक के लिए 10,0000 इलेक्ट्रिक डिलीवरी वैन के भी इस कंपनी को ऑर्डर दे दिए हैं। 

ल्यूसिड

2007 में अतियेवा नाम से स्थापित की गई ये कंपनी कई ऑटोमेकर्स के लिए पावरट्रेन तैयार करने और इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए बैट्री टेक्नोलॉजी विकसित करने का काम करती है। हालांकि 2016 में ये कंपनी तब प्रकाश में आई जब इसका नाम बदलकर ल्यूसिड मोटर्स कर दिया गया और इसी दौरान कंपनी ने लग्जरी इलेक्ट्रिक सेडान ल्यूसिड एयर से पर्दा उठाया। कंपनी का कहना है कि इसका प्रोडक्शन मॉडल सिंगल चार्ज के बाद 644 किलोमीटर की रेंज तय करने में सक्षम होगा। वहीं अगर ग्राहकों को इतनी रेंज भी कम लगी तो वो इसका एक 832 किलोमीटर वाला वर्जन भी लॉन्च करेगी। हालांकि टेस्ला की रोडस्टर के आगे ये रेंज भी कम है जहां वो 1000 किलोमीटर की रेंज देगी। बता दें कि टेस्ला रोडस्टर को 2022 में लॉन्च किया जाएगा। ल्यूसिड ईवी को 0 से 92 किलोमीटर की रफ्तार पकड़ने में 2.5 सेकंड का समय लगेगा। 

ल्यूसिड ने घोषणा की है कि उनकी पहली इलेक्ट्रिक कार 4 वेरिएंट्स: एयर ट्यूरिंग,एयर ग्रांड ट्यूरिंग,एयर प्योर और एयर ड्रीम एडिशन में उपलब्ध होगी। इसकी कीमत 77,400 यूएस डॉलर यानी करीब 56.75 लाख रुपये के करीब रखी जाएगी। इस कंपनी को 1 बिलियन की फंडिग मिल चुकी है। सबसे बड़ी बात ये है कि कंपनी के चीफ इंजीनियर पीटर रॉविल्सन हैं ​जो 2012 में टेस्ला मॉडल एस तैयार कर चुके हैं।  ल्यूसिड ईवी की डिलीवरी ग्राहकों को 2021 के आखिर तक मिलना शुरू हो जाएगी। 

निओ 

यदि आप फॉर्मूला ई देखने के शौकीन है तो आपको जरूर निओ का नाम पता होगा। चीन की ये घरेलु इलेक्ट्रिक कार मेकर वहां काफी पॉपुलर है। इस कंपनी के फाउंडर विलियम ली ने नवंबर 2014 में इस ब्रांड को शोकेस करने के साथ ही अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार निओ ईपी9 से पर्दा उठाया था। ईपी9 का प्रोडक्शन 2016 में शुरू किया गया जिसमें से भी केवल इस कार की 6 यूनिट तैयार कर कंपनी के निवेशकों को दी गई। रिपोर्ट्स की मानें तो हर निओ ईपी9 बेचने पर कंपनी को कुल 20 करोड़ रुपये मिले। कंपनी की सबसे पहली स्पोर्ट्स कार लॉन्च होने के बाद निओ ने तीन और प्रोडक्शन मॉडल ईसी6,ईएस6 और ईएस8 को भी पेश किया। अब कंपनी दो सेडान,एक सब कॉम्पैक्ट एसयूवी,और एक मिनीवैन आने वाले समय में पेश करेगी। निओ की चीन के बाजार में इस सफलता का क्ष्रेय कंपनी द्वारा स्थापित किए गए 190 से ज्यादा बैट्री स्वाइपिंग स्टेशंस को जाता है। दूसरी इलेक्ट्रिक कारों के मुकाबले निओ की इलेक्ट्रिक कारों में आप बैट्री डिस्चार्ज हो जाने पर दूसरी फुल चार्ज बैट्री लगा सकते हैं। इससे लोगों का काफी समय बचता है। 

ली ऑटो

2015 में स्थापित हुई ली ऑटो मिचुआन और बायटेडेंस जैसी कंपनियों से फंडिंग हासिल है। इस चीन में कंपनी का केवल एक प्रोडक्ट ​ली जिआंग वन एसयूवी बिक्री के लिए उपलब्ध है। इसे शंघाई ऑटो शो 2019 में शोकेस किया गया था। वहीं 2019 के आखिर में इसका प्रोडक्शन शुरू किया गया। हालांकि ये प्योर इलेक्ट्रिक कार नहीं है। इसके बजाए कंपनी अब हायब्रिड कारों पर ज्यादा फोकस कर रही है। इसका मतलब साफ है कि ली जिआंग वन एसयूवी को बैट्री से भी चलाया जा सकता है और ये कार इंजन से भी चल सकती है। इस समय ली जिआंग वन दुनिया की सबसे ज्यादा रेंज वाली पीएचईवी है। इलेक्ट्रिक पावर के रहते ये कार 180 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है। मगर इसके मुकाबले बीएमडब्ल्यू आई3 हैचबैक 203 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है। इस समय वन एसयूवी की कीमत भारतीय रुपये का अनुसार 37.39 लाख रुपये के आसपास है। 

प्रावेग डायनैमिक्स

प्रावेग डायनेमिक्स बेंगलुरू बेस्ड स्टार्टअप कंपनी का ही एक प्रोडक्ट है। हालांकि ये उपर बताई गई कंपनियों जितना बड़ी कंपनी नहीं है। मगर भारत के लिहाज से देखा जाए तो ये कंपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट में अच्छा काम कर रही है। प्रावेग को फ्रांस की एक कंपनी से फंड हासिल है। इसने 'एक्सटिंक्शन एमकेआई'नाम का इलेक्ट्रिक कूपे प्रोटोटाइप तैयार किया है। हालांकि कंपनी एक 4 डोर सेडान तैयार करेगी जिसके डिजाइन और स्पेसिफिकेशन के बारे में कोई पर्दा नहीं उठा है। 

सबसे खास बात ये है कि प्रावेग का कार बेचने का तौर तरीका काफी अलग है। कंपनी का मकसद ऐसे कॉर्पोरेट्स को अपनी कार बेचने का है जो अपने कर्मचारियों को कैब फैसिलिटी देते हैं। इसके अलावा प्रावेग अपनी कारें सब्सक्रिप्शन बेसिस पर भी देगी। कंपनी का मोटो  ‘Sell Kilometers, not Cars.’ है। 

अब यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि यहां हमनें जितने भी स्टार्टअप्स का जिक्र किया है केवल वो ही इलेक्ट्रिक कारों की मैन्यूफैक्चरिंग पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। बल्कि दुनियाभर के नामचीन ब्रांड्स भी इलेक्ट्रिक मोबिलटी की तरफ बढ़ रहे हैं। वोल्वो जैसी कंपनी इस बात की घोषणा कर चुकी है कि वो 2030 तक केवल इलेक्ट्रिक कारें ही बेचेगी। इसकी सहयोगी कंपनी गीली ने अपने बैनर तले जीकर नाम का एक ब्रांड लॉन्च किया है जो केवल और केवल इलेक्ट्रिक कारें ही तैयार करेगा। हुंडई मोटर्स भी आने वाले 10 सालों के अंदर करीब 10 नई इलेक्ट्रिक कारें लॉन्च करेगी। वहीं फोक्सवैगन ग्रूप ने भी पूरी तरह इस सेगमेंट में उतरने की बात कही है। कंपनी का कहना है कि वो 2025 तक दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक कार कंपनी के रूप में अपना नाम दर्ज करा लेगी। ऐसे में आने वाले समय में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी के भविष्य को लेकर कहा जा सकता है कि ये सेगमेंट काफी नए आयाम स्थापित करेगा। 

यह भी पढ़ें: लेक्सस ने दिखाई नए इलेक्ट्रिक क्रॉसओवर कॉन्सेप्ट एलएफ-जेड की झलक,कुछ ऐसी होगी कंपनी की फ्यूचर लग्जरी ईवी

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
  • ट्रेंडिंग
  • हाल का
×
आपका शहर कौन सा है?