टाटा नेक्सन ईवी मैक्स फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On मई 19, 2022 By भानु for टाटा नेक्सन ईवी

tata nexon ev max

इलेक्ट्रिक कार खरीदने की सोच रहे नए कस्टमर्स के लिए टाटा का एक और नया प्रोडक्ट नेक्सन ईवी मैक्स भारत में लॉन्च हो चुका है। इसमें बड़ा बैटरी पैक दिया गया है जो ज्यादा रेंज देगा। इस कार में रेगुलर मॉडल के मुकाबले ज्यादा फीचर्स भी दिए गए हैं और इसका इंजन परफॉर्मेंस भी ज्यादा अच्छा है। इस कार को यदि कुछ समय तक ड्राइव करेंगे तो शायद हो सकता है कि आप इसे खरीदने का मन भी बना लें। 

रेगुलर मॉडल से कितनी है अलग?

tata nexon ev max

चूंकि हम इससे पहले भी नेक्सन इलेक्ट्रिक को ड्राइव कर चुके हैं तो इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू में हमने इसके मैक्स वेरिएंट की केवल एक्सक्लूसिव बातों पर ही अपना फोकस रखा है। रेगुलर नेक्सन इलेक्ट्रिक के मुकाबले नई टाटा नेक्सन ईवी मैक्स दिखने में बिल्कुल भी अलग नजर नहीं आती है। यहां तक की कंपनी ने इसमें ‘Max’ नाम की ब्रांडिंग तक नहीं दी है जिससे ये पता लग सके कि ये इसका लॉन्ग रेंज वर्जन है। हालांकि इसमें नए 16 इंच के अलॉय व्हील्स जरूर दिए गए हैं। गौर से देखने पर ईवी मैक्स में आपको रियर डिस्क ब्रेक का फीचर भी नजर आ जाएगा। इसके अलावा नए 'इंटेंसी टील' कलर का ऑप्शन भी दिया गया है। इसके अलावा इसमें डेटोना ग्रे और प्रिस्टीन व्हाइट कलर की चॉइस भी दी गई है। ये सभी कलर कंट्रास्ट कलर रूफ के साथ स्टैंडर्ड दिए गए हैं।

लुक और फील के मोर्चे पर इसके केबिन में आपको छोटे मोटे बदलाव नजर आएंगे। इसका बेसिक लेआउट तो रेगुलर नेक्सन जैसा ही है जहां 3 लेयर्ड डैशबोर्ड और फ्री फ्लोटिंग टचस्क्रीन दी गई है। टाटा ने इसकी प्लास्टिक ट्रिम पर ट्राय एरो ग्राफिक्स दी है जो पूरे डैशबोर्ड को कवर कर रही है। इसमें लाइट बैज कलर और नए डिजाइन का फ्लोर कंसोल भी दिया गया है। फ्लोर कंसोल को मिले डिजाइन अपडेट के बाद अब यहां आपको कप होल्डर का फीचर नहीं मिलेगा। मगर इसके बजाए कंपनी ने काफी अच्छे लुक वाला इल्युमिनेटेड ड्राइव मोड सलेक्टर और इलेक्ट्रिक पार्किंग ब्रेक का फीचर दे दिया है। 

इसमें रेगुलर नेक्सन के काजीरंगा एडिशन की तरह कुछ नए फीचर्स भी दिए गए हैं। इनमें ऑटो-डिमिंग आईआरवीएम, एयर प्यूरीफायर, वायरलेस चार्जर, परफोरेटेड लेदरेट अपहोल्स्ट्री, हवादार फ्रंट सीट्स और क्रूज़ कंट्रोल शामिल हैं। मैक्स वेरिएंट के साथ ही कंपनी ने इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल का फीचर भी इसमें दे दिया है। सेफ्टी के लिए नई ईवी मैक्स में रियर डिस्क ब्रेक, हिल होल्ड कंट्रोल, हिल डिसेंट कंट्रोल और टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम जैसे फीचर्स दिए हैं। 

अन्य हाइलाइट्स:

tata nexon ev max

कीलेस एंट्री

7-इंच टचस्क्रीन (एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले के साथ)

पुश-बटन स्टार्ट/स्टॉप

8 स्पीकर हरमन साउंड सिस्टम

ड्राइवर सीट हाइट एडजस्टर

स्टीयरिंग-माउंटेड ऑडियो कंट्रोल

टिल्ट-एडजस्ट स्टीयरिंग

7-इंच टीएफटी डिस्प्ले (इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर)

फ्रंट और रियर आर्मरेस्ट

ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल

इलेक्ट्रिक सनरूफ

लेदरेट-रैप्ड स्टीयरिंग व्हील

टाटा नेक्सन ईवी मैक्स की कीमतों पर गौर करें तो यहां टाटा इसमें साइड और कर्टेन एयरबैग का फीचर भी दे सकती थी। इसके अलावा इसके केबिन में प्लास्टिक की क्वालिटी को भी थोड़ा बेहतर किया जा सकता था जिससे फिर कस्टमर्स को इसकी कीमत वाजिब लग सकती थी। 

नोट: बता दें कि इस कार के लोअर वेरिएंट एक्सजेड+ में सनरूफ, ऑटो-डिमिंग आईआरवीएम, एयर प्यूरीफायर, लेदरेट अपहोल्स्ट्री और फ्रंट सीट वेंटिलेशन का फीचर नहीं दिया गया है। ऐसे में हम इसे चुनने के बजाए इसमें स्टैंडर्ड नेक्सन ईवी का एक्सजेड+ लग्जरी वेरिएंट चुनने की सलाह देंगे। 

बूट स्पेस 

tata nexon ev max

टाटा नेक्सन ईवी मैक्स में एक बड़े बैटरी पैक को सेट करने के लिए कंपनी ने फ्लोर को थोड़ा ऊंचा किया है। ऐसे में आप को इसमें थोड़ी ऊंची सीटिंग पोजिशन मिलेगी। नतीजतन आपको कंफर्टेबल बैठने के लिए ड्राइवर की सीट को भी आगे करवाना पड़ेगा। फ्लोर पैन के भी ऊंचा होने से आपको अपने घुटनों को ऊंचा करके बैठना पड़ता है जिससे आपको अच्छा अंडरथाई सपोर्ट नहीं मिलता है। हालांकि नेक्सन ईवी अपने आप में ही काफी स्पेशियस कार है। तो कुल मिलाकर इन सब बदलावों के बावजूद ऐसा कुछ नहीं है कि जो आपको इस कार को खरीदने से रोके। इसमें रेगुलर मॉडल की तरह 350 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है। 

परफॉर्मेंस 

tata nexon ev max

इस कार का सबसे बड़ा हाइलाइट अपडेट इसका पावरट्रेन है। इसमें अब 30 प्रतिशत ज्यादा बड़ा बैटरी पैक दे दिया गया है जो 40.5 केडब्ल्यूएच का है। रेगुलर मॉडल में 30 केडब्ल्यूएच का बैटरी पैक दिया गया है। ये नया बैटरी पैक 14 पीएस ज्यादा पावरफुल और 5 एनएम का ज्यादा टॉर्क आउटपुट देता है। 

ये भी बता दें कि एडिशनल पावर मिलने से नेक्सन ईवी मैक्स की ड्राइविंग में कोई दिन रात का अंतर नहीं आ गया है। ये ज्यादा पावर इस कार के बढ़े 100 किलोग्राम अतिरिक्त वजन को ढोने के लिए ही खर्च होगी। 

फैक्ट: बड़ा बैटरी पैक देने से रेगुलर मॉडल के मुकाबले इस नए वेरिएंट का वजन 70 प्रतिशत बढ़ा है!

tata nexon ev max

टाटा नेक्सन ईवी मैक्स को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ने में 9.1 सेकंड का समय लगता है। स्टैंडर्ड वेरिएंट के मुकाबले ये इस मामले में काफी तेज है। इसकी इले​क्ट्रॉनिकली लिमिटेड टॉप स्पीड 140 किलोमीटर प्रति घंटे है जो स्टैंडर्ड वर्जन से 20 किलोमीटर प्रति घंटे ज्यादा है। 

 

नेक्सन ईवी मैक्स

नेक्सन ईवी

स्पोर्ट मोड

9.13 सेकंड्स

9.58 सेकंड्स

सिटी/ड्राइव मोड

13.3 सेकंड्स

16.8 सेकंड्स

फैक्ट: टाटा नेक्सन ईवी मैक्स को सिटी मोड पर 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ने में उतना ही समय लगता है जितना कि नेक्सन टर्बो पेट्रोल मॉडल को स्पोर्ट मोड पर! 

इसमें नया इको मोड भी दिया गया है जो इसकी रेंज को बढ़ाने में मदद करता है। जानकारी के लिए बता दें कि नेक्सन ईवी मैक्स की सर्टिफाइड रेंज 437 किलोमीटर बताई गई है। टाटा ने रियल वर्ल्ड कंडीशन का हवाला देते हुए बताया है कि इस कार से आप एक दिन में मुंबई से पुणे तक का सफर तय कर सकते हैं और वापस रिटर्न भी हो सकते हैं। तो यानी ये कार सिंगल चार्ज में 300 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तय करने में सक्षम है। हमनें जब टाटा नेक्सन ईवी के स्टैंडर्ड मॉडल का रियल वर्ल्ड कंडीशन में टेस्ट किया था तब इसे हम ​फुल चार्ज करने के बाद 250 किलोमीटर तक की दूरी तय कर पाए थे। ऐसे में आप नेक्सन ईवी मैक्स से 270 किलोमीटर से लेकर 320 किलोमीटर तक की रियल वर्ल्ड रेंज की उम्मीद तो कर ही सकते हैं। इस कार से प्रति केडब्ल्यूएच का सही इस्तेमाल करने के लिए नया सलेक्टेबल ब्रेक एनर्जी रीजनरेशन सिस्टम दिया गया है। इसके लिए आपको बढ़ते क्रम में चार ऑप्शंस: ऑफ, लेवल 1, लेवल 2 और लेवल 3 दिए गए हैं। हमें नेक्सन ईवी मैक्स में ड्राइव मोड बेस्ड रियल टाइम रेंज अपडेट और स्वयं द्वारा चुने गए रीजनरेशन लेवल जैसी चीजें ज्यादा पसंद आई। इस छोटी सी ड्राइव के दौरान हमनें इसकी डिस्टेंस टू एंप्टी को तेजी से गिरते हुए देखा जिससे इसकी एक्यूरेसी पर सवाल उठाया जा सकता है। 

tata nexon ev max

दूसरी इलेक्ट्रिक कारों के मुकाबले अपनी सबसे स्ट्रॉन्ग सेटिंग पर भी इसका रीजनरेशन हमें ज्यादा स्ट्रॉन्ग महसूस नहीं हुआ। ये केवल तब ही एक्टिवेट होता है जब आप पूरी तरह से एक्सलरेटर से अपना पांव हटा लेते हैं। लेवल 3 पर तो मैक्स सिंगल पेडल ड्राइविंग के लिए बिल्कुल सक्षम नहीं दिखाई दी जबकि टाटा का दावा कुछ और ही था। इस लेवल पर ये 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ड्राइव हुई। इसके मुकाबले लेवल 1 और लेवल 2 रीजनरेशन थोड़े माइल्ड नजर आए। इसमें अच्छी बात ये है कि पहली बार कोई इलेक्ट्रिक कार चला रहा व्यक्ति भी इनसे फैमिलियर हो जाता है। 

राइड और हैंडलिंग 

tata nexon ev max

बड़ा बैटरी पैक देने के लिए टाटा ने नेक्सन ईवी मैक्स की ओवरऑल हाइट को भी बढ़ाया है। हालांकि इसका ग्राउंड क्लीयरेंस 10 मिलीमीटर से कम हुआ है जो 195 मिलीमीटर रह गया है। ज्यादा वजन और राइड हाइट में बदलाव होने के चलते नेक्सन ईवी मैक्स की राइड क्वालिटी भी इसी के पेट्रोल/डीजल वर्जन जैसी ही महसूस होती है। ये कार भी खराब रास्तों पर से आराम से गुजर सकती है और हाईवे पर इसे स्मूदली दौड़ाया जा सकता है। 

चार्जिंग टाइम

tata nexon ev max

चूंकि नई नेक्सन ईवी मैक्स में बड़ा बैटरी पैक दिया गया है ऐसे में जाहिर तौर पर इसे चार्ज होने में भी ज्यादा समय लगेगा। इसलिए टाटा ने इस कार को चार्ज करने के लिए 7.2 किलोवॉट का ऑप्शनल चार्जर भी दिया है। इससे ये कार 15 घंटे के बजाए मात्र 6.5 घंटे में चार्ज हो जाएगी। नेक्सन ईवी मैक्स को 50 किलोवॉट डीसी फास्ट चार्जर से भी चार्ज किया जा सकता है जिससे इसकी बैटरी को 0 से 80 प्रतिशत तक चार्ज होने में मात्र 56 मिनट लगेंगे।

निष्कर्ष

tata nexon ev max

हमारी राय में नेक्सन ईवी मैक्स में दो चीजों पर काम किया जा सकता था। पहला तो ये कि नेक्सन ईवी मैक्स के केबिन में स्टैंडर्ड वेरिएंट के मुकाबले कंपनी ने जो बदलाव किए हैं उससे इसके स्पेस पर काफी प्रभाव पड़ा है। दूसरा इसमें कंपनी 6 एयरबैग्स जैसे फीचर्स और केबिन क्वालिटी में सुधार करने का काम भी कर सकती थी। हालांकि ये सब बाते इसे खरीदने के निर्णय पर असर नहीं डालती दिखाई देती है।

नेक्सन ईवी मैक्स की प्राइस 17.74 लाख रुपये से लेकर 19.24 के बीच है। इसकी 1.5 लाख रुपये से लेकर 2 लाख रुपये ज्यादा कीमत ज्यादा फीचर्स के चलते वाजिब साबित होती है। परफॉर्मेंस बढ़ जाने, बड़े बैटरी पैक और ज्यादा रेंज जैसी चीजें काफी तसल्ली देने वाली है। ऐसे में नेक्सन ईवी मैक्स को एक और भी ज्यादा अपडेटेड पैकेज के तौर पर देखा जा सकता है।

नोट:यदि आप नेक्सन ईवी मैक्स को टर्बो पेट्रोल एसयूवी कारों से कंपेयर करके देखेंगे तो इसकी परफॉर्मेंस भी आपको इनके जैसी ही नजर आएगी। ऐसे में बढ़ती फ्यूल की प्राइस को देखते हुए अभी से आपको ऐसे इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की तरफ रुख करने के बारे में सोचना शुरू कर देना चाहिए।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

×
We need your सिटी to customize your experience